Connect with us

छत्तीसगढ़

अगर इस बैंक में है खाता तो तत्काल निकाल लें पैसा!!!

Published

on

आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक अपना कारोबार समेटने जा रहा है। यानी जल्द ही आइडिया पेमेंट्स बैंक बंद हो जाएगा। ऐसे में बैंक के ग्राहकों के लिए मुश्किल हो सकती है।

आरबीआई ने दिया बयान

इस संदर्भ में भारतीय रिजर्व बैंक ( RBI ) ने बताया कि कंपनी के अपनी मर्जी से अपना कारोबार समेटने का आवेदन किया है। आवेदन के बाद उसके परिसमापन को मंजूरी दे दी गई है। बता दें कि आरबीआई ने कहा है कि बॉम्बे हाईकोर्ट ने डेलॉयट टूश तोमात्सु इंडिया एलएलपी (Deloitte Touche Tohmatsu India LLP) के वरिष्ठ निदेशक विजयकुमार वी अय्यर को इसके लिए लिक्विडेटर नियुक्त किया है।

ग्राहकों को हो सकती है दिक्कत

जुलाई 2019 में ही आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक ने यह घोषणा कर दी थी कि वह जल्द ही अपना कारोबार समेटेगा और ग्राहकों से कहा था कि वो अपने बैलेंस को जल्द से जल्द ट्रांसफर करा लें। इसलिए अगर आपने समय रहते बैंक से अपना पैसा नहीं निकाला, तो हो सकता है कि आपका पैसा फंस जाए।

ये है वजह

कारोबार समेटने की वजह कंपनी ने ‘अप्रत्याशित घटनाक्रम’ के चलते कारोबार का ‘अव्यवहारिक’ होना बताई थी। अब तक भुगतान बैंकिंग बाजार में टेक महिंद्रा, चोलामंडलम इन्वेस्टमेंट एंड फाइनेंस कंपनी और दिलीप सांघवी, आईडीएफसी बैंक लिमिटेड और टेलिनॉर फाइनेंशल सर्विसेज के गठबंधन में बना भुगतान बैंक बाजार छोड़ने की घोषणा कर चुके हैं।

अप्रैल 2016 में शुरू हुआ था बैंक

अगस्त 2015 में आइडिया पेमेंट्स बैंक को भारतीय रिजर्व बैंक से लाइसेंस मिला था। इसके बाद अप्रैल 2016 में आदित्य बिड़ला आइडिया पेमेंट्स बैंक को शुरू किया गया था। यह बैंक आदित्य बिड़ला नुवो और आइडिया सेल्युलर का संयुक्त उपक्रम है।
Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

छत्तीसगढ़

Sarkari Naukri 2020 : छत्तीसगढ़ में विभिन्न पदों पर निकली वैकेंसी, जल्द करे आवेदन

Published

on

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, भिलाई ने असिस्टेंट, सुप्रीटेंडेंट, जूनियर असिस्टेंट, स्टाफ नर्स आदि पदों पर आनलाइ आवेदन आमंत्रित किये हैं, 07 फरवरी 2020 के पहले करना है आवेदन

भिलाई, छत्तीसगढ़ः IIT Bhilai Recruitment 2020: इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, भिलाई ने विभिन्न पदों पर योग्य उम्मीदवारों से आवेदन आमंत्रित किये हैं. ये पद, विज्ञापन संख्या No. IITBhilai/Rectt./NF/2020/01 के अंतर्गत निकले हैं. इन पदों के लिये आवेदन काफी समय से शुरू हो चुके हैं, इसलिए अगर आप इच्छुक हों तो और विलंब न करें. आवेदन करने की अंतिम तारीख और अप्लीकेशन फीस जमा करने की भी अंतिम तारीख 07 फरवरी 2020 है. इन भर्तियों के माध्यम से कुल 46 पदों को भरा जाना है.

