Connect with us

अन्य खबरे

भारत के इस गांव को कोरोना वायरस ने किया पूरी तरह ठप

Published

on

पश्चिम बंगाल में पूर्वी मिदनापुर ज़िले का भगबानपुर गांव चीन के वुहान शहर से ठीक 2,799 किलोमीटर दूर है. वुहान वही जगह है जहां से कोरोना वायरस का संक्रमण फैलना शुरू हुआ.

वुहान से इतनी दूर होने के बावजूद भगबानपुर कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित है.

इस इलाक़े में रहने वाली पुतुल बेरा और रीता मेती जैसे सैकड़ों लोग कोरोना वायरस के कारण संकट में हैं.

ये लोग इंसानी बालों से विग बनाने का काम करते हैं. ये महीने में क़रीब 50 टन का उत्पादन करते थे, जिसे चीन निर्यात किया जाता था लेकिन पिछले दो सप्ताह से यह सिलसिला थम गया है.

इस कारोबार से घर चलाने वाली रीता मेती बताती हैं, “हमें नहीं पता था कि किसी वायरस का अटैक हो जाएगा. हमने हज़ारों रुपए के बाल ख़रीद लिए थे.”

रीता की पड़ोसन पुतुल बेरा और उनके पति 40 हज़ार रुपये की कीमत के इंसानी बालों के साथ फंस गए हैं. उन्हें बड़े व्यापारियों और निर्यातकों से अपना हज़ारों रुपये का भुगतान मिलने का इंतज़ार है.

पुतुल बताती हैं, “वो लोग चीन में सामान नहीं बेच पा रहे हैं. इसलिए हम भी बकाया पैसे नहीं चुका पा रहे हैं.”

इस इलाक़े के सैकड़ों एजेंटों ने इंसानी बाल इकट्ठे किए हैं. बालों में कंघी करते समय जो बाल कंघी में फंसे रह जाते हैं, उन्हें छोटे-छोटे गुच्छों में इन एजेंटों को बेच दिया जाता है.

पंजाब और कश्मीर के पुरुषों और महिलाओं के बाल लंबाई की वजह से सबसे अच्छे माने जाते हैं और कीमती होते हैं.

भगबानपुर, चंडीपुर और इसके आसपास के इलाक़ों में ट्रकों, ट्रेनों और यहां तक कि एयर कार्गो से भी बोरों में भरकर इंसानी बाल आते हैं.

बालों के इन गुच्छों को सुलझाकर धोया जाता है. फिर सुखाकर छह से 26 इंच तक के अलग-अलग आकार में काटा जाता है और फिर इनके बंडल बनाकर चीन निर्यात कर दिया जाता है.

बालों का यह काम फ़ैक्ट्रियों से लेकर घरों तक में किया जाता है. लेकिन अभी ये सारा काम थम गया है.

बालों के एक बड़े निर्यातक शेख़ हसीफ़ुर रहमान बताते हैं, “कोरोना वायरस की वजह से चीन के साथ मेरे सारे व्यापारिक कामकाज ठप हो गए हैं. चीनी ख़रीदार यहां आने में असमर्थ हैं और हम भी तैयार हो चुके उत्पाद निर्यात नहीं कर सकते. यहां के 80 फ़ीसदी से ज़्यादा लोग बेरोज़गार हो गए हैं.”

इनके कारख़ाने का हॉल अब खाली पड़ा है, जहां कुछ सप्ताह पहले तक रोज़ाना क़रीब 25-30 लोग काम करते थे.

यहां पूरे साल चीनी ख़रीदारों का आना-जाना लगा रहता है. ये सभी चीनी नव वर्ष मनाने के लिए वापस गए और अभी तक इनमें से कोई भी नहीं लौटा है.

बालों के एक छोटे व्यापारी गणेश पटनायक पुतुल और रीता जैसी घर चलाने वाली तमाम महिलाओं को इंसानी बाल मुहैया कराते हैं.

