Connect with us

लाइफस्टाइल

प्रतिदिन वजन कम करने का आसान तरीका 

Published

on

  • जाने माने जैव-चिकित्सक डॉक्टर सिद्धार्थ कुमैल को इस उपाय को खोजने का और वजन घटाने के उद्योग-धंधों के सालों से छुपाये बड़े झूठ से पर्दा उठाने का श्रेय दिया जाता है। डॉ. सिद्धार्थ कुमैल ने इस क्रांतिकारी उपाय की खोज तब की जब वह एम्स नई दिल्ली के प्रतिष्ठित अनुसंधान विभाग में काम कर रहे थे, और अब दवा बनाने वाली कंपनियां कोशिश कर रही हैं कि यह आसान सा उपाय प्रतिबंधित कर दिया जाए। इससे पहले कि यह तरीका अदालत की प्रणाली के चक्कर में पड़े, आप पढ़ लें कि बिना किसी कसरत, परहेज, महंगे और दर्दभरे ऑपरेशन के कैसे प्राकृतिक तरीके से अपना वजन कम कर सकते हैं!इस जादुई फल को प्राकृतिक आक्सीकरणरोधी, गारसिनिया कम्बोजिया के साथ मिश्रण करके बनाया जाता है, यह बेहतरीन घोल आपकी पाचन शक्ति को बढ़ा देता है, शरीर को स्वस्थ कर देता है, ऊर्जा को दस गुना बढ़ा देता है और सचमुच में चर्बी को रात भर में कम कर देता है।
  • साथ ही साथ ये नैचुरल एजेंट्स आपको हानिकारक टॉक्सिन्स से छुटकारा दिलाता है और आपके शरीर को लंबे समय के लिए कैलोरी घटाने में मदद करता है। टॉक्सिन्स से शरीर को साफ करने और पाचन क्रिया को सही रखने से शरीर में सही तालमेल बना रहता है जिससे चर्बी आसानी से कम हो जाती है।कई अध्ययनों में यह खुलासा हुआ है कि अधिक भार की महिलाओं और पुरुषों को सही कमाई वाली नौकारी मिलने में और विपरीत लिंग वाले लोगों को आकर्षित करने में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वो अवसाद, सामाजिक व्याकुलता और आत्मविश्वास में कमी महसूस करते हैं। सीधे शब्दों में कहें तो: अधिक वजन होना जिन्दगी के हर पहलु में नकारत्मकता ला देता है।लेकिन चिंता ना करे: कई साल के मोटापे को कम करने का पहला कदम है कि पाचन क्रिया की धीमी प्रक्रिया को शुरू करना।
  • मेरे वजन घटाने की जादुई कोशिश की तकनीक बिल्कुल ऐसे ही काम करती है! पोषक तत्वों का सही माप करके, कोशिका स्तर पर पाचन शक्ति को गति प्रदान करता है, और सालों को जमी चर्बी को कम कर देता है-जिससे कि आप पतले हो जाएं और वैसे ही बने रहें।इसका मतलब है वर्षों की चर्बी को घटाना- हमेशा के लिये!मैं इस उपाय को उन सब के सामने लाने के लिये संकल्पित था जिन्हें भी मोटापे से होने वाली मानसिक प्रताड़ना का सामना करना पड़ रहा है, मैंने उस जादुई फल को निचोड़ कर एक गोली में डाल दिया और उसे Laventrix Garcinia नाम दिया। मुझे पता था मैंने सही किया है, उन लाखों महिलाओं और पुरुषों के लिए जो ज्यादा वजन वाले हैं, उन्हें इसका इलाज ढ़ूढ़ने में मदद की, लेकिन मैं इस बात से अनजान था कि कई लालची डॉक्टर, अस्पताल, दवा कंपनियां इस बात से कितने क्रोधित हो जाएंगे। इस बात पर कोई भी संदेह नहीं है कि ये मेरी प्राकृतिक दवा उनके महंगे और हानिकारक इलाज से कहीं बेहतर है, लेकिन वह हमारे काम को बंद कराने की कोशिश के लिये पर्याप्त नहीं था। Laventrix Garcinia हर उस चीज के खिलाफ था जिसके लिए चिकित्सा उद्योग खड़ा होता है। यह लिपोसक्शन और हानिकारक वजन घटाने की सप्लीमेंट्स का सस्ता और पूरी तरह से-प्राकृतिक विकल्प था।
  • जो रहस्य था वो प्राकृतिक तालमेल था। अफ्रीकी फल के अलावा, Laventrix Garcinia के साथ गारनिसिया कम्बोजिया भी मिला होता था जो कि वजन कम करने को बढ़ावा देता था और आपकी ऊर्जा को दस गुना बढ़ा देता था। दोनों प्राकृतिक सफाई कारक तत्व मिलकर शरीर से हानिकारक तत्वों को मिटा देते थे और लंबे समय के लिए काम करने और शरीर में कैलोरी कम करने में मदद करते थे। इसे सबसे अच्छे वैज्ञानिक तरीकों और प्राकृतिक चीजों का उपयोग करके बनाया जाता था। Laventrix Garcinia वैज्ञानिक रूप से वसा कोशिकाओं को निशाना बना के उन्हें कम करने में सिद्ध हो चुका है। इसका मतलब आप वजन जल्दी से, आसानी से और हमेशा के लिए कम कर सकते है। गारंटी के साथ। यह एक तथ्य है- Laventrix Garcinia रासायनिक रूप से महिला और पुरुष को वजन कम करने तथा एक खुशहाल जिंदगी जीने में मदद करता है।