 

वैकेंसी विवरण –

 

कुल पद – 46

 

एडमिनिस्ट्रेटिव पदः-

 

डिप्टी रजिस्ट्रार – 1 पद

 

असिस्टेंट रजिस्ट्रार – 1 पद

 

सुप्रीटेंडेंट – 1 पद

 

जूनियर सुप्रीटेंडेंट – 3 पद

 

असिस्टेंट – 25 पद

 

जूनियर असिस्टेंट – 2 पद

 

टेक्निकल पदः-

 

असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव इंजीनियर – 2 पद

 

सीनियर कंप्यूटर इंजीनियर – 1 पद

 

सुप्रीटेंडेंट (टेक्निकल) – 1 पद

 

जूनियर सुप्रीटेंडेंट (टेक्निकल) – 3 पद

 

असिस्टेंट टेक्निकल – 4 पद

 

स्टाफ नर्स – 2 पद

 

शैक्षिक योग्यता –

 

रजिस्ट्रार – न्यूनतम 55% अंकों के साथ मास्टर डिग्री और 5 साल का अनुभव.

 

सहायक रजिस्ट्रार – कम से कम 55% अंकों के साथ मास्टर डिग्री और 8 वर्ष का अनुभव.

 

सुप्रीटेंडेंट – कम से कम पांच साल के अनुभव के साथ मास्टर डिग्री.

 

जूनियर सुप्रीटेंडेंट – तीन साल के अनुभव के साथ मास्टर डिग्री.

 

असिस्टेंट – कम से कम 55% अंकों के साथ मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से मास्टर डिग्री या न्यूनतम 55% अंकों के साथ स्नातक की डिग्री और 03 साल का अनुभव.

 

जूनियर असिस्टेंट – न्यूनतम 55% अंकों के साथ स्नातक की डिग्री.

 

असिस्टेंट एग्जीक्यूटिव इंजीनियर – बी.ई. / बीटेक या न्यूनतम 55% अंकों और 03 वर्ष के  अनुभव के साथ इलेक्ट्रिकल / सिविल में समकक्ष डिग्री.

 

सीनियर कंप्यूटर इंजीनियर – बी.ई. / बीटेक. कंप्यूटर विज्ञान और इंजीनियरिंग में या सूचना प्रौद्योगिकी या ईसीई या कंप्यूटर एप्लीकेशन में मास्टर डिग्री न्यूनतम 55% अंकों के साथ.

 

सुप्रीटेंडेंट (टेक्निकल) – किसी मान्यता प्राप्त

 

विश्वविद्यालय से न्यूनतम 55% अंकों के साथ प्रौद्योगिकी या इंजीनियरिंग में मास्टर डिग्री या समकक्ष.

 

जूनियर सुप्रीटेंडेंट (टेक्निकल) – विज्ञान / कंप्यूटर विज्ञान / कंप्यूटर अप्लीकेशन / आईटी में मास्टर डिग्री या विज्ञान में न्यूनतम 55% अंकों के साथ स्नातक की डिग्री.

 

असिस्टेंट टेक्निकल – विज्ञान / कंप्यूटर विज्ञान / कंप्यूटर अप्लीकेशन / आईटी में स्नातक की डिग्री या किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से न्यूनतम 55% अंकों के साथ, इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री (चार वर्ष).

 

स्टाफ नर्स – कम से कम 60% अंकों के साथ बी.एससी नर्सिंग की डिग्री साथ ही 2 वर्ष का अनुभव.

 

आवेदन शुल्क –

 

आईआईटी भिलाई के इन पदों के लिये आवेदन करने के लिये 100 रुपये शुल्क देना होगा. एससी, एसटी, पीडब्ल्यूडी और महिला उम्मीदवारों को कोई फीस नहीं देनी है. शुल्क एसबीआई कलेक्ट के माध्यम से दिया जाएगा. बाकी आवेदन करने से लेकर पात्रता तक के विषय में विस्तार से जानकारी के लिये संस्थान की वेबसाइट देख सकते हैं. वेबसाइट का पता है www.iitbhilai.ac.in

 

 

Continue Reading

देश-दुनिया

गांधी मैदान में राज्यपाल फागू चौहान हुए भावुक

Published

on

गणतंत्र दिवस के अवसर पर पटना के गांधी मैदान में मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया. इस दौरान राज्यपाल फागू चौहान ने झंडोत्तोलन किया और परेड की सलामी ली. इस दौरान ऐसा भावुक क्षण भी आया जब एक शहीद की मां अपने बेटे को मरणोपरांत मिले सेना मेडल को लेने पहुंची. जैसे ही खगड़िया के रहने वाले शहीद किशोर कुमार मुन्ना की मां तुलो देवी राज्यपाल फागू चौहान के निकट पहुंचीं तो आंखों में आंसू लिए वह राज्यपाल के कदमों पर गिर पड़ीं. इस भावुक पल के दौरान राज्यपाल भी भावुक हो गए और अपने आंसू पोछते नजर आए.

