Connect with us

देश-दुनिया

कोर्ट ने कहा, वोटर कार्ड भी नागरिकता का प्रमाण के सबूत है

Published

on

सीएए के खिलाफ विरोध प्रदर्शन के बीच मुंबई की एक अदालत ने कहा है कि मतदाता पहचान पत्र भी नागरिकता का प्रमाण है। मुंबई की एक मजिस्ट्रेट अदालत ने एक जोड़े को अवैध बांग्लादेशी प्रवासियों के रूप में संदेह से बरी करते हुए ये बात कही है। कोर्ट ने जोड़े को बरी करते हुए कहा, ‘जन्म प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, मूल निवासी प्रमाण पत्र, पासपोर्ट आदि को किसी भी व्यक्ति के मूल प्रमाण के तौर पर माना जा सकता है।’

कोर्ट ने कहा है कि मूल पहचान पत्र नागरिकता का प्रमाण है, जब तक कि अन्यथा साबित न हो, दंपति को 2017 में अवैध रूप से भारत में प्रवेश करने और बिना दस्तावेज के मुंबई में रहने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

कोर्ट ने आगे कहा, “यहां तक कि वोटर कार्ड को भी नागरिकता का पर्याप्त प्रमाण कहा जा सकता है क्योंकि चुनाव कार्ड या मतदान कार्ड के लिए आवेदन करते समय, जन प्रतिनिधि अधिनियम के फार्म 6 के तहत एक व्यक्ति को प्राधिकरण के समक्ष नागरिक के तौर पर घोषणा पत्र दाखिल करना होता है कि वह भारत का नागरिक है, यदि घोषणा झूठी पाई जाती है, तो वह सजा के लिए उत्तरदायी होता है।”

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

Etoi Exclusive

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 30/03/2020

Published

on

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे बढ़ जाएँ,
देश विदेश और अपने प्रदेश की,सभी ख़ास खबरों का ख़ास संकलन,रोज सुबह सुबह पढ़े सिर्फ हमारे पोर्टल में ,,,,,,

  1. मजदूरों के पलायन पर केंद्र सरकार सख्त,राज्यों से कहा- सीमा सील कर दो
  2. मौसम विभाग के अनुसार छत्तीसगढ़ में बारिश की संभावना
  3. लॉकडाउन के दौरान जरूरी वस्तुओं की उपलब्धता बनाये रखने के निर्देश – कलेक्टर
  4. CGPSC भर्ती 2020 : विभिन्न जॉब्स के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित
  5. तकनीकी सेवा आयोग भर्ती 2020 : फ़ूड सेफ्टी ऑफिसर, फिजियोथेरेपिस्ट के लिए आवेदन आमंत्रित
  6. पुरानी रंजिश के चलते नवादा में डबल मर्डर
  7. ‘बिग बॉस’ के सफर को बयां कर रही आसिम की ये तस्वीर
  8. पुलिस विभाग में ट्रांसफर एसपी ने जारी किये आदेश
  9. अमेरिका में कोविड-19 से एक साल से भी कम उम्र के शिशु की मौत
  10. ‘महाभारत’ और ‘रामायण’ के बाद अब ‘शक्तिमान’
  11. लॉकडाउन से हुई कठिनाई के लिए पीएम मोदी ने लोगों से मांगी माफ़ी, कही 10 खास बातें…
  12. लॉक डाउन के दौरान राहत के लिए टाटा ने दिए 500 करोड़, अक्षय कुमार ने 21 करोड़ और IAS एसोसिएशन ने दिया फंड
  13. रायपुर नगर निगम 30 हजार जरूरतमंद परिवारों तक भोजन पहुंचाएगा
  14. IRCTC आज से हजारों बेघरों और गरीबों को मुफ्त में भोजन उपलब्ध कराएगी
  15. मेयर पर लगा भ्रष्टाचार का आरोप,जो राशन लोगों के घरों तक पहुंचाने थे,वो उसने भाई के दुकान में पहुंचा
  16. लॉकडाउन में ड्यूटी निभा रहा वर्ल्ड चैम्पियन
  17. लॉकडाउन से परेशान परिवार ने दी आत्महत्या की धमकी, पुलिस ने की सहायता
  18. भारतीय रेल 21 मार्च से 14 अप्रैल 2020 तक की यात्रा अवधि के सभी टिकटों का पूरा पैसा लौटाएगी
  19. स्पेन की राजकुमारी मारिया टेरेसा की कोरोना वायरस से मौत
  20. लॉकडाउन की अवधि के दौरान प्रवासी कामगारों को हरसंभव सहायता उपलब्‍ध कराने सरकार प्रतिबद्ध : अमित शाह
  21. लॉकडाउन के दौरान जनता को राहत!, ऑनलाइन बिजली बिल भुगतान पर 50 प्रतिशत की छूट
  22. BSNL का धांसू ऑफर! यूज़र्स के लिए 5GB फ्री इंटरनेट, नहीं लगेगा कोई चार्ज
  23. ट्विंकल खन्ना ने पूछा आप सच में 25 करोड़ दान देंगे, तो ऐसा था अक्षय का रिएक्शन
  24. कोरोना वायरस को लेकर गलतफहमी से बचा जा सकता है, जानें ये जरूरी बातें
  25. कोरोना वायरस को लेकर गलतफहमी से बचा जा सकता है, जानें ये जरूरी बातें
  26. एम्बुलेंस में बैठ कर भाग रहे, फर्जी 8 मरीज को पुलिस ने किया गिरफ्तार
  27. दुनिया कि इस पहली महिला से फैलना शुरू हुआ कोरोना संक्रमण!
  28. लॉकडाउन काम करे बैंक कर्मचारियों के लिए बड़ा ऐलान, मिलेगी एक्स्ट्रा सैलरी
  29. बैंक जीरो बैलेंस होने पर मुफ्त में देते हैं ये सुविधाएं
  30. लॉकडाउन के बीच RBI ने 1 अप्रैल से 10 सरकारी बैंकों के विलय को मंजूरी दी
  31. बिहार में तिहरी मार: कोरोना के बीच बर्ड फ्लू से सनसनी
  32. खाद्य सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिये कृषि को लॉकडाउन से दी गयी छूट: मंत्री
  33. कोरोना का भारत में महिलाओं पर ज्यादा असर पड़ने वाला है. जाने ऐसा क्यों?
  34. कोरोना वायरस अपडेट्स | Corona virus updates 29 मार्च 2020 04 : 00 AM
  35. देश की नींद उड़ानें वाली केबिनेट सचिव की चिट्ठी : सम्पादकीय.
Continue Reading