उन्होंने बताया, “मुझे दो सप्ताह से कोई भुगतान नहीं मिला है. मुझे इस महीने की 20 तारीख़ तक बकाया पैसा चुकाने का आश्वासन दिया जा रहा है, लेकिन मुझे कोई ख़ास भरोसा नहीं है. अगर बालों का यह व्यापार पूरी तरह ठप हो जाता है तो मुझे नहीं पता कि मैं और क्या करूंगा.”

बालों का व्यापार इस इलाक़े की अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार है. इसके अचानक बंद होने का असर दूसरों पर भी पड़ रहा है.

शेख़ सिकंदर भगबानपुर बस स्टैंड पर तम्बाकू बेचते हैं. वो बताते हैं, “मेरी छोटी सी दुकान है फिर भी मुझ पर कोरोना वायरस का असर पड़ रहा है. मेरे व्यापार में भी गिरावट आई है. अगर बालों का व्यापार प्रभावित होता है तो बाकी सभी दुकानों पर भी इसका असर पड़ता है.”

प्रज्ज्वल मेती और बेहतर तरीक़े से बताते हैं कि कैसे कोरोना वायरस अर्थव्यवस्था पर असर डाल रहा है.

मेती एक राष्ट्रीय बैंक के एजेंट हैं, जो बैंक के काउंटर की तरह लोगों से पैसा जमा करते हैं और उन्हें भुगतान देते हैं.

वो बताते हैं, “पहले सिर्फ़ मेरे काउंटर से ही रोज़ाना क़रीब 10 लाख रुपये का लेनदेन होता था लेकिन कोरोना वायरस के बाद से इसमें तेज़ी से (क़रीब 90 फ़ीसदी) की गिरावट आई है.”

एक स्थानीय डॉक्टर अनुपम सरकार कहते हैं कि इस इलाक़े में आर्थिक हालत इतनी ख़राब हो गई है कि लोग डॉक्टर की फ़ीस भी नहीं चुका पा रहे हैं.

लोग परेशान हैं लेकिन उन्हें उम्मीद है कि हालात जल्द ही ठीक हो जाएंगे.

बुज़ुर्ग रेणुका मेती बालों के छोटे-छोटे बंडलों में इसी उम्मीद के साथ कंघी कर रही हैं कि जल्द ही व्यापार फिर से शुरू हो जाएगा.

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

अन्य खबरे

कोरोना: फिल्म इंडस्ट्री के दिहाड़ी मजदूरों की मदद को आगे आए सलमान खान

Published

on

कोरोना वायरस के चलते देशभर में लॉकडाउन लगा हुआ है. ऐसे में सलमान खान ने फिल्म इंडस्ट्री के दिहाड़ी मजदूरों को पैसों की मदद देने का फैसला किया है. Federation of Western Indian Cine Employees (FWICE) के मुताबिक, सलमान खान ने इंडस्ट्री के 25000 दिहाड़ी मजदूरों को आर्थिक रूप से मदद करने का प्रण लिया है.

भारत में 21 दिन के लॉकडाउन से दिहाड़ी मजदूरों को अपनी रोजी-रोटी के लिए परेशान होना पड़ रहा है. ऐसे में बॉलीवुड के तमाम स्टार्स अपने तरीके से मदद करने में लगे हुए हैं. अब सलमान खान ने अपने NGO बीइंग ह्यूमन के जरिए ऐसा करने का फैसला किया है. FWICE के प्रेसिडेंट बी एन तिवारी ने बताया कि सलमान खान अपने NGO बीइंग ह्यूमन के जरिए उनके आर्गेनाईजेशन तक पहुंचे और मजदूरों के लिए मदद का हाथ आगे बढ़ाया.

मजदूरों के मसीहा सलमान खान

उन्होंने कहा, ‘सलमान खान का बीइंग ह्यूमन फाउंडेशन दिहाड़ी मजदूरों की मदद को आगे आया है. उन्होंने हमें तीन दिन पहले कॉल किया था. हमारे पास 5 लाख मजदूर हैं, जिनमें से 25000 को आर्थिक मदद की बेहद जरूरत है. बीइंग ह्यूमन फाउंडेशन ने कहा कि वे उन सभी मजदूरों का ख्याल रखेंगे. उन्होंने इन 25000 मजदूरों की अकाउंट डिटेल्स मांगीं हैं, क्योंकि वे चाहते हैं कि मदद के पैसे सीधा मजदूरों के पास पहुंचे.’

