वीडियो में साफ जाहिर है कि नदी का बहाव बहुत तेज है. बच्ची नदी की लहर में तेजी से बहती जा रही है, तभी जवान नदी में कूद पड़ते हैं और बीच धार में खुद को ढाल की तरह खड़ा कर देते हैं. 23 सेकंड का यह वीडियो केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स(CRPF) के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से  भी ट्वीट किया गया है. कैप्शन में लिखा है, ‘176 बटैलियन के कॉन्स्टेबल एमजी नायडू और कॉन्स्टेबल एन. उपेंद्र ने 14 साल की बच्ची को नदी में डूबने से बचाया. बहादुर लोग दो बार नहीं सोचते और कूद जाते हैं. बेजोड़ वीरता और टीम स्प्रिट से कश्मीर में एक कीमती जान बचाई.’