Connect with us

देश-दुनिया

चैनल चुनने की आजादी में उपभोक्ता नहीं देख पा रहे अपने पंसदीदा चैनल

Published

on

  • TRAI ने सभी मल्टी सर्विस ऑपरेटर्स (MSO) के साथ लोकल केबल ऑपरेटर्स (LCO) को भी नया टैरिफ सिस्टम लागू करने का आदेश दिया है। TRAI के इस नए नियम से उम्मीद की जा रही थी कि लोग अब सस्ते में अपना मनपसंद टीवी कार्यक्रम देख सकेंगे, लेकिन अब लोगों का यह सपना टूटने लगा है।क्यूंकि नियम के लागु होने के पहले ही केबल ऑपरेटर्स ने कई पेड चैनलों को बंद कर दिया है,
  • जिससे उपभोक्ता अपने कई पंसदीदा चैनल नहीं देख पा रहे है।वही कुछ ऑपरेटर्स ने तो पैक के अंदर पैक बना दिए हैं, जिससे पूर्व की तुलना में पसंदीदा टीवी चैनलों को देखना दोगुना महंगा हो गया है। यह है नियम 31 मार्च के बाद ट्राई का नियम लागू होने के बाद 100 से अधिक चैनल देखने पर 130 रुपये देनें होंगे। यदि कोई उपभोक्ता इससे अधिक चैनल देखेगो तो उसे हर 25 चैनल का पैक लेकर 18 प्रतिशत जीएसटी देकर 20 रुपये पैक में अतिरिक्त देना होगा।

सीजी पीएससी की तैयारी कैसे करें

  • उपभोक्ताओं को सीधे पैकेज थमाया जा रहा है, जो 300 रुपये से लेकर 520 रुपये है, वहीं 130 रुपये में 100 फ्री चैनलों के दावे भी धराशायी हैं। फ्री 100 चैनलों का तय पैकेज है, जिसमें दूसरी भाषा व कई अनावश्यक चैनल हैं। ऐसे में अब तक 250 रुपये से लेकर 300 रुपये तक महीने का किराये पर केबल से सभी चैनलों का लुत्फ उठा रहे उपभोक्ता ट्राई की इस कवायद में खुद को बुद्धू बनता देख रहे हैं। यह ट्राई के दिशा-निर्देशों का खुला उल्लंघन है, लेकिन कोई ध्यान नहीं दे रहा है। इसमें उपभोक्ताओं को खुद चैनल चुनने की आजादी देने की बात कहीं गई थी, लेकिन ब्रॉडकास्टर और एमएसओ मनमाने पैकेजों की पेशकश कर रहे हैं।
  • यह स्थानीय केबल ऑपरेटरों के लिए भी घाटे का सौदा है। पहले प्रति कनेक्शन में 100 रुपये का फायदा होता था, अब महज 20 रुपये बच रहे हैं। परेशानी अलग। ऐसे में ऑपरेटर अपना धंधा बंद करने लगे हैं।नए नियमों के तहत सभी केबल और डीटीएच सर्विस प्रोवाइडर्स से कहा गया है कि वे उपभोक्ताओं को वेबसाइट के जरिए चैनल चुनने और ऑनलाइन पेमेंट की सुविधा उपलब्ध कराएं। वेबसाइट पर चैनलों की लिस्ट कीमत के साथ उपलब्ध होगी। इसके अलावा कॉल सेंटर के जरिए भी उपभोक्ता चैनल चुन पाएंगे। ऐसा हो तो रहा है, लेकिन महंगाई के साथ।।

SHARE THIS

देश-दुनिया

मायावती का ट्वीट ‘कांग्रेस पार्टी की दोग़ली नीति की वजह से ही देश में ‘साम्प्रदायिक ताकतें मजबूत

Published

on

राजस्थान में बहुजन समाज पार्टी के विधायकों द्वारा पाला बदलकर कांग्रेस के खेमे में जाने के बाद से बसपा सुप्रीमो मायावती कांग्रेस पर लगातार हमलावर हैं. मायावती ने एक दिन पहले ही राजस्थान के मामले में कहा था कि कांग्रेस पार्टी की सरकार ने एक बार फिर बीएसपी के विधायकों को तोड़कर गैर-भरोसेमंद और धोखेबाज़ पार्टी होने का प्रमाण दिया है. चौबीस घंटे बाद मायावती ने एक बार फिर कांग्रेस पार्टी पर हमला बोला है. मायावती ने आरोप लगाया है कि कांग्रेस पार्टी की वजह से देश में साम्प्रदायिक ताकतें मजबूत हो रही हैं.