तिवारी ने आगे बताया, ‘उन मजदूरों के अलावा 4,75,000 मजदूर हमारे पास और हैं, जिनको हम सपोर्ट कर रहे हैं. ये लोग एक महीने तक अपना काम चला सकते हैं. हमने उनके लिए राशन इकट्ठा किया है, लेकिन दुर्भाग्य से वे इसे लेने यहां नहीं आ सकते. तो हम इसे उनतक पहुंचाने के रास्ते ढूंढ रहे हैं.’

अन्य स्टार्स से भी मांगी मदद

तिवारी ने आगे बताया कि उन्होंने इंडस्ट्री के अन्य सेलेब्रिटीज से भी लेटर लिखाकर मदद मांगी हैं. लेकिन उन्हें अभी तक कोई खास जवाब नहीं मिले हैं. उन्होंने कहा कि प्रोड्यूसर महावीर जैन ने खाने और जरूरी समान में मदद करने को कहा है.

बता दें कि इस हफ्ते की शुरुआत में करण जौहर, आयुष्मान खुराना, कियारा अडवाणी, तापसी पन्नू, सिद्धार्थ मल्होत्रा, नितेश तिवारी संग अन्य ने दिहाड़ी मजदूरों को सपोर्ट करने का ऐलान किया था. I Stand With Humanity नाम के इनिशिएटिव के साथ ये स्टार्स दिहाड़ी मजदूरों को 10 दिन का जरूरी सामान और खाना पहुंचाने में मदद करेंगे.

18 मार्च को Producers Guild of India ने फिल्म, टेलीविजन और वेब इंडस्ट्री के दिहाड़ी मजदूरों के लिए रिलीफ फंड बनाने का ऐलान किया था. कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के ऐलान के बाद डायरेक्टर अनुराग कश्यप, सुधीर मिश्रा, विक्रमादित्य मोत्वाने संग अन्य ने दिहाड़ी मजदूरों के लिए चिंता जताई थी.

अन्य स्टार्स से भी मांगी मदद

तिवारी ने आगे बताया कि उन्होंने इंडस्ट्री के अन्य सेलेब्रिटीज से भी लेटर लिखाकर मदद मांगी हैं. लेकिन उन्हें अभी तक कोई खास जवाब नहीं मिले हैं. उन्होंने कहा कि प्रोड्यूसर महावीर जैन ने खाने और जरूरी समान में मदद करने को कहा है.

बता दें कि इस हफ्ते की शुरुआत में करण जौहर, आयुष्मान खुराना, कियारा अडवाणी, तापसी पन्नू, सिद्धार्थ मल्होत्रा, नितेश तिवारी संग अन्य ने दिहाड़ी मजदूरों को सपोर्ट करने का ऐलान किया था. I Stand With Humanity नाम के इनिशिएटिव के साथ ये स्टार्स दिहाड़ी मजदूरों को 10 दिन का जरूरी सामान और खाना पहुंचाने में मदद करेंगे.

18 मार्च को Producers Guild of India ने फिल्म, टेलीविजन और वेब इंडस्ट्री के दिहाड़ी मजदूरों के लिए रिलीफ फंड बनाने का ऐलान किया था. कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के ऐलान के बाद डायरेक्टर अनुराग कश्यप, सुधीर मिश्रा, विक्रमादित्य मोत्वाने संग अन्य ने दिहाड़ी मजदूरों के लिए चिंता जताई थी.

अन्य स्टार्स से भी मांगी मदद

तिवारी ने आगे बताया कि उन्होंने इंडस्ट्री के अन्य सेलेब्रिटीज से भी लेटर लिखाकर मदद मांगी हैं. लेकिन उन्हें अभी तक कोई खास जवाब नहीं मिले हैं. उन्होंने कहा कि प्रोड्यूसर महावीर जैन ने खाने और जरूरी समान में मदद करने को कहा है.

