Connect with us

मनोरंजन

अनजाने कायदे कानूनों में उलझा ‘लोकी’, एमसीयू की कहानी में टाइम ट्रैवल का नया रोमांच

Published

on

मार्वेल सिनेमैटिक यूनीवर्स का विस्तार हो रहा है। सिनेमा से निकलकर ये ओटीटी पर फैल रहा है। पिछले डेढ़ साल में जो कुछ दुनिया में हो रहा है और इसके चलते जो कुछ हमारे जीवन में बदल रहा है, उसका असर ओटीटी पर दिख रही नई कहानियों पर भी पड़ रहा है। ‘द फैमिली मैन’ के श्रीकांत तिवारी को अगले सीजन में कोरोना की साजिश से लड़ना है। इधर, ‘अवेंजर्स’ सीरीज का एक अहम किरदार एक दूसरी ही दुनिया में पहुंच गया है। कहानी की ये शाखा एमसीयू में वहां से उगी है, जहां लोकी ने एमसीयू की टाइमलाइन में साल 2012 में टेसैरेक्ट हाथ में आने के बाद भागने की कोशिश की। सोचिए क्या हो अगर लोकी कहीं ऐसी जगह पहुंच जाए जो धरती की टाइमलाइन से अलग किसी दूसरी ही दुनिया की हो। और, वहां लोग ऐसे हों जिनके जिम्मे ही टाइमलाइन को उनके निर्धारित समय से चलाए रखने की जिम्मेदारी हो और जो टाइमलाइन को बाधित करने वालों को सजा देने के लिए जिम्मेदार हों!

‘लोकी’ एक नई दुनिया में है। हैरान है। परेशान हैं। लेकिन, पहले जैसा बदगुमान अब भी है। अब भी उसे दूसरों को सताने में मजा आता है। बचपन में असगार्ड के राजा उसे अपने दुश्मन के यहां से ले आए थे। अपने बेटे की तरह ही उसे पाला भी। लेकिन लोकी को उन दिनों का संताप कभी भूलता नहीं है। वह इस वक्त टीवीए में है। ट्रांस वैरिएंट अथॉरिटी। इसके लिए लोकी बस एक वैरिएंट भर है। राह से भटका वैरिएंट। कुछ कुछ वैसा ही जैसा चीन की वुहान लैब से ‘भागा’ कोरोना है। दोनों के गुणों में काफी कुछ एक जैसा दिखता है। पहली बार एमसीयू का ये किरदार हकबकाया सा दिखता है। उसका मन जैसा करता है, वैसा वह कर नहीं पा रहा। लेकिन, लोकी आखिर लोकी है। वह एमसीयू में दिखे तमाम खलनायकों से अलग है। उसकी गुस्ताखियों के बावजूद दर्शक उससे जुड़ाव महसूस करते हैं। वह एवेंजर न हुआ तो क्या हुआ, अपनी तमाम खामियों के बावजूद उसकी अपनी लोकप्रियता है और तभी तो मार्वेल स्टूडियोज ने उसको एक अलग ही वेब सीरीज दे दी है।

डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर बुधवार को रिलीज हुई वेब सीरीज ‘लोकी’ मार्वेल स्टूडियोज की कल्पनों के तार असंख्य दिशाओं में फैलाती है। इसके पहले मार्वेल ने ‘वांडाविजन’ और ‘द फॉल्कर एंड द विंटर सोल्जर’ नाम की दो सीरीज रिलीज कर दी हैं। एवेंजर्स सीरीज की फिल्मों में हाशिये पर रहे किरदारों को उनका वाजिब सम्मान देने और इस बहाने पहले से चलती आ रही कहानी में पीछे जाकर इस विशाल वृक्ष पर नई कोंपले उगाने की ये कोशिश असरदार रही है। भले पहली दोनों सीरीज में एमसीयू के प्रशंसकों को इसकी फिल्मों जैसा रोमांच, विशालता और कसावट न दिखी हो लेकिन मार्वेल की इन सीरीज ने लॉकडाउन के दौरान एमसीयू के फैंस को काफी राहत जरूर दी है।

मार्वेल स्टूडियो की नई सीरीज ‘लोकी’ के पहले दो एपीसोड समीक्षकों को रिलीज से पहले ही मुहैया करा दिए गए। इन दो एपीसोड के हिसाब से ‘लोकी’ के किरदार में टॉम हिडलस्टन हकीकत के काफी करीब का किरदार दिखता है। वह यहां एक नई भाव भंगिमा के साथ हैं। खुद को भगवान समझने वाला कोई शख्स जब वास्तविकता के धरातल पर आता है, तो क्या होता है, इसकी एक झलक लोकी की पल पल बदलती मुखाकृतियों से समझी जा सकती है। टॉम हिडल्स्टन ने यहां अपनी मशहूर सीरीज ‘द नाइट मैनेजर’ से भी आगे की लकीर अपने अभिनय से खींचने की कोशिश की है। ठीक 10 साल पहले 2011 में रिलीज हुई फिल्म ‘थॉर’ से एमसीयू से जुड़ने वाले टॉम हिडल्स्टन के पास खुद को नए सिरे से स्थापित करने का ये सुनहरा मौका है। 40 साल के हो चुके टॉम के करियर का ये सबसे बड़ा टर्निंग प्वाइंट भी है।

वेब सीरीज ‘लोकी’ के लिए टीवीए की एक अनोखी दुनिया बसाई गई है। इस दुनिया का आदि और अंत समझने की कोशिश करना ही इस सीरीज का असल रोमांच है। निर्देशक केट हेरॉन की खासियत यहां इस बात में है कि इस दुनिया का करिश्मा कलाकारों के कौशल पर भारी नहीं पड़ने पाता। यहां जेल है, अदालत है, सुरक्षाकर्मियों का कहना न मानने पर त्वरित दंड का प्रावधान भी है। आग इनकी दुश्मन है। और, सीरीज आपको ये भी दिखाती है कि जिन चीजों के लिए एवेंजर्स और थानोस ‘एंडगेम’ तक भिड़े रहे, उनकी कीमत इस दुनिया में क्या है? टीवीए के एजेंट मोबियस के रोल में ओवेन विल्सन को भी एक ऐसा किरदार मिला है जिसमें उन्हें संयमित रहते हुए अपने अतीत के किरदारों पर अदाकारी का नया मुलम्मा चढ़ाने का मौका मिला है। सीरीज के बाकी कलाकार भी अपने अपने किरदारों के हिसाब से मेहनत करते दिख रहे हैं। मामला दिलचस्प हो चला है। सीरीज हिंदी में भी उपलब्ध है।

मनोरंजन

इस अभिनेता को मिला था सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का अवॉर्ड, ऐसा कारनामा करने वाले दुनिया के पहले कलाकार

Published

on

By

हिंदी सिनेमा के अभिनेता निर्मल पांडे ने फिल्मों से लेकर टीवी की दुनिया में भी नाम कमाया। नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से निर्मल ने अदाकारी की जो तालीम हासिल की उससे उन्होंने इंडस्ट्री में अपने अभिनय का लोहा मनवाया। अभिनेता का जन्म 10 अगस्त 1962 को उत्तराखंड के नैनीताल में हुआ था। निर्मल ने करीब 20 साल फिल्मों में काम किया। 18 फरवरी 2010 को 48 वर्ष की आयु में ही उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया। बॉलीवुड में ऐसे बहुत कम एक्टर्स हैं जिन्हें फ्रांस का बेस्ट एक्टर वैलेंटी अवॉर्ड हासिल हुआ है। निर्मल पांडेय को अवॉर्ड विनिंग फिल्म बैंडिट क्वीन के कैरेक्टर विक्रम मल्लाह के लिए याद किया जाता है।

अल्मोड़ा में पढ़ाई के दौरान ही निर्मल पांडेय ने थिएटर में जाने का मन बना लिया था। इसी वजह से वह अल्मोड़ा से दिल्ली आ गए और यहां के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में दाखिला ले लिया। एनएसडी के दौरान निर्मल पांडेय अपने साथियों के बीच चर्चित थिएटर आर्टिस्ट बन गए थे। बता दें कि सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार पाने वाले निर्मल पांडे विश्व के पहले अभिनेता थे।

यहां टॉप आर्टिस्ट का दर्जा हासिल करने के बाद निर्मल पांडे को लंदन में शूटिंग के लिए जाने का मौका मिला। यह मौका निर्मल के करियर को ऊंचाइयों पर ले जाने वाला साबित हुआ। लंदन में उन्होंने तारा थिएटर ग्रुप के साथ काम करते हुए चर्चित प्ले हीर रांझा और एंटीगोन में काम किया। इसके अलावा निर्मल ने लंदन में करीब 125 प्ले में हिस्सा लेकर खूब चर्चा बटोरी।

लंदन से लौटने के बाद निर्मल को हिंदी सिनेमा और प्रोड्यूर्स के यहां से कॉल आने लगे। इस बीच फिल्म बैंडिट क्वीन के लिए अभिनेताओं की तलाश कर रहे शेखर कपूर ने निर्मल पांडे को फिल्म में डकैत विक्रम मल्लाह का किरदार ऑफर किया। 1996 में आई इस फिल्म ने निर्मल को बॉलीवुड में अभिनेता के तौर पर स्थापित कर दिया और उन्हें खूब सराहना मिली।

