Connect with us

ज्योतिष - वास्तु

दुर्गा का अष्टम रूप श्री महागौरी – असंभव कार्य भी संभव हो

Published

on

श्री दुर्गा का अष्टम रूप श्री महागौरी हैं। इनका वर्ण पूर्णतः गौर है, इसलिए ये महागौरी कहलाती हैं। नवरात्रि के अष्टम दिन इनका पूजन किया जाता है। इनकी उपासना से असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं। माँ महागौरी की आराधना से किसी प्रकार के रूप और मनोवांछित फल प्राप्त किया जा सकता है। उजले वस्त्र धारण किये हुए महादेव को आनंद देवे वाली शुद्धता मूर्ती देवी महागौरी मंगलदायिनी हैं ..

महागौरी –

देवी दुर्गा के नौ रूपों में महागौरी आठवीं शक्ति स्वरूपा हैं. दुर्गापूजा के आठवें दिन महागौरी की पूजा अर्चना की जाती है. महागौरी आदी शक्ति हैं इनके तेज से संपूर्ण विश्व प्रकाश-मान होता है इनकी शक्ति अमोघ फलदायिनी है.. माँ महागौरी की अराधना से भक्तों को सभी कष्ट दूर हो जाते हैं तथा देवी का भक्त जीवन में पवित्र और अक्षय पुण्यों का अधिकारी बनता है. दुर्गा सप्तशती में शुभ निशुम्भ से पराजित होकर गंगा के तट पर जिस देवी की प्रार्थना देवतागण कर रहे थे वह महागौरी हैं. देवी गौरी के अंश से ही कौशिकी का जन्म हुआ जिसने शुम्भ निशुम्भ के प्रकोप से देवताओं को मुक्त कराया. यह देवी गौरी शिव की पत्नी हैं यही शिवा और शाम्भवी के नाम से भी  पूजित होती हैं.

महागौरी स्वरूप –

महागौरी की चार भुजाएं हैं उनकी दायीं भुजा अभय मुद्रा में हैं और नीचे वाली भुजा में त्रिशूल शोभता है. बायीं भुजा में डमरू डम डम बज रही है और नीचे वाली भुजा से देवी गौरी भक्तों की प्रार्थना सुनकर वरदान देती हैं. जो स्त्री इस देवी की पूजा भक्ति भाव सहित करती हैं उनके सुहाग की रक्षा देवी स्वयं करती हैं. कुंवारी लड़की मां की पूजा करती हैं तो उसे योग्य पति प्राप्त होता है. पुरूष जो देवी गौरी की पूजा करते हैं उनका जीवन सुखमय रहता है देवी उनके पापों को जला देती हैं और शुद्ध अंत:करण देती हैं. मां अपने भक्तों को अक्षय आनंद और तेज प्रदान करती हैं.

 

महागौरी की पूजा विधि –

 

नवरात्रे के दसों दिन कुवारी कन्या भोजन कराने का विधान है परंतु अष्टमी के दिन का विशेष महत्व है. इस दिन महिलाएं अपने सुहाग के लिए देवी मां को चुनरी भेंट करती हैं. देवी गौरी की पूजा का विधान भी पूर्ववत है अर्थात जिस प्रकार सप्तमी तिथि तक आपने मां की पूजा की है उसी प्रकार अष्टमी के दिन भी देवी की पंचोपचार सहित पूजा करें. देवी का ध्यान करने के लिए दोनों हाथ जोड़कर इस मंत्र का उच्चारण करें “सिद्धगन्धर्वयक्षाद्यैरसुरैरमरैरपि। सेव्यामाना सदा भूयात सिद्धिदा सिद्धिदायिनी॥”.

महागौरी रूप में देवी करूणामयी, स्नेहमयी, शांत और मृदुल दिखती हैं. देवी के इस रूप की प्रार्थना करते हुए देव और ऋषिगण कहते हैं “सर्वमंगल मंग्ल्ये, शिवे सर्वार्थ साधिके. शरण्ये त्र्यम्बके गौरि नारायणि नमोस्तुते..”