बता दें कि इस हफ्ते की शुरुआत में करण जौहर, आयुष्मान खुराना, कियारा अडवाणी, तापसी पन्नू, सिद्धार्थ मल्होत्रा, नितेश तिवारी संग अन्य ने दिहाड़ी मजदूरों को सपोर्ट करने का ऐलान किया था. I Stand With Humanity नाम के इनिशिएटिव के साथ ये स्टार्स दिहाड़ी मजदूरों को 10 दिन का जरूरी सामान और खाना पहुंचाने में मदद करेंगे.

18 मार्च को Producers Guild of India ने फिल्म, टेलीविजन और वेब इंडस्ट्री के दिहाड़ी मजदूरों के लिए रिलीफ फंड बनाने का ऐलान किया था. कोरोना वायरस की वजह से लॉकडाउन के ऐलान के बाद डायरेक्टर अनुराग कश्यप, सुधीर मिश्रा, विक्रमादित्य मोत्वाने संग अन्य ने दिहाड़ी मजदूरों के लिए चिंता जताई थी.

Continue Reading

अन्य खबरे

लॉक डाउन के दौरान राहत के लिए टाटा ने दिए 500 करोड़, अक्षय कुमार ने 21 करोड़ और IAS एसोसिएशन ने दिया फंड

Published

on


नई दिल्ली: कोविड 19 के खिलाफ भारत सहित दुनिया के कई देश जंग लड़ रहे हैं। बचाव के लिए भारत सहित दुनिया के कई देशों को लॉ​क डाउन कर दिया गया है। लॉक डाउन के दौरान केंद्र और राज्य की सरकार लोगों के लिए राहत के तौर पर हर संभव मदद कर रही है। वहीं, कई हस्तियों ने मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया है। इसी बीच खबर आ रही है कि टाटा ट्रस्ट ने 500 करोड़, बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार ने 21 करोड़ और आईएएस एसोसिएशन ने 21 लाख रुपए प्रधानमंत्री राहत कोष में जमा करने का ऐलान किया है।

प्रधानमंत्री राहत कोष में 500 करोड़ रुपए देने का ऐलान करते हुए चेयरमेन रतन टाटा ने कहा है कि कोविड 19 से जंग लड़ने के लिए तत्काल राहत सामाग्रियों का वितरण किया जाना आवश्यक है।वहीं, आईएएस एसोसिएशन ने 21 करोड़ रुपए देते हुए कहा है कि हमारे संगठन ने प्रारंभिक तौर पर 21 लाख रुपए दिया है। साथ ही एसोसिएशन के सभी सदस्य कम से कम एक दिन की सैलरी दान करेंगे। हम आपको अवगत करना चाहते हैं कि इस लड़ाई में हम कोई कसर नहीं छोड़ोंगे और हम इस जंग में जीतेंगे।

Continue Reading

अन्य खबरे

रायपुर नगर निगम 30 हजार जरूरतमंद परिवारों तक भोजन पहुंचाएगा

Published

on

रायपुर। कोविड 19 के रोकथाम और नियंत्रण की मुहीम के तहत चल रहे लॉकडाउन के दौरान रायपुर शहरी क्षेत्र के तीस हजार जरूरतमंद परिवारों तक निःशुल्क खाद्यान्न सामग्री प्रदाय किए जाने की मानवीय पहल रायपुर नगर निगम द्वारा प्रारंभ कर दी गई है। जरूरतमंद परिवारों को नगर निगम द्वारा निर्धारित मात्रा में प्रति परिवार के मान से चावल, दाल, तेल, मसाला सहित अन्य खाद्यान्न सामग्री निःशुल्क उपलब्ध कराए जाने की व्यवस्था मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पहल पर शुरू की गई है।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने विपदा की इस घड़ी में जरूरतमंदों की निःशुल्क मदद की इस सेवा का विधिवत शुभारंभ आज अपने निवास कार्यालय से राशन सामग्री के पैकेट के वितरण करते हुए किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने नगर निगम रायपुर की इस पहल की सराहना की और इसे पूरे प्रदेश के लिए अनुकरणीय बताया। मुख्यमंत्री ने उम्मीद जताई कि संकट की इस घड़ी में कोई भी जरूरतमंद परिवार भूखा नहीं रहेगा। उनकी जरूरत का सामान शासन-प्रशासन, स्वयंसेवी, समाजसेवी संस्थाओं एवं छत्तीसगढ़ के दानदाताओं की मदद से उन तक जरूर पहुंचेगा।

