Connect with us

देश-दुनिया

रानू मंडल ने अपनी बेटी के साथ गया मोहम्मद रफी का गाना

Published

on

  • रेलवे प्लेटफॉर्म पर लता मंगेशकर का गाना गाने वाल रानू मंडल बॉलीवुड इंडस्ट्री में कदम रख चुकी हैं और इंटरनेट की नई सुपरस्टार बन गई हैं. उनके गानों को खूब पसंद किया जा रहा है. रानू मंडल हिमेश रेशमियाके साथ तीन गाने रिकॉर्ड कर चुकी हैं. रानू मंडल जहां जाती हैं वहां लोगों की भीड़ लग जाती है. सोशल मीडिया पर उनके दोनों वीडियो छाए हुए हैं. अब उन्होंने अपनी बेटी एलीजाबेथ साथी रॉय के साथ गाना गाया है. जो काफी वायरल हो रहा है. मां रानू मंडल की पॉपुलेरिटी को देखते हुए एलीजाबेथ ने भी सोशल मीडिया पर गाना गया है. जिमसें रानू मंडल उनके साथ गाना गा रही हैं. एलीजाबेथ मोहम्मद रफी का ‘आज-कल तेरे मेरे प्यार के चर्चे’ गाना गा रही हैं. रानू मंडल उनका साथ दे रही हैं.
  • रानू मंडल को पॉपुलेरिटी मिलने के बाद उनकी बेटी मिलने आई तो सोशल मीडिया पर लोगों ने सवाल खड़े कर दिए. ऐसी खबरें आईं कि रानू मंडल की बेटी ने सालों से उनसे मुलाकात नहीं की थी क्योंकि वो उनको बोझ समझती थीं. जिसके बाद एलीजाबेथ ने आकर इस खबर को पूरी तरह से गलत बताया था.
  • रानू मंडल ने हिमेश रेशमिया के साथ एक नहीं बल्कि तीन गाने रिकॉर्ड किए हैं. जिसमें ‘तेरी मेरी कहानी’, ‘आदत’ और ‘आशिकी में तेरी’ शामिल है. रानू मंडल के टैलेंट को देखते हुए उनके काफी फैंस भी बन गए हैं. उनके इस टैलेंट की तारीफ खुद लता मंगेशकरने भी की थी, लेकिन उन्होंने अपने इंटरव्यू में कहा था कि नकल सफलता का स्थायी साधन नहीं है. हालांकि, लता मंगेशकर ने यह बात रानू मंडल के साथ ही बाकी सिंगर्स के लिए भी कही थी, लेकिन लता मंगेशकर की इस सलाह ने रानू मंडल के फैंस को नाराज कर दिया था.

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

देश-दुनिया

अंधड़ और बारिश से परेशान होंगे किस जिले और प्रदेश के लोग जानें कैसा होगा आपके शहर का मौसम आज और कल

Published

on

weather forecast update: झारखंड (jharkhand rain) के कई हिस्सों में छह से आठ अप्रैल बारिश और गर्जन का पूर्वानुमान मौसम विभाग ने किया है. वहीं उत्तर भारत में बना पश्चिमी विक्षोभ आगे बढ़ते हुए जम्मू कश्मीर और लद्दाख को पार कर गया है. एक नया पश्चिमी विक्षोभ 5 अप्रैल को उत्तर भारत में दस्तक दे सकता है. आपको बता दें कि भारत (India) में ला नीना परिस्थितियों के कारण इस बार मानसून (Monsoon) के ‘‘सामान्य से अधिक’’ रहने की संभावना जतायी जा रही है. मानसून 31 मई को केरल में दस्तक दे सकता है. दिल्ली(delhi weather), बिहार(bihar weather), झारखंड(jharkhand weather), उत्तर प्रदेश(uttar pradesh weather) , पश्‍चिम बंगाल(west bengal weather) सहित अन्ये राज्यों के मौसम का हाल जानने के लिए बने रहें हमारे साथ…

मौसम विभाग ने दी चेतावनी, राजस्थान के इन जिलों में चलेगी अंधड़

राजस्थान के 7 जिलों में मौसम पलटने की आशंका जताई गयी है. मौसम विभाग ने अगले 48 घंटे में श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़, बीकानेर, चूरू, सीकर, अलवर और झुंझुनूं जिलों में अंधड़ चलने की चेतावनी दी है

कल 5 अप्रैल – जगहों पर मौसम रहेगा शुष्क लेकिन इन इलाकों में है बारिश के आसार

5 अप्रैल यानी कल पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और पश्चिमी उत्तर प्रदेश में मौसम मुख्यतः शुष्क और साफ रहेगा. हालांकि इस दौरान जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और लद्दाख में एक-दो स्थानों पर हल्की वर्षा हो सकती है.

कल इन जगहों पर हुई बारिश

कल सिक्किम, गंगीय पश्चिम बंगाल के भागों में भी छिटपुट बारिश हुई. उत्तर भारत में जम्मू कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में हल्की बारिश दर्ज की गई. दक्षिण में तेलंगाना के एक-दो स्थानों पर हल्की वर्षा हुई है

बर्फबारी का असर दिल्ली-एनसीआर में

पश्चिमी विक्षोभ और उत्तराखंड के चमोली में हुई बर्फबारी का असर दिल्ली-एनसीआर के मौसम पर भी नजर आ रहा है. यहां सुबह हल्की सर्दी का अहसास लोगों को होता है, लेकिन दोपहर में पारा बढ़ जाता है, जिससे गर्मी भी महसूस होती है.

छह से आठ तक हो सकती है कई जिलों में बारिश

झारखंड के कई हिस्सों में छह से आठ अप्रैल बारिश और गर्जन का पूर्वानुमान मौसम विभाग ने किया है. इसके अनुसार छह अप्रैल को राज्य के दक्षिणी हिस्सों (पूर्वी व पश्चिमी सिंहभूम, चाईबासा और सरायकेला) में बारिश हो सकती है. सात अप्रैल को इसका फैलाव राज्य के दक्षिणी के साथ-साथ मध्य (रांची, बोकारो, गुमला, हजारीबाग, खूंटी तथा रामगढ़) जिलों में हो सकता है. उत्तर-पश्चिमी जिलों (पलामू, गढ़वा, चतरा, कोडरमा, लातेहार और लोहरदगा) में भी इसके असर की उम्मीद है. आठ अप्रैल को मौसम में व्यापक बदलाव की चेतावनी दी गयी है. इसको लेकर मौसम विभाग ने येलो एलर्ट भी जारी किया है.

चार अप्रैल को यहां होगी हल्की बारिश

अगले 24 घंटों के दौरान उत्तर-पश्चिम, मध्य और पूर्वी भारत में दिन और रात के तापमान में वृद्धि होने के आसार हैं. वहीं तेलंगाना और विदर्भ के कुछ हिस्सों में हल्की बारिश होने और धूल भरी आंधी चलने की संभावना है. पूर्वोत्तर भारत की बात करें तो यहां हल्की से मध्यम बारिश जारी रहने के आसार हैं. पूर्वी असम और अरुणाचल प्रदेश में तेज़ बौछारें भी गिर सकती हैं.