Disclaimer

हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS

अन्य खबरे

जाने वो 8 गलतियाँ जिनके कारण आप होते है असफल 

Published

on

जाने वो 8 गलतियाँ जिनके कारण आप होते है असफल

  • रायपुर(etoi news)23/07/2019
  • सफल लोगों का प्रतिशत काफी कम होता है। हालांकि आपको शायद ही पता हो कि अधिकांश लोग इसलिए असफल नहीं होते कि उनमें योग्‍यता नहीं होती, बल्कि कुछ सामान्‍य बातों का ख्‍याल नहीं रखने के कारण असफल होते हैं। ऐसे लोग हीनता के शिकार होते हैं, जिससे वे सफलता की दौड़ से खुद ही बाहर होते चले जाते हैं। आज हम आपको उन 8 आदतों के बारे में बता रहे हैं, जिनकी वजह से हम असफल हो जाते हैं। यहां हम उन आदतों से उबरने के उपाय भी बता रहे हैं-
  • असफलता को स्‍वीकारेंअसफलता को स्‍वीकारना सफलता की तरफ कदम बढ़ाने की पहली शर्त है। कोई शक नहीं कि असफल होने से अक्‍सर आप टूट जाते हैं, भले ही वह अधिक या फिर कम समय के लिए हो। अक्‍सर लोग आपको यह कहते मिलेंगे कि असफलता से ध्‍यान हटा लो सफलता मिल सकती है, लेकिन सच्‍चाई यह है कि असफलता से ध्‍यान हटाने से उसके असर से आप दूर नहीं हो सकते। इसके अलावा, दूसरों पर असफलता का ठीकरा फोड़ने से भी आप उससे बेअसर नहीं हो सकते। इसलिए सबसे जरूरी है कि उसे स्‍वीकार करें। इससे आपके व्‍यक्तित्‍व और समझ का दायरा बढ़ता है और सफलता की राह आसान होती है। असफलता को स्‍वीकार नहीं करने से आप निराशावादी, मूडी, क्रोधी और दुखी बनते चले जाते हैं। इससे सफलता और दूर हो जाती है।
  • एक असफलता का मतलब असफल हो जाना नहीं होताइस बात को हमेशा याद रखें कि असफलताओं का मतलब असफल हो जाना नहीं होता। दुनिया में जितने भी लोग काफी सफल हुए हैं, उन्‍हें अनगिनत असफलताएं झेलनी पड़ी हैं। आप आज असफल हो गए हैं, इसका यह मतलब नहीं है कि आप कल भी असफल ही होंगे। अगर आप खुद को लगातार अपडेट करते रहते हैं तो तय है कि कल आप सफल होंगे।
  • रचनात्‍मक बनकर परिस्थितियों से सीखेंलचीलापन हमेशा आपको रचनात्‍मक बनाता है। इससे आप परिस्थितियों से सीखना जान जाते हैं। रचनात्‍मक आदमी ही असफलता से सीख और फीडबैक भी ले पाते हैं। ऐसे लोग यह समझने में सक्षम होते हैं कि उन्‍होंने कहां गलती की है, क्‍या सीख लेनी है और अगला कदम कब और कहां लिया जाना चाहिए। ऐसे लोग ही हठ, नकारात्‍मकता और निराशावाद से भी निकल पाते हैं। माइकल जॉर्डन की बात यहां काफी प्रासंगिक है। उन्‍होंने एक बार कहा था कि मैं इसलिए सफल रहा हूं, क्‍योंकि मैं अपने करियर में 9000 से अधिक शॉट्स मिस किए, मैं लगभग 300 गेम्‍स में हारा और विनिंग शॉट यानी अंतिम शॉट मारने में मैं 26 बार असफल रहा, जबकि मुझपर विश्‍वास जताया गया था।
