Connect with us

दिल्ली

1 अप्रैल से टाटा मोटर्स की कारों के दामों में इजाफा हो सकता है

Published

on

  • नईदिल्ली 25 मार्च 2019
  • नए फाइनेंशियल ईयर के पहले दिन यानि 1 अप्रैल से कार खरीदना महंगा हो जाएगा. दरअसल, टाटा मोटर्स और जगुआर लैंड रोवर इंडिया जैसी बड़ी कंपनियों ने कार की कीमतों में बढ़ातरी का ऐलान किया है.
  • टाटा मोटर्स की कारों के दाम में 25,000 रुपये तक इजाफा हो सकता है. टाटा मोटर्स के जिन मॉडल की कीमतों में इजाफा हो सकता है उनमें टियागो, हेक्सा, टिगोर, निक्सन और हैरियर प्रमुख हैं. टाटा मोटर्स की ओर से कहा गया कि लागत खर्च बढ़ने और बाह्य आर्थिक परिस्थितियों के कारण वह कीमतें बढ़ा रही है.
  • टाटा मोटर्स के प्रेसिडेंट (पैंसेंजर व्हीकल बिजनेस यूनिट) मयंक पारीक ने कहा कि मार्केट कंडीशंस में बदलाव, इनपुट कॉस्ट में बढ़ोतरी और अन्‍य बाहरी आर्थिक कारकों की वजह से हमें कीमतों में इजाफा करने पर विचार करना पड़ा है. मयंक पारीक ने कहा, “टियागो, हेक्सा, टिगोर, निक्सन और हैरियर जैसे अग्रणी प्रोडक्‍ट के सेगमेंट वाले मजबूत पोर्टफोलियो की मदद से आने वाले महीनों में हम अपनी वृद्धि को बनाए रखने के प्रति आश्वस्त हैं.” बता दें कि टाटा मोटर्स अभी नैनो से लेकर प्रीमियम एसयूवी हेक्सा तक बेचती है जिनकी कीमत 2.36 लाख रुपये से 18.37 लाख रुपये तक है.
  • करीब 45 अरब डॉलर की ग्लोबल ऑटो कंपनी टाटा मोटर्स से पहले जगुआर लैंड रोवर इंडिया (जेएलआर) भी अप्रैल से चुनिंदा मॉडलों की कीमत बढ़ाने का ऐलान कर चुकी हैं. जेएलआर इन चुनिंदा मॉडलों की कीमत में 4 फीसदी तक की बढ़ोतरी करेगी. हालांकि, कंपनी ने अभी अपने इन मॉडलों का नाम नहीं बताया है. कंपनी ने कीमतों में बढ़ोत्तरी की वजह महंगाई को बताया है.
  • इससे पहले Toyota Kirloskar Motors ने अपने सभी मॉडल्स की कीमतें बढ़ाने का ऐलान कर चुकी है. कंपनी के मुताबिक कच्चे माल की कीमत में वृद्धि और आसमान छूती इनपुट लागतों की वजह से यह फैसला लिया गया है.

दिल्ली

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई पर लगे यौन उत्पीड़न की जांच करेंगे एसए बोबडे

Published

on

  • नईदिल्ली 24 अप्रैल 2019
  • चीफ जस्टिस रंजन गोगोई के खिलाफ लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों की आंतरिक जांच के लिए मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठतम न्यायाधीश न्यायमूर्ति एसए बोबडे को नियुक्त किया गया. न्यायमूर्ति बोबडे ने खुद इस खबर की पुष्टि की. वरिष्ठता क्रम के मुताबिक वह चीफ जस्टिस के बाद वरिष्ठतम न्यायाधीश हैं.
  • न्यायमूर्ति बोबडे ने बताया कि नंबर दो जज होने के नाते चीफ जस्टिस ने उन्हें सुप्रीम कोर्ट की एक पूर्व महिला कर्मी द्वारा उनके खिलाफ लगाए गए यौन उत्पीड़न के आरोपों की जांच के लिए नियुक्त किया है.
  • उन्होंने बताया कि उन्होंने सुप्रीम कोर्ट के दो न्यायाधीशों न्यायमूर्ति एनवी रमन और न्यायमूर्ति इंदिरा बनर्जी को शामिल कर एक समिति गठित की है. न्यायमूर्ति बोबडे ने कहा, ‘मैंने समिति में न्यायमूर्ति रमन को शामिल करने का फैसला किया है, क्योंकि वह वरिष्ठता में मेरे बाद हैं और न्यायमूर्ति बनर्जी को इसलिए शामिल किया गया है क्योंकि वह महिला न्यायाधीश हैं.’
  • गौरतलब है कि चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने अपने ऊपर लगे यौन शोषण के आरोप को खारिज कर दिया था. उन्होंने कहा था, ‘इसके पीछे कोई बड़ी ताकत होगी, वे सीजेआई के कार्यालय को निष्क्रिय करना चाहते हैं, लेकिन न्यायपालिका को बलि का बकरा नहीं बनाया जा सकता.’
  • रंजन गोगोई ने कहा, ‘यह अविश्वसनीय है. मुझे नहीं लगता कि इन आरोपों का खंडन करने के लिए मुझे इतना नीचे उतरना चाहिए. कोई मुझे धन के मामले में नहीं पकड़ सकता है, लोग कुछ ढूंढना चाहते हैं और उन्हें यह मिला. न्यायाधीश के तौर पर 20 साल की निस्वार्थ सेवा के बाद मेरा बैंक बैलेंस 6.80 लाख रुपये है’. जस्टिस गोगोई ने स्पष्ट कहा कि मैं इस कुर्सी पर बैठूंगा और बिना किसी भय के न्यायपालिका से जुड़े अपने कर्तव्य पूरे करता रहूंगा.’
  • इसके बाद सुप्रीम कोर्ट में वकालत करने वाले वकीलों के संगठन ने इस मामले की सुनवाई पर आपत्ति जताते हुए जांच समिति की मांग की थी. अधिवक्ताओं ने एक लेटर जारी करते हुए महिला द्वारा चीफ जस्टिस पर यौन उत्पीड़न के लगाए गए आरोप की जांच के लिए इंक्वॉयरी कमेटी की मांग की थी. उन्होंने लिखा कि सुप्रीम कोर्ट में कानून की एक प्रक्रिया है और वो कानून सभी पर लागू होता है.

 

 

 

 

 

 

 

 

 

Continue Reading

दिल्ली

अरविंद केजरीवाल ने कहा, अब दिल्ली में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच गठबंधन असंभव

