Connect with us

देश-दुनिया

भारत कोरोना स्थिति से लड़ने के लिए कितना तैयार है, पढ़िए

Avatar

Published

on

भारत में कोविड 19 के मामले सोमवार दोपहर तक 415 हुए लेकिन क्या स्थिति और बिगड़ गई तो देश इसे किस तरह संभाल पाएगा? जानें भारत में स्वास्थ्य के मोर्चे पर कितनी चुनौतियां मुंह बाए खड़ी हैं. बात डरने की नहीं लेकिन चिंतित और सतर्क होने की ज़रूर है.

भारत में कोविड 19 के मामलों की संख्या 400 के पार पहुंच चुकने के बाद देश की स्वास्थ्य संबंधी चुनौतियों को जानना ज़रूरी हो जाता है. हेल्थकेयर के विशेषज्ञ कई तरह की समस्याओं को लेकर चिंता ज़ाहिर कर रहे हैं तो दूसरी तरफ, ये अंदेशे भी सामने आ रहे हैं कि अगर कोरोना वायरस ने विकराल रूप दिखाया या इसके मरीज़ गंभीर अवस्थाओं में पहुंच गए तो देश का स्वास्थ्य सेवाओं का ढांचा आखिर उस स्थिति से निपटने में कितना सक्षम होगा.

सरकारी अस्पतालों की बदहाली और डॉक्टरों की कमी संबंधी रिपोर्ट्स आप समय समय पर पढ़ते रहे हैं लेकिन इस वक्त आपको कोरोना वायरस के कहर से जुड़े देश के पूरे स्वास्थ्य सिस्टम के उन पहलुओं के बारे में बताते हैं, जहां चुनौतियां नज़र आ रही हैं.

सवा अरब लोगों के लिए 40 हज़ार वेंटिलेटर!

अब तक भारत में कोरोना वायरस पीड़ितों में से 5 फीसदी को आईसीयू में रखे जाने की नौबत आई है. लेकिन, अगर स्थिति और गंभीर स्तर पर पहुंचती है तो ऐसे मामले बढ़ सकते हैं. सांस संबंधी परेशानियां पैदा करने वाली इस बीमारी में वेंटिलेटर बहुत ज़रूरी हो जाता है. हिंदुस्तान टाइम्स की ताज़ा रिपोर्ट की मानें तो देश में सिर्फ 40 हज़ार वेंटिलेटर हैं, जो काम कर रहे हैं. ज़ाहिर है कि इनमें से ज़्यादातर महानगरों के अस्पतालों में ही हैं.

कोविड 19 की सबसे बुरी मार झेलने वाले चीन के डेटा पर गौर किया जाए तो इस बीमारी के 15 फीसदी मरीज़ों को अस्पतालों में भर्ती करने और आईसीयू में 5 फीसदी मरीज़ों को वेंटिलेटर पर रखने की नौबत आई.

प्रशिक्षित डॉक्टरों की कमी भी चिंता

वेंटिलेटर ज़रूरत से कम होने के साथ ही, एक चिंता यह भी है कि वेंटिलेटरों को चलाने के लिए प्रशिक्षित डॉक्टर भी देश में हर जगह या हर अस्पताल में मौजूद हों, ऐसा भी नहीं है. दूसरी तरफ, सामान्य रूप से डॉक्टरों की कमी देश में है ही. विश्व स्वास्थ्य संगठन का मानक है कि हर एक हज़ार लोगों पर कम से कम एक डॉक्टर होना चाहिए लेकिन भारत में 1457 लोगों पर एक डॉक्टर है. लेकिन बात अगर ग्रामीण भारत की हो तो 10,926 लोगों पर एक डॉक्टर है.

कम हो रहे हैं टेस्ट!

इस रिपोर्ट में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन को लिखे गए एक पत्र के हवाले से कहा गया है कि कई राज्यों की तरह छत्तीसगढ़ में केवल एक ही सेंटर पर जांच करने की सुविधा है. इस पत्र में छग के स्वास्थ्य मंत्री ने और टेस्टिंग किट्स की मांग केंद्र सरकार से की है. वहीं कैरवैन की इस रिपोर्ट में एक डेटा के हवाले से आंकड़ा दिया गया है कि प्रति दस लाख लोगों पर भारत में सिर्फ तीन लोगों के टेस्ट हो रहे हैं और प्रति दस लाख लोगों पर हो रहे टेस्ट के मामले में भारत की स्थिति फिलीपींस, वियतनाम और आर्मेनिया जैसे छोटे देशों के मुकाबले भी खराब है.

स्वास्थ्यकर्मी हैं बड़े खतरे में

लैंसेट के एक संपादकीय में हाल में कहा गया है कि दुनिया भर में कोरोना वायरस के मरीज़ों के इलाज में मुब्तिला स्वास्थ्यकर्मियों के लिए बड़ा जोखिम है. वहीं एम्स के एक डॉक्टर के हवाले से हिंदुस्तान टाइम्स की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि स्वास्थ्यकर्मियों को कोविड 19 मामलों से सुरक्षित रखा जाना और लक्षणों के दिखते ही उनका इलाज किया जाना प्राथमिकता होना चाहिए.

महाराष्ट्र में डॉक्टर का ही इलाज नहीं!

न्यूइंडियन एक्सप्रेस की 20 मार्च की एक रिपोर्ट की मानें तो जलगांव ज़िले के एक युवा डॉक्टर को कोरोना वायरस जैसे लक्षण दिखने पर प्राइवेट अस्पतालों ने उसका इलाज करने से मना किया और ज़िले के सरकारी अस्पताल ने भी कोरोना वायरस की जांच व इलाज की सुविधा न होने की बात कही. बाद में उस युवक को मुंबई के जेजे अस्पताल में आइसोलेशन में रखा गया. इस खबर में यह भी उल्लेख है कि महाराष्ट्र ने केंद्र से कोविड 19 टेस्टिंग सुविधाएं बढ़ाने की मांग की, लेकिन केंद्र सरकार से जवाब नहीं मिला था.

अस्पतालों में हायजीन भी एक समस्या

खासकर छोटे और मझोले ज़िलों व ग्रामीण क्षेत्रों के सरकारी अस्पतालों में अगर साफ सफाई की स्थिति का आंकलन किया जाए तो चौंकाने वाले आंकड़े सामने आ सकते हैं. मध्य प्रदेश के पिपरिया शहर में निश्चचेतना विशेषज्ञ डॉ. मोहन नागर ने हाल में अपनी फेसबुक पोस्ट पर इस बारे में चिंता जताते हुए लिखा था कि चिकित्सा केंद्रों पर मास्क, सेनेटाइज़र तो क्या फ़िनाइल तक की उपलब्धता पर सवालिया निशान लगा है.

कुल मिलाकर, स्थिति यह है कि आम जनता की बात हो या स्वास्थ्य सेक्टर की, भारत में चुनौतियां कम नहीं हैं. बस दुआ यही की जाना चाहिए कि कोरोना वायरस के तीसरे चरण का कहर देश में न बरपा हो, वरना किस कदर कठिन स्थितियां पेश आएंगी, यह समझा जा सकता है. दूसरे, जब यह खतरा टल जाएगा, तब कम से कम देश को यह तो सबक मिलेगा ही स्वास्थ्य के मोर्चे पर उसे अभी और कितना मुस्तैद और तैयार होने की ज़रूरत है.

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

क्राइम

महिला PCS अधिकारी ने पहली ही पोस्टिंग में की आत्महत्या

Avatar

Published

on

यूपी के बलिया जिले में सोमवार देर रात शहर कोतवाली क्षेत्र के आवास विकास कॉलोनी में मनियर नगर पंचायत की अधिशासी अधिकारी मणि मंजरी राय ने पंखे के हुक में लटक कर आत्महत्या कर ली. सूचना मिलने पर मौके पर पर पहुंची पुलिस ने शव नीचे उतरवाया और कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. घटना की सूचना मिलने पर पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों में हड़कंप मच गया. पीसीएस (PCS) अफसर के सुसाइड की सूचना मिलने पर डीएम श्रीहरि प्रताप शाही, पुलिस अधीक्षक देवेंद्रनाथ, अपर पुलिस अधीक्षक संजय कुमार, सीओ सिटी अरुण कुमार सिंह, कोतवाल विपिन सिंह समेत अन्‍य उच्चाधिकारी मौके पर पहुंचे.

जानकारी के मुताबिक, अधिशासी अधिकारी गाजीपुर जिले के थाना भांवर कोल की रहने वाली थीं. उन्होंने दो साल पूर्व मनियर नगर पंचायत में अधिशासी अधिकारी के पद पर कार्यभार ग्रहण किया था. अधिशासी अधिकारी के शव के पास से एक सुसाइड नोट मिला है. उसमें उन्होंने उल्लेख किया है कि वह दिल्ली, मुंबई से बचकर बलिया चली आईं, लेकिन यहां उन्हें रणनीति के तहत फंसाया गया है. इससे वह काफी दुखी हैं. फिलहाल पुलिस इसी सुसाइड नोट और अधिशासी अधिकारी की कॉल डिटेल के जरिए आत्महत्या की वजह का पता लगाने में जुटी है.

मणि मंजरी राय जिला मुख्यालय के आवास विकास कॉलोनी में किराये के मकान में रहती थीं और यहीं से मनियर आना-जाना था. आसपास के लोगों को किसी अनहोनी की आशंका हुई. उसके बाद किसी ने डायल 112 और पुलिस को इसकी सूचना दी. दरवाजा तोड़कर पुलिस पहुंची तो बेड के ऊपर ही फंदे पर मणि मंजरी राय की लाश लटक रही थी. पुलिस अधीक्षक ने तत्काल फॉरेंसिक टीम बुलाई. पुलिस घटना की जांच पड़ताल में जुटी है.

Continue Reading

देश-दुनिया

राजस्थान ने 2,500 होमगार्ड स्वयंसेवकों की भर्ती, 8वीं पास भी करें आवेदन

Avatar

Published

on

राजस्थान ने 2,500 होमगार्ड स्वयंसेवकों की भर्ती के लिए आवेदन मांगे गए हैं. अच्छी बात ये है कि सरकारी नौकरी की इस वैकेंसी के लिए 8वीं पास उम्मीदवार भी अप्लाई कर सकते हैं. इन पदों पर आवेदन की तारीख नजदीक है. अगर आप भी होम गार्ड की नौकरी करना चाहते हैं तो ये अहम डिटेल्स जानकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं.

आयु सीमा

राजस्थान होम गार्ड  की नौकरी पाने के लिए 18 से 35 वर्ष तक आयु के उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं.

आवेदन शुल्क

राजस्थान में होम गार्ड के पदों पर आवेदन करने के लिए सामान्य यानी जनरल और ओबीसी वर्ग के उम्मीदवारों को 200 रुपये आवेदन शुल्क देना होगा. जबकि SC/ST वर्ग के उम्मीदवारों के लिए सिर्फ 175 रुपये फीस निर्धारित की गई है.

कितना मिलेगा वेतन?

राजस्थान होम गार्ड भर्ती के तहत चयनित उम्मीदवारों को 693/- प्रति दिन के हिसाब से वेतन दिया जाएगा. अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करके आधिकारिक नोटिफिकेशन देख सकते हैं.

आवेदन की तिथि

राजस्थान सरकार द्वारा जारी आधिकारिक नोटिफिकेशन के मुताबिक योग्य व इच्छुक उम्मीदवार 9 जुलाई तक ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. बता दें कि आवेदन प्रक्रिया मार्च से जारी है, जिसकी तिथि अंतिम तिथि को बढ़ाकर 9 जुलाई किया गया था.

Continue Reading

देश-दुनिया

भारतीय डाक विभाग में 4166 पदों पर निकली भर्ती, आवेदन करने का आखिरी मौका

Avatar

Published

on

भारतीय डाक विभाग में 4166 पदों पर निकली भर्ती के लिए आवेदन करने का आखिरी मौका बचा है. आधिकारिक नोटिफिकेशन के मुताबिक इस भर्ती के लिए 7 जुलाई 2020 तक ही अप्लाई किया जा सकता है. योग्य व इच्छुक उम्मीदवारों को आज ही इसके लिए आवेदन करना होगा.

इस भर्ती के तहत हरियाणा, मध्य प्रदेश और उत्तराखंड पोस्टल सर्किल में उम्मीदवारों की नियुक्तियां की जाएंगी. नोटिफिकेशन के मुताबिक इन पदों पर नौकरी के लिए 10वीं पास उम्मीदवार भी अप्लाई कर सकते हैं. आइए जानते हैं डाक विभाग (India Post) में नौकरी से जुड़ी अहम जानकारियां.

कहां कितनी वैकेंसी?

हरियाणा – 608 पदों पर वैकेंसी

मध्य प्रदेश- 2,834 पदों पर वैकेंसी

उत्तराखंड – 724 पदों पर वैकेंसी

तीनों राज्यों में कुल वैकेंसी- 4,166

भारतीय डाक विभाग के तहत हरियाणा पोस्टल सर्किल में ग्रामीण डाक सेवकों की 608 भर्तियां निकाली गई हैं. ग्रामीण डाक सेवक की इस भर्ती के तहत ब्रांच पोस्टमास्टर, असिस्टेंट ब्रांच पोस्टमास्टर, डाक सेवक पद भरे जाएंगे. इन पदों पर आवेदन करने के लिए आखिरी तारीख 7 जुलाई 2020 है.

इन पदों के लिए 10वीं पास उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं. बता दें कि इन पदों पर उम्मीदवारों का चयन मेरिट के आधार पर किया जाएगा, जो 10वीं में प्राप्ताकों के आधार पर बनेगी. वहीं, आयु सीमा की बात करें तो आवेदन के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम उम्र 18 वर्ष और अधिकतम 40 वर्ष होनी चाहिए. इन पदों पर नौकरी से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

भारतीय डाक विभाग के मध्य प्रदेश पोस्टल सर्किल में ग्रामीण डाक सेवकों (GDS) की भर्ती के लिए आवेदन मांगे गए हैं. डाक विभाग में इस भर्ती प्रक्रिया के तहत 2834 पदों पर नियुक्तियां की जाएंगी. इन पदों पर 10वीं पास उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं. ग्रामीण डाक सेवक की इस भर्ती के तहत ब्रांच पोस्टमास्टर, असिस्टेंट ब्रांच पोस्टमास्टर, डाक सेवक के पद भरे जाएंगे.

इन पदों पर आवेदन करने के लिए उम्मीदवार को मान्यता प्राप्त स्कूल शिक्षा बोर्ड से दसवीं पास होना जरूरी है. इसके साथ ही 60 दिनों का बेसिक कंप्यूटर ट्रेनिंग सर्टिफिकेट होना चाहिए. इच्छुक एवं योग्य उम्मीदवार 7 जुलाई 2020 तक आवेदन कर सकते हैं. इन पदों पर नौकरी से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

उत्तराखंड पोस्टल सर्कल ने 700 से ज्यादा पदों पर भर्ती के लिए आवेदन मांगे हैं. इस भर्ती के तहत बीपीएम/एबीपीएम/ग्रामीण डाक सेवक के पदों पर 724 उम्मीदवारों की भर्ती की जाएगी. इसके लिए उम्मीदवार का मान्यता प्राप्त बोर्ड से 10वीं पास होना अनिवार्य है. साथ ही 10वीं कक्षा में उसका एक स्थानीय और अंग्रेजी भाषा में भी पास होना अनिवार्य है.

इस भर्ती के लिए उम्मीदवारों की आयु सीमा 18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष के बीच निर्धारित की गई है. आयु की गणना 8 जून 2020 के आधार पर की जाएगी. जीडीएस बीपीएम के पदों पर चयनित उम्मीदवारों को 12,000 रुपये से 14,500 रुपये प्रति माह वेतन मिलेगा. जबकि जीडीएस एबीपीएम के लिए 10,000 रुपये से 12,000 रुपये प्रति माह वेतन दिया जाएगा. इन पदों पर नौकरी से जुड़ी अधिक जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

क्राइम56 mins ago

वकील ने अपनी मृत्यु पूर्व बयान में, पत्नी पर जिंदा जलाने का आरोप लगाया

जिले में एक वकील ने अपनी मृत्यु पूर्व बयान में अपनी पत्नी पर जिंदा जलाने का आरोप लगाया है। बयान...

छत्तीसगढ़1 hour ago

1 करोड़ की गड़बड़ी करने के आरोप में, इंजीनियरिंग कॉलेज के 4 लेक्चरर सस्पेंड

लखनपुर इंजीनियरिंग कॉलेज के 4 प्राध्यापकों को निलंबित कर दिया गया है। 2 सहायक प्राध्यापक और 2 सह प्रध्यापक को...

छत्तीसगढ़4 hours ago

BIG BREAKING : नक्सलियों ने दो लोगों को किया अगवा… पुलिसकर्मी के हैं माता-पिता

  दंतेवाड़ा। बीती रात माओवादियों ने फिर अपने नापाक इरादे को अंजाम दिया है। जिले के गुमियापाल इलाके में निवासरत...

छत्तीसगढ़4 hours ago

सरकारी अस्पताल में महिला डॉक्टर से छेड़छाड़…वार्ड ब्वॉय ने धमकी देकर…

कोरोना संकट में भी मनचले बाज नहीं आ रहे हैं. मुंबई के एक सरकारी अस्पताल में ट्रेनी डॉक्टर से छेड़छाड़...

छत्तीसगढ़4 hours ago

फाइनल ईयर, फाइनल सेमेस्टर की परीक्षाएं सितंबर में होगी, UGC ने जारी किया नया गाइडलाइंस

यूजीसी की नई गाइडलाइन्स के अनुसार, विश्वविद्यालयों/शैक्षिक संस्थाओं में स्नातक और परास्नातक की फाइनल ईयर/सेमेस्टर की परीक्षाएं सितंबर 2020 अंत...

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive18 hours ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 07/07/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive2 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 06/07/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive3 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 05/07/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive4 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 04/07/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive5 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 03/07/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Calendar

July 2020
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031  

निधन !!!

Advertisement

Trending