Connect with us

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ शासन वाहन चालक के रिक्त पदों की पूर्ति हेतु सीधी भरती करे आवेदन

Avatar

Published

on

छत्तीसगढ़ शासन, सामान्य प्रशासन विभाग, मंत्रालय एवं मुख्य तकनीकी परीक्षक (सतकंता) कार्यालय, इन्द्रावती भवन, नवा रायपुर में वाहन चालक के रिक्त पदों पर सीधी भरती के तहत्‌ नियुक्ति हेतु छत्तीसगढ़ के मूल स्थानीय निवासियों से आवेदन पत्र दिनांक 20.09.2049 से 07.40.2049 तक आमंत्रित किये जाते है, पात्रता रखने वाले इच्छुक उम्मीदवार अपना आवेदन पत्र पूर्ण जानकारी एवं प्रमाण पत्रों सहित आवेदन कर सकते पदों का विवरण निम्नानुसार है:-

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ में प्रवेश कर सकता है टिड्डियों का दल, अलर्ट जारी

Editor

Published

on

By

फसलों को नुकसान पहुंचाने वाले टिड्डी दल (लोकस्ट स्वार्म) का प्रकोप राजस्थान होते हुए महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश राज्य तक पहुंच गया है. सीमावर्ती क्षेत्र होने के कारण यह हमारे राज्य और जिले में भी प्रवेश कर सकते है. केन्द्रीय एकीकृत नाशीजीव प्रबंधन केन्द्र के सहायक निर्देशक ने सीमावर्ती जिले के कृषि अधिकारीयों कर्मचारियों एवं किसानों को सचेत रहने कहा है. टिड्डी दल सायंकाल 6-9 बजे खेतों में झुड़ में रहते है, इनकी गति 80-150 किलोमीटर प्रतिदिन होती है. तदनुसार कृषकों,ग्रामीणों कृषि विस्तार अधिकारी के माध्यम से तत्काल जानकारी प्राप्त करके नियंत्रण के लिए कृषि विभाग द्वारा पूर्ण तैयारी कर ली गई है. इसके रोकथाम के लिए जिले के प्राइवेट डीलर्स के यहाँ प्रभावशील अनुसंशित दवाइयां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है.

किसान डेजर्ट एरिया के लिए कीटनाषक मैलाथियोन, फेनवलरेट, क्विनालफोस, फसलों एवं अन्य वृक्षों के लिए क्लोरोपायरीफोस, डेल्टामेथ्रिन, डिफ्लूबेनजुरान, फिप्रोनिल, लेमडासाइहेलोथ्रिन कीटनाशक का प्रयोग कर सकते है.

टिड्डियां क्या है ?

कृषि वैज्ञानिकों के अनुसार टिड्डियों को उनके चमकीले पीले रंग और पिछले लंबे पैरों से उन्हें पहचाना जा सकता है. टिड्डी जब अकेली होती हैं तो उतनी खतरनाक नहीं होती, लेकिन झुंड में रहने पर इनका रवैया बेहद आक्रमक हो जाता है. टिड्डी दल करोड़ों की संख्या में होती है और फसलों को एकतरफा सफाया कर देती है. आपको दूर से ऐसा लगेगा, मानो आपकी फसलों के ऊपर किसी ने एक बड़ी-सी चादर बिछा दी हो.

टिड्डियां क्या खाती है ?

हैरत की बात यह है कि टिड्डिया खरीफ, रबी फसल एवं फलदार वृक्षों के फूल, फल, पत्ते, बीज, पेड़ की छाल और अंकुर सब कुछ खा जाती है. हर एक टिड्डी अपने वजन के बराबर खाना खाती है. इस तरह से एक टिड्डी दल, 2500 से 3000 लोगों का भोजन चट कर जाता है. टिड्डियों का जीवन काल लगभग 40 से 85 दिनों का होता है.

टिड्डी दल के नियंत्रण के लिए किए जा रहे उपाय

कृषि विभाग के मैदानी अमलें टिड्डी दल की उपस्थिति को लेकर लगातार निगरानी कर रही है. रात के समय टिड्डियां जहां भी सेटल होती है उसकी खबर भारत सरकार की लोकस्ट टीम तक पहुंचाई जाती है. जिससे सुबह के समय टिड्डियों के उपर दवा का छिड़काव किया जा सकें.

टिड्डी दल से बचाव के उपाय

वैज्ञानिकों के मुताबिक किसान टिड्डी दल से बचने के लिए कई उपाय अपना सकते है. फसल के अलावा, टिड्डी किट जहां इक्कठा हो, वह उसे फ्लेमथ्रोअर (आग के गोले) से जला दे. टिड्डी दल आकाश में 500 फुट पर उड़ान भरता है. कुछ टिड्डी नीचे भी उतरती है उसी समय भगाने के लिए थालियां, ढोल, नगाड़े, लाउड स्पीकर या दूसरी चीजों के माध्यम से शोरगुल मचाएं जिससे फसलों को बचाया जा सकता है. टीड्डों ने जिस स्थान पर अपने अंडे हों, वह 25 कि.ग्रा., 5 प्रतिशत मेलाथियान या 1.5 प्रतिशत क्वीनालफॉक्स को मिला कर प्रति हेक्टेयर छिड़के ,टिड्डी दल को आगे बढ़ने से रोकने के लिए 100 कि.ग्रा. की धान की भूसी को 0.5 किलोग्राम फेनीट्रोथीयोन और 5 कि.ग्रा. गुड़ के साथ मिलाकर खेत में डाल दे.

