रायपुर, 11 जुलाई 2019

प्रदेश के दूरस्थ अंचलों के अनुसूचित जनजाति वर्ग के विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान किए जाने के लिए एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय संचालित किए जा रहे है। आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास आयुक्त द्वारा वित्तीय वर्ष 2022 तक 33 नवीन एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालयों की स्वीकृति एवं स्थापना की अनुमति दी गई हैं। इसके लिए आदिवासीय बाहुल्य जिलेवार और विकासखण्डवार जहां पर 50 प्रतिशत से अधिक अनुसूचित जनजाति वर्ग के परिवार निवासरत है, वहां जल्द से जल्द स्थल चयन करने के निर्देश संबंधित जिलों से कलेक्टर, अध्यक्ष जिलास्तरीय आदिम जाति कल्याण आवासीय एवं आश्रम शैक्षणिक संस्थान समिति को दिए हैं।

कलेक्टरों को एकलव्य आदर्श विद्यालय आवासीय विद्यालयों के लिए ऐसे स्थल का चयन करें जो विकासखण्ड में भवन के लिए 15-20 एकड़ भूमि की उपलब्धता हो। भूमि जिला या ब्लाॅक मुख्यालय से 5-10 किलोमीटर की दूरी पर चिन्हाकित की जाए। विद्यालय के लिए भूमि दूरस्थ एवं दुर्गम क्षेत्रों मंे चयन ना की जाए। चिन्हाकित भूमि के आसपास उपलब्ध आवश्यक सुविधाएं जैसे- अस्पताल, रेल्वे स्टेशन, बस स्टेट (आवागमन सुविधा) को दृष्टिगत रखते हुए भूमि का चयन किया जाए।

आदिम जाति तथा अनुसूचित जाति विकास आयुक्त ने निर्देशित किया है कि जिला बलरामपुर के विकासखण्ड रामचंद्रपुर के गांव देवीगंज, विकासखण्ड शंकरगढ़ के गांव दोहना, विकासखण्ड राजपुर के गांव बूढ़ाबगीचा, बस्तर जिले के विकासखण्ड लोहाण्डीगुड़ा के गांव गढ़िया, विकासखण्ड वास्तानार के गांव कोढ़ेनार, विकासखण्ड दरभा के गांव छिन्दावाड़ा, बीजापुर जिले के विकासखण्ड भोपालपट्टनम के गांव उलूर, विकासखण्ड उसूर के गांव आवापल्ली, बिलासपुर जिले के विकासखण्ड गोरेला के गांव सातेगोढ़ी, दक्षिण-बस्तर दंतेवाडा जिले के विकासखण्ड गीदम के गांव बड़ेतुमनार, विकासखण्ड कुआकोण्डा के गांव पालनार, गरियाबंद जिले के विकासखण्ड मैनपुर के गांव गिरोला के लिए चयनित विद्यालय के लिए भूमि का चयन किया जाएं।
इसी प्रकार जशपुर जिले के विकासखण्ड कांसाबेल के गांव दुधारूदंड, विकासखण्ड मनोरा के गांव करदना, विकासखण्ड फरसाबहार के गांव पंडरीपानी, विकासखण्ड पत्थलगांव के गांव सुकरापारा, कोण्डागांव जिले के विकासखण्ड केशकाल के गांव बेड़मा, विकासखण्ड बडे़राजपुर के गांव कोरगांव, विकासखण्ड मुख्यालय माकड़ी, विकासखण्ड फरसगांव के गांव चिचाड़ी, कोरबा जिले के विकासखण्ड पोड़ी-उपरोड़ा के गांव रामपुर, कोरिया जिले के विकासखण्ड भरतपुर के गांव जामथन, रायगढ़ जिले के विकासखण्ड मुख्यालय लैलुंगा, विकासखण्ड घरघोड़ा, राजनांदगांव जिले के विकासखण्ड मोहला के गांव धोबेधन, सुकमा जिले के विकासखण्ड छिंदगढ के गांव बालाटिकरा़, सूरजपुर जिले के विकासखण्ड प्रेमनगर के गांव पार्वतीपुर, सरगुजा जिले के विकासखण्ड लुण्ड्रा के गांव सहनपुर, विकासखण्ड सीतापुर के गांव पेताला, विकासखण्ड बतौली के गांव शिवपुर और उत्तर बस्तर कांकेर जिले के विकासखण्ड भानुप्रतापपुर के गांव कन्हारगांव, विकासखण्ड दुर्गकोंदल के गांव कर्रामाढ़, विकासखण्ड नरहरपुर के गांव करप में नवीन एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय की स्थापना के लिए भूमि का चयन किया जाना है।