  • अपनी सफलता को दबाएं या छुपाएं नहींअसफलता से पैदा होने वाली निगेटिव भावनाओं और विचारों को दबाना या झुठलाना नहीं चाहिए। हार का एक बड़ा कारण यह है कि लोग इसे दूसरों से शेयर नहीं करते हैं। अपनी असफलता को अपने करीबियों और समझदार लोगों से जरूर शेयर करें, ताकि उनसे आपको कुछ इनपुट मिल सके।
  • प्रेरणा और सपोर्ट लेंअपने खास लोगों से बातचीत हमेशा मददगार होती है। इसके अलावा आप जिस क्षेत्र में सफल होना चाहते हैं, उस क्षेत्र में सफल लोगों से जरूर बातचीत करें। उनसे यह जानने की कोशिश करें कि उन्‍होंने बाधाओं और असफलता का सामना किस तरह किया। इसके अलावा प्रेरणास्‍पद पुस्‍तकें, ऑडियो आदि की मदद जरूर लें।असफलता के बाद भी रुकें नहीं यह समझना बेहद जरूरी है कि असफलता महज एक पड़ाव है। यहां रुकना नहीं, बल्कि इसे स्‍वीकारते हुए आगे बढ़ना चाहिए। असफलता का विश्‍लेषण जरूरी है, लेकिन इस पर मंथन करते हुए इससे चिपके रहना आत्‍मधाती है।
  • किसी भी प्‍लान पर तुरंत काम शुरू करेंअक्‍सर हम प्‍लान तो बनाते हैं, लेकिन इस पर अमल नहीं करते हैं। यही कारण है कि अधिकांश लोग सफलता की दिशा में ठोस कदम रख भी नहीं पाते हैं। वे सोचते हैं कि प्‍लान जब परफेक्‍ट हो जाएगा, तब इस पर अमल करेंगे, जो कभी हो ही नहीं सकता। हां, अपने प्‍लान को छोटे-छोटे टुकड़ों में बांटें और फिर प्रा‍थमिकता के आधार पर उसका क्रियान्‍वयन करें। इससे आपका काम आसान हो जाएगा।
  • अपने आत्‍मसम्‍मान का स्‍तर बढ़ाएंयाद रखें कि बाधाओं से उबरने में आत्‍मसम्‍मान का सबसे बड़ा हाथ होता है। इससे आप जिम्‍मेदारी स्‍वीकार करने से भी नहीं हिचकते हैं, क्‍योंकि आपका आत्‍मबल मजबूत रहता है। इस बात को भी हमेशा याद रखें कि किसी भी तरह की असफलता के लिए आप 100 फीसदी जिम्‍मेदार नहीं होते हैं।
Disclaimer:हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS
Continue Reading

देश-दुनिया

हार्ट अटैक की बढ़ती समस्या की खास वजहें,जानें लक्षण और कैसे करें बचाव?

