Connect with us

व्यापर

शादी के बाद आ रही पैसे की दिक्कत तो ये 5 बातें आपके काम की

Published

on

शादी के बाद व्यक्ति की जिम्मेदारी बढ़ जाती है, जब तक कोई भी व्यक्ति अकेले रहता है तब तक बहुत अधिक जिम्मेदारियों से वंचित रहता है, लेकिन शादी होने के बाद कई तरह के दायित्व आ जाते हैं। अगर बात आर्थिक परिदृश्य की हो तो इस पर गौर करना चाहिए। मैरिड कपल्स के लिए ऐसे ही कुछ फाइनेंशियल टिप्स हैं जो उन्हें शादी के बाद अपने वित्त का प्रबंध करने में मददगार साबित होगी।

पैसे को लेकर बात करें

यह सीखना जरूरी है कि एक-दूसरे की मनी माइंडसेट के बारे में कैसे बात करें और उनमें से प्रत्येक के लिए पैसे का उपयोग कैसे करना है। इस बात पर खुली चर्चा करने से छोटे और दीर्घकालिक वित्तीय लक्ष्यों को पहचानने में मदद मिल सकती है। सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर मणिकरण सिंघल कहते हैं, ‘यदि आप education loan,  Car loan, personal loan, एसआईपी में निवेश कर रहे हैं या आरडी में निवेश कर रहे हैं, तो इन सभी बातों पर चर्चा करें।’

फाइनेंशियल गोल सेट करें

शादी के बाद अगर दोनों लोग कमाने वाले हैं तो इसके कई फायदे हैं। इससे खर्चों को दोगुना किये बिना आय को दोगुना किया जा सकता है। पैसे के लिए तैयार रहना और साथ मिलकर इसके लिए एक गोल सेट करना काफी कारगर सिद्ध होगा। सिंघल कहते हैं, ‘कपल्स को लाइफ इंश्योरेंस या हेल्थ इंश्योरेंस भी लेना चाहिए। इसके अलावा निवेश गोल बेस्ड होना चाहिए।’ दरअसल, जहां तक गोल की बात है तो यह व्यक्तिगत और कॉमन भी हो सकता है। कपल्स में दोनों लोगों की अपनी कुछ अलग इच्छाएं भी हो सकती हैं, जिन्हें पूरा करना है। इसलिए कॉमन और व्यक्तिगत गोल का भी ख्याल रहे।

जॉइंट इमरजेंसी फंड तैयार करें

मणिकरण सिंघल कहते हैं, ‘शादी के बाद पैसे के प्रबंधन के तौर पर निवेश और बीमा दोनों अलग-अलग होना चाहिए. इसके फर्क को समझते हुए आगे बढ़ें। जॉइंट इमरजेंसी फंड से आप किसी भी मुश्किल समय में पैसे पा सकते हैं और किसी भी तरह की वित्तीय कठिनाई में आपको मदद मिलेगी। इमरजेंसी फंड की स्थापना किसी भी अनचाही स्थितियों के लिए पैसे-तैयार होने का एक अच्छा तरीका है। इसके लिए आप किसी वित्तीय सलाहकार या योजनाकार की मदद ले सकते हैं। महीने, तीन महीने या छमाही आधार पर इसकी समीक्षा भी करते रहें।

कर्ज के बारे जानकारी और उसका भुगतान

एक्सपर्ट कहते हैं कि पार्टनर्स को पहले से चल रहे EMI और क्रेडिट कार्ड बिल से परेशान नहीं होना चाहिए। इसके बजाय, उन्हें एक दूसरे के कर्ज के भुगतान करने में मदद करना चाहिए। इसके अलावा क्रेडिट कार्ड/EMI पर निगरानी रखने से बचने के लिए बजट बनाना और मंथली कैश फ्लो को ध्यान में रखना बेहतर है।

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

देश - दुनिया

सबसे सस्‍ता होम लोन : जानें कितने फीसदी हैं इस बैंक की ब्‍याज दरें

Published

on

By

कोरोना संकट के बीच अपना घर खरीदने की इच्‍छा रखने वालों के लिए अच्‍छी खबर है. दरअसल, कोटक महिंद्रा बैंक ने ऐलान किया है कि बैंक सबसे कम ब्याज दर पर होम लोन देता रहेगा. इससे पहले देश के सबसे बड़े कर्जदाता स्‍टेट बैंक ऑफ इंडिया ने होम लोन की ब्याज दर 6.70 फीसदी से बढ़ाकर 6.95 फीसदी कर दी. इसी के बाद कोटक महिंद्रा बैंक ने सोमवार को ऐलान किया कि वह अपने ग्राहकों को 6.65 फीसदी सालाना की विशेष ब्याज दर पर होम लोन उपलब्ध कराना जारी रखेगा. यह ब्याज दर सभी लोन राशि पर लागू होगी.