या देवी सर्वभू‍तेषु माँ गौरी रूपेण संस्थिता।

नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।

 

महागौरी कथा –

भगवान शिव को पति रूप में पाने के लिए देवी ने कठोर तपस्या की थी जिससे इनका शरीर काला पड़ जाता है. देवी की तपस्या से प्रसन्न होकर भगवान इन्हें स्वीकार करते हैं और शिव जी इनके शरीर को गंगा-जल से धोते हैं तब देवी विद्युत के समान अत्यंत कांतिमान गौर वर्ण की हो जाती हैं तथा तभी से इनका नाम गौरी पड़ा.. माँ के इस रूप कि पूजा से सभी प्रकार कि कामना पूरी होती है ..

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल-

मेष राशि –

पदोन्नति या स्थानांतरण संभव….

आय तथा यश में वृद्धि…

संतान की असफलता से निराश…

छोटी-छोटी बातों पर झुझलाहट…

सूर्य के उपाय –

  1. प्रातः स्नान के उपरांत सूर्य को जल में लाल पुष्प, शक्कर मिलाकर अध्र्य देते हुए ऊॅ धृणि सूर्याय नमः का पाठ करें, सूर्य नमस्कार करें..
  2. गुड़.. गेहू… दान करें..

 

वृषभ –

काम में उच्च मनोबल से लाभ…

मानसिक सबल…

संतान के आलस्य पूर्ण व्यवहार से तनाव….

संतान के धन हानि से कष्ट…

चंद्रमा के उपाय –

  1. ऊॅ श्रां श्रीं श्रौं सः चंद्रमसे नमः का जाप करें…
  2. दूध, चावल, का दान करें…
  3. श्री सूक्त का पाठ करें धूप तथा दीप जलायें…

 

मिथुन –

ऋण…रोग से राहत…

पेमेंट की रिकवरी में विवाद….

दैनिक दिनचर्या में आकस्मिक चोट…

मंगल के दोषों को दूर करने के लिए –

  1. ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें…
  2. हनुमानजी की उपासना करें..
  3. मसूर की दाल, गुड दान करें..

 

कर्क –

नये अवसर की प्राप्ति….

आय में वृद्धि….

सामाजिक यष….

पार्टनर से विवाद…

शुक्र से संबंधित कष्टों से बचाव के लिए –

  1. ऊॅ शुं शुक्राय नमः का जाप करें…
  2. महामाया के दर्शन करें…
  3. चावल, दूध, दही का दान करें…

सिंह –

भौतिक वस्तु में निवेश…

पारिवारिक निकटता से मन प्रसन्न रहेगा….

व्यक्तिगत या वैधानिक विवादों में फंस सकते हैं….

शनि के उपाय –

  1. ‘‘ऊॅ शं शनैश्चराय नमः’’ की एक माला जाप कर दिन की शुरूआत करें..
  2. भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,
  3. उड़द या तिल दान करें,

कन्या –

कार्यक्षेत्र में अचानक परिवर्तन…

गुणवत्ता और कौशल में वृद्धि…

उत्साह तथा कौषलपूर्ण कार्यो से लाभ…

केतु के उपाय-

  1. ऊॅ कें केतवें नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें…
  2. सूक्ष्म जीवों की सेवा करें…
  3. गाय या कुत्ते को आहार दें…

तुला –

मातृपक्ष से शुभ समाचार की प्राप्ति…

आकस्मिक खर्च से तनाव…

जीवनसाथी के स्वास्थ्य से चिंता…

बृहस्पति कृत दोषों की निवृत्ति के लिए –

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. पीली वस्तुओं का दान करें…
  3. गुरूजनों का आर्शीवाद लें..