इस दौरान राज्यपाल ने शहीद की मां को उठाया और उन्हें सेना मेडल के साथ राज्य सरकार द्वारा दिया जाने वाला प्रशस्ति पत्र और राज्य सरकार की ओर से दी जाने वाली राशि का चेक सौंपा.

कौन था शहीद जवान किशोर कुमार मुन्ना

खगड़िया निवासी आर्मी जवान किशोर कुमार मुन्ना 4 फरवरी को पुंछ बॉर्डर पर पाकिस्तानी फौज के साथ मुठभेड़ में गंभीर रूप से घायल हो गए थे. उन्‍हें पुंछ स्थित आर्मी अस्पताल में भर्ती कराया गया था, लेकिन 24 वर्षीय जवान किशोर कुमार मुन्ना आखिरकार जिन्दगी देश के नाम न्योछावर कर दी. वह पाकिस्तानियों से तो जीत गए, लेकिन मौत की जंग हार गए.

खगड़िया जिले के चौथम थाना क्षेत्र अंतर्गत ब्रह्मा गांव के किसान नागेश्वर प्रसाद यादव को पुत्र किशोर कुमार मुन्ना के शहीद होने होने की खबर मिली. पूरे ब्रह्मा गांव में मातमी सन्नाटा पसर गया था. शहीद के पिता नागेश्वर प्रसाद यादव ने बताया कि वर्ष 2013 में उनका छोटा बेटा किशोर कुमार मुन्ना की बहाली आर्मी में हुई थी. जून 2018 में शहीद किशोर कुमार मुन्ना का ट्रांसफर कश्मीर के पुंछ सेक्टर में हुआ था.

झंडोत्तोलन के बाद राज्यपाल ने ली परेड की सलामी71वें गणतंत्र दिवस के मौके पर पटना के गांधी मैदान में बिहार के राज्यपाल फागू चौहान ने झंडोत्‍तोलन किया. इस मौके पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सहित कई अन्य गणमान्‍य लोग मौजूद रहे. गणतंत्र दिवस पर इस बार 17 झांकियों के द्वारा बिहार के विकास को दिखाया गया.

कई साल बाद काफी समय बाद गांधी मैदान में सेना गणतंत्र दिवस पर आयोजित परेड समारोह का नेतृत्व किया. परेड में 19 टुकड़ियों ने भाग लिया. जिसमें आर्मी, CRPF, SSB, ITBP, CISF, STF, BMP, NCC, ARMY, AIRFORCE, NAVY (NCC), जिला सशस्त्र बल, पुरुष महिला, होमगार्ड ग्रामीण, होमगार्ड शहरी, बिहार स्काउट, बिहार गाइड, स्वान दस्ता की छह यूनिट, फायर ब्रिगेड, NDRF और SDRF की एक कंपनी ने भाग लिया.

बिहार के विकास को दर्शाती 17 झांकियां

गांधी मैदान में 17 झांकियों के माध्यम से भविष्य का पीएमसीएच, ‘नीचे मछली, ऊपर बिजली’ योजना सहित जल जीवन हरियाली, वर्षा जल संचयन, मौसम के अनुसार कृषि कार्यक्रम आदि विषय पर झांकियां प्रदर्शित की गई. गांधी मैदान में निकाली गई 17 झांकियों में बिहार शिक्षा परियोजना परिषद को प्रथम स्थान मिला तो उपेन्द्र महारथी शिल्प अनुशंधान संस्थान, उद्योग विभाग दूसरे और स्वास्थ्य विभाग की झांकी ज्यूरी द्वारा तीसरे स्थान पर चुनी गई. इस मौके पर सैनिकों को सेना मेडल और सेना में विशिष्ट सेवा मेडल भी राज्यपाल द्वारा दिए गए.

Continue Reading

देश-दुनिया

आने वाले बजट में मिडिल क्लास को मिल सकता है बड़ा तोहफा

Published

on

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस सप्ताह पेश किये जाने वाले अपने बजट में मध्यम वर्ग को आयकर में छूट के साथ प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की तरह स्वास्थ्य बीमा का सौगात दे सकती हैं. आर्थिक मामलों के जानकारों की मानें तो आगामी बजट में मांग और खपत बढ़ाने के लिये सरकार 5 लाख रुपये तक की आय को करमुक्त कर सकती है. इसके साथ ही प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना का दायरा भी बढ़ाया जा सकता है ताकि अधिक से अधिक लोगों को स्वास्थ्य सुविधाओं का बेहतर लाभ उपलब्ध कराया जा सके.

मांग और खपत बढ़ाने की आवश्यकता

अर्थशास्त्रियों के मुताबिक इस समय अर्थव्यवस्था में सबसे ज्यादा मांग और खपत बढ़ाने की आवश्यकता है. मांग बढ़ने से ही आर्थिक गतिविधियों में तेजी आयेगी. इसके लिये पूंजीगत खर्च बढ़ाने के साथ ही आम आदमी की जेब में अधिक पैसा होना जरूरी है. सरकार पूंजीगत खर्च के मोर्चे पर कई ढांचागत योजनाओं पर काम कर रही है. इसके साथ ही आम नौकरीपेशा लोगों को इनकम टैक्स में राहत दी जानी चाहिये ताकि उनकी जेब में खर्च करने के लिये अधिक पैसा बचे.

बेंगलुरु स्थित इंस्टिट्यूट फॉर सोशल एंड इकनॉमिक चेंज के प्रोफेसर डॉ. प्रमोद कुमार ने कहा, ‘अर्थव्यवस्था में सुस्ती दूर करने के लिये सरकार को सुधारों को बढ़ाने के साथ ही रोजगार सृजन के उपाय करने और पूंजीगत खर्च बढ़ाने की जरूरत है. इससे लोगों की जेब में अधिक पैसा आएगा और मांग बढ़ेगी.

इंडीविजुअल इनकम टैक्स छूट सीमा बढ़ाकर 5 लाख रु की जाए

उन्होंने कहा कि मध्यम वर्ग खासकर नौकरीपेशा निश्चित रूप से इनकम टैक्स में कटौती की उम्मीद कर रहे हैं. इस समय अर्थव्यवस्था में मौजूदा नरमी का कारण मांग में कमी है न कि आपूर्ति. ऐसे में मूल इंडीविजुअल इनकम टैक्स छूट सीमा को मौजूदा 2.50 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये कर मध्यम वर्ग को कर राहत दी जा सकती है. फिलहाल 2.50 से 5 लाख रुपये तक 5 प्रतिशत, 5 से 10 लाख रुपये पर 20 प्रतिशत और 10 लाख रुपये से अधिक की आय पर 30 प्रतिशत की दर से कर लगता है. इसके अलावा 5 लाख रुपये तक की आय वाले को 12,500 रुपये की छूट दी गयी है. यानी 5 लाख रुपये तक की आय पर कोई कर नहीं लगेगा.

हैदराबाद स्थित इंस्टिट्यूट ऑफ एडवांस्ड स्टडीज इन कम्पलेक्स चॉइसेस (IASCC) के प्रोफेसर एवं अर्थशास्त्री अनिल सूद ने भी कहा है, वेतन भोगियों पर प्रत्यक्ष कर (Direct Tax) का बोझ कम किया जाना चाहिये. स्वास्थ्य और परिवहन क्षेत्र में खर्च बढ़ने का बचत पर असर पड़ रहा है इसलिये बचत दर और मांग बढ़ाने के लिये वित्त मंत्री को इंडीविजुअल इनकम टैक्स में राहत पहुंचानी चाहिये.

हालांकि, पिछले बजट में वित्त मंत्री ने करदाताओं को बड़ी राहत देते हुये उनकी 5 लाख रुपये तक की टैक्स योग्य आय होने पर उन्हें इनकम टैक्स से पूरी तरह छूट दे दी थी लेकिन इनकम टैक्स स्लैब (Income Tax Slab) में कोई बदलाव नहीं किया था. इस बार विशेषज्ञों का मानना है कि इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव किया जा सकता है और 5 लाख रुपये तक की आय को टैक्स फ्री किया जा सकता है.