क्रेडिट स्‍कोर और लोन टू वैल्‍यू से जुड़ी हैं ब्‍याज दरें
कोटक महिंद्रा बैंक ने कहा है कि नए लोन आवेदन और बैलेंस ट्रांसफर केस 6.65 फीसदी सालाना की शुरुआती ब्याज दर के योग्य होंगे. हालांकि, ब्याज दरें बॉरोअर्स क्रेडिट स्कोर और लोन टू वैल्यू  रेश्यो से लिंक्ड हैं. नौकरीपेशा और सेल्फ एंप्लॉयड दोनों इसका फायदा उठा सकते हैं. अपने सेग्मेंट में यह सबसे सस्ते होम लोन आफर में से एक है. होम लोन लेने के लिए कोटक डिजी होम लोन्‍स के जरिये अप्लाई करने पर प्रोसेसिंग टाइम भी बेहद कम होगा.

घर/फ्लैट की बिक्री में देखा जा रहा है इजाफा

इस पर कोटक महिंद्रा बैंक में प्रेसिडेंट (कंज्यूमर एसेट्स) अंबुज चंदना ने कहा कि होम लोन ब्याज दरों में बड़ी गिरावट समेत कई कारणों से हाल के महीनों में घरों की बिक्री में वृद्धि देखी गई है. वह घर खरीदारों को भरोसा दिलाना चाहते हैं कि कोटक उनके साथ खड़ा है और उनका होम लोन बिना किसी बदलाव के 6.65 फीसदी सालाना की दर पर उपलब्ध है. चंदना इसे अच्छी होम लोन बुक बनाने के अवसर के तौर पर भी देख रहे हैं. बता दें कि एसबीआई ने एक ऑफर के तहत मार्च में न्यूनतम 6.7 फीसदी की दर से होम लोन उपलब्ध कराने का ऐलान किया था, जो 31 मार्च को खत्म हो चुका है. अब एसबीआई ग्राहकों को न्यूनतम 6.95 फीसदी की दर से ब्याज चुकाना होगा.

Continue Reading

देश - दुनिया

सस्ता हुआ सोना

Published

on

By

आज शुरुआती कारोबार में भी सोने के दाम 10 महीने के निचले स्तर के आसपास बने हुए हैं. मंगलवार को एमसीएक्स पर सोना वायदा 0.41% गिरकर 46,400 प्रति 10 ग्राम जबकि चांदी वायदा 1.26% गिरकर 66,140 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई. अगस्त 2020 में सोना 56,200 रुपये के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गया था. तब से अब तक सोना करीब 10000 रुपये सस्ता हो चुका है.

सोने के दाम में लगातार गिरावट के चलते ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में सोने की मांग बढ़ी है. शादी के लिए भी सोने की खरीदारी हो रही है. ग्राहकों की संख्या में काफी इजाफा हुआ. यदि सोने के दाम और गिरते हैं तो ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्लेटफॉर्म पर सोने की बिक्री बढ़ने का अनुमान है. इंडिया बुलियन एंड ज्वेलर्स एसोसिएशन के मुताबिक, मांग बढ़ रही है. कीमतों में गिरावट से खरीदारी में ग्राहकों की दिलचस्पी बढ़ी है. अर्थव्यवस्था भी खुल रही है, जिससे लोग सोने को दीर्घकालिक परिसंपत्ति वर्ग के रूप में देख रहे हैं.

सोने की कीमतें : सर्राफा बाजार में मंगलवार को गोल्‍ड के भाव 46,400 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच गया. पिछले कारोबारी सत्र के दौरान सोना 0.03 फीसदी फिसलकर 46,580 प्रति 10 ग्राम के लेवल पर पहुंच था.

चांदी की नई कीमतें : मंगलवार को चांदी की कीमतों में जोरदार गिरावट देखी गई. सराफा बाजार में चांदी वायदा 1.26% गिरकर 66,140 रुपये प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई. वहीं पिछले कारोबारी सत्र में कीमती धातु 0.15 फीसदी गिरकर 66,884 रुपये प्रति किलोग्राम पर आ गई हैं.

एक्सपर्ट्स की राय

एक्सपर्ट्स का मानना है कि सोना चांदी खरीदना चाहते हैं तो ये सही वक्त हो सकता है. सोने की कीमतें 46,000 रुपये प्रति 10 ग्राम के भी नीचे फिसल गई हैं. MCX पर सोने का भाव मई 2020 के लेवल पर आ गया है. वहीं एमसीएक्स पर चांदी के 68500-68000 के स्तर के ऊपर बने रहने की संभावना है. एक्सपर्ट्स की मानें तो चांदी में उछाल आने की संभावना है, जिससे 70000 के स्तर तक जा सकती है.