 

वृश्चिक –

दिन व्यर्थ के कार्यो में जायेगा…

रूटिन के कार्यो में बाधाकृ

पारिवारिक विवाद संभव…

राहु के उपाय –

  1. ऊॅ रां राहवे नमः का एक माला जाप कर दिन की शुरूआत करें..
  2. मूली का दान करें..
  3. सूक्ष्म जीवों को आहार दें..

 

धनु –

धार्मिक यात्रा तथा पारिवारिक सुख…

यात्रा के दौरान वाहन से कष्ट…

स्वास्थ्य हानि तथा धन हानि…

बृहस्पति के उपाय –

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. पीली वस्तुओं का दान करें…
  3. गुरूजनों का आर्शीवाद लें..

 

मकर –

धन तथा ऊॅर्जा परिवार के बीच खर्च हेागा…

लोगों का अच्छा सहयोग प्राप्त होगा…

उत्साह तथा तंदुरूस्त रहेंगे

मंगल के उपाय –

  1. ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें…
  2. हनुमानजी की उपासना करें..
  3. मसूर की दाल, गुड दान करें..

 

कुंभ –

भागीदारी में लाभ…

संपत्ति से संबंधित विवादों की समाप्ति…

आलस्य तथा शारीरिक कष्ट…

चंद्रमा के लिए –

  1. ऊॅ श्रां श्रीं श्रौं सः चंद्रमसे नमः का जाप करें…
  2. दूध, चावल, का दान करें…

 

मीन –

शुभ समाचार की प्राप्ति….

नये प्रकार के कार्यो में अच्छी सफलता…

विरोधियों द्वारा प्रशंसा…

वाहन से चोट की संभावना…

सूर्य के उपाय –

 

  1. प्रातः स्नान के उपरांत सूर्य को जल में लाल पुष्प, शक्कर मिलाकर अध्र्य देते हुए ऊॅ धृणि सूर्याय नमः का पाठ करें, सूर्य नमस्कार करें..
  2. गुड़.. गेहू… दान करें..

 

 

 

SHARE THIS

ज्योतिष - वास्तु

दिनांक 23/07/2019 का पंचांग एवं राशिफल

Published

on

  • रायपुर (etoi news) 22.07.2019
  • दिनांक 23.07.2019 का पंचाग
  • शुभ संवत 2076 शक 1941 ..
  • सूर्य उत्तरायणयन का …श्रावण मास कृष्ण पक्ष…. षष्ठी तिथि…दोपहर को 04 बजकर 16 मिनट तक… मंगलवार… उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र.. दोपहर को 01 बजकर 14 मिनट तक … आज चन्द्रमा …मीन राशि में… आज का राहुकाल दोपहर को 03 बजकर 28 मिनट से 05 बजकर 06 मिनट तक होगा …

संकटमोचन भौम व्रत –

हिंदू पौराणिक मान्यता है कि मंगल भगवान शिव से उत्पन्न हुए। कहीं खून तो कहीं आंसू और कुछ ग्रंथों में शिव के तेज से मंगल की उत्पत्ति मानी जाती है। यह भी माना जाता है कि शिव की कृपा से ही मंगल ग्रह के रूप में आकाश में स्थित हुआ। हनुमानजी भगवान शिव का ही अवतार हैं। इसलिए अगर इस श्रावण माह में शिवजी की कृपा चाहते हैं तो उसमें हनुमानजी भी आपकी मदद कर सकते हैं। श्रावण मास में मंगलवार को हनुमान जी की साधना बड़ी फलदायी होती है। हनुमान जी की आराधना से दुख, दर्द, कष्ट, भूत-प्रेत बाधा या किसी भी तरह का डर आपसे दूर रहता है। एक निडर और साहसी जीवन जीने के लिए हनुमानजी की पूजा का खास महत्व होता है। इसलिए हनुमान चालीसा पढ़ने और उनकी पूजा करने के लिए कहा जाता है, यदि बजरंग बली को प्रसन्न करना है और साथ ही शिव जी का आशीर्वाद पाना है तो श्रावण महीने में हनुमान जी का पूजन अवश्य करें।