अमोल पालेकर द्वारा निर्देशित दायरा हिन्दी सिनेमा की सबसे जबरदस्त फिल्मों में गिनी जाती है। निर्मल पांडे ने इस फिल्म में एक किन्नर का किरदार निभाया था। इस फिल्म में शानदार अभिनय के लिए 1997 में निर्मल पांडे को फ्रांस में बेस्ट एक्टर वैलेंटी अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।  सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिये यह पुरस्कार पाने वाले निर्मल विश्व के पहले अभिनेता थे।

1997 के बाद निर्मल पांडे और चर्चित गीतकार कौसर मुनीर एक दूसरे के प्यार में डूब गए। लंबे समय तक साथ में रहने के बाद दोनों ने शादी कर ली। लेकिन शादी के तीन साल बाद ही दोनों के बीच खटपट शुरू हो गई।  इसके बाद में आपसी फैसला लेकर दोनों ने अपने रास्ते अलग कर लिए। कौसर मुनीर ने 2001 में नवीन पंडित से शादी कर ली तो निर्मल पांडे ने 2005 में अर्चना शर्मा से शादी कर दोबारा घर बसा लिया। निर्मल पांडेय ने फिल्म ट्रेन टू पाकिस्तान, गॉड मदर समेत हिंदी, अंग्रेजी के अलावा अलग अलग कई भाषाओं में दर्जनों फिल्में में काम किया।

 

 

Continue Reading

मनोरंजन

इस दिन एमेजॉन प्राइम पर ‘तूफान’ लेकर आएंगे फरहान अख्तर, सामने आई रिलीज डेट

Published

on

By

फरहान अख्तर, परेश रावल और मृणाल ठाकुर स्टारर तूफान की रिलीज डेट सामने आ गई है. एमेजॉन प्राइम वीडियो ने आज अपने स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर फरहान अख्तर की मोस्ट अवेटेड स्पोर्ट्स ड्रामा फिल्म ‘तूफान’ के प्रीमियर की तारीख घोषित कर दी है. राकेश ओमप्रकाश मेहरा द्वारा निर्देशित तथा एक्सेल एंटरटेनमेंट (रितेश सिधवानी और फरहान अख्तर) और आरओएमपी पिक्चर्स (राकेश ओमप्रकाश मेहरा) द्वारा निर्मित ‘तूफान’ इस साल का सबसे बड़ा स्पोर्ट्स ड्रामा साबित होने जा रही है.

भारत तथा दुनिया भर के 240+ देशों और क्षेत्रों में मौजूद प्रशंसक 16 जुलाई से इस रोमांचक फिल्म का आनंद केवल एमेजॉन प्राइम वीडियो पर उठा सकते हैं. ‘तूफान’ में मृणाल ठाकुर, परेश रावल, सुप्रिया पाठक कपूर, हुसैन दलाल, डॉ. मोहन अगाशे, दर्शन कुमार और विजय राज के साथ फरहान अख्तर मुख्य भूमिका में हैं.

‘भाग मिल्खा भाग’ फिल्म में फरहान अख्तर और राकेश ओमप्रकाश मेहरा का गठबंधन कामयाब रहने के बाद यह डायनेमिक जोड़ी ‘तूफान’ का पंच जमाने के लिए लौटी है. यह प्रेरणास्पद कहानी मुंबई के डोंगरी इलाके में पैदा हुए एक अनाथ लड़के अज्जू की जिंदगी के इर्द-गिर्द घूमती है, जो बड़ा होकर लोकल गुंडा बन जाता है. एक तेजदिमाग, शोख और नरमदिल लड़की अनन्या से मुलाकात के बाद उसका जीवन बदल जाता है. अज्जू पर अनन्या का भरोसा उसे अपना जुनून तलाशने के लिए प्रेरित करता है और वह बॉक्सिंग चैंपियन अजीज अली बनने के अपने सफर पर निकल पड़ता है.

‘तूफान’ एक खेल के रूप में मुक्केबाजी के रोमांचक स्वभाव को जीवंत बना देती है, साथ ही अपने सपनों को पूरा करने के सफर में एक आम आदमी के जीवन में आनेवाले उतार-चढ़ाव की दिलचस्प दास्तान भी सुनाती है. यह लचीलेपन, जुनून, दृढ़ निश्चय और कामयाब होने की प्रेरणा को लेकर बुनी गई कहानी है.

एमेजॉन प्राइम वीडियो पर 16 जुलाई से शुरू हो रहे ‘तूफान’ के वर्ल्ड प्रीमियर के साथ एक असाधारण और प्रेरक यात्रा पर निकलने के लिए तैयार हो जाइए.