धारा 80C के तहत सीमा बढ़ाकर 2.50 रुपये करने की मांग

कुमार ने यह भी कहा है कि इनकम टैक्स कानून की धारा 80C के तहत जीवन बीमा प्रीमियम, ट्यूशन फीस और अन्य बचत पर मौजूदा 1.50 लाख रुपये की सीमा को बढ़ाकर 2.50 लाख रुपये करने की आवश्यकता है. इससे वेतनभोगी तबके की जेब में अधिक धन बचेगा और अर्थव्यवस्था में मांग बढ़ेगी

मांग बढ़ाना जरूरी

इससे राजकोषीय घाटा पर पड़ने वाले असर के बारे में पूछे जाने पर कुमार ने कहा, फिलहाल अर्थव्यवस्था में उपभोक्ता मांग और निवेश में जो नरमी है, उससे निपटने की चुनौती है और इसके लिये मांग बढ़ाना जरूरी है. यह तभी होगा जब लोगों की क्रयशक्ति बढ़ेगी. ऐसे में वित्त मंत्री इस साल राजकोषीय घाटे को कड़ाई से पालन करने में थोड़ी ढील दे सकती हैं और खर्च बढ़ा सकती हैं.

11 साल में सबसे कम जीडीपी ग्रोथ

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक फरवरी को 2020-21 का आम बजट पेश करेंगी. सुस्त पड़ती अर्थव्यवस्था को फिर से तेजी के रास्ते पर लाना उनके समक्ष बड़ी चुनौती होगी. चालू वित्त वर्ष की सितंबर में समाप्त दूसरी तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर कम होकर 4.5 प्रतिशत रह गई. पूरे साल की वृद्धि दर 5 प्रतिशत रहने का अनुमान है जो कि पिछले 11 साल में सबसे कम होगी.

बजट में मध्यम वर्ग को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की तर्ज पर स्वास्थ्य बीमा का भी लाभ मिल सकता है. फिलहाल इसमें देश के करीब 10.74 करोड़ गरीब परिवार को सरकारी और निजी अस्पतालों में गंभीर बीमारी के इलाज के लिये 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा मिलता है.

सभी के लिये पेंशन और स्वास्थ्य बीमा सुविधा उपलब्ध कराए सरकार

श्रमिक संगठन भारतीय मजदूर संघ के महासचिव बृजेश उपाध्याय ने कहा, हम लंबे समय से सभी के लिये पेंशन और स्वास्थ्य बीमा सुविधा उपलब्ध कराये जाने की मांग कर रहे हैं. सरकार गरीब तबके के लिये स्वास्थ्य बीमा योजना चला रही है इस बजट में इस योजना का लाभ मध्यम वर्ग को भी दिया जा सकता है.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़6 hours ago

Sarkari Naukri 2020 : छत्तीसगढ़ में विभिन्न पदों पर निकली वैकेंसी, जल्द करे आवेदन

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी, भिलाई ने असिस्टेंट, सुप्रीटेंडेंट, जूनियर असिस्टेंट, स्टाफ नर्स आदि पदों पर आनलाइ आवेदन आमंत्रित किये हैं,...

देश-दुनिया6 hours ago

गांधी मैदान में राज्यपाल फागू चौहान हुए भावुक

गणतंत्र दिवस के अवसर पर पटना के गांधी मैदान में मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया. इस दौरान राज्यपाल फागू चौहान...

देश-दुनिया6 hours ago

आने वाले बजट में मिडिल क्लास को मिल सकता है बड़ा तोहफा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण इस सप्ताह पेश किये जाने वाले अपने बजट में मध्यम वर्ग को आयकर में छूट के...

देश-दुनिया9 hours ago

ध्वजारोहण को लेकर भिड़े कांग्रेसी नेता, जमकर चले थप्पड़ घूंसे

71वें गणतंत्र दिवस के अवसर पर मध्य प्रदेश में सत्तारुढ़ कांग्रेस पार्टी के लिए स्थिति उस समय शर्मसार हो गई...

देश-दुनिया9 hours ago

मैला ढोने वाली ऊषा चोमर को पद्मश्री अवार्ड मिलने की घोषणा

गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर पद्मश्री अवार्ड पाने वालों के नाम घोषित किए गए. ऊषा चोमर का नाम भी...

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive1 day ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 26 /01/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive2 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 25 /01/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive3 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 24 /01/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive4 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 23 /01/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive5 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 22/01/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Calendar

January 2020
M T W T F S S
« Dec    
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
2728293031  

निधन !!!

Advertisement

Trending