Connect with us

ज्योतिष

किसी प्रकार के टोटके से हैं परेशान तो करें शाबर मंत्र

Published

on

किसी प्रकार के टोटके से हैं परेशान तो करें शाबर मंत्र

शक्तिशाली सिद्ध शाबर मंत्र को स्वयंसिद्धि मन्त्र के नाम से भी पुकारा जाता है यह मन्त्र अत्यन्त शक्तिशाली एवं अचूक है। अगर आप को लग रहा है की आप के घर या दुकान आदि में किसी ने टोटका आदि कर रखा है अथवा घर में कोई व्यक्ति ज्यादा बीमार है, निर्धनता आपका पीछा नहीं छोड़ती, या कोई कार्य बनते बनते बिगड़ जाता हो अथवा कोई तांत्रिक क्रिया द्वारा आपको बार बार परेशान कर रहा हो तो इन सब कष्टों से मुक्ति प्राप्त करने के लिए शाबर मन्त्र को सबसे सिद्ध एवं प्रभावकारी माना गया है। शाबर मंत्रो के सरल भाषा में होने के कारण इनका प्रयोग बहुत ही आसान है कोई भी इन्हे सुगमता से प्रयोग कर सकता है। यह मन्त्र दूसरे दुष्प्रभावी मंत्रो के काट में सहायक है। शाबर मन्त्र के प्रयोग से प्रत्येक समस्या का निराकरण सहज ही जाता है। इस मन्त्र का प्रयोग कर व्यक्ति अपने परिवार, मित्र, संबंधी आदि की समस्याओं का निवारण करने में सक्षम है। ‘हनुमान शाबर मंत्र’ का जाप करने वाले व्‍यक्ति के जीवन से नकारात्‍मकता दूर चली जाती है। उसे सकारात्‍मक ऊर्जा की प्राप्ति होती है। मन से बैर भाव, द्वेष जैसी भावनाएं निकल जाती है। हनुमान जी तो स्‍वयं रुद्र के अवतार हैं, जैसी ऊर्जा उनके अंदर है वैसी ही ऊर्जा और तेजी हनुमान जी के अंदर है। ‘हनुमान शाबर मंत्र’ तेजी से असर करते हैं। ये मंत्र आपके शत्रुओं का नाश करते हैं। इस मंत्र के जाप से शत्रुता का नाश होता है। ‘हनुमान शाबर मंत्र’, ये आपके हर बिगड़े काम को सही करने की क्षमता रखता है। इसका इस्‍तेमाल करने के लिए व्‍यक्ति को किसी विशेष सिद्धि की आवश्‍यकता नहीं है, ये मंत्र स्‍वयं सिद्ध होते हैं। अर्थात इनमें इतनी शक्ति होती है कि इनके उच्‍चारण मात्र से आपका कल्‍याण हो सकता है।

शरीर की रक्षा के लिए शाबर मंत्र –

ॐ नमः वज्र का कोठा जिसमें पिण्ड हमारा पैठा।

ईश्वर की कुंजी, ब्रह्मा का ताला मेरे आठोंयाम का यती हनुमन्त रखवाला।।

उपरोक्त शाबर मंत्र को लगातार 21 दिनों तक दीपक जलाकर अपने सामथ्र्य अनुसार अधिक से अधिक जप करें। इसके बाद जब भी आप इस मंत्र को सात बार पढेंगे तो आपके शरीर पर रक्षा कवच बन जायेगा। अब आप पर कोई भी ऊपरी शक्ति का प्रभाव नहीं हो पाएगा। इस प्रकार शारीरिक परेशानी से लेकर सभी प्रकार के कष्टों से मुक्ति के लिए शाबर मंत्र का जाप करें..

ज्योतिष

दिनांक 30.10.2020 का पंचांग एवं राशिफल

Published

on

By

शुभ संवत 2077 शक 1942 सूर्य दक्षिणायन का…द्वितीय (शुद्ध) आश्विन मास शुक्ल पक्ष चर्तुदशी तिथि … शाम को 05 बजकर 46 मिनट तक … दिन … शुक्रवार … रेवती नक्षत्र …  दोपहर को 02 बजकर 47 मिनट तक … आज चंद्रमा … मीन राशि में … आज का राहुकाल दिन 10 बजकर 22 मिनट से 11 बजकर 47 मिनट तक होगा …

शरद पूर्णिमा का अमृत फल

शरद पूर्णिमा, जिसे कोजागरी पूर्णिमा या रास पूर्णिमा भी कहते हैं, हिन्दू पंचांग के अनुसार आश्विन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता हैं। ज्‍योतिष के अनुसार, पूरे साल में केवल इसी दिन चन्द्रमा सोलह कलाओं से परिपूर्ण होता है। हिन्दू धर्म में इस दिन कोजागर व्रत माना गया है। इसी को कौमुदी व्रत भी कहते हैं। इसी दिन श्रीकृष्ण ने महारास रचाया था। मान्यता है इस रात्रि को चन्द्रमा की किरणों से अमृत झड़ता है। तभी इस दिन खीर बनाकर रात भर चाँदनी में रखने का विधान है।

नारद पुराण के अनुसार आश्विन मास की पूर्णिमा को प्रातः स्नान कर उपवास रखना चाहिए। इस दिन तांबे या सोने से बनी लक्ष्मी प्रतिमा को कपड़े से ढंक कर विभिन्न विधियों द्वारा देवी लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए। इसके पश्चात रात्रि को चंद्र उदय होने पर घी के सौ दीपक जलाने चाहिए। घी से बनी हुई खीर को बर्तन में रखकर चांदनी रात में रख देना चाहिए।

उसके बाद चांद की रोशनी में रखी हुई खीर का देवी लक्ष्मी को भोग लगाए तथा उसमें से ही ब्राह्मणों को भी प्रसाद स्वरूप दान देना चाहिए। अगले दिन माता लक्ष्मी की पूजा करनी चाहिए और व्रत का पारण करना चाहिए।

शरद पूर्णिमा की तिथ और शुभ मुहूर्त

चंद्रोदय का समय- 30 अक्टूसबर 2020 की शाम 04 बजकर 56 मिनट

पूर्णिमा तिथि प्रारंभ – 30 अक्टूनबर 2020 की शाम 05 बजकर 46 मिनट

पूर्णिमा तिथि समाप्तभ – 31 अक्टूूबर की रात 08 बजकर 19 मिनट

शरद पूर्णिमा की पूजा विधि –

– शरद पूर्णिमा के दिन सुबह उठकर स्‍नान करने के बाद व्रत का संकल्‍प लें.

– घर के मंदिर में घी का दीपक जलाएं

– इसके बाद ईष्‍ट देवता की पूजा करें.

– फिर भगवान इंद्र और माता लक्ष्‍मी की पूजा की जाती है.

– अब धूप-बत्ती से आरती उतारें.

– संध्‍या के समय लक्ष्‍मी जी की पूजा करें और आरती उतारें.

– अब चंद्रमा को अर्घ्‍य देकर प्रसाद चढ़ाएं और आारती करें.

– अब उपवास खोल लें.

– रात 12 बजे के बाद अपने परिजनों में खीर का प्रसाद बांटें.

शरद पूर्णिमा के दिन खीर कैसे बनाएं?

शरद पूर्णिमा के दिन खीर का विशेष महत्‍व है. मान्‍यता है कि इस दिन चंद्रमा अपनी 16 कलाओं ये युक्‍त होकर रात 12 बजे धरती पर अमृत की वर्षा करता है. शरद पूर्णिमा के दिन श्रद्धा भाव से खीर बनाकर चांद की रोशनी में रखी जाती है और फिर उसका प्रसाद वितरण किया जाता है. इस दिन चंद्रोदय के समय आकाश के नीचे खीर बनाकर रखी जाती है. इस खीर को 12 बजे के बाद खाया जाता है. आश्विन और कार्तिक को शास्त्रों में पुण्य मास कहा गया है.

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल

मेष

आज आप पर आलस्य हावी होगा…जिसके कारण काम प्रभावित हो सकता है..

परिवार के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो सकता है….

आहार का संयम या मीठी चीजें संभल कर खायें.

उपाय –

1.उॅ नमः शिवाय नमः का जाप करें…

2.माता दुर्गा को दूध चावल का दान करें…

3.श्री सूक्त का पाठ करें धूप तथा दीप जलायें…

वृषभ

व्यवसायिक संबंधों में खटास….

कोर्ट में धन संबंधित विवाद…..

व्यर्थ की यात्रा…..

उपाय –

  1. ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
  2. धतूरे की माला शिवजी में चढ़ायें,

मिथुन

स्थान परिवर्तन के योग….

कार्यक्षेत्र में लाभ….

पार्टनर की सेहत तथा खराब मानसिक स्थिति…..

शांति के लिए –

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें,
  2. मीठे पीले खाद्य पदार्थ का सेवन करें तथा दान करें,

कर्क

मनोबल काफी अच्छा रहेगा…

काम में अच्छी सफलता मिलेगी…

आतुरता के कारण शारीरिक कष्ट की संभावना…

शांति के लिए –

  1. ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें,
  2. हनुमानजी की उपासना करें,
  3. मसूर की दाल, गुड या तांबा दान करें,

सिंह

सत्तापक्ष के सहयोग से कोई नये काम की शुरूआत या काम पूरा हो सकता है…

विरोधी शांत हो जायेगें…

आय के स्त्रोत बढ़ाने हेतु कोई उपाय करेंगे…

उपाय –

  1. ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें…
  2. हनुमानजी की उपासना करें..

कन्या

आज आपको पुराने रिष्तो से मुलाकात हो सकती है ….

आज पुराने षिक्षक से मुलाकात या साथ बेहद प्रसन्नतादायी एवं संतुष्टि दायक होगा…

मन भावुक तथा साहित्य संबंधी कोई उपहार देने या लेने की संभावना…

उपाय आजमायें-

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. पीली वस्तुओं का दान करें…

तुला

घरेलू स्थल में किसी काम को लेकर विवाद की स्थिति आज निर्मित हो सकती है…

चोरी या आगजनी से हानि की संभावना…

आलस्य तथा निर्णय में विलंब से बचें….

उपाय –

  1. उॅ नमः शिवाय का जाप करें…
  2. दूध, चावल का दान करें…
  3. श्री सूक्त का पाठ करें धूप तथा दीप जलायें…

वृश्चिक

नौकरी या व्यवसायिक उन्नति के लिए किसी ट्र्निंग या सेमिनार में शामिल होने के लिए यात्रा या छोटा प्रवास संभव….

संतान के भविष्य से संबंधित कोई बड़ा निर्णय ले सकते हैं…

पुराने अल्सर या पथरी जैसी बीमारी आज कष्ट दे सकता है.

उपाय करें –

  1. उॅ रां राहवे नमः का जाप करें…
  2. काली चीजों का दान करें…

धनु

कार्यो में विफलता….

छोटे बच्चों को चोट की संभावना….

राज्यपक्ष से लाभ….

शांति के लिए –

1.ऊॅ ब्रं ब्रहस्पतये नमः का जाप करें….

  1. मीठे पीले खाद्य पदार्थ का सेवन करें तथा दान करें….

मकर

धन, संपत्ति की प्राप्ति….

काम में अच्छी सफलता के योग….

कफ, कमर में दर्द तथा उदर विकार से कष्ट….

शांति के लिए

  1. ‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’’ का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
  2. भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,

कुंभ

आज आप किसी काम के लिए वित्तीय इंवेस्टमेंट कर सकते हैं…

अपनी महत्वाकांक्षा की पूर्ति के लिए आप कोई काम करना चाहेंगे…

आज आपके द्वारा किया गया इंवेस्टमेंट आपके दिल से लिया गया फैसला होगा…

उपाय करें….

  1. ऊॅ सों सोमाय नमः का एक माला जाप करें……
  2. खीर बनाकर कम से कम एक कन्या को खिलायें….
  3. स्वेत वस्त्र माता दुर्गा को अर्पित करें……

मीन

आज आप लोन से मुक्त होने हेतु प्रयास करेंगे…

आज अपना कर्ज या लोन पटाने की कोषिष में सफलता मिल सकती है…. आज विवाद की समाप्ति का प्रयास भी संभव…

उपाय करें….

1.प्रातः स्नान के उपरांत सूर्य को जल में लाल पुष्प तथा शक्कर मिलाकर…. अध्र्य देते हुए….. ऊॅ धृणि सूर्याय नमः का पाठ करें…..

2.गुड़.. गेहू…का दान करें..

 

Continue Reading

ज्योतिष

दिनांक 29.10.2020 का पंचांग एवं राशिफल

Published

on

By

शुभ संवत 2077 शक 1942 सूर्य दक्षिणायन का…द्वितीय (शुद्ध) आश्विन मास शुक्ल पक्ष त्रयोदशी तिथि … दोपहर को 03 बजकर 16 मिनट तक … दिन … गुरूवार … उत्तरा भाद्रपद नक्षत्र …  दोपहर को 12 बजकर 00 मिनट तक … आज चंद्रमा … मीन राशि में … आज का राहुकाल दोपहर 01 बजकर 12 मिनट से 02 बजकर 37 मिनट तक होगा …

गुरु शांति से दूर करें भूलने की बीमारी

कहा जाता है कि उम्र बढ़ने के साथ हमारी याद्दाश्त कमजोर होती जाती है लेकिन वैज्ञानिकों का कहना है कि भूलने की बीमारी किसी भी उम्र में किसी को भी लग सकती है। जरूरत से ज्यादा चिंता, तनाव और डिप्रेशन का असर व्यक्ति के दिमाग पर पड़ता है जिसकी वजह से उसकी मेमोरी कमजोर होने लगती है। एक रिसर्च में वैज्ञानिकों की टीम ने इस बात का खुलासा हुआ है कि डिप्रेशन और याददास्त का आपस में संबंध है और इस वजह से डिप्रेशन के कारण मरीजों की याददाश्त कमजोर हो सकती है।

कमजोर याददाश्त के कारण –

स्वस्थ भोजन की कमी है याददाश्त कमजोर होने का कारण

उम्र की वजह से याददाश्त कमजोर होना

दवाईयों का अधिक सेवन है मस्तिष्क की कमजोरी का कारण

दिमाग की कमजोरी की वजह है ड्रग्स का अत्यधिक उपयोग

नींद की कमी हो सकती है भूलने का कारण

तनाव है मेमोरी लॉस प्रॉब्लम का कारण

सिर पर चोट भी है कम याददाश्त की वजह

भयावह है ऐसी स्थिति क्योंकि इससे पीछा छुड़ाना मुश्किल साबित होता है। ऐसे में हमें इस बात पर विचार करना चाहिए कि आखिर कौन से ग्रहीय कारण हैं, जिनकी वजह से ऐसे हालातों का सामना करना पड़ता है? आइए आज हम उन्हीं ग्रहों की चर्चा करते हैं……………

किसी की कुंडली में तीसरे स्थान का स्वामी गुरु होकर अपने स्थान से छठे, आठवे या बारहवे स्थान में हो या राहु से पापाक्रांत हो या पंचम एकादश स्थान का स्वामी होकर गुरु विपरीत कारक हो जाये तो कमजोर याददाश्त की तकलीफ होती है, बचपन में इससे पढने में कम मन लगना, पढने के बाद यद् ना रख पाना, छोटी छोटी बातो को भूल जाना होता है. इसके लिए गुरु की शांति, गुरु के मन्त्रो का जाप और गुरुवार का व्रत रखना चाहिए. इसके अलावा एकादशी का व्रत करना, गुरु को आहार कराना चाहिए..

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल

मेष राशि

छोटे छोटे कार्य में लापरवाही नुकसान दे सकती है….

किसी की शिकायत नजरअंदाज ना करें..

शुक्र से उपाय –

  1. ऊॅ शुं शुक्राय नमः का जाप करें…
  2. वृद्ध की सहायता करें….

वृषभ राशि

नौकरी में स्थान परिवर्तन के प्रयास में सफलता मिलेगी….

किसी वरिष्ठ व्यक्ति से सहयोग प्राप्त होगा…

स्कीन एलर्जी संबंधित कष्ट….

शनि के उपाय –

  1. ‘‘ऊॅ शं शनैश्चराय नमः’’ की एक माला जाप कर दिन की शुरूआत करें…..
  2. भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें….
  3. उड़द या तिल दान करें….

मिथुन राशि

बिजनेस लेनदारी रूक सकती है…

आर्थिक स्थिति में दोतरफा परेशानी होगी….

रक्त विकार संभव….

आज लाभ की स्थिति को बनाये रखने के लिए…..

  1. ऊॅ गं गणेशाय नमः का एक माला जाप करें….
  2. पौधे का दान करें…..
  3. इलायची खायें एवं खिलायें…..

कर्क राशि

शेयर में धन ना लगायें अचानक हानि की संभावना…

प्रतिद्वंतिदयों से विवाद या हानि की संभावना….

छुट्टि स्वीकृत ना होने से परेशान हो सकते हैं..

राहु से संबंधित कष्टों से बचाव के लिए –

  1. ऊॅ रां राहवे नमः का एक माला जाप कर दिन की शुरूआत करें..
  2. दवाईयों का दान करें..
  3. सूक्ष्म जीवों को आहार दें..

सिंह राशि

नये क्षेत्र में कार्य की शुरूआत या…..

नये योजना से कार्य करने से लाभ…

नये लोगों से व्यवहारिक दूरी बनाये रखना उचित होगा….

असंभावित हानि से बचने के लिए के निम्न उपाय करने चाहिए –

  1. ऊॅ कें केतवें नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें…
  2. सूक्ष्म जीवों की सेवा करें…
  3. गाय या कुत्ते को आहार दें…

कन्या राशि

दोस्तो से विवाद हो सकता है…

शारीरिक रूप से कष्ट….

मंगल जनित दोषों को दूर करने के लिए –

ऊॅ अं अंगारकाय नमः का एक माला जाप करें..

हनुमानजी की उपासना करें..

मसूर की दाल, गुड दान करें…

तुला राशि

परिवार में सभी सदस्यों का व्यवहार अनअपेक्षित होगा…

कार्य का निर्वहन ठीक से नहीं करने से तनाव….

व्यसन से अपयष…

राहु कृत दोषों की निवृत्ति के लिए –

  1. ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें…
  2. काली चीजों का दान करें….

वृश्चिक राशि

आज लंबे समय से चल रही समस्या का समाधान मिलेगा ….

कोई बड़ा बदलाव संभव…

गुस्से पर काबू रखें…

सूर्य के निम्न उपाय आजमायें-

  1. ऊ धृणि सूर्याय नमः का जाप कर, अध्र्य देकर दिन की शुरूआत करें,
  2. लाल पुष्प, गुड, गेहू का दान करें,
  3. आदित्य ह्दय स्त्रोत का पाठ करें..

धनु राशि

आत्मविष्वास से कार्य में लाभ…

घरेलू सुख में वृद्धि….

फूड पाइजनिंग….

शनि से उत्पन्न कष्टों की निवृत्ति के लिए –

  1. ‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’’ का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
  2. भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,
  3. काले वस्त्र का दान करें..

मकर राशि

धार्मिक स्थल की यात्रा के योग….

जीवनसाथी को स्वास्थगत कष्ट…

मंगल के दोषों की निवृत्ति के लिए –

  1. ऊॅ अं अंगारकाय नमः का एक माला जाप करें..
  2. हनुमानजी की उपासना करें..
  3. मसूर की दाल, गुड दान करें…

कुंभ राशि

बजट बनाकर कार्य करना होगा….

वाहन एवं मकान संबंधी कार्यो में लाभ की संभावना….

चंद्रमा के निम्न उपाय करें –

  1. ऊॅ श्रां श्रीं श्रीं एः चंद्रमसे नमः का जाप करें…
  2. दूध, चावल, का दान करें…

मीन राशि

स्वास्थ्यगत कष्ट अचानक बढ़ सकता है…

आकस्मिक हानि या चोरी…

गुरू के लिए निम्न उपाय करें-

  1. ऊॅ गुं गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. कुल पुरोहित, ब्राह्ण्य को यथासंभव दान दें,

Continue Reading

ज्योतिष

दिनांक 28.10.2020 का पंचांग एवं राशिफल

Published

on

By

शुभ संवत 2077 शक 1942 सूर्य दक्षिणायन का…द्वितीय (शुद्ध) आश्विन मास शुक्ल पक्ष द्वादशी तिथि … दोपहर को 12 बजकर 55 मिनट तक … दिन … बुधवार … पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र …  दिन को 09 बजकर 11 मिनट तक … आज चंद्रमा … मीन राशि में … आज का राहुकाल दिन 11 बजकर 47 मिनट से 01 बजकर 12 मिनट तक होगा …

उन्नति के लिए करें पन्ना रत्न धारण

बुद्ध बुद्धि का स्वरूप ग्रह है, मनुष्य में बुद्धि ही भौतिक या आध्यात्मिक जगत के ज्ञात और अज्ञात आदि रहस्यों के तथ्यों के ज्ञान को प्रकट करने का साधन है। बुध ग्रह के लिए पन्ना यश एवं कीर्ति का प्रतीक माना जाता था। इसे धारण करने से दिमाग की कार्य क्षमता तीव्र हो जाती है। विधार्थियों के लिए उनके शैक्षिक जीवनकाल में बुध ग्रह की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है उच्च और अच्छी शिक्षा बुध ग्रह की शुभ होने पर ही निर्भर है। यदि आप एक व्यापारी है और अपने व्यापार में निरन्तर उन्नति चाहते है, तो आप अवश्य पन्ना धारण कर सकते है। चार्टर एकाउंटेंट और हिसाब किताब के सभी कामो को करने वाले जातको को भी पन्ना अवश्य धारण करना चाहिए, क्योकि एक सफल गणितज्ञ की योग्यता उसके बुद्धि बल यानि बुध ग्रह के बल पर निर्भर करती है।

पन्ना कब धारण करे –

बुध को प्रसन्न करने एवं बुध के दोष को दूर करने के लिए जातक को पन्ना रत्न धारण करना चाहिए। इसके आलावा निम्नलिखित परिस्थतियों में पन्ना रत्न धारण करना आवस्यक होता है

1 जिस व्यक्ति का लंग्र मिथुन अथवा कन्या हो, उसे पन्ना रत्न धारण करना चाहिए।

२ यदि भाग्येश बुध हो, तो पन्ना रत्न धारण करने से जातक को सुख – समृदि मिलती है।

3 जन्मकुंडली के चतुर्थ पंचम अथवा दशम भाव में बुध हो, तो जातक को पन्ना रत्न धारण करना चाहिए।

4 बुध की जन्मकुंडली में मंगल, शनि, राहु अथवा केतु के साथ युति हो, तो जातक पन्ना रत्न धारण करने े इन ग्रहो के दोषो से छुटकारा पा सकता है।

5 बुध की विंशोत्तरी महादशा अथवा अंतर्दशा चल रही हो तो बुध रत्न पन्ना धारण करना चाहिए।

6 व्यापार, पदोन्नति, लेखन आदि व्यवसायो में पन्ना रत्न धारण करने से लाभ मिलता है।

विधि –

पन्ना रत्न धारण करने के लिए अश्लेषा, ज्येष्ठा एवं रेवती नक्षत्रो में से किसी एक नक्षत्र में कम से कम चार रति का पन्ना चांदी अथवा पंच धातु की अंगूठी में जड़वाकर बुधवार को सूर्य उदय से पूर्व ब्रह्ममूर्त में कनिष्का अंगुली में धारण करना चाहिये। अँगूठी को विधि विधान से पूजा करके ही धारण करना चाहिए। इस रत्न की अवधि तीन वर्ष तीन माह होती है। इसके बाद इस रत्न को बदल लेना चाहिए। पन्ना रत्न धारण करते समय बुध मन्त्र ॐ बुधाय नमः का कम से कम 108 बार जाप करे। यदि इस प्रक्रिया में किसी ब्राह्मण का सहयोग लिया जाये तो अति उत्तम है।

रत्न जड़ित अंगूठी साथ यदि बुध यंत्र को भी पूजा स्थल पर रखा जाए तो समृद्धि और वैभव आता है। यंत्र में पन्ना भी जड़वा सकते है। यह यंत्र चांदी के पत्र पर उत्कीर्ण किया जाता है। पन्ना रत्न उदर रोग, बवासीर, नेत्र रोग, ब्लड प्रेशर, अजीर्ण, दमा, हृदय रोग में राहत दिलाता है। इस प्रकार पन्ना रत्न विद्यार्थीवर्ग से लेकर व्यापारी वर्ग एवं नौकरी पेशा सभी लोगों को कर्मक्षेत्र में लाभ पाने के लिए धारण करना चाहिए।

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल

मेष

धन-संपत्ति, भागीदारी में कष्ट तथा विवाद….

माता के स्वास्थ्य संबंधी चिंता…

आकस्मिक हानि….

राहु के उपाय-

ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें…

प्रतिदिन सवेरे पानी में थोडा सा नमक मिलाकर घर में पोंछा करें, राहु दोषों से शांति मिलेगी…

वृषभ

कार्यकुशल तथा साहसी…

व्यवसायिक यात्रा…

आय में बाधा…

पार्टनर से तालमेल में कमी…

बृहस्पति के उपाय के लिए –

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. रोगियों, जानवरों तथा वृक्षों की सेवा करें..
  3. साईजी के दर्षन करें…

मिथुन 

आय के नये स्त्रोत बनेंगे….

स्थान या नौकरी में बदलाव…

पार्टनर से हानि….

वातरोग से कष्ट….

केतु के उपाय –

  1. हल्दी, चंदन, नारियल दान करें,
  2. गणपति की उपासना करें, धूप, दीप तथा नैवेद्य चढ़ायें,
  3. ऊॅ कें केतवें नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,

कर्क

मनवांछित सफलता…

भाई या सहयोगी से विवाद…

आकस्मिक यात्रा…

गले में कष्ट….

शनि शांति के लिए –

  1. ‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’’ का जाप कर दिन की शुरूआत करें…
  2. भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें..
  3. उड़द या तिल या सरसों का तेल दान करें…

सिंह

शत्रु से विजय…

दिये गये कर्ज की वापसी…

आलस्य हानिकारक…

अधिकारियों से विवाद….

बचाव के लिए –

  1. ऊ धृणि सूर्याय नमः का जाप कर, अध्र्य देकर दिन की शुरूआत करें,
  2. लाल पुष्प, केशर, इलायची, गुड, गेहू का दान करें,
  3. आदित्य ह्दय स्त्रोत का पाठ करें,

कन्या

नये अवसर की प्राप्ति…

आलस्य के कारण योजना में विलंब…

पारिवारिक रिष्तों में दूरी…

चंद्रमा के उपाय-

  1. ऊॅ सौं सोमाय नमः का जाप करें,
  2. मिश्री, चावल, कपूर, का दान करें,
  3. शंकरजी का जल से अभिषेक करें

तुला

मिथ्या बोल के कारण अपमान…

पत्नी से विवाद…

व्यवयाय में अचानक धनहानि….

शुक्र से राहत के लिए-

  1. ऊॅ शुं शुक्राय नमः का जाप करें…
  2. माॅ महामाया के दर्शन कर दिन की शुरूआत करें…
  3. सार्वजनिक सेवा करें,

वृश्चिक

नये मोबाईल की प्राप्ति…

धन खर्च के कारण कर्ज…

सहकर्मियों से हानि…

चंद्रमा की शांति के लिए –

  1. ऊॅ श्रां श्रीं श्रीं एः चंद्रमसे नमः का जाप करें,
  2. दूध, चावल, शंख का दान करें

धनु

अचानक धन प्राप्ति…

मित्रों से धन की हानि…

मंगल की शांति के लिए –

  1. ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें,
  2. हनुमानजी की उपासना करें,
  3. मसूर की दाल, गुड या तांबा दान करें

मकर

धार्मिक कार्य में धन खर्च…

मित्र तथा भाई-बहनों से अनबन….

शनि से उत्पन्न कष्ट के लिए –

  1. ‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’’ का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
  2. भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,
  3. उड़द या तिल या सरसों का तेल दान करें,

कुंभ

सत्ता पक्ष से लाभ…

आलस्य के कारण दैनिक रूटिन में अनियमित….

कंधे, कान में दर्द…

राहु कृत दोषों की शांति के लिए –

  1. ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
  2. धतूरे की माला शिवजी में चढ़ायें,

मीन

धन का संकट…

पारिवारिक तथा मानसिक अशांति….

पिता को कष्ट….

बृहस्पतिकृत अनिष्ट की शांति के लिए –

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. मीठे पीले खाद्य पदार्थ का सेवन करें तथा दान करें…
  3. केशर या चंदन का तिलक करें…

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़2 days ago

छत्तीसगढ़ में 196 नए चिकित्सा अधिकारियों का पदस्थापना आदेश जारी…देखें सूची

छत्तीसगढ़। स्वास्थ्य विभाग ने 196 नव नियुक्त चिकित्सा अधिकारियों के पदस्थापना आदेश आज जारी कर दिए हैं। मंत्रालय से आज...

छत्तीसगढ़3 days ago

प्रधानमंत्री आवास योजना लाभार्थी जिलावार सूची यहां देखें

केंद्र सरकार ने सभी परिवारों को पक्का घर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुआत किये है।...

छत्तीसगढ़1 week ago

रायपुर नगर निगम के उपायुक्त कोरोना पॉजिटिव…कोविड सेंटर के नोडल अधिकारी पाए गए संक्रमित

रायपुर। प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है. इसी बीच रायपुर नगर निगम के उपायुक्त व कोविड सेंटर के नोडल...

छत्तीसगढ़1 week ago

रायपुर में रेलवे स्टेशन के पास मर्डर, आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। राजधानी के गंज थाना क्षेत्र में हुई हत्या की वारदात को पुलिस ने सुलझा लिया है। पहले मृतक की...

Breaking2 weeks ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 19/10/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

#Exclusive खबरे

Calendar

October 2020
S M T W T F S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031

निधन !!!

Advertisement

Trending