Published

on

  • नईदिल्ली 24 अप्रैल 2019
  • दिल्ली में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस के गठबंधन की संभावना अब पूरी तरह खत्म हो गई है। एनबीटी ने खास बातचीत में AAP के संयोजक अरविंद केजरीवाल से पूछा कि क्या नामवापसी तक कुछ हो सकता है? इस पर उन्होंने किसी भी संभावना से इनकार किया। केजरीवाल ने साफ कहा कि राहुल गांधी गठबंधन करना ही नहीं चाहते और वह मोदी विरोधी वोटों को बांटने का काम कर रहे हैं।
  • केजरीवाल ने कहा कि कुछ दिन पहले राहुल ने ट्वीट किया कि हम आपको 4 सीट देने को तैयार हैं। मैं पूछना चाहता हूं कि दुनिया में कौन-सा गठबंधन इस तरह ट्विटर पर या मीडियाबाजी से हुआ है। गठबंधन करना होता तो बात करते। कांग्रेस को गठबंधन नहीं करना, बस दिखावा करना है। इस चुनाव में हमारा मकसद किसी भी तरह मोदी-शाह की जोड़ी को वापस आने से रोकना है। इसलिए हमने गठबंधन पर बात शुरू की थी। हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में मिलाकर 18 सीटें हैं।
  • AAP सुप्रीमो ने कहा कि आज कांग्रेस के टॉप लीडर भी मान रहे हैं कि हरियाणा में सब बीजेपी जीत रही है। अगर गठबंधन कर लेते तो हरियाणा में कम से कम 8 सीटें और चंडीगढ़ की सीट बीजेपी हारती। अब कांग्रेस कह रही है कि सिर्फ दिल्ली में कर लो। ये वह तीन सीटें भी हमसे लेकर बीजेपी को गिफ्ट करना चाहते हैं। दिल्ली में हम सातों सीटों पर अच्छी टक्कर में हैं तो फिर हम इनसे सिर्फ दिल्ली में गठबंधन क्यों करें? केजरीवाल ने कहा कि हम संघर्ष से निकली पार्टी हैं, हम सातों सीटों पर लड़कर बीजेपी को हराएंगे।
  • यह पूछने पर कि AAP सिर्फ दिल्ली में कांग्रेस से गठबंधन होने की स्थिति में 5-2 (आप-कांग्रेस) सीटों के फॉर्म्यूले पर तैयार थी? केजरीवाल ने कहा कि हम सिर्फ दिल्ली के लिए 5-2 पर भी कभी तैयार नहीं थे। उन्होंने कहा कि बातचीत शुरू हुई थी 33 सीटों से। गोवा, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली। कांग्रेस ने कहा पंजाब को बाहर कर दो, फिर कहा गोवा को बाहर कर दो। फिर 18 सीटें बची। उस पर अगर गठबंधन होता तो कांग्रेस को दिल्ली की तीन सीटें मिलती। इन तीन सीटों पर बीजेपी जीत जाती लेकिन हम बाकी 15 सीटों पर बीजेपी को बाहर रख सकते थे।
  • यह पूछने पर कि राहुल का कहना है कि आप दिल्ली के लिए तैयार थे, बाद में हरियाणा की शर्त जोड़ दी? केजरीवाल ने कहा कि या तो वह जानबूझकर गलत बोल रहे हैं या उनकी टीम उन्हें गलत जानकारी दे रही है। केजरीवाल ने कहा कि राहुल और मेरी सिर्फ एक बार ही मीटिंग हुई है शरद पवार के घर पर। जहां पर शरद पवार, ममता बनर्जी, फारुख अब्दुल्ला, चंद्रबाबू नायडू भी थे। वहां पर राहुल ने आम आदमी पार्टी से किसी भी तरह के गठबंधन से साफ इनकार कर दिया था। उसके बाद मेरी कोई बातचीत नहीं हुई।