अन्य खबरे

मजदूरों के पलायन पर केंद्र सरकार सख्त,राज्यों से कहा- सीमा सील कर दो

Published

on

 

कोरोना लॉकडाउन के बाद मजूरों के पलायन से हलकान सरकार,राज्यों से कहा अपनी सीमायें सील कर दो 

मजदूरों के पलायन पर केंद्र सरकार सख्त, राज्यों से कहा- सीमा सील कर दो और आवाजाही रोको,केंद्र ने राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासनों से लॉकडाउन के दौरान प्रवासी कामगारों की आवाजाही को रोकने के लिए प्रभावी तरीके से राज्य और जिलों की सीमा सील करने को कहा है। मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान कैबिनेट सचिव राजीव गौबा और केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने उनसे सुनिश्चित करने को कहा कि शहरों में या राजमार्गों पर आवाजाही नहीं हो क्योंकि लॉकडाउन जारी है। एक सरकारी अधिकारी ने बताया, ”देश के कुछ हिस्सों में प्रवासी कामगारों की आवाजाही हो रही है। निर्देश जारी किए गए हैं कि राज्यों और जिलों की सीमा को प्रभावी तरीके से सील करना चाहिए।” राज्यों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि शहरों में या राजमार्गों पर लोगों की आवाजाही नहीं हो। केवल सामान को लाने-ले जाने की अनुमति होनी चाहिए। राज्यों को उनलोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा गया है, जो छात्रों अथवा मजदूरों से जगह खाली करने को कहता है।अधिकारी ने बताया कि इन निर्देशों का पालन करवाने के लिए जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक की निजी तौर पर जिम्मेदारी बनती है। अधिकारी ने बताया कि प्रवासी कामगारों सहित जरूरतमंद और गरीब लोगों को खाना और आश्रय मुहैया कराने के लिए समुचित इंतजाम किए जाएंगे। उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दुनिया भर में महामारी का रूप ले चुके कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ से निर्णायक लड़ाई के लिए 24 मार्च की आधी रात से समूचे देश में 21 दिन के लॉकडाउन और 15 हज़ार करोड़ रुपए के पैकेज की घोषणा की थी। पीएम मोदी ने देशवासियों से हाथ जोड़कर विनती की कि वे अपने घर से बाहर बिल्कुल न निकलें क्योंकि इस जानलेवा वायरस के संक्रमण की श्रंखला को तोड़ने का यही एक मात्र रास्ता है। केंद्र का राज्यों को निर्देश * प्रवासी मजदूरों की आवाजाही को रोकने के लिए राज्य और जिलों की सीमा को प्रभावी तरीके से सील की जाएं। * गरीब, जरूरतमंद लोगों, दिहाड़ी मजदूरों को भोजन, आश्रय मुहैया कराने के लिए समुचित इंतजाम किए जाएं।राज्यों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि लॉकडाउन के दौरान राजमार्गों या शहरों में लोगों की आवाजाही नहीं हो। * इन निर्देशों का पालन कराने के लिए डीएम, एसपी को निजी तौर पर जिम्मेदार बनाया जाना चाहिए। वहीं, प्रवासी मजदूरों के लिए शनिवार (28 मार्च) को सीमित संख्या में बस चलाने के उत्तर प्रदेश प्रशासन के फैसले के बाद अपने घर पहुंचने की जल्दी में बसों में सीट के लिए झगड़ा करते मजदूरों से दिल्ली-गाजियाबाद सीमा पूरी तरह पटी नजर आई जहां अफरातफरी और भगदड़ जैसे हालात बने हुए थे।दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के हजारों दिहाड़ी मजदूर कई किलोमीटर पैदल चलने के बाद बस पकड़ने के लिए आनंद विहार, गाजीपुर और गाजियाबाद के लाल कुआँ क्षेत्र पहुंचे। लोगों की संख्या अत्यधिक होने और बस में जगह न होने के कारण कई मजदूर बसों की छत पर बैठ गए। संक्रमण फैलने के खतरे के बीच सामाजिक दूरी के सारे नियम धरे रह गए और लोग बसों में जहां पांव टिकाने की जगह मिली वहीं खड़े नजर आए। इनमें से कुछ ने मास्क पहने थे, लेकिन ज्यादातर लोगों ने संक्रमण से बचने के लिए मुंह पर रुमाल बांधा था