ज्योतिष में मंगल को हर विपरीत स्थितियों और कठिन समय से जूझने की ताकत देने वाला ग्रह माना जाता है। यही कारण है कि संकटमोचन भौम व्रत प्रभावकारी माना गया है। इस प्रकार यदि कोई व्यक्ति प्रायः विभिन्न प्रकार के संकट या कष्ट से परेशान हो तथा कष्ट कम होने का नाम ही ना ले तो कष्ट मुक्ति हेतु ज्योतिषीय उपाय करने चाहिए। मंगल की शांति के लिए नियम यह है कि पूरे दिन व्रत रखकर शाम के समय भगवान शिव एवं हनुमान जी की पूजा करें। मंगलवार के दिन व्रत होने से इस दिन संध्या के समय हनुमान चालीसा के पाठ का भी कई गुणा लाभ मिलता है। मंगल दोष के प्रभाव को कम करने के लिए इस दिन मसूर की दाल, लाल वस्त्र, गुड़, तांबा का दान करना उत्तम फलदायी होता है। ऐसा करने से कर्ज से मुक्ति प्राप्त होती है और जीवन में समृद्धि का वास होता है।

श्रावण मास में मंगलवार को शिवालय में स्थित हनुमान जी की प्रतिमा का पंचोपचार पूजन करें। चमेली के तेल का दीपक जलाएं, अगरबत्ती जलाएं, सिंदूर चढ़ाएं, लाल फूल चढ़ाएं, गुड़ का भोग लगाएं, सिंदूर में चमेली का तेल मिलाकर श्री हनुमान जी से सफलता की कामना के साथ चोला चढ़ाएं।

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल-

मेष राशि –

     ज्यादा दोस्ती के कारण भटकाव….

बड़ो के साथ अनादर…

उदर विकार संभव…

शनि की शांति-

     उड़द, सरसो के तेल का दान करें…..

     तिल…गुड….से बने लड्डू का भोग लगायें….

    

वृषभ राशि –

     दोस्तो के साथ मौज-मस्ती के कारण परिवार से तनाव…

व्यसन से कष्ट….

बुध से उत्पन्न कष्ट की शांति के लिए –

     हरी चूड़िया बहन या किसी लड़की को दें…

गणेषजी में दूबी चढ़ायें…

 

मिथुन राशि –

     परिवारिक व्यवस्था में खर्च….

आकस्मिक विवाद…

घरेलू कलह….

राहु से राहत के लिए….

     ऊॅ रां राहवे नमः का जाप करें…

काली चीजों का दान करें….

 

कर्क राशि –

     स्थान परिवर्तन सुखकारक….

चतुस्पद से सावधान रहें…

केतु से बचाव के लिए –

     नारियल…मिष्ठान चढ़ायें….

     गाय…कुत्ता को आहार खिलायें…

 

सिंह राशि –

     कार्य अधिकता रहेगा…

पुराना रोग कष्टकारी….

सूर्य से राहत के लिए….

ऊॅ धृणि सूर्याय नमः का जाप करें….

सफेद फूल, मिठाई का भोग लगायें….

 

कन्या राशि –

     भागीदारों से लाभ जिससे व्यवसायिक ग्रोथ…

जीवनसाथी को शिकायत हो सकती है…

चंद्रमा से संबंधित…

     दूध…नारियल शंकरजी में चढ़ायें….

     सफेद वस्त्र धारण करें……

 

तुला राशि –

     मातृपक्ष के सदस्यों से मुलाकात…

उत्साह भरा दिन….

उदर विकार…

लाल वस्तु चढ़ायें…

     लड्डू का प्रसाद बाटें…

     तुलसी का सेवन करें….

    

वृश्चिक राशि –

     धार्मिक कृत्य करेंगे…

लोकप्रियता मिलेगी…

बृहस्पति के निम्न उपाय करें –

     देवी जी में पीला वस्त्र…

पीले पुष्प….लड्डू…का भोग लगायें….

 

धनु राशि –

     पड़ोसियों का सहयोग….

     सांस्कृतिक कार्यक्रम में भागीदारी…

कंधा या श्वसन संबंधी कष्ट संभव….

शुक्र के कष्टों की निवृत्ति के लिए –

     माता का दूध दही चढ़ायें….

     दुर्गासप्तशती का पाठ करें…..

 

मकर राशि –

     वित्तीय बाधा…

     अकेलापन…बोर संभव….

शनि के निम्न उपाय आजमायें-

     ऊॅ शं शनैष्चराय नमः का जाप करें…

काली चीजों का दान करें…

    

कुंभ राशि –

     रिश्तेदार का आगमन…

आर्ट फिल्ड में सफलता….

सर्दी से कष्ट…

     सफेद मिष्ठान का दान कुवारी कन्याओं को करें….

     सफेद वस्त्र धारण करें….

 

मीन राशि –

     शारीरिक कष्ट…

काम या मुलाकात पेंड़िग रहेगा…

सूर्य की शांति के लिए –

     लाल पुष्प चढ़ायें…

     गेहू, गुड का दान करें….

SHARE THIS
Continue Reading

ज्योतिष - वास्तु

सावन मास में करें ये काम भगवान शिव करेगे हर मनोकामनाएं पूर्ण

Published

on

  • रायपुर(etoi news)22/07/2019
  • सावन मास देवों के देव महादेव को समर्पित है। इस मास में पूजा-अर्चना से उनको प्रसन्न कर मनचाहा आशीर्वाद प्राप्त होता है। यदि आपको शिव मंत्र और शिव चालीसा याद नहीं हैं तो आपको निराश होने की आवश्यकता नहीं हैं हम आपको बता रहे हैं भगवान शिव के एक ऐसी पूजा विधि के बारे में जिसे अपनाकर आप उनकी कृपा प्राप्त कर सकते हैं और आपकी मनोकामनाएं पूर्ण कर सकते हैं।सावन के सोमवार को आपको अपने घर के शिवलिंग या फिर किसी मंदिर के शिवलिंग को जलाभिषेक कराना है। जलाभिषेक से भगवान शिव जल्द प्रसन्न होते हैं, लेकिन आपको जलाभिषेक की विधि जानने की जरुरत है।
  • आप तांबे के लोटे या अन्य किसी पात्र में गंगाजल भर लें, फिर उसमें गाय का दूध मिश्रित कर लें। इसके बाद आप भांग की कुछ साफ पत्तियां लेकर उस पात्र में रख लें। अब आप भगवान शिव को अपने अंतर्मन में ध्यान करके ओम नम: शिवाय शिवाय नम:’ मंत्र का जाप करते हुए उस पात्र के गंगाजल, दूध और भांग को भगवान शिव को अर्पित कर दें।ऐसा आपको सावन के चार सोमवार तक करना है। ऐसा करने से व्यक्ति को सर्वार्थ सिद्धि की प्राप्ति होती है और उसकी सभी मनोकामनाएं भगवान भोलेनाथ पूर्ण कर देते हैं।
Disclaimer:हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

सावन मास देवों के देव महादेव को समर्पित है,करें बस यह एक काम और पूरा होगा हर कार्य

SHARE THIS
Continue Reading

ज्योतिष - वास्तु

दिनांक 22/07/2019 का पंचांग एवं राशिफल

Published

on

  • रायपुर (etoi news) 21.07.2019
  • दिनांक 22.07.2019 का पंचाग
  • शुभ संवत 2076 शक 1941 ..
  • सूर्य उत्तरायणयन का …श्रावण मास कृष्ण पक्ष…. पंचमी तिथि…दोपहर को 02 बजकर 04 मिनट तक… सोमवार… पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र.. दोपहर को 01 बजकर 14 मिनट तक … आज चन्द्रमा …मीन राशि में… आज का राहुकाल दिन को 07 बजकर 13 मिनट से 08 बजकर 52 मिनट तक होगा …

सोमवती पंचमी व्रत का विशेष महत्त्व –

सोमवार के दिन पड़ने वाली पंचमी सोमवती पंचमी कहलाती है। क्योंकि श्रवण मास या नक्षत्र होने से यह दिन पितृ दोष, काल सर्प दोष की शांति के लिए बहुत ही शुभ दिन है। पीपल और बरगद के वृ्क्ष की पूजा करने से पितृ दोष की शान्ति होती है। किसी भी शिव मंदिर में सोमवती पंचमी के दिन ही काल सर्प दोष की शांति करनी चाहिए। श्रवण मास में पड़ रही ये सोमवती पंचमी विशेष रूप से पितृ दोष की शान्ति के साथ ही लक्ष्मी प्राप्ति के लिए इस व्रत का विशेष महत्त्व है। जिसमें भगवान शिव का यथोपचार, विधि-विधान और बेलपत्र, अर्कपूष्प, धतूरा का फल आदि पूजन सामग्री से पूजा की जाती है। शास्त्र विधान के अनुसार सोमवार का व्रत रखना अति श्रेष्ठ माना जाता है। सोमवार व्रत के पालन में तीन प्रमुख विधान हैं – इसमें नियमित वार व्रत के रूप में सोमवार व्रत, दूसरा सोलह सोमवार का व्रत तथा तीसरा सौम्य प्रदोष व्रत। फल की दृष्टि से तीनों व्रत भौतिक सुख और कामनाओं को पूरा करते हैं। साथ ही कालसर्प दोष की निवृत्ति के लिए श्रावण मास में सबसे सरल उपाय शिव की आराधना है। शास्त्र के अनुसार श्रावण मास में नदी के किनारे स्थित किसी शिव के मंदिर में कालसर्प दोष की शांति के लिए शिव के साथ नागपूजन करने से कालसर्प दोष की निवृत्ति होती हैं। इसमें प्रातःकाल जल्दी उठकर स्नान आदि से निवृत्त होकर भगवान भोले शंकर की गंध, पुष्प, धूप, दीप और नैवद्य द्वारा पंचोपचार से पूजा कर भगवान शिव पर जल से अभिषेक करें उसके उपरांत स्वच्छ जल से अभिषेक कर बिल्व पत्र तथा धतूरा आदि फूल फल आदि अर्पित कर आरती करें। इससे मनोकामना पूरी होती है। भगवान शिव वैसे ही आसानी से प्रसन्न हो जाते हैं तथा श्रावण मास उनका प्रिय मास होने से इस मास में किए गए व्रत का विशेष फल मिलता है।

आज की राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल-

मेष राशि –

     आकस्मिक हानि….

एकाग्रता की कमी…

करीबी से विवाद….

उपाय करें तो लाभ होगा-

     ऊॅ रां राहवे नमः का एक माला जाप कर दिन की शुरूआत करें..

     सूक्ष्म जीवों को आहार दें..

    

वृषभ राशि –

     विद्धानों से सम्मान…

नये अवसर की प्राप्ति…

वाहन से चोट….

शांति के लिए –

     ऊॅ कें केतवें नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें…

     सूक्ष्म जीवों की सेवा करें…

     गाय या कुत्ते को आहार दें…

     हल्दी, नारियल का दान करें…

         

मिथुन राशि –

     अपनो का सहयोग…

     मनोबल में वृद्धि…

रूके हुए काम पूरे होंगे…

सूर्यजन्य दोषों को दूर करने के लिए –

     ऊॅ धृणि सूर्याय नमः का पाठ करें…..

     गुड़.. गेहू…का दान करें..

         

कर्क राशि –

     रिश्तें में भावुक….

आलस्य से कार्य में बाधा….

पड़ोसियों से विवाद…

चंद्रमा से संबंधित कष्टों से बचाव के लिए –

     उॅ नमः शिवाय का जाप करें…

     दूध, चावल का दान करें…

     श्री सूक्त का पाठ करें धूप तथा दीप जलायें…

     रूद्राभिषेक करें…

 

सिंह राशि –

     सामाजिक कार्यो में व्यस्तता…

     नवीन वाहन की खरीदी….

     जिम्मेदारी में वृद्धि…

     लीवर से संबंधित कष्ट….

 उपाय करने चाहिए –

     ऊॅ भौं भौमाय नमः का एक माला जाप करें….

     मंदिर में लड्ड़ का भोग लगायें….

     अपने वाहन में मंदिर का लाल कपड़ा बांधकर रखें……

 

कन्या राशि –

     जीवनसाथी को स्वास्थ्यगत कष्ट….

     पारिवारिक सहयोग…

वित्तीय हानि से तनाव….

उपाय आजमायें-

     ऊॅ बृं बृहस्पतयै नमः का एक माला जाप करें….

     पुरोहित को केला, नारियल का दान करें….

     साई जी के दर्शन कर दिन की शुरूआत करें….

 

तुला राशि –

     संतान के कैरियर को लेकर टेंषन….

परिवर्तन से लाभ

छोटी यात्राए फलदायी…..

अतः शुक्र कृत दोषों की निवृत्ति के लिए –

     ऊॅ शुं शुक्राय नमः का जाप करें…

चावल, दूध, दही का दान करें…

    

वृश्चिक राशि –

     कार्य व्यवसाय में सफलता….

समाज में यश की वृद्धि….

क्रोध का त्याग करें…

शांति के लिए शनि के निम्न उपाय करें –

     ऊॅ शं शनैश्चराय नमः जाप कर दिन की शुरूआत करें.

     भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,

     सभी भक्तजनों को प्रसाद वितरित करें….

 

धनु राशि –

     सत्तापक्ष से लाभ….

पारिवारिक कलह…

शारीरिक कष्ट…

निवृत्ति के लिए –

     ऊॅ बुं बुधाय नमः का एक माला जाप कर गणपति की आराधना करें

     दूबी गणपति में चढ़ाकर मनन करें,

     मूंग का दान करें।

 

मकर राशि –

     विवादों से मानसिक अशांति…

गले में तकलीफ,

सहयोगियों के साथ विवाद….

मनोबल में वृद्धि….

सूर्य के निम्न उपाय आजमायें –

     ऊॅ धृणि सूर्याय नमः का पाठ करें…..

     गुड़.. गेहू…का दान करें..

    

कुंभ राशि –

     यात्रा से लाभ…

पुराने दोस्त से मुलाकात संभव…

खर्च की अधिकता….

शुक्र के जनित तनाव से निवारण के लिए –

     उॅ नमः शिवाय का जाप करें…

     दूध, चावल का दान करें…

     रूद्राभिषेक करें…

    

मीन राशि –

कीमती वस्तु की खरीदी संभव…

     परिवार में मांगलिक कार्य….

     उतावलेपन से बचे…

     चोट से सावधान रहें….

 मंगल की शांति के लिए –

     ऊॅ भौं भौमाय नमः का एक माला जाप करें….

     मंदिर में लड्ड़ का भोग लगायें….

     अपने वाहन में मंदिर का लाल कपड़ा बांधकर रखें……

 

SHARE THIS
Continue Reading

ब्रेकिंग खबरे !!!!

Advertisement

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive3 days ago

पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर(etoi news)20/07/2019 द‍िल्‍ली कांग्रेस की अध्‍यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित...