  • संजय सिंह और कांग्रेस नेताओं के बीच भी कुल तीन बार ही ऐसे ही मीटिंग हुई। पिछले हफ्ते मंगलवार या बुधवार की रात को 11 बजे गुलाम नबी आजाद ने संजय सिंह को बुलाया और उसमें फाइनल कर लिया कि 6-3-1 (कांग्रेस-जेजेपी-आप) हरियाणा में और 4-3 (आप-कांग्रेस) दिल्ली में। ये तय हुआ कि कल अपनी कमिटी से पास कराकर दूसरे दिन जॉइंट पीसी होगी। लेकिन अगले दिन इन्होंने हमारा फोन नहीं उठाया। शाम तक फोन नहीं उठाया फिर इनकी तरफ से जवाब आया कि हरियाणा में 7-2-1 होगा। हमने किसी तरह जेजेपी नेता दुष्यंत चौटाला को मनाया उसके बाद कांग्रेस कहने लगी कि हम हरियाणा में गठबंधन नहीं करेंगे। रोज नई शर्त रखते और फिर मुकर जाते। दरअसल इन्हें गठबंधन करना ही नहीं था।
  • केजरीवाल ने कहा कि केवल दिल्ली में ही कांग्रेस को तीन सीट देने का मतलब है कि बीजेपी को तीन सीट देना। हमारे सामने दो रास्ते हैं। अगर गठंधन 4-3 पर करें तो तीन सीट शर्तिया तौर पर बीजेपी को जा रही हैं और सातों के लिए हम लड़ें तो सातों सीटों पर हमें जीतने की उम्मीद है। हमने दूसरा रास्ता तय किया कि सातों पर लड़ेंगे और जीतेंगे। लेकिन गठबंधन होने पर हरियाणा में कांग्रेस जीत जाती पर दिल्ली में नहीं ऐसा क्यों? इस सवाल पर केजरीवाल ने कहा कि हमने सर्वे कराया। दिल्ली में कांग्रेस को वोट देने को कोई तैयार नहीं है। कांग्रेस 5 पर्सेंट से नीचे पहुंच गई है। हिंदू कांग्रेस को वोट नहीं दे रहा। थोड़ा बहुत कंफ्यूजन मुस्लिम में है लेकिन चुनाव आने तक वह भी समझ जाएंगे कि कांग्रेस का 5 पर्सेंट से कम वोट शेयर है।
  • तो क्या आपके वोटर कांग्रेस को वोट नहीं देते? केजरीवाल ने कहा कि पिछले दो महीने में तर्क देकर हमने आप के वॉलंटियर्स को इसीलिए तो तैयार कर लिया कि देश को मोदी-शाह की जोड़ी से बचाने के लिए यह गठबंधन जरूरी है। कार्यकर्ता तैयार भी हो गए लेकिन कोई भी पंजे पर मुहर लगाने को तैयार नहीं है। गठबंधन के पीछे हमने यह सोचा था कि दिल्ली की तीन सीटें जाने के बाद भी 15 सीटें बीजेपी से छीन रहे थे। इसलिए हम गठबंधन के लिए तैयार थे।
  • क्या नाम वापसी तक कुछ हो सकता है? इस सवाल पर केजरीवाल ने किसी भी संभावना से इनकार किया और कहा कि नॉमिनेशन हो चुके हैं। लेकिन राहुल ने कहा है कि वह आखिरी सेकंड तक तैयार हैं? इस पर केजरीवाल ने कहा कि वह बस बयानबाजी कर रहे हैं। केजरीवाल ने कहा कि कांग्रेस हर राज्य में बीजेपी से लड़ती दिखाई नहीं दे रही बल्कि वह हर जगह विपक्ष के खिलाफ लड़ रही है। कांग्रेस हर जगह मोदी विरोधी वोटों को बांटने का काम कर रही है। दिल्ली में वही कर रही, यूपी में एसपी-बीएसपी के गठबंधन को कमजोर कर रही है, पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को कमजोर कर रही है, केरल में लेफ्ट को कमजोर कर रही है। आप नेता ने कहा कि कुछ न कुछ तो अंदरखाने बीजेपी-कांग्रेस की डील है। उन्होंने कहा कि जहां बीजेपी-कांग्रेस के बीच सीधी लड़ाई है वहां राहुल गांधी रैली नहीं कर रहे हैं, जहां मजबूत विपक्ष है वहां जाकर वह रैली कर रहे हैं।