Published

on

  • रायपुर(etoi news)22/07/2019
  • हार्ट अटैक की समस्या बहुत ही आम हो चुकी है। जिसकी मुख्य वजह बिगड़ती लाइफस्टाइल और खानपान है। हार्ट अटैक में जरूरी नहीं है कि दर्द सीने के बाईं तरफ हो, बल्कि हार्ट अटैक का दर्द छाती के बीचों बीच होता है और ऐसा महसूस होता है कि छाती के अंदर कुछ निचोड़ा जा रहा है। साथ ही बुरी तरह पसीना आता है। जिन्हें डायबटीज होता है, उन्हें हार्ट अटैक का लक्षण गैस की तरह होता है और उनकी मौत नींद में सोए हुए ही हो जाती है। जानेंगे इसकी वजहों और खानपान में किस तरह के बदलाव कर हार्ट अटैक की संभावनाओं को कम किया जा सकता है।
  • हार्ट अटैक की वजहें गलत खान-पान, अनियमित जीवनशैली, व्यायाम न करना, फास्ट फूड-जंक फूड व शराब, तंबाकू उत्पादों का सेवन, ज्यादा तला-भुना खाना, तनाव होना, नमक अधिक खाना, शुगर, बीपी या मोटापा होना, हाई कैलोरी लेना, उक्त वजहों से कोलेस्ट्रॉल बढ़ना, हीमोग्लोबिन की कमी या एनीमिया होना। हार्ट अटैक के लक्षण-सांस फूलना, सीने के बीच में या बांयी ओर 15 मिनट से अधिक देर तक दर्द उठना, ज्यादा पसीना आना
  • सोडियम की खपत करें कम हार्ट अटैक से बचने के लिए बेहतर होगा आप अपनी डाइट में सोडियम की खपत कम कर दें। सोडियम से मतलब नमक की कम मात्रा से है। भोजन के साथ ही पैक्ड फूड्स जैसे चिप्स और पीनट्स में सोडियम काफी मात्रा में मौजूद होता है। सोडियम की ज्यादा मात्रा से ब्लड पतला होने लगता है जिससे ब्लड फ्लो बढ़ता है। एक अध्ययन में पाया गया है कि रोजाना 5 ग्राम तक नमक खाना हार्ट के लिए सुरक्षित होता है। इससे हार्ट अटैक और स्ट्रोक का खतरा नहीं बढ़ता है।
  • जंक फूड से दूरी अपनी डाइट से जंक फूड की मात्रा कम कर आप हार्ट अटैक के खतरे को 53% तक कम कर सकते हैं। 2 मिनट में झट से पकने वाली मैगी बेशक आपका टाइम बचाती है लेकिन इनमें कई तरह के हानिकारक तत्व मौजूद होते हैं जो मोटापे के साथ ही कई और दूसरी बीमारियों को भी दावत देते हैं। 100 ग्राम नूडल्स में 138 कैलोरी होती है, जो फैट बढ़ाने और हार्ट अटैक के लिए जिम्मेदार है। और तो और प्रत्येक 28 ग्राम के एक पिज्जा पीस में 18.5 ग्राम फैट होता है। यह शरीर को रोजाना मिलने वाले फैट (डेली वैल्यू) का 28 फीसदी होता है। पिज्जा की एक स्लाइस में 151 कैलोरी होती है। इसमें मौजूद चीज और मैदा अनसैचुरेटेड फैट को बढ़ाता है। इससे मेटाबॉलिक रेट कम होती है और हृदय संबंधी रोगों का जोखिम अधिक रहता है।कैफीन और एनर्जी ड्रिंक्स को कहें ना बहुत ज्यादा चाय, कॉफी की मात्रा लेते हैं तो भी आपको सावधान होने की जरूरत है। ऐसा इसलिए क्योंकि इससे ये बॉडी में ब्लड प्रेशर को बढ़ाने का काम करते हैं। जिससे हार्ट अटैक की संभावना बढ़ जाती है।
  • फैट फूड्स की मात्रा कम अगर आप नॉन वेज के साथ तला-भुना खाने के बहुत ज्यादा शौकीन हैं तो सावधान हो जाएं, क्योंकि ये हमारी बॉडी में कोलेस्ट्राल की मात्रा बढ़ाते हैं। हमारे शरीर में दो तरह के कोलेस्ट्रॉल होते हैं-एचडीएल हाई डेंसिटी लिपोप्रोटीन, अच्छा कोलेस्ट्रॉल और एलडीएल लो डेंसिटी लिपोप्रोटीन, बुरा कोलेस्ट्रॉल। एचडीएल यानी अच्छा कोलेस्ट्रॉल काफी हलका होता है और यह ब्लड वेसेल्स में जमे फैट को अपने साथ बहा ले जाता है। बुरा कोलेस्ट्रॉल यानी एलडीएल ज्यादा चिपचिपा और गाढा होता है। अगर इसकी मात्रा अधिक हो तो यह ब्लड वेसेल्स और आर्टरी में की दीवारों पर जम जाता है, जिससे खून के बहाव में रुकावट आती है। इससे हार्ट अटैक की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।ट्रांस फैट को हटाएं डाइट से ट्रांस से मतलब तली- भुनी चीजों से है। बेशक शाम की चाय के साथ पकौड़ों को कॉम्बिनेशन जबरदस्त लगता है लेकिन हार्ट को हेल्दी रखना हो तो समोसे, पकौड़े, चिप्स इन सबको कर दें बाय-बाय। 
Disclaimer:हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS
Continue Reading