Continue Reading

देश-दुनिया

पीएम के अपील पर बिजली मंत्रालय ने कहा, वोल्टेज में उतार-चढ़ाव और नुकसान की आशंका गलत

Published

on

बिजली मंत्रालय ने कहा है कि PM ने 5 अप्रैल को 9:00 बजे से 9:09 बजे के बीच स्वेच्छा से लाइट बंद करने की अपील की है। कुछ आशंकाएं व्यक्त की गई हैं कि इससे ग्रिड और वोल्टेज में उतार-चढ़ाव हो सकता है जो बिजली के उपकरणों को नुकसान पहुंचा सकता है,लेकिन ऐसा नही हैं, ऐसी आशंकाएं गलत हैं।

बता दें कि पीएम मोदी ने रविवार रात 9 बजें घर की सभी लाइटें बंद करके घर के दरवाजे, या बालकनी में एक दीपक, मोमबत्ती, टार्च या मोबाइल के फ्लैश लाइट जलाकर कोरोना के खिलाफ लड़ाई में एकजुटता का दिखाने का आहवान किया है।

पीएम ने इसके पीछे तर्क दिया है कि अक्सर लोग सोचते हैं कि हम कोरोना ​के खिलाफ जंग में अकेले हैं, या फिर हम अकेले ही घर में बंद हैं या फिर मेरे अकेले घर में रहने से क्या फर्क पड़ता है, पीएम ने कहा कि हम अकेले नहीं है हमारी शक्ति सामूहिकता है।

इस बात को लेकर कुछ लोगों द्वारा ऐसी आशंका व्यक्त की जा रही है कि ऐसा करने से पावर ग्रिडों पर प्रभाव पड़ेगा, वही विषय में कुछ लोगों का यह भी कहना है कि ऐसा कुछ नही होगा, पॉवर ​ग्रिड पर इसका कोई प्रभाव नही पड़ेगा, क्यों कि पीएम ने सिर्फ लाइट बंद करने की अपील की है, एसी, कूलर, फ्रिज, वाटरंपप, पंखे, टीवी जैसे कई उपकरण चालू रहेंगे। पॉवर ​ग्रिड पर उतार चढ़ाव की बात अफवाह है।

Continue Reading

देश-दुनिया

5 अप्रैल रात 9 बजे दीया-मोमबत्ती जलाने की अपील के पीछे क्या है विज्ञान?

Published

on

दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से निपटने के लिए कई देशों में लॉकडाउन घोषित किया गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी भारत में 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन की घोषणा की, जिसके बाद उनकी इस अपील पर पूरा देश इसका पालन कर रहा है। लोग अपने-अपने घरों में हैं और एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलने वाले कोरोना संक्रमण की इस चेन को तोड़ने में अपनी सहभागिता कर रहे हैं। तीन अप्रैल शुक्रवार की सुबह पीएम मोदी एक वीडियो संदेश के माध्यम से देशवासियों से मुखातिब हुए तो उन्होंने एक देशवासियों से एक और अपील की।

उन्होंने देशवासियों से इस रविवार यानी पांच अप्रैल की रात नौ बजे नौ मिनट के लिए घर की लाइटें बंद करने और दीया, मोमबत्ती या मोबाइल की फ्लैशलाइट जलाने की अपील की। इसके जरिए उन्होंने इस संकट की घड़ी में लोगों से एकजुटता दिखाने की अपील की है। पीएम मोदी के इस वीडियो संदेश के बाद से चर्चा होती रही कि ऐसा करने के पीछे आखिर क्या कारण है! क्या ताली-थाली अपील की ही तरह इसके पीछे भी कोई मेडिकल साइंस या वैज्ञानिक कारण हैं?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की दीया-मोमबत्ती अपील के पीछे वैज्ञानिक कारण हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, इस अपील का सीधा संबंध योग वशिष्ठ के छठे अध्याय से संबंधित है। पद्मश्री अवार्डी और इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष डॉ. केके अग्रवाल का कहना है कि इस पुस्तक का छठा अध्याय सामूहिक चेतना के सिद्धांत के बारे में बताता है। 95 फीसदी लोग वही करते हैं, जो पांच फीसदी लोग सोचते और करते हैं।

हमारे शरीर और सामूहिक चेतना के सिद्धांत के बारे में बात करते हुए वह कहते हैं कि जिस सिद्धांत को पुस्तक में रेखांकित किया गया है, उसमें शरीर के एसीई-2 रिसेप्टर्स को दुरुस्त करने की शक्ति है।अब सवाल है कि यह एसीई-2 रिसेप्टर क्या है!