इस तरह चेक कर सकते हैं सोने की शुद्धता

बता दें अगर अब आप सोने की शुद्धता चेक करना चाहते हैं तो इसके लिए सरकार की ओर से एक ऐप बनाया गया है. ‘BIS Care app’ से ग्राहक सोने की शुद्धता की जांच कर सकते हैं. इस ऐप के जरिए सिर्फ सोने की शुद्धता की जांच ही नहीं बल्कि इससे जुड़ी कोई भी शिकायत भी कर सकते हैं. इस ऐप में अगर सामान का लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन और हॉलमार्क नंबर गलत पाया जाता है तो ग्राहक इसकी शिकायत तुरंत कर सकते हैं. इस ऐप के जरिए तुरंत ही ग्राहक को शिकायत दर्ज करने की जानकारी भी मिल जाएगी.

Continue Reading

व्यापर

सोने की कीमत में आई गिरावट

Published

on

By

शादियों का सीजन आने के साथ ही सोने के दाम लगातार बढ़ते जाएंगे. ऐसे में अगर आप शादी के लिए गोल्ड खरीदने का प्लान बना रहे हैं तो यह बढ़िया मौका है, क्योंकि सोने के दाम में दो दिन की बढ़ोत्तरी के बाद गिरावट दर्ज की गई है. शुक्रवार को मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर शाम फिर सोने के भाव में गिरावट देखने को मिली है. इसके अलावा चांदी भी सस्ती हो गई है.

10,000 रुपये तक गिर गया है भाव

MCX पर सोना वायदा 0.1% गिरकर 46,793 प्रति 10 ग्राम जबकि चांदी का भाव 0.4% गिरकर 67,240 पर आ गया. बता दें कि पिछले दो सत्रों में सोना 1,000 प्रति 10 ग्राम से अधिक चढ़ा था. अगस्त, 2020 में सोने के दाम 56,200 रुपये प्रति 10 ग्राम के रिकॉर्ड हाई स्तर पर पहुंच गए थे. अगर देखा जाए तो सोने की कीमत रिकॉर्ड लेवल से अब तक 10000 रुपये गिर चुकी है. दिल्ली सर्राफा बाजार में गुरुवार को सोने के भाव में 182 रुपये प्रति 10 ग्राम की मामूली तेजी दर्ज की गई थी.

अप्रैल में लगातार बढ़ रहे हैं दाम

सोने का दाम अप्रैल महीने में लगातार बढ़ रहा है. पीटीआई के मुताबिक, 1 अप्रैल को सोने का दिल्ली में हाजिर भाव 44,701 रुपये था तो 5 अप्रैल को ये 44,949 हो गया और 8 अप्रैल को ये 46160 रुपये प्रति 10 ग्राम के भाव पर रहा. ऐसे में सोना जितनी जल्दी खरीद लें, उतने ही फायदे में रहने की संभावना है.

निवेश के लिहाज से सही समय

सोने में निवेश के लिए यह सही समय है. ताकि सोने के दाम बढ़ने के साथ ही अच्छा रिटर्न हासिल किया जाए. अभी सोने के दाम 46 हजार के पास ही है. लेकिन अप्रैल महीने के आखिर तक इसके काफी बढ़ने की संभावना है. चूंकि मई महीने में अक्षय तृतीया भी है, उस समय लोग सोने की खूब खरीदारी करते हैं. ऐसे में मई महीने में सोने का दाम बढ़ने से इस समय खरीदारी कर चुके लोगों के पास अच्छे रिटर्न का मौका रहेगा.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़9 hours ago

छत्तीसगढ़ के इन 11 जिलों में बढ़ाया गया लॉकडाउन, देखिए पूरी सूची

सूरजपुर जिले में भी 26 अप्रैल तक लॉकडाउन बढ़ाया गया है। ठेले वालों को घूम-घूम कर सब्जी बेचने की अनुमति...

छत्तीसगढ़9 hours ago

राजधानी रायपुर के एक निजी अस्पताल में, कोरोना संक्रमित 5 मरीजों की मौत

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के एक निजी अस्पताल में शनिवार को आग लगने से कोरोना वायरस से संक्रमित 5 मरीजों...

छत्तीसगढ़1 day ago

रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करता डॉक्टर गिरफ्तार

छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले के भिलाई में रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी करते 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है. इसमें...

छत्तीसगढ़1 day ago

रिटायर्ड डॉक्टर्स, नर्स और पैरामेडिकल स्टाफ की संविदा के निर्देश

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने राज्य में कोरोना संक्रमण की गंभीर स्थिति को देखते हुए जिलों में स्थापित डेडिकेटेड हॉस्पिटल, कोविड...

छत्तीसगढ़2 days ago

कचरा फेंकने वाली गाड़ी में ले जाए गए कोरोना मरीजों के शव

छत्तीसगढ़ में कोरोना का फैलवा भयानक होता जा रहा है। राज्य में कोरोना के बढ़ते संक्रमण ने स्वास्थ्य व्यवस्था की...

#Exclusive खबरे

Calendar

April 2021
S M T W T F S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
252627282930  

निधन !!!

Advertisement

Trending