मनोरंजन

शाहरुख खान के घर की कीमत अब कितनी है?

Published

on

  • रायपुर(etoi news)21/07/2019
  • फिल्म अभिनेता शाहरुख खान के घर का नाम मन्नत है और जब उन्होंने इस घर को ख़रीदा था तब इस घर की कीमत मात्र 13.32 करोड़ थी लेकिन आज इस घर की कीमत 200 करोड़ रुपए बताई जाती हैंl इस घर को डिजाइन शाहरुख की पत्नी गौरी खान ने किया है, गौरतलब है कि गौरी एक इंटीरियर डिजाइनर हैं।इस घर का पहले नाम विला विएना थाl इस बंगले को पहले शूटिंग के लिए भाड़े पर दिया जाता था और इस घर में सनी देओल की फिल्म नरसिम्हा का क्लाइमेक्स शूट किया गया हैंl वहीं इस बंगले में गोविंदा की फिल्म शोला और शबनम की भी शूटिंग हुई हैंl
  • शाहरुख खान ने जब इस बंगले को ख़रीदा था तब इसकी कीमत 13.32 थीl अब इस घर की कीमत 200 करोड़ रुपए बताई जा रही हैंl इस बंगले का ढांचा 20वीं सदी के ग्रेड-3 हेरिटेज का है और यह सभी ओर से खुलता है। इस घर में कुल पांच बेडरूम हैं। इसके अलावा मल्टीपल लिविंग एरिया, एक जिम्नेजियम और लाइब्रेरी जैसी सुविधाएं भी इसमें उपलब्ध है।शाहरुख खान की पत्नी गौरी खान ने अपने अनुभव से इस घर को शानदार बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ी हैंl शाहरुख खान इन दिनों अपनी हालिया डब की हुई फिल्म द लायन किंग के प्रचार में व्यस्त हैंl इस फिल्म में शाहरुख के अलावा उनके बेटे आर्यन खान ने भी अपनी आवाज दी हैंlइन दिनों शाहरुख खान ने कोई फिल्म साइन नहीं की हैंl वह अपने घर पर आराम कर रहे हैंl
Disclaimer:हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS
Continue Reading

ब्रेकिंग खबरे !!!!

