Connect with us

अन्य खबरे

कैसे पहचाने खुदखुशी के मनोभाव को

Published

on

विश्व स्वास्थ्य संगठन की मानें तो वैश्विक स्तर पर हर साल करीब 8,00,000 लोग खुदखुशी कर लेते हैं. वहीं टीनएज में आत्महत्या की दर लगातार बढ़ रही है. 2007 से 2017 के बीच की गई एक अध्ययन से पता चला है कि 15 से 19 साल की उम्र वालों में यह दर 8 प्रति लाख से बढ़कर 12 प्रति एक लाख हो गई. विशेषज्ञों का मानना है कि अगर ऐसे युवा होते लड़के-लड़कियों के माता-पिता कुछ बातों पर ध्यान दें, तो समय रहते उन्हें बचा सकते हैं. इस अध्ययन के मुख्य लेखक और हार्व्रड मेडिकल स्कूल में रिसर्च एसोसिएट ओरेन मिरॉन कहते हैं, “यह एक असली खतरा है जिसे लेकर हम सोचते हैं कि ऐसा हमारे साथ कभी नहीं हो सकता.

ध्यान देने वाली बात यह है कि आत्महत्या के विचारों से घिरे रहने वाले लोग भी असल में मरना नहीं चाहते. एक्सपर्ट बताते हैं कि ऐसे लोग केवल वैसा जीवन नहीं जीना चाहते जैसा वे जी रहे होते हैं. अगर आप बच्चों के अभिभावक हैं, शिक्षक हैं, दोस्त हैं या किसी और तरह से किशोरों से साथ होते हैं, तो उनमें दिखने वाली ऐसी बातों को चेतावनी समझें और उन्हें सुसाइडल स्थिति से बाहर निकलने में मदद दें.

बाते या व्यवहार के संकेत को समझें – 

कोई ऐसा कहे, “मैं अब ज्यादा दिनों तक तुम्हारे लिए परेशानी नहीं बनूंगा” या “मैं खुद को ही खत्म कर लूंगा” तो उसे गंभीरता से लें, भले ही कहने वाले ने ऐसा मजाक में कहा हो. हो सकता है कि कोई ऐसा कहे ना लेकिन अपने सोशल मीडिया पेज पर कोई ऐसा पोस्ट शेयर करे या किसी और तरह से ऐसा लिखे. विशेषज्ञ बताते हैं कि कई लोग अपने परिवार से छुपाने के लिए ऐसी बातें बेनाम लिखते हैं या सोशल मीडिया पर पोस्ट के रूप में डालते हैं. इसलिए डिजिटल दुनिया पर भी नजर रखनी चाहिए.

खुद को नुकसान पहुंचाना

ऐसे किशेर जो खुद को नुकसान पहुंचाने वाली हरकतें करते हैं उन पर खास ध्यान देना चाहिए. लंदन की क्वीन मेरी यूनिवर्सिटी में मनोविज्ञान की असिस्टेंट प्रफेसर किर्स्टिन हैडफील्ड बताती हैं, “खुद को चोट पहुंचाने वाले ऐसे किशोंरों में आत्महत्या की कोशिश करने की काफी संभावना है.” ज्यादा मात्रा में शराब पीना या ड्रग्स लेने लगना भी ऐसा व्यवहार होता है.

समाज से खुद को अलग करना  –

किसी का खुद को सबसे काट लेना एक चिंता का मामला होना चाहिए. जब भी कोई ऐसा करे तो उसे खुदखुशी के विचारों से ग्रस्त समझा जाना चाहिए. हैडफील्ड कहती हैं, “अगर किसी का सामाजिक संबंल मजबूत हो तो उसके मानसिक रोगों से ग्रस्त होने की संभावना काफी कम होती है.” वे सलाह देती हैं कि परिवारजन देखें कि उनके घर के बच्चे दूसरों से खुद को काट तो नहीं रहे हैं और उन्हें बार बार बताएं कि वे हर हाल में उन्हें प्यार और मदद देना बंद नहीं करेंगे. अगर माता पिता को बातचीत में मुश्किलें आएं तो उन्हें थेरेपिस्ट की मदद लेने से भी नहीं चूकना चाहिए.

हताश महसूस करना  –

जब भी ऐसी भावनाएं दिखें कि किशोर किसी स्थिति में फंसे हुए या हताश महसूस कर रहे हैं तो आत्महत्या के विचारों के आने की संभावना बढ़ जाती है. ऐसे हालात में सावधानी बरतें और मदद करें, ज्यादातर लोग जिन्हें खुदखुशी का ख्याल आता है वे भी असल में मरना नहीं चाहते हैं. टीनएजर्स में अकसर ऐसी झल्लाहट देखने को मिलती है जब वे कहते हैं कि “मुझे अपनी जिंदगी से नफरत है.” उन्हें बात करने और अपनी मन:स्थिति के बारे में विस्तार से बताने के लिए प्रेरित करें.

दिनचर्या में बदलाव –

अगर अचानक उनके रूटीन में बदलाव आने लगे तो उससे ये भी संकेत मिलता है कि वे अवसादग्रस्त हो सकते हैं. सबसे आसानी से दिखने वाला बदलाव नींद में दिखता है. विशेषज्ञ हैडफील्ड बताती हैं, “नींद और आत्महत्या के विचारों का बहुत गहरा संबंध पाया गया है.” वे बताती है कि अगर कोई टीनएजर केवल 4-5 घंटे ही सो रहा है तो उसमें खुदखुशी के विचारों के लिए नजर रखें. अगर कोई बहुत ज्यादा सोने लगा हो और बिस्तर ही नहीं छोड़ना चाहता हो तो वह अवसाद यानि डिप्रेशन से ग्रस्त हो सकता है.

अपनी चीजें त्यागना –

अगर कोई किशोर अपनी पसंदीदा चीजें तक लोगों को बांट आए और उसकी कोई तार्किक वजह तक ना बता सके, तो समझिए कि कुछ गड़बड़ चल रही है. उससे बात करें और तुरंत मदद लें. एक्सपर्ट कहते हैं कि कई बार इसका मतलब होता है कि उन्होंने जान देने की योजना बना ली है.

व्यक्तित्व में बदलाव, मूड बदलना, गुस्सा या घबराहट –

हालांकि टीनएज के बच्चों में ये सारी ही चीजें आम होती हैं लेकिन इन पर सावधानी से नजर रखनी चाहिए. अगर परिवार में मूड डिसऑर्डर का इतिहास रहा हो या किसी और ने भी पहले आत्महत्या या उसकी कोशिश की हो तो खास ध्यान देने की जरूरत है. ऐसे किसी भी बदलाव के बारे में उनसे बात करना बहुत जरूरी है. हैडफील्ड कहती हैं, “एक मददगार अभिभावक या निःस्वार्थ प्रेम करने वाला कोई व्यक्ति बहुत अहम भूमिका निभा सकता है.”

हाल पूछना, परेशानी समझना और जरूरत हो तो मदद मुहैया कराना अहम है क्योंकि किशोर अकसर खुद से मदद मांगने नहीं आते हैं. उनके आपके पास आने का इंतजार ना करें.

Disclaimer:
हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS

अन्य खबरे

15 साल के लड़के ने दोस्त की पीट-पीटकर की हत्या, जानिए क्या है कारण

Published

on

 

पाकिस्तान  के पंजाब प्रांत में वीडियो गेम खेलने के लिए इस्तेमाल होने वाले टोकन को लेकर हुए झगड़े में एक लड़के की उसके ही दोस्त ने पीट-पीट कर हत्या कर दी. ‘न्यूज इंटरनेशनल’ ने खबर दी है कि यह घटना मोहम्मदी कॉलोनी जिले में हुई. राजू और शाहज़ेब नाम के दो लड़कों के बीच झगड़ा हो गया. दोनों की उम्र 15 साल के आसपास है.

थाना प्रभारी राफे तनोली ने बताया कि गुलबर्ग में कैफे पियाला के पास वीडियो गेम खेलने के लिए इस्तेमाल होने वाले टोकन को लेकर झगड़ा हुआ.

अधिकारी ने कहा कि झगड़े के दौरान राजू ने इकबाल को मुक्कों और लातों से पीटा और इसके बाद मौके से भाग गया.

तनोली ने बताया कि इसके बाद इकबाल को अस्पताल ले जाया गया जहां उसने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया.

उन्होंने बताया कि इकबाल के पिता की शिकायत पर राजू और उसके दो दोस्तों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है.
तनोली ने कहा कि पुलिस मामले में संदिग्धों की तलाश में जुटी हुई है.

SHARE THIS
Continue Reading

अन्य खबरे

पाकिस्तान में झगड़े के बाद व्यक्ति ने काटी पत्नी की नाक

Published

on

पाकिस्तान में एक आदमी ने अपनी पत्नी के साथ लड़ाई के बाद कथित रूप से उसकी नाक काट दी और सिर के बाल साफ कर दिए. समाचार पत्र डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक पड़ोसियों ने सोमवार को उस महिला शाजिया को बचाया और पुलिस को खबर दी. पुलिस ने महिला को लाहौर सामान्य चिकित्सालय में भर्ती कराया है.

पड़ोसियों ने पुलिस को बताया कि शाजिया का पति सज्जाद अहमद उसे अक्सर प्रताड़ित करता था. वह उसे छोटे-मोटे घरेलू मामलों में पाइप और लोहे की छड़ से पीटता था. पड़ोसियों ने कई बार उसे बचाया. डॉन ने बताया है कि उसे चेहरे की एक जटिल सर्जरी के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां डॉक्टर उसे नकली नाक लगाएंगे.

शाजिया ने पुलिस को बताया कि वह अपनी बेटी की ससुराल गई थी, तभी उसका पति आ गया. वह उसे वापस घर ले आया, दरवाजा बंद किया और उसे प्लास्टिक के पाइप से पीटा. उसने आरोप लगाया कि इसके बाद उसके पति ने एक चाकू उठाई और उसकी नाक काट दी. पति की तलाश जारी है, जो घटना को अंजाम देने के बाद फरार हो गया.

SHARE THIS
Continue Reading

अन्य खबरे

कर्ज से परेशान युवक ने पत्नी और बच्चों संग जहर खाकर दे दी जान

Published

on

 

 

जिले के बरहट थाना क्षेत्र अंतर्गत तेतरिया गांव में मंगलवार की रात एक ही परिवार के तीन लोगों ने आत्महत्या कर ली। आत्महत्या करने वालों में मुकेश साव( 32), उसकी पत्नी कौशल्या देवी(27) और पुत्री अनुराधा (8) शामिल है। घटना से इलाके में सनसनी फैल गई है।

सूचना पर पहुंची पुलिस को मौके से एक चिट्ठी मिली है। जिसमें बैंक से लिए गए लोन का नोटिस आने के बाद से परेशान रहने का जिक्र है। मुकेश का शव घर के कमरे में पंखे से लटका मिला है जबकि पत्नी व पुत्री का शव बिस्तर पर पड़ा मिला है।

मां- पिता के साथ सोई अन्य तीन पुत्रियों में विनीता, राधिका और ज्योति ने बताया कि रात में सभी लोग एक साथ खाना खाकर सोए थे। सुबह देखा तो पापा और मम्मी के साथ बहन अनुराधा मरी पड़ी है। एसडीपीओ रामपुकार सिंह, थानाध्यक्ष अब्दुल हलीम दलबल के साथ मौके पर पहुंच मामले की छानबीन में जुटी हैं।

एसडीपीओ ने बताया कि मुकेश कर्ज के बोझ तले दबा था और मानसिक रूप से परेशान चल रहा था। मामले के वैज्ञानिक अनुसंधान के लिए एफएसएल की टीम बुलाई जा रही है।

SHARE THIS
Continue Reading

#Chhattisgarh खबरे !!!!

क्राइम1 min ago

रायपुर में IT की बड़ी कार्यवाही, व्यापारियों के कई ठिकानों पर छापे

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer आयकर विभाग की टीम ने रायपुर में मंगलवार को एक बड़ी...

देश-दुनिया10 mins ago

मायावती का ट्वीट ‘कांग्रेस पार्टी की दोग़ली नीति की वजह से ही देश में ‘साम्प्रदायिक ताकतें मजबूत

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer राजस्थान में बहुजन समाज पार्टी के विधायकों द्वारा पाला बदलकर कांग्रेस...

छत्तीसगढ़41 mins ago

छत्तीसगढ़ के स्कूली शिक्षा मंत्री का बैग ट्रेन से चोरी ,प्रशासन में मचा हड़कंप

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer छत्तीसगढ़ के स्कूली शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम का बैग...

देश-दुनिया2 hours ago

मंत्री राम विलास पासवान के मंत्री की शिकायत पर विभाग ने मारा छापा

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer फलों और सब्जियों पर कृत्रिम रंग और केमिकल के जरिए चमकीला...

देश-दुनिया3 hours ago

कश्‍मीर के पूर्व विधायक मोहम्‍मद यूसुफ तारिगामी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer अनुच्‍छेद 370 पर सीपीआई (एम) नेता और जम्मू-कश्मीर के पूर्व विधायक...

Advertisement

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive3 weeks ago

मोदी का गांधीवाद ?

मोदी का गांधीवाद ?  Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer आइये जाने मोदी का गाँधीवाद  ? भारतीय...

Etoi Exclusive3 weeks ago

हरतालिका तीज कब है ? एक या दो सितंबर को ?

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer हरतालिका तीज का व्रत कब करें, इसे लेकर उलझन है। दरअसल...

Etoi Exclusive4 weeks ago

निर्मला सीतारमण ने कीं आर्थिक सुधारों से जुड़ी घोषणाएँ

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कीं आर्थिक सुधारों से जुड़ी  घोषणाएँ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक सुधारों का एलान...

Etoi Exclusive4 weeks ago

5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनामी के मजेदार सपने का सच क्या है ?

5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनामी के सपने का सच ? Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer भारत...

Etoi Exclusive4 weeks ago

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैंक्रोन काशी पहुँचे

उत्तर प्रदेश Mar, 12 2018 फ्रांस के राष्ट्रपति पहुंचे काशी, पीएम मोदी ने किया भव्य स्वागत नौका विहार करके रचेंगे...

Advertisement
September 2019
M T W T F S S
« Aug    
 1
2345678
9101112131415
16171819202122
23242526272829
30  
Advertisement

निधन !!!

Advertisement

Trending