अपने ट्वीट में मायावती ने लिखा है, ‘कांग्रेस पार्टी की दोग़ली नीति की वजह से ही देश में ‘साम्प्रदायिक ताकतें’ मजबूत हो रही हैं, क्योंकि कांग्रेस पार्टी साम्प्रदायिक ताकतों को कमजोर करने के बजाय इसके विरुद्ध आवाज उठाने वाली ताकतों को ही ज्यादातर कमजोर करने में लगी है. जनता सावधान रहे.’
बता दें कि इससे पहले मंगलवार को मायावती ने ट्वीट किया था, ‘राजस्थान में कांग्रेस पार्टी की सरकार ने एक बार फिर बीएसपी के विधायकों को तोड़कर गैर-भरोसेमंद और धोखेबाज़ पार्टी होने का प्रमाण दिया है. यह बीएसपी मूवमेंट के साथ विश्वासघात है जो दोबारा तब किया गया है, जब बीएसपी वहां (राजस्‍थान) कांग्रेस सरकार को बाहर से बिना शर्त समर्थन दे रही थी.”

बसपा सुप्रीमो ने कहा, ‘कांग्रेस अपनी कटु विरोधी पार्टी/संगठनों से लड़ने के बजाए हर जगह उन पार्टियों को ही सदा आघात पहुंचाने का काम करती है जो उन्हें सहयोग/समर्थन देते हैं. कांग्रेस इस प्रकार एससी, एसटी, और ओबीसी विरोधी पार्टी है तथा इन वर्गों के आरक्षण के हक के प्रति कभी गंभीर व ईमानदार नहीं रही है.’

साथ ही मायावती ने ट्वीट कर कहा, ‘कांग्रेस हमेशा ही बाबा साहेब डॉ. भीमराव अम्बेडकर और उनकी मानवतावादी विचारधारा की विरोधी रही. इसी कारण डॉ. अम्बेडकर को देश के पहले कानून मंत्री पद से इस्तीफा देना पड़ा था. कांग्रेस ने उन्हें न तो कभी लोकसभा में चुनकर जाने दिया और न ही भारत रत्न से सम्मानित किया. अति-दुःखद व शर्मनाक.’

SHARE THIS
Continue Reading

देश-दुनिया

प्याज की बढ़ती कीमतों पर मोदी सरकार के मंत्री ने कहा

Published

on

देश के अलग-अलग हिस्सों में प्याज की कीमतों में आए अचानक आयी तेजी पर केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान  का बयान सामने आया है. केंद्रीय उपभोक्ता कार्य, खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्री रामविलास पासवान ने कहा है कि बीते कुछ सालों से सितंबर से लेकर नवंबर महीने तक आलू प्याज और टमाटर के भावों में थोड़ा-बहुत उतार-चढ़ाव आते रहे हैं. इससे घबराने की जरूरत नहीं है. यह सिर्फ थोड़े समय के लिए ही है. क्योंकि, इस समय देश के उन हिस्सों में भी बाढ़ आई हुई है, जहां पहले कभी बाढ़ आती नहींं थी. इससे ट्रांसपोर्टेशन में दिक्कत आ रही है. जो माल जहां है वहीं रुक गई है. कुछ जगहों पर 5 रुपए किलो भी प्याज मिल रहे हैं. शुक्र है कि आलू-टमाटर के दाम स्थिर हैं. इसके बावजूद प्याज के पर्याप्त भंडार मौजूद हैं

मंगलवार को पीएम मोदी की जन्मदिन पर आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में पासवान ने कहा, ‘प्याज की कीमतों में उछाल बस थोड़े समय के लिए ही है. इस सीजन में हर साल आलू, प्याज और टमाटर के भाव में थोड़ा बहुत अंतर आते रहे हैं. हालांकि, मेरे पास प्याज के बफर स्टॉक मौजूद हैं. प्याज की कीमतों पर अंकुश रखने के लिए नाफेड और एनसीसीएफ को भी सतर्क किया गया है. हमारे पास 45 हजार टन का प्याज का भंडार है. खासकर दिल्ली में मदर डेयरी को भी इस काम के लिए लगाया गया है. नाफेड और सफल से 22 रुपए प्रति किलो के भाव से प्याज मिल रही है.

इसके साथ ही पासवान ने दावा किया कि देश के दूसरे हिस्सों में भी प्याज के पर्याप्त भंडार हैं. अगर राज्य सरकारों को जरुरत महसूस हो रही है तो वह बफर स्टॉक से प्याज ले सकते हैं. राज्य अपने यहां नागरिक आपूर्ति विभाग और राशन की दुकानों के माध्यम से इसकी आपूर्ति कर सकते हैं.

SHARE THIS
Continue Reading

देश-दुनिया

इतिहास रचेंगे PM मोदी, डोनाल्ड ट्रंप के साथ

Published

on

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra modi) औरअमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) की महारैली होने वाली है. 22 सितंबर को ‘Howdy Modi’ कार्यक्रम में मोदी- ट्रंप इतिहास में ऐसा पहली बार एक मंच पर साथ आएंगे. इसके पहले पीएम मोदी और ट्रंप फ्रांस के G-7 समिट में मुलाकात कर चुके हैं. पीएम मोदी और ट्रंप की मुलाकात आपको याद होगा जब पाकिस्तानी पीएम इमरान खानके कश्मीर पर मध्यस्थता वाले अरमान पर पानी फिर गया था. पीएम मोदी ने साफ-साफ कह दिया था कि भारत कश्मीर पर तीसरे देश का दखल बर्दाश्त नहीं करेगा. जबकि मनीला में आसियान सम्मेलन के दौरान भी पीएम मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के बीच मुलाकात हुई. और दोनों देशों के बीच कई मुद्दों पर चर्चा हुई थी. प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिका के राष्ट्रपति के बीच 2 महीने में तीसरी मुलाकात होने वाली है.अमेरिका की आबादी में 1% भारतीय मूल के नागरिक हैं. चीन और फिलीपीन्स के बाद तीसरा सबसे बड़ा समूह भारतीयों का है. अमेरिका में कई क्षेत्रों में भारतीय समुदाय का दबदबा है. यूएस में बसे करीब 40% भारतीयों के पास मास्टर्स, डॉक्टर्स या प्रोफेशनल डिग्री (राष्ट्रीय औसत से 5 गुना ज्या भारतीय ग्रेजुएट, 42% भारतीयपोस्ट ग्रेजुएट थे.अमेरिका में राष्ट्रपति के चुनाव होने हैं. ऐसे में डोनाल्ड ट्रंप (Donald trump) पीएम मोदी के बहाने अमेरिका में बसे भारतीयों को अपने पक्ष में करना चाहते हैं. इस कार्यक्रम के जरिए सीधे तौर पर 50 हज़ार भारतवंशियों से संवाद कर सकेंगे| मजबूत नेता वाली पीएम मोदी की छवि से सीधा कनेक्ट करेंगे. ट्रंप की भारतीयों के बीच ‘भारत विरोधी’ छवि सुधरेगी|

 

rashifal-01.09.2019

SHARE THIS
Continue Reading

#Chhattisgarh खबरे !!!!

देश-दुनिया4 mins ago

मायावती का ट्वीट ‘कांग्रेस पार्टी की दोग़ली नीति की वजह से ही देश में ‘साम्प्रदायिक ताकतें मजबूत

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer राजस्थान में बहुजन समाज पार्टी के विधायकों द्वारा पाला बदलकर कांग्रेस...

छत्तीसगढ़35 mins ago

छत्तीसगढ़ के स्कूली शिक्षा मंत्री का बैग ट्रेन से चोरी ,प्रशासन में मचा हड़कंप

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer छत्तीसगढ़ के स्कूली शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम का बैग...

देश-दुनिया2 hours ago

मंत्री राम विलास पासवान के मंत्री की शिकायत पर विभाग ने मारा छापा

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer फलों और सब्जियों पर कृत्रिम रंग और केमिकल के जरिए चमकीला...

देश-दुनिया3 hours ago

कश्‍मीर के पूर्व विधायक मोहम्‍मद यूसुफ तारिगामी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer अनुच्‍छेद 370 पर सीपीआई (एम) नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक...

छत्तीसगढ़4 hours ago

छत्तीसगढ़ के नगरीय निकायों में चुनाव की प्रक्रिया शुरू

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer छत्तीसगढ़ के नगरीय निकायों में चुनाव की प्रक्रिया शुरू हो गई...

Advertisement

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive3 weeks ago

मोदी का गांधीवाद ?

मोदी का गांधीवाद ?  Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer आइये जाने मोदी का गाँधीवाद  ? भारतीय...

Etoi Exclusive3 weeks ago

हरतालिका तीज कब है ? एक या दो सितंबर को ?

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer हरतालिका तीज का व्रत कब करें, इसे लेकर उलझन है। दरअसल...

Etoi Exclusive4 weeks ago

निर्मला सीतारमण ने कीं आर्थिक सुधारों से जुड़ी घोषणाएँ

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कीं आर्थिक सुधारों से जुड़ी  घोषणाएँ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक सुधारों का एलान...

Etoi Exclusive4 weeks ago

5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनामी के मजेदार सपने का सच क्या है ?

5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनामी के सपने का सच ? Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer भारत...

Etoi Exclusive4 weeks ago

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैंक्रोन काशी पहुँचे

उत्तर प्रदेश Mar, 12 2018 फ्रांस के राष्ट्रपति पहुंचे काशी, पीएम मोदी ने किया भव्य स्वागत नौका विहार करके रचेंगे...

Advertisement
September 2019
M T W T F S S
« Aug    
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
30  
Advertisement

निधन !!!

Advertisement

Trending