एसीई-2 रिसेप्टर्स एक तरह का एंजाइम है, जो मानव शरीर के हृदय, फेफड़े, धमनियों, गुर्दे और आंत में कोशिका की सतह से जुड़ा होता है। यह रिसेप्टर गंभीर सांस संबंधी सिंड्रोम का कारण बनने वाले कोरोना वायरस के लिए कार्यात्मक और प्रभावी होता है।

एसीई-2 रिसेप्टर्स को निंयत्रित और दुरुस्त करने वाला हमारी सामूहिक चेतना का विज्ञान क्वांटम फिजिक्स की अवधारणाओं पर आधारित है। अगर हम सभी सामूहिक रूप से शरीर में कोरोना वायरस को नहीं रहने देने का निर्णय लेते हैं तो हमारी सामूहिक चेतना ऐसा सुनिश्चित करने में मदद करेगी।

कनाडा स्थित ब्रिटिश कोलंबिया विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं के मुताबिक कोशिका की झिल्ली पर मौजूद प्रोटीन एसीई-2 इस महामारी के केंद्र में है, क्योंकि यह कोरोना वायरस (सार्स-कोव-2) के ग्लाइकोप्रोटीन बढ़ाने के लिए प्रमुख रिसेप्टर यानी अभिग्राहक है। इससे पहले भी टोरंटो विश्वविद्यालय और ऑस्ट्रिया स्थित इंस्टीट्यूट ऑफ मॉल्युकूलर बायोलॉजी के शोधार्थियों ने भी यह पाया था कि मानव शरीर में एसीई-2 सार्स संक्रमण के मुख्य अभिग्राहक है। मालूम हो कि सार्स वायरस, सांस की बीमारी का कारण होता है और साल 2003 में इससे बड़ी संख्या में लोग प्रभावित हुए थे। वैज्ञानिक अपने शोध में एसीई-2 रिसेप्टर को लक्षित कर कोरोना का इलाज ढूंढने के लिए रिसर्च कर रहे हैं।

क्या कहता है ज्योतिषशास्त्र

प्रधानमंत्री की इस अपील का संबंध ज्योतिषशास्त्र से भी बताया जाता है। ज्योतिषी डॉ. जय मादन के मुताबिक ऐसा करने के लिए 9 बजे और 9 मिनट चुनने का कारण मंगल का दोहरा प्रभाव है। मंगल साहस, पराक्रम, एकजुटता और एकाग्रता का प्रतीक होता है। यह हमारी उच्च इच्छा शक्ति और शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है, जिससे हम बड़ी समस्याओं को मात दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि पांच अप्रैल को चंद्रमा सिंह राशि में रहेगा। सिंह, सूर्य का प्रतीक है, जिसका सीधा संबंध प्रकाश और शक्ति से है।

दीया और मंत्र प्रकाश और ध्वनि ऊर्जा का अद्भुत संयोजन हैं। उन्होंने कहा कि मेरा भी यही सुझाव है कि उस समय बिजली के उपकरण जलाकर इलेक्ट्रॉनिक ऊर्जा न पैदा की जाए, क्योंकि यह राहु का कारण बनेगा, इससे बचना चाहिए। पीएम मोदी ने भी अपनी अपील में दीया, मोमबत्ती जलाने के दौरान घर की लाइटें बंद करने की अपील की है।

अंक ज्योतिष से भी है संबंध

प्रधानमंत्री मोदी की इस अपील के पीछे अंक ज्योतिष का भी एक तर्क दिया जा रहा है। अंकशास्त्री नितिन गुप्ता के मुताबिक ऐसा माना जा रहा है कि इस वायरस का संक्रमण राहु के कारण हुआ। यह अभी बुध राशि में यात्रा कर रहा है। राहु का अंक चार है और बुध का अंक पांच है। पांच अप्रैल यानी चौथे महीने की पांचवीं तारीख, जो बुध और राहु के अंक का संयोजन है। यदि वर्ष (2020) की संख्या भी जोड़ें तो भी यह चार हो जाता है। इस हिसाब से यह बहुत ही शुभ संयोजन है।