नगर निगम रायपुर द्वारा शुरू की गई इस पहल के अंतर्गत प्रत्येक जरूरतमंद परिवारों को चावल, दाल, तेल, मसाले, आलू, आटा, दूध का पैकेट, मास्क, साबुन आदि रायपुर में निवासरत सभी दिहाड़ी मजदूर परिवारों को तथा बिना राशन कार्डधारी परिवारों को वितरित किया जा रहा है। निःशुल्क राशन वितरण की जिम्मेदारी संबंधित वार्डों के पार्षदों, जोन कमिश्नरों एवं वार्ड कर्मियों को सौंपी गई है, जो अपनी निगरानी में जरूरतमंद परिवारों को खाद्यान्न सामग्री का पैकेट उपलब्ध कराने में सहयोग करेंगे।

नगर निगम के महापौर एजाज ढेबर ने बताया कि रायपुर नगर निगम क्षेत्र अंतर्गत दिहाड़ी मजदूरी करने वाले एवं बिना राशन कार्डधारी लगभग 3000 परिवारों का चिन्हांकन कर उन्हें निःशुल्क खाद्यान्न का वितरण शुरू कर दिया हैं। उन्होंने बताया कि खाद्यान्न वितरण के दौरान भी कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए लोगों के आवश्यक जानकारी देने के साथ ही उन्हें सतर्कता बरतने की हिदायत दी जा रही है। लोगों से अपने रोजमर्रा के कामकाज के दौरान भी सोशल डिस्टेन्स का पालन करने की अपील की जा रही है।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़3 hours ago

मौसम विभाग के अनुसार छत्तीसगढ़ में बारिश की संभावना

बिलासपुर व रायपुर के एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ हल्की बारिश अथवा तेज गरज-चमक के साथ वज्रपात की संभावना...

छत्तीसगढ़5 hours ago

पुलिस विभाग में ट्रांसफर एसपी ने जारी किये आदेश

पुलिस प्रशासन कोरोना वायरस से लोगों को दूर रखने के लिए तमाम प्रयास कर रहा है। पुलिसकर्मी अपनी जान जोखिम...

अन्य खबरे6 hours ago

रायपुर नगर निगम 30 हजार जरूरतमंद परिवारों तक भोजन पहुंचाएगा

रायपुर। कोविड 19 के रोकथाम और नियंत्रण की मुहीम के तहत चल रहे लॉकडाउन के दौरान रायपुर शहरी क्षेत्र के...

Etoi Exclusive19 hours ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 29/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

छत्तीसगढ़20 hours ago

रायपुर : राज्य के कर्मचारियों को इस बार मार्च महिने का वेतन मिलेगा जल्दी.

रायपुर, 28 मार्च 2020 राज्य शासन के निर्देशानुसार राज्य के कर्मचारियों को इस बार मार्च माह का वेतन अप्रैल माह...

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive2 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 28/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive3 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 27/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive4 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 26/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive5 days ago

चीन पर एक वायरस का हमला ,हंता वायरस या कोरोना कौन ज्यादा घातक ?

हंता वायरस या कोरोना, जानें दोनों में से कौन सा है ज्यादा जानलेवा कोरोना वायरस की त्रासदी के बीच हंतावायरस...

Etoi Exclusive5 days ago

कोरोना के खौफ का शिकार हुआ टोक्यो ओलम्पिक,हुआ स्थगित

तोक्यो ओलिंपिक अगले साल तक होंगे स्थगित, जापान के पीएम शिंजो आबे के प्रस्ताव पर आईओसी चीफ भी राजी  ...

Calendar

March 2020
M T W T F S S
« Feb    
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
3031  

निधन !!!

Advertisement

Trending