Connect with us

देश - दुनिया

जल्द मिलेगी राहत, 19 फीसदी तक सस्ते होंगे खाद्य तेल

Published

on

खाद्य तेल की बढ़ती कीमतों से परेशान लोगों को सरकार ने थोड़ी राहत दी है। सरकार ने पाम तेल सहित विभिन्न खाद्य तेलों के आयात शुल्क मूल्य में 112 डॉलर प्रति टन तक की कमी की है। विशेषज्ञों का कहना है कि इससे घरेलू बाजार में खाद्य तेल की कीमतें कम हो सकती हैं।

केंद्रीय अप्रत्यक्ष कर एवं सीमा शुल्क बोर्ड (सीबीआईसी) ने एक अधिसूचना जारी कर कच्चे पाम तेल के आयात शुल्क मूल्य में 86 डॉलर प्रति टन और आरबीडी (रिफाइंड, ब्लीच्ड एंड डियोडराइज्ड) एवं कच्चे पामोलिन के आयात शुल्क मूल्य में 112 डॉलर प्रति टन की कटौती की है।

20 फीसदी तक सस्ते होंगे खाद्य तेल

तेल              पुरानी कीमत       नई कीमत        कमी

पाम                   142                 115         19 फीसदी

सूरजमुखी           188                 157         16 फीसदी

सोया                  162                 138         15 फीसदी

सरसों                 175                  157        10 फीसदी

मूंगफली             190                  174         8 फीसदी

वनस्पति            154                  141         8 फीसदी

(कीमत रुपये प्रति लीटर में)

स्थायी निदान पर काम कर रही सरकार

सरकार खाद्य तेलों की कीमत घटाने के लिए स्थायी निदान पर काम कर रही है। सरकार ने कहा है कि खाद्य तेलों के मामले में भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए बड़े कदम उठाए जा रहे हैं। अभी जरूरत का 70 फीसदी से ज्यादा तेल आयात करना पड़ता है, जिस पर वैश्विक कीमतों का सीधा असर पड़ता है।

अगर घरेलू बाजार में तेल के दाम नीचे रखने हैं, तो तिलहन उत्पादन को लगातार बढ़ावा देना होगा। वहीं, अमेरिका और ब्राजील में सूखे की वजह से सोयाबीन की खेती पर काफी असर पड़ा है, जिससे आपूर्ति घटने के कारण कीमतें भी लगातार बढ़ रही हैं।

कम हो सकती हैं खाद्य तेल की कीमतें – विशेषज्ञ

बोर्ड ने कच्चे सोयाबीन तेल के आधार आयात मूल्य में भी 37 डॉलर प्रति टन कटौती की है। खाद्य तेल के आयात शुल्क मूल्य में यह कटौती 17 जून से प्रभाव में आ गई। कर विशेषज्ञों का कहना है कि शुल्क मूल्य में कटौती से घरेलू बाजार में खाद्य तेल की कीमतें कम हो सकती हैं क्योंकि मूल आयात मूल्य पर देय सीमा शुल्क कम में इससे कमी होगी।

एएमआरजी एंड एसोसिएट्स के वरिष्ठ पार्टनर रजत मोहन ने कहा कि खाद्य तेल तिलहन की घरेलू खपत और मांग के बीच देश में बड़ा फासला है जिसकी वजह से इनका बड़ी मात्रा में आयात किया जाता है। पिछले कुछ माह के दौरान इनके खुदरा मूल्य में तेजी आई है।

उन्होंने कहा कि आधारभूत आयात मूल्य में होने वाले इस बदलाव का खुदरा दाम पर असर पड़ सकता है बशर्ते कि विनिर्माता, वितरकों और खुदरा विक्रेताओं सहित पूरी आपूर्ति श्रृंखला से इस कटौती का लाभ उपभोक्ता तक पहुंचाया जाए।

देश में दो तिहाई मांग की आयात से होती है पूर्ति  

देश में खाद्य तेलों की दो तिहाई मांग की पूर्ति आयात से होती है। पिछले एक साल में खाद्य तेलों के दाम तेजी से बढ़े हैं। सालवेंट एक्ट्रक्टर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के मुताबिक (खाद्य और अखाद्य तेलों) सहित वनस्पति तेलों का कुल आयात नवंबर 2020 से लेकर मई 2021 के दौरान नौ फीसदी बढ़कर 76,77,998 टन तक पहुंच गया। जो कि इससे पिछले साल इसी अवधि में 70,61,749 टन रहा था। खाद्य तेलों के मामले में नवंबर से लेकर अक्तूबर तक का साल होता है।

 

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

देश - दुनिया

कल से खुलेंगे स्कूल, छात्रों के आने-जाने के लिए अलग गेट, जानें और क्या-क्या हैं नियम

Published

on

प्रदेश भर में 26 जुलाई यानी सोमवार से स्कूल खुलने से पहले कक्षाओं में सुरक्षा को लेकर तैयारियां कर ली गई है. क्लास में बच्चों की सुरक्षा के लिए सिर्फ 15 स्टूडेंट्स के बैठाने की व्यवस्था की गई है. स्कूल प्रबंधन ने बच्चों के प्रवेश के लिए एंट्री और जाने के लिए अलग से एग्जिट गेट की व्यवस्था की है. कक्षाओं में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ छात्र-छात्राओं को बैठाने की तैयारी की गई है एक क्लास में सिर्फ 15 स्टूडेंट्स को उठाने की अनुमति होगी.

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग के पालन के निर्देश दिए गए हैं. इसके लिए क्लासेस में डेस्क पर क्रॉस और टिक का निशान लगाया गया है. क्लास रूम में ही सैनेटाइजर की व्यवस्था होगी. स्कूल आने वाले छात्र-छात्राओं के लिए मास्क पहनना अनिवार्य रहेगा. छात्र-छात्राओं को संक्रमण के खतरे से सुरक्षित रखने के लिए आने और जाने के लिए एंट्री और एग्जिट गेट की भी अलग से व्यवस्था की गई है.

माता-पिता की लिखित अनुमति के बाद मिलेगा प्रवेश

स्कूल में आने और कक्षाओं में बैठने से पहले माता-पिता की लिखित अनुमति अनिवार्य होगी. 26 जुलाई को जब स्टूडेंट्स क्लासेस में पहुंचेंगे तो माता-पिता की लिखित अनुमति के साथ ही उन्हें प्रवेश दिया जाएगा. स्कूल प्रबंधन की तरफ से छात्र-छात्राओं को आई कार्ड भी दिए गए हैं, जिसे दिखाने के बाद ही स्कूल में बच्चों को प्रवेश दिया जाएगा.

टॉयलेट की विशेष सफाई के निर्देश

स्कूल शिