Connect with us

अन्य खबरे

चिटफंड पर राजनीतिक चीटिंग कर रहे हैं, विज्ञापन देकर वाहवाही न लूटे भूपेश बघेल -भाजपा

Published

on

छत्तीसगढ़ विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के ट्वीट पर पलटवार करते हुए कहा है कि बघेल जी चिटफंड के नाम पर राजनीतिक चीटिंग कर रहे हैं। भाजपा की केंद्र सरकार चिटफंड कंपनियों के खिलाफ सख्ती बरतते हुए जनता का पैसा उसे वापस दिलाने की दिशा में प्रयास कर रही है। केंद्र सरकार की पहल पर हो रहे जन हितेषी कदम का झूठा श्रेय लेने के लिए भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ में विज्ञापन तक दे डाले। छत्तीसगढ़ में भाजपा शासनकाल में लागू जनहित की योजनाओं पर श्रेय लूटने की राजनीति के साथ ही श्री बघेल गरीब आदिवासियों के नमक- चना जैसी योजनाओं पर भी कुठाराघात कर रहे हैं और हालत यह है कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार आने के बाद से ही गरीब आदिवासी चावल चना नमक के लिए तरस रहे हैं। शराब, रेत और सीमेंट के जरिए चुनावी चंदा बटोरने वाले कांग्रेसी झूठ फरेब की राजनीति का कीर्तिमान स्थापित कर रहे और मुख्यमंत्री बघेल तो इस मामले में अपने राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी से भी आगे निकल गए हैं।
श्री कौशिक ने कहा कि भाजपा राज में हुए विकास कार्यों पर भूपेश सरकार अपना ठप्पा लगाना चाहती है और केंद्र की हर पहल पर अपना नाम लिखवाना चाहती है ।यही कारण है कि जैसे ही केंद्र सरकार ने चिटफंड कंपनियों पर सख्ती बरतने के साथ ही पीडि़त लोगों को राहत देने के लिए कदम उठाएं, वैसे ही छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल ने इस मामले में विज्ञापन देकर यह साबित करने की कोशिश की कि वह चिटफंड कंपनियों में डूबा जनता का धन वापस दिलाएंगे। जबकि असल स्थिति यह है कि सत्ता में आते ही भूपेश बघेल और उनकी मंडली ने छत्तीसगढ़ की जनता को तरह – तरह से लूटने का काम तेजी से शुरू कर दिया है और विकास के सारे काम ठप करने के साथ ही राज्य को आर्थिक दिवालियापन की स्थिति में ला दिया है। कानून व्यवस्था की स्थिति यह है कि विकास का गढ़ कहलाने वाला छत्तीसगढ़ अपराध गढ़ के रूप में सामने आ रहा है।
श्री कौशिक ने कहा कि जनता से झूठे वादे करके कांग्रेस एक बार सत्ता में आ गई है लेकिन जनता के सामने अब उसका असली चेहरा आ चुका है। इसलिए कांग्रेस ने जो भ्रम पैदा किया था, वह छंट चुका है । आने वाले समय में कांग्रेस को जनता से किए गए दोगलेपन की सजा अवश्य मिलेगी।

SHARE THIS

अन्य खबरे

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री बाबूलाल गौर के निधन पर दुःख प्रकट किया

Published

on

By

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री बाबूलाल गौर के निधन पर दुःख प्रकट किया

रायपुर, 21 अगस्त 2019

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री बाबूलाल गौर के निधन पर गहरा दुःख प्रकट किया है। मुख्यमंत्री ने अपने शोक सन्देश में कहा है कि स्वर्गीय श्री बाबूलाल गौर एक लोकप्रिय जनप्रतिनिधि थे, उन्होंने अपना पूरा जीवन जनता की सेवा में समर्पित कर दिया। श्री बघेल ने स्वर्गीय श्री गौर के परिवारजनों के प्रति संवेदना प्रकट करते हुए दिवंगत आत्मा की शान्ति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।

SHARE THIS
Continue Reading

अन्य खबरे

सादगी से मनेगा मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जन्मदिन

Published

on

By

सादगी से मनेगा मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जन्मदिन

रायपुर, 21 अगस्त 2019

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल के 23 अगस्त को जन्मदिन के कार्यक्रम सादगीपूर्ण रहेंगे। हाल ही में मुख्यमंत्री श्री बघेल की माताजी के निधन के कारण उनके जन्मदिन पर किसी भी प्रकार के बडे़ कार्यक्रम आयोजित नहीं किए जाएंगे। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल जन्मदिन पर राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास पर सादगीपूर्ण तरीके से लोगों से मुलाकात करेंगे

SHARE THIS
Continue Reading

Etoi Exclusive

कमरछठ एक छत्तीसगढ़िया त्यौहार

Published

on

By

कमरछठ एक छत्तीसगढ़िया त्यौहार


आज छत्तीसगढ़ का स्थानीय त्यौहार कमरछठ बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस त्यौहार में माताएं अपनी संतानों की दीर्घायु और सुखद जीवन की कामनाएं कर उपवास रहती हैं और विशेष प्रकार की पूजा कर एक तरह की खिचड़ी तथा सात प्रकार की भाजी का प्रसाद ग्रहण करती हैं।
छत्तीसगढ़, छत्तीसगढ़ी और छत्तीसगढ़िया के साथ जो व्यवहार किया गया था। वह छत्तीसगढ़ के कुछ त्यौहारों में आज भी दिखता है। कमरछठ को कुछ लोग खमरछठ और हलषष्ठी भी बोलकर जबरन अपनी किवदंतियों को इस त्यौहार में घुसाने की कोशिश करते हैं। जबकि उन किवदंतियों से इस त्यौहार का कोई लेना देना नहीं है। हां इतना जरूर है कि इसी तिथी को कुछ अन्य संयोग जरूर हुए जो इस त्यौहार के साथ जुड़ते गए।
छत्तीसगढ़ मूलतः शिव प्रदेश है। शिव परिवार की प्राचीन मूर्तियां यहां हर जगह पायी जातीं हैं। इन्हें बूढ़ादेव, शीतला माता जैसे नामों से पुकारा जाता है। सावन महीने में स्वयं शिव जी आते हैं। सावन खत्म होने के ठीक छठे दिन कमरछठ मनाया जाता है। कहते हैं कि भगवान शिव के पुत्र कार्तिकेय का एक नाम कुमार भी है। माता पार्वती ने पुत्र प्राप्ति के कठोर तपस्या की थी। कार्तिकेय का जन्म इसी दिन हुआ था। कार्तिकेय की पत्नी का नाम षष्ठी भी बताया जाता है। कुमार और षष्ठी नाम जुड़कर कमरछठ होना बताया जाता है। पति की दीर्घायु की कामना के साथ महिलाएं दस दिनों बाद तीजा पर्व मनाएंगी। यह भी शिव आराधना का पर्व है। उसी दिन गणेश चतुर्थी के साथ गणेश पूजा का भी पर्व शुरू होगा।
जो लोग भगवान श्रीकृष्ण और उनके बड़े भाई बलराम से इस पर्व को जोड़ते हैं, उनके लिए बताते चलूं कि तीन दिन बाद जन्माष्टमी है। अंचल में इसे आठे के रूप में मनाया जाता है। रही बात बलराम के प्रतीक हल के पूजा की तो उसका त्यौहार कुछ दिन पूर्व हरेली के रूप में मना लिया जाता है। कृषि कार्य में सेवा के लिए घरेलू पशुओं को धन्यवाद देने का एक पर्व आठे के बाद पोरा और दिवाली के तीसरे दिन मातर के रूप में मनाया जाता है।
कमरछठ बरसात के समाप्ति का भी पर्व है। कास जिसे छत्तीसगढ़ी में कासी कहा जाता है के पौधों में फूल इन्ही दिनों या थोड़े दिन बाद ही आते हैं। कास में फूल तभी आते हैं जब बरसात समाप्ति की ओर हो। कमरछठ की पूजा में सगरी बनाकर उसमें पानी भर दिया जाता है। सगरी के पार में कास के पौधों के टुकड़े गड़ाए जाते हैं।
यह पर्व वैष्णव परम्परा से अलग क्यों है ? इसका जवाब इस पर्व में प्रयोग होने वाली भैंस की दूध, दही और घी है। वैष्णव परम्परा में गाय का दूध, दही और घी का प्रयोग होता है। एक और महत्वपूर्ण बात इस त्यौहार में महुए के फल का प्रयोग है। महुआ को अंचल में पवित्र माना जाता है। साथ ही खिचड़ी जो कि ‘ पसहर ‘ चावल से बनता है। यह चावल उगाया नहीं जाता। मतलब बिना हल और बैल के प्रयोग के इसकी फसल ली जाती है। इसे काटा नहीं जाता। मतलब इसे हाथों से तोड़ा जाता है। इसकी खिचड़ी बनाते समय महुआ के डंगाल का उपयोग किया जाता है। खाते भी इसे महुआ के पत्तों के ऊपर हैं।

साभार अजय वर्मा की फेस बुक वाल से

SHARE THIS
Continue Reading

#Chhattisgarh खबरे !!!!

देश-दुनिया11 mins ago

कानून की तय स्थिति में- ‘भगवान नाबालिग और नाबालिग की संपत्ति नहीं छीनी जा सकती’

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer सुप्रीम कोर्ट में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अध्यक्षता वाली पांच...

अन्य खबरे12 mins ago

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री बाबूलाल गौर के निधन पर दुःख प्रकट किया

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री श्री बाबूलाल गौर के निधन पर दुःख प्रकट किया Click Here...

अन्य खबरे26 mins ago

सादगी से मनेगा मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जन्मदिन

सादगी से मनेगा मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जन्मदिन Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर, 21...

देश-दुनिया29 mins ago

पी. चिदंबरम के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी ,18 घंटे से हैं लापता

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer आइएनएक्स मीडिया घोटाला मामले में सु्प्रीम कोर्ट (Supreme Court) के जज...

छत्तीसगढ़58 mins ago

श्री कृष्ण जन्माष्टमी… 30 फीट की सबसे ऊंची मटकी, इस बार ‘सीएम होंगे शामिल’ 

            श्री कृष्ण जन्माष्टमी… 30 फीट की सबसे ऊंची मटकी, इस बार ‘सीएम होंगे शामिल’ ...

Advertisement

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive1 hour ago

कमरछठ एक छत्तीसगढ़िया त्यौहार

कमरछठ एक छत्तीसगढ़िया त्यौहार आज छत्तीसगढ़ का स्थानीय त्यौहार कमरछठ बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस त्यौहार...

Etoi Exclusive23 hours ago

मोहन भागवत के आरक्षण मुद्दे पर किये ट्वीट से मचा बवाल ! जाने आरक्षण आखिर चीज क्या है ?

मोहन भगवत ने ट्विटर पर जारी बयान में कहा कि समाज में सदभावना पूर्वक परस्पर बातचीत के आधार पर सब...

Etoi Exclusive2 days ago

राजीव की काँग्रेस आखिर हांफ क्यों रही है ?

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer गाँधी,नेहरू,शास्त्री, इंदिरा ,राजीव,नरसिंहा राव जैसे दिग्गजों की बिरसा पार्टी  हांफ क्यों...

Etoi Exclusive2 days ago

क्या प्रदेश के मुखिया के सोच के अनुरूप नरवा,गरवा,घुरुआ,बारी पर अमल हो रहा है ?

नरवा,गरवा,घुरुआ,बारी, पर सरकारी अमला ठीक चल रहा है ? या फिर  छत्तीसगढ़ की  इस ब्रांड और ग्रैंड योजना के अमल...

Etoi Exclusive1 week ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें सुबह की सुर्खियाँ 12/08/2019

  Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer     दिनांक 12/08/2019 का पंचांग एवं राशिफल श्रावण सोम...

Advertisement
August 2019
M T W T F S S
« Jul    
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293031  
Advertisement

निधन !!!

Advertisement

Trending