Continue Reading

दिल्ली

भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने कहा मैं महिला उत्पीड़न का प्रत्यक्ष प्रमाण हूं

Published

on

  • नईदिल्ली 23 अप्रैल 2019
  • भाजपा उम्मीदवार साध्वी प्रज्ञा ठाकुर ने मंगलवार को नामांकन भरा। प्रज्ञा ने सोमवारा में अपनी पहली चुनावी सभा की। इसके बाद रोड शो निकाला। प्रज्ञा ने सभा में कहा- मैं महिला उत्पीड़न का प्रत्यक्ष प्रमाण हूं। मुझे अलग-अलग तरह से प्रताड़ित किया गया। उन्होंने सोमवार को भी शुभ मुहूर्त देखकर नामांकन का पहला सेट दाखिल किया था।
    रोड शो के दौरान एनसीपी कार्यकर्ताओं ने उन्हें काला झंडा दिखाने की कोशिश की। इसके बाद भाजपा कार्यकर्ताओं ने उनकी पिटाई कर दी। झंडा दिखाने वाले युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया।
  • प्रज्ञा ने जनसभा में कहा- जब सनातन संस्कृति पर हमला होता है तो संतों को आगे आना पड़ता है। इसलिए मैं भोपाल से चुनाव लड़ रही हूं। उन्होंने (कांग्रेस) भगवा को आतंकवाद कहा। हिंदुत्व विकास का पर्याय है। ऐसे में मैं हिंदुओं की तकलीफों को जानती हूं और उनकी सुरक्षा के लिए कड़ा कानून लाने के लिए जो करना पड़े, वो करूंगी। साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने सोमवार को शुभ मुहूर्त में दो सेट नामांकन दाखिल किए थे। इस दौरान 11 पंडितों ने स्वस्तिवाचन किया था।
  • प्रज्ञा की सभा और रोड शो में शामिल होने आए अधिकांश लोग केसरिया रंग के कपड़े पहने थे और नेता भगवा साफा बांधे हुए थे। रोड शो में शामिल होने के लिए हजारों साधु प्रदेश के कई स्थानों से आए थे। रोड शो के चलते पुराने भोपाल में ट्रैफिक जाम हो गया।
  • प्रज्ञा के नामांकन के बाद भोपाल से मौजूदा सांसद आलोक संजर ने भाजपा के डमी प्रत्याशी के रूप में नामांकन भरा है। बताया जा रहा है कि हर राजनीतिक दल अपने मुख्य उम्मीदवार के साथ एक डमी उम्मीदवार से पर्चा दाखिल कराता है। अगर किसी वजह से मुख्य उम्मीदवार का नामांकन रद्द होता है तो उसका डमी उम्मीदवार पार्टी के चुनाव चिन्ह पर चुनाव लड़ सके।
  • मालेगांव ब्लास्ट की मुख्य आरोपी साध्वी प्रज्ञा के चुनाव लड़ने पर रोक लगाए जाने को लेकर याचिका दाखिल की गई थी। इस पर एनआईए ने अपना जवाब दाखिल कर दिया है। एजेंसी ने कहा है कि यह मामला चुनाव आयोग से संबंधित है। यह हमारे अधिकार क्षेत्र से बाहर है।प्रज्ञा ठाकुर ने याचिका पर कहा- यह राजनीति से प्रेरित है। यह केवल पब्लिसिटी स्टंट के लिए किया गया काम है। याचिकाकर्ता ने कोर्ट का समय बर्बाद किया है। उस पर जुर्माना लगाकर याचिका को खारिज कर दिया जाना चाहिए।

Continue Reading

ब्रेकिंग खबरे !!!!

Advertisement

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive16 hours ago

स्वामी प्रसाद मौर्य के घर पर पुलिस का छापा

सांसद तथा लोकसभा चुनाव 2019 दायूं से पार्टी के प्रत्याशी धर्मेंद्र यादव की शिकायत पर योगी आदित्यनाथ के मंत्री स्वामी...

Etoi Exclusive18 hours ago

चाचा ने दी चुनोती”शिवपाल यादव”को नहीं है भरोसा अपने भतीजे पर

फिरोजाबाद लोकसभा सीट पर वोटिंग जारी है. इस सीट पर चाचा-भतीजे के बीच कांटे का मुकाबला माना जा रहा है....

Etoi Exclusive18 hours ago

‘कौन हैं इशरत जहां?

तीन तलाक के खिलाफ जंग लड़ने वाली और मामले की प्रमुख याचिकाकर्ताओं में से एक इशरत जहां बीजेपी में शामिल...