देशभर में लागू 21 दिनों के लॉकडाउन के कारण कई प्रवासी मजदूर अपने-अपने गांवों को वापस लौट रहे हैं। जिसमें से कुछ हादसों का भी शिकार हो चुके हैं। इसी बीच केंद्र सरकार ने राज्यों को निर्देश दिया है कि वे शहरों में लोगों की आवाजाही को बंद करें। सरकार ने सख्ती बरतते हुए कहा कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को 14 दिन के लिए पृथक केंद्र में भेजा जाएगा।केंद्र ने राज्य सरकारों और केंद्र शासित प्रदेश के प्रशासनों से लॉकडाउन के दौरान प्रवासी कामगारों की आवाजाही को रोकने के लिए प्रभावी तरीके से राज्य और जिलों की सीमा सील करने को कहा है। मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के दौरान कैबिनेट सचिव राजीव गौबा और केंद्रीय गृह सचिव अजय भल्ला ने उनसे सुनिश्चित करने को कहा कि शहरों में या राजमार्गों पर आवाजाही नहीं हो क्योंकि लॉकडाउन जारी है।

सरकार ने विज्ञप्ति में कहा, ‘यह नोट किया गया है कि बड़े और सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों में दिशानिर्देशों का प्रभावी कार्यान्वयन हुआ है। आवश्यक आपूर्ति भी बनाए रखी गई है। स्थिति पर चौबीसों घंटे नजर रखी जा रही है और आवश्यकतानुसार उपाय किए जा रहे हैं।’ एक सरकारी अधिकारी ने बताया, ‘देश के कुछ हिस्सों में प्रवासी कामगारों की आवाजाही हो रही है। निर्देश जारी किए गए हैं कि राज्यों और जिलों की सीमा को प्रभावी तरीके से सील करना चाहिए।’

राज्यों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया है कि शहरों में या राजमार्गों पर लोगों की आवाजाही नहीं हो। केवल सामान को लाने-ले जाने की अनुमति होनी चाहिए। अधिकारी ने बताया कि इन निर्देशों का पालन करवाने के लिए जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक की निजी तौर पर जिम्मेदारी बनती है।

अधिकारी ने बताया कि प्रवासी कामगारों सहित जरूरतमंद और गरीब लोगों को खाना और आश्रय मुहैया कराने के लिए समुचित इंतजाम किए जाएंगे। सरकार ने सख्ती बरतते हुए कहा कि लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों को 14 दिन के लिए पृथक केंद्र में भेजा जाएगा।

Continue Reading

देश-दुनिया

गैरेज में टेंट लगाकर रहता है कोरोना का डॉक्टर ताकि पत्नी-बच्चों को न हो खतरा

Published

on

कोरोना वायरस मरीजों का इलाज कर रहे एक डॉक्टर ने पत्नी और बच्चों को खतरे से बचाने के लिए गैरेज में टेंट लगाकर रहने का फैसला किया है. ये मामला अमेरिका के कैलिफोर्निया का है. कोरोना वायरस से दुनियाभर में 30,800 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है और अमेरिका में भी यह तेजी से बढ़ रहा है. डॉक्टर टिम्मी चेंग नहीं चाहते हैं कि उनके परिवार को किसी प्रकार का खतरा हो. डॉ. चेंग क्रिटिकल केयर स्पेशलिस्ट हैं. वे अपने घर के ही गैरेज में टेंट लगाकर रहने लगे हैं. एक ट्विन मैट्रेस, लैपटॉप और स्नैक्स के साथ वे टेंट में समय बिताते हैं. हॉस्पिटल में शिफ्ट पूरी करने के बाद डॉ. चेंग टेंट में ही रहते हैं.

चेंग ने फेसबुक पर लिखा- ‘मैंने खुद से होमलेस (जिसका कोई घर नहीं होता) होने का फैसला किया ताकि अगर मैं संक्रमित हो जाऊं तो मेरे परिवार को संक्रमण ना हो.’उन्होंने यह भी बताया है कि एक रात तो उन्होंने अपनी कार में ही गुजार दी थी. इसके बाद अगली चार रातें उन्होंने हॉस्पिटल के कॉल रूम में सोकर बिताईं. पांचवे दिन उनकी पत्नी ने ही गैरेज में टेंट लगाने का आइडिया दिया. डॉ. चेंग कैलिफोर्निया के इरविन में स्थित यूसीआई मेडिकल सेंटर में काम करते हैं. चेंग मानते हैं कि उन्हें कई महीने तक टेंट में रहना पड़ सकता है क्योंकि अमेरिका में कोरोना वायरस पीड़ितों की संख्या लगातार बढ़ रही है. डॉक्टर का परिवार उनके लिए टेंट में स्नैक्स लेकर तो आता है, लेकिन उसे गैरेज के दरवाजे के पास ही रखकर चला जाता है. टेंट के पास ही उनकी कार खड़ी रहती है और वे वहां से सीधे हॉस्पिटल चले जाते हैं. डॉ. चेंग ने अपनी कहानी फेसबुक पर लिखी है, जिसे कई हजार बार शेयर किया गया है. उन्होंने कहा है कि अगर आप चाहते हैं कि हेल्थ केयर वर्कर्स होमलेस ना हों तो आप अपने घरों में रहें.  बता दें कि अमेरिका के कैलिफोर्निया में 100 से अधिक लोगों की मौत कोरोना से हो चुकी है.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

Etoi Exclusive5 mins ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 30/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

छत्तीसगढ़3 hours ago

मौसम विभाग के अनुसार छत्तीसगढ़ में बारिश की संभावना

बिलासपुर व रायपुर के एक-दो स्थानों पर गरज-चमक के साथ हल्की बारिश अथवा तेज गरज-चमक के साथ वज्रपात की संभावना...

छत्तीसगढ़5 hours ago

पुलिस विभाग में ट्रांसफर एसपी ने जारी किये आदेश

पुलिस प्रशासन कोरोना वायरस से लोगों को दूर रखने के लिए तमाम प्रयास कर रहा है। पुलिसकर्मी अपनी जान जोखिम...

अन्य खबरे6 hours ago

रायपुर नगर निगम 30 हजार जरूरतमंद परिवारों तक भोजन पहुंचाएगा

रायपुर। कोविड 19 के रोकथाम और नियंत्रण की मुहीम के तहत चल रहे लॉकडाउन के दौरान रायपुर शहरी क्षेत्र के...

Etoi Exclusive20 hours ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 29/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive2 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 28/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive3 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 27/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive4 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 26/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive5 days ago

चीन पर एक वायरस का हमला ,हंता वायरस या कोरोना कौन ज्यादा घातक ?

हंता वायरस या कोरोना, जानें दोनों में से कौन सा है ज्यादा जानलेवा कोरोना वायरस की त्रासदी के बीच हंतावायरस...

Etoi Exclusive5 days ago

कोरोना के खौफ का शिकार हुआ टोक्यो ओलम्पिक,हुआ स्थगित

तोक्यो ओलिंपिक अगले साल तक होंगे स्थगित, जापान के पीएम शिंजो आबे के प्रस्ताव पर आईओसी चीफ भी राजी  ...

Calendar

March 2020
M T W T F S S
« Feb    
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
3031  

निधन !!!

Advertisement

Trending