 

Continue Reading

मनोरंजन

फाइव स्टार होटल में ड्रग्स के साथ जन्मदिन मना रही एक्ट्रेस गिरफ्तार

Published

on

By

मायानगरी मुंबई में एक बॉलीवुड अभिनेत्री को अपने जन्मदिन पर ड्रग्स के साथ पार्टी करना मंहगा पड़ गया. पार्टी जब अपने शबाब पर थी, तभी पुलिस को किसी ने खुफिया तौर पर ख़बर दे दी. जिसके आधार पर पुलिस की टीम ने देर रात होटल में छापा मारा और अभिनेत्री को उसके दोस्त के साथ गिरफ्तार कर लिया. अभिनेत्री की पहचान नाइरा नेहल शाह के रूप में हुई है.

मामला मुंबई के सांताक्रुज पुलिस थाना इलाके का है. जहां एक फाइव स्टार होटल में बॉलीवुड अभिनेत्री नेहल शाह अपना जन्मदिन मना रही थी. वो ड्रग्स के साथ पार्टी कर रही थी. पुलिस ने रविवार-सोमवार की दरम्यानी रात होटल में छापा मारकर इस मामले का खुलासा किया.

एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि बीती रात करीब 3 बजे एक फाइव स्टार होटल में रेड की गई. वहां बॉलीवुड में छोटे रोल करने वाली अभिनेत्री और उसके साथी को ड्रग्स का सेवन करते हुए रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया. सांताक्रुज पुलिस ने इस संबंध में NDPS एक्ट के तहत मामला दर्ज किया है.

सांताक्रुज पुलिस के वरिष्ठ अधिकरी ज्ञानेश्वर गनोरे को गुप्ता सूचना मिली थी कि एक बॉलीवुड अभिनेत्री पांच सितारा होटल में अपने दोस्तों के साथ पार्टी कर रही है. जिसमें ड्रग्स का इस्तेमाल किया जा रहा है.

इसी सूचना के आधार पर मुंबई पुलिस की टीम फाइव स्टार होटल में पहुंची और बॉलीवुड एक्ट्रेस की पार्टी में छापा मारा. जहां वो अपने साथियों के साथ अपना जन्मदिन मना रही थी.

पुलिस के मुताबिक अभिनेत्री नेहल शाह होटल के एक रूम में चरस का इस्तेमाल भी कर रही थी. पुलिस ने फौरन पार्टी में मौजूद अभिनेत्री नेहल और उसके दोस्त आशिक हुसैन को गिरफ्तार कर लिया. दोनों वहां पर चरस का इस्तेमाल कर रहे थे.

सोमवार को दिन में सांताक्रुज पुलिस ने दोनों को कोर्ट में पेश किया, जहां कोर्ट ने उन दोनों को जमानत पर रिहा कर दिया है. पुलिस मामले की छानबीन कर रही है. नाइरा नेहल शाह दो तेलगु फिल्मों में भी काम कर चुकी है.

 

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़19 hours ago

छत्तीसगढ़ में बाबा रामदेव के खिलाफ एफआईआर, जाने क्या है मामला

कोरोना महामारी के बीच योगगुरु बाबा रामदेव की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रही है. बाबा रामदेव के खिलाफ इस...

छत्तीसगढ़19 hours ago

सीएम भूपेश बघेल ने 18 जिलों को दी 5 हजार 220 करोड़ की सौगात

कोरोना की दूसरी लहर की रफ्तार धीमी पड़ने के साथ ही छत्तीसगढ़ में विकास-कार्यों में तेजी आ गई है। मुख्यमंत्री...

छत्तीसगढ़1 day ago

रायपुर : सिविल लाइंस थाने में बाबा रामदेव के खिलाफ मामला दर्ज

एलोपैथी मेडिसिन, डॉक्टरों और कोरोना वैक्सीन के बारे में पिछले दिनों लगातार बयान दे रहे बाबा रामदेव के खिलाफ रायपुर...

छत्तीसगढ़1 day ago

छत्तीसगढ़ : शाम होते ही ग्रामीण को करना पड़ रहा है जेल में बंद, जानिए क्या है वजह

कांकेर: छत्तीसगढ़ के वनांचल क्षेत्र में हाथियों का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है। आए दिन हाथी ग्रामीणों...

छत्तीसगढ़1 day ago

जानें क्‍या है वजह, जो बच्‍चा बूढ़ा, या जवान,जेल में कर द‍िया जाता है बंद

छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले के भानुप्रतापपुर से एक अनोखी तस्वीर निकलकर सामने आई है. यहां हाथियों से जान बचाने के...

#Exclusive खबरे

Calendar

June 2021
S M T W T F S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930  

निधन !!!

Advertisement

Trending