Etoi Exclusive20 hours ago

जिहादी संगठन नेशनल तौहीद जमात (NTJ) की दूसरी टीम फिर से हमला करने के लिए तैयार

रविवार को हुए बम धमाकों के बाद भारत ने श्रीलंका को अलर्ट जारी करते हुए कहा है कि जिहादी संगठन...

Etoi Exclusive22 hours ago

प्रमोद दुबे सहित तीसरे चरण में 123 उम्मीदवार हैं जिनमें रायपुर में 25, बिलासपुर में 25, दुर्ग में 21, कोरबा में 13, रायगढ़ में 14, जांजगीर में 15 तथा सरगुजा में 10 उम्मीदवार अपना भाग्य आजमा रहे हैं

तीसरे चरण में रायपुर, बिलासपुर, दुर्ग,जांजगीर, कोरबा, रायगढ़ तथा सरगुजा लोकसभा क्षेत्रों के लिए 23 अप्रैल को मतदान हो रहा...

Advertisement

Calendar

April 2019
M T W T F S S
« Mar    
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930  
Advertisement

निधन !!!

Uncategoried1 month ago

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर आज होगा राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रीकर का सोमवार को अंतिम संस्कार होगा। पैंक्रियाटिक कैंसर से पिछले एक...

निधन2 months ago

पैसों की तंगी झेल रहे बॉलीवुड के खलनायक की मौत, घर में मिली लाश

शक्ति कपूर बोले- काम न मिलने से डिप्रेशन में थे महेश आनंद, सेट पर भी पीते थे शराब Click Here...

निधन3 months ago

निधन – फत्तेचंद अग्रवाल सक्ती

सक्ति (कन्हैया गोयल) 31/01/2019 शक्ति शहर की प्रतिष्ठित फर्म काशीराम फत्तेचंद के संचालक सजन अग्रवाल, पवन अग्रवाल एवं नवलकिशोर अग्रवाल...

दिल्ली3 months ago

पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस का 89 साल की उम्र में निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer नई दिल्ली 29 जनवरी 2019 भारत के पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज...

निधन3 months ago

श्रीमती कमला सिंह का निधन

जांजगीर-चाम्पा (हरीश राठौर) 28/01/2029 भैंसदा के प्रतिष्ठित ठाकुर परिवार के स्व. पलटन सिंह की धर्मपत्नी श्रीमती कमला सिंह का 28 जनवरी...

निधन3 months ago

जलसंसाधन विभाग के मुख्य अभियंता विजय श्रीवास्तव पंचतत्व में विलीन

27 जनवरी को आयोजित जेष्ठ पुत्र मयंक का वैवाहिक कार्यक्रम स्थगित बिलासपुर (अमित मिश्रा) 27/01/2019 हसदेव कछार जल संसाधन विभाग...

निधन3 months ago

रायपुर : श्रीमती माणक बाई ललवाणी (जैन) का निधन

रायपुर,14/01/2019 रायपुर निवासी श्रीमती माणक बाई ललवाणी  (जैन) 95 वर्ष, घर्मपत्नी स्व.पन्नालाल ललवाणी का स्वर्गवास आज हो गया हैं जिनकी...

निधन3 months ago

रायपुर : श्रीमती बिदामी बाई बुरड़ का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर,14/01/2019 आनन्द नगर विनायक इनक्लेव, रायपुर निवासी श्रीमती बिदामी बाई पत्नी...

निधन3 months ago

छोटेलाल कौशिक का निधन

जांजगीर-चाम्पा (हरीश राठौर) 09/01/2019 ग्राम डोंगाकोहरौद के मालगुजार छोटेलाल कौशिक का गत् 4 जनवरी को हो गया। अचानक वे 3...

छत्तीसगढ़4 months ago

लक्ष्मण प्रसाद साहू नगरदा का निधन : दशकर्म एवं चंदनपान 8 जनवरी को

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer सक्ती (कन्हैया गोयल) 05/01/2019 शक्ति विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक,भाजपा नेता...

Advertisement

Trending

Breaking News