Etoi Exclusive5 days ago

सिर्फ एक रूपये में जाधव बचा फांसी के फंदे से ! कैसे ?

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर। जासूसी के केस में बंद कुलभूषण जाधव के मामले में...

Etoi Exclusive2 weeks ago

रोहित-राहुल के शतक की बदौलत भारत की श्रीलंका पर शानदार जीत

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer Post Views: 217 SHARE THIS

Etoi Exclusive4 weeks ago

कौन होगा छत्तीसगढ़ का पीसीसी चीफ ?

आज पुरे प्रदेश के राजनैतिक पंडितों के दिमाग में बहुत से प्रश्न तैर रहें होंगे उनमें से ज्यादा तर प्रश्न...

Etoi Exclusive1 month ago

सुर्ख़ियाँ

etoinews.com के बीते दो घंटे की सुखियाॅ क्या रहीं विशेष खबरे और क्या था उनको खबरो के पीछे और क्या...

Advertisement
Advertisement
July 2019
M T W T F S S
« Jun    
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
Advertisement

निधन !!!

अन्य खबरे2 days ago

शो के दौरान हुए मौत, लोग एक्टिंग समझते रहे.

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer भारतीय मूल के स्टैंडअप कॉमेड‍ियन मंजूनाथ नायडू की स्टेज पर परफॉर्म...

निधन1 month ago

बॉलीवुड के मशहूर एक्टर गिरीश कर्नाड का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer बॉलीवुड के मशहूर एक्टर गिरीश कर्नाड का सोमवार को 81 साल...

Uncategoried4 months ago

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर आज होगा राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रीकर का सोमवार को अंतिम संस्कार होगा। पैंक्रियाटिक कैंसर से पिछले एक...

निधन5 months ago

पैसों की तंगी झेल रहे बॉलीवुड के खलनायक की मौत, घर में मिली लाश

शक्ति कपूर बोले- काम न मिलने से डिप्रेशन में थे महेश आनंद, सेट पर भी पीते थे शराब Click Here...

निधन6 months ago

निधन – फत्तेचंद अग्रवाल सक्ती

सक्ति (कन्हैया गोयल) 31/01/2019 शक्ति शहर की प्रतिष्ठित फर्म काशीराम फत्तेचंद के संचालक सजन अग्रवाल, पवन अग्रवाल एवं नवलकिशोर अग्रवाल...

दिल्ली6 months ago

पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस का 89 साल की उम्र में निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer नई दिल्ली 29 जनवरी 2019 भारत के पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज...

निधन6 months ago

श्रीमती कमला सिंह का निधन

जांजगीर-चाम्पा (हरीश राठौर) 28/01/2029 भैंसदा के प्रतिष्ठित ठाकुर परिवार के स्व. पलटन सिंह की धर्मपत्नी श्रीमती कमला सिंह का 28 जनवरी...

निधन6 months ago

जलसंसाधन विभाग के मुख्य अभियंता विजय श्रीवास्तव पंचतत्व में विलीन

27 जनवरी को आयोजित जेष्ठ पुत्रमयंक का वैवाहिक कार्यक्रम स्थगित बिलासपुर (अमित मिश्रा) 27/01/2019 हसदेव कछार जल संसाधन विभाग बिलासपुर...

निधन6 months ago

रायपुर : श्रीमती माणक बाई ललवाणी (जैन) का निधन

रायपुर,14/01/2019 रायपुर निवासी श्रीमती माणक बाई ललवाणी  (जैन) 95 वर्ष, घर्मपत्नी स्व.पन्नालाल ललवाणी का स्वर्गवास आज हो गया हैं जिनकी...

निधन6 months ago

रायपुर : श्रीमती बिदामी बाई बुरड़ का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर,14/01/2019 आनन्द नगर विनायक इनक्लेव, रायपुर निवासी श्रीमती बिदामी बाई पत्नी...

Advertisement

Trending

Breaking News