विष्णु दमनोत्सव और मदन द्वादशी

धर्म-आध्यात्म और ज्योतिषशास्त्र के जानकार पंडित दयानंद पांडेय ने अमर उजाला से बातचीत में बताया कि पांच अप्रैल इसलिए भी खास है कि इस दिन विष्णु दमनोत्सव और मदन द्वादशी है। पुत्रशोक से बचाने के लिए इसका खास महत्व है। प्रधानमंत्री को अगर एक अभिभावक के तौर पर माना जाए तो करोड़ों देशवासी उनके पुत्र समान हुए, जिन्हें बचाने के लिए वह देशवासियों को एकजुट कर कोरोना को हराने का संकल्प ले चुके हैं।

इससे पहले 22 मार्च को पीएम मोदी की अपील पर देशवासियों ने डॉक्टरों, पुलिसकर्मियों, सफाईकर्मियों जैसे कोरोना वीरों के सम्मान में ताली, थाली और शंख बजाया था। कोरोना वायरस से बुरी तरह प्रभावित देश इटली में भी लोगों ने डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों के सम्मान में ताली बजाई थी, जिसकी सोशल मीडिया पर खूब सराहना हुई थी। वहीं, इसके बाद सोशल डिस्टेंसिंग से पैदा हो रहे अलगाव की भावना को हराने के लिए इटलीवासियों ने अपने घरों में खिड़कियों और बालकोनी में मोमबत्तियां और मोबाइल की फ्लैशलाइट भी जलाई और राष्ट्रगान भी गाया। लॉकडाउन के बीच ऐसी गतिविधियों से देशवासियों की एकजुटता दिखती है। पांच अप्रैल को रात नौ बजे भारतवासी भी इसी तरह एकजुटता की मिसाल पेश करेंगे।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़23 mins ago

आज शाम 4 बजे से रायपुर जिले में बन सकते हैं कर्फ्यू जैसे हालात

कोरोना वायरस को लेकर पूरे देश में लॉक डाउन कर दिया गया है। इसी बीच खबर आ रही है कि...

देश-दुनिया40 mins ago

5 अप्रैल रात 9 बजे दीया-मोमबत्ती जलाने की अपील के पीछे क्या है विज्ञान?

दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण से निपटने के लिए कई देशों में लॉकडाउन घोषित किया गया है। प्रधानमंत्री...

देश-दुनिया6 hours ago

पीएम के अपील को अधीर रंजन चौधरी ने मानने से किया इनकार कहा- भले ही मुझे राष्ट्र विरोधी कहा जाए

कोरोना वायरस से बचाव के लिए पूरा देश एकजुट होकर लड़ रहा है। पूरे देश में बचाव के लिए लॉक...

देश-दुनिया8 hours ago

कोरोना से जुड़ी हर जानकारी देने के लिए, दिल्ली सरकार ने जारी किया व्हाट्सएप्प नंबर

कोरोना बीमारी संबंधित जानकारी के अलावा सरकार की ओर से उठाएं गए राहत कार्यों की जानकारी अब आपको वाट्सऐप पर...

Etoi Exclusive19 hours ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 04/04/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive2 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 03/04/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive3 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 02/04/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Etoi Exclusive4 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 01/04/2020

  सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़...

Etoi Exclusive5 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 31/03/2020

  सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़...

Etoi Exclusive6 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 30/03/2020

सुधि पाठकों की ,,,,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये उसे छोड़ आगे...

Calendar

April 2020
M T W T F S S
« Mar    
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930  

निधन !!!

Advertisement

Trending