Advertisement

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive3 days ago

पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर(etoi news)20/07/2019 द‍िल्‍ली कांग्रेस की अध्‍यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित...

Etoi Exclusive6 days ago

सिर्फ एक रुपये लेकर किसने जाधव को फांसी से बचाया ?

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर। जासूसी के केस में बंद कुलभूषण जाधव के मामले में...

Etoi Exclusive2 weeks ago

रोहित-राहुल के शतक की बदौलत भारत की श्रीलंका पर शानदार जीत

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer Post Views: 216 SHARE THIS

Etoi Exclusive4 weeks ago

कौन होगा छत्तीसगढ़ का पीसीसी चीफ ?

आज पुरे प्रदेश के राजनैतिक पंडितों के दिमाग में बहुत से प्रश्न तैर रहें होंगे उनमें से ज्यादा तर प्रश्न...

Etoi Exclusive1 month ago

सुर्ख़ियाँ

etoinews.com के बीते दो घंटे की सुखियाॅ क्या रहीं विशेष खबरे और क्या था उनको खबरो के पीछे और क्या...

Advertisement
Advertisement
July 2019
M T W T F S S
« Jun    
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
293031  
Advertisement

निधन !!!

अन्य खबरे3 days ago

शो के दौरान हुए मौत, लोग एक्टिंग समझते रहे.

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer भारतीय मूल के स्टैंडअप कॉमेड‍ियन मंजूनाथ नायडू की स्टेज पर परफॉर्म...

निधन1 month ago

बॉलीवुड के मशहूर एक्टर गिरीश कर्नाड का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer बॉलीवुड के मशहूर एक्टर गिरीश कर्नाड का सोमवार को 81 साल...

Uncategoried4 months ago

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर आज होगा राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रीकर का सोमवार को अंतिम संस्कार होगा। पैंक्रियाटिक कैंसर से पिछले एक...

निधन5 months ago

पैसों की तंगी झेल रहे बॉलीवुड के खलनायक की मौत, घर में मिली लाश

शक्ति कपूर बोले- काम न मिलने से डिप्रेशन में थे महेश आनंद, सेट पर भी पीते थे शराब Click Here...

निधन6 months ago

निधन – फत्तेचंद अग्रवाल सक्ती

सक्ति (कन्हैया गोयल) 31/01/2019 शक्ति शहर की प्रतिष्ठित फर्म काशीराम फत्तेचंद के संचालक सजन अग्रवाल, पवन अग्रवाल एवं नवलकिशोर अग्रवाल...

दिल्ली6 months ago

पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस का 89 साल की उम्र में निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer नई दिल्ली 29 जनवरी 2019 भारत के पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज...

निधन6 months ago

श्रीमती कमला सिंह का निधन

जांजगीर-चाम्पा (हरीश राठौर) 28/01/2029 भैंसदा के प्रतिष्ठित ठाकुर परिवार के स्व. पलटन सिंह की धर्मपत्नी श्रीमती कमला सिंह का 28 जनवरी...

निधन6 months ago

जलसंसाधन विभाग के मुख्य अभियंता विजय श्रीवास्तव पंचतत्व में विलीन

27 जनवरी को आयोजित जेष्ठ पुत्रमयंक का वैवाहिक कार्यक्रम स्थगित बिलासपुर (अमित मिश्रा) 27/01/2019 हसदेव कछार जल संसाधन विभाग बिलासपुर...

निधन6 months ago

रायपुर : श्रीमती माणक बाई ललवाणी (जैन) का निधन

रायपुर,14/01/2019 रायपुर निवासी श्रीमती माणक बाई ललवाणी  (जैन) 95 वर्ष, घर्मपत्नी स्व.पन्नालाल ललवाणी का स्वर्गवास आज हो गया हैं जिनकी...

निधन6 months ago

रायपुर : श्रीमती बिदामी बाई बुरड़ का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर,14/01/2019 आनन्द नगर विनायक इनक्लेव, रायपुर निवासी श्रीमती बिदामी बाई पत्नी...

Advertisement

Trending

Breaking News