टिड्डी दल के खेत में बैठने पर 5 प्रतिशत मेलाथियान या 1.5 प्रतिशत क्वीनालफॉक्स का छिड़काव करे. कीट की रोकथाम के लिए 50 प्रतिशत ई.सी. फेनीट्रोथीयोन या मेलाथियान और 20 प्रतिशत ई.सी. क्लोरपाइरिफोस 1 लीटर दवा को 800 से 1000 लीटर पानी में मिला कर प्रति हेक्टेयर के क्षेत्र में छिड़काव करें, टिड्डी दल सवेरे 10 बजे के बाद ही अपना डेरा बदलता है. इसलिए ,इसे आगे बढ़ने से रोकने के लिए लिए 5 प्रतिशत मेलाथियोंन या 1.5 प्रतिशत क्वीनालफॉक्स घोलकर छिड़काव करें, 40 मिली लीटर नीम के तेल को कपड़े धोने के पाउडर के साथ या 20-40 मिली नीम से तैयार कीटनाशक को 10 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करने से टिड्डे फसलों को नहीं खा पाते। फसल कट जाने के बाद खेत की गहरी जुताई करे। इससें इनके अंडे नष्ट हो जाते है.

सबसे बड़ी चिंता का विषय यह है की जब तक कृषि विभाग का टिड्डी उन्मूलन विभाग, टिड्डी दल प्रभावित स्थल पर पहुँचता है. तब तक ये अपना ठिकाना बदल चुका होता है. ऐसे में किसान सावधान रहे की टिड्डी दल से संबंधित पर्याप्त जानकारी और उससे संबंधित रोकथाम के उपायों को मात्र अमल में लाना ही एक मंत्र विकल्प है.

Continue Reading

छत्तीसगढ़

BREAKING : कोरोना से छत्तीसगढ़ में पहली मौत, प्रवासी मजदूर था मृतक

Editor

Published

on

By

मुंबई से पश्चिम बंगाल जाते हुए दुर्ग जिले में प्रवासी मजदूर की मौत के मामले में सैंपल जांच की रिपोर्ट पॉजीटिव आई है. मजदूर कोरोना पॉजीटिव था इसकी पुष्टि स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव ने ट्वीट कर की.

बताया जा रहा है कि मजदूर बस में सवार होकर मुंबई से पश्चिम बंगाल जा रहा था. इसी दौरान दुर्ग जिले के भिलाई 3-चरौदा में मजदूर की तबियत बिगड़ने पर उसे बस से उतार कर जिला अस्पताल ले जाया गया था. जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था. मृतक का सैंपल ले कर जांच के लिए भेजा गया था. जिसकी रिपोर्ट मंगलवार को पॉजीटिव आई.

मृतक का नाम शेख अबू बकर उम्र 36 वर्ष. जो कि गोपालपुर, 24 परगना, पश्चिम बंगाल का निवासी था. मृतक के साथ उसके परिजन भी जा रहे थे, जिनमें बड़े पिताजी का लड़का शमीरुल शेख, अकरम शेख उम्र 31 वर्ष, अनीरुर शेख उम्र 20 वर्ष, शहादुल शेख उम्र 34 वर्ष. इन सभी को क्वारंटीन सेंटर में रखा गया है. सभी का आरटी-पीसीआर सैंपल लेकर जांच के लिए भेज दिया गया है.

Continue Reading

छत्तीसगढ़

रायपुर जिला-प्रशासन ने क्वारेंटाइन सेंटर के लिए पांच और भवनों का किया अधिग्रहण…आदेश जारी

Editor

Published

on

By

हवाई और रेल यात्रा करके रायपुर पहुंचने वाले यात्रियों को क्वारेंटाइन करने के लिए रायपुर जिला प्रशासन ने राजधानी के पांच भवनों को क्वारेंटाइन सेंटर के रूप में अधिगृहित किया है। इन भवनों में जैनम मानस भवन, अग्रसेन धाम, निरंजन धर्मशाला, सालासार, मनुआस रियाल्टी शामिल हैं, जिन्हें सरकारी क्वारेंटाइन सेंटर बनाया गया है।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़19 mins ago

छत्तीसगढ़ में प्रवेश कर सकता है टिड्डियों का दल, अलर्ट जारी

फसलों को नुकसान पहुंचाने वाले टिड्डी दल (लोकस्ट स्वार्म) का प्रकोप राजस्थान होते हुए महाराष्ट्र और मध्यप्रदेश राज्य तक पहुंच...

छत्तीसगढ़25 mins ago

BREAKING : कोरोना से छत्तीसगढ़ में पहली मौत, प्रवासी मजदूर था मृतक

मुंबई से पश्चिम बंगाल जाते हुए दुर्ग जिले में प्रवासी मजदूर की मौत के मामले में सैंपल जांच की रिपोर्ट...

छत्तीसगढ़33 mins ago

रायपुर जिला-प्रशासन ने क्वारेंटाइन सेंटर के लिए पांच और भवनों का किया अधिग्रहण…आदेश जारी

हवाई और रेल यात्रा करके रायपुर पहुंचने वाले यात्रियों को क्वारेंटाइन करने के लिए रायपुर जिला प्रशासन ने राजधानी के...

छत्तीसगढ़57 mins ago

छत से गिरकर बिजली कंपनी के असिस्टेंट इंजीनियर की मौत

बिजली कंपनी में पदस्थ सहायक यंत्री तीन मंजिला मकान की छत से अचानक गिर गए। हादसे में उनकी मौत हो...

छत्तीसगढ़1 hour ago

Lockdown में विवाह के लिए अनुमति लेने के लिए यहां लगी लंबी लाइन

कोरोना वायरस संक्रमण रोकने निषेध धारा 144 लागू है। ऐसे में एक साथ चार या चार से अधिक लोगों का...

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive16 hours ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 27/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive2 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 26/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive3 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 25/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive4 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 24/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive5 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 23/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Calendar

May 2020
M T W T F S S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031

निधन !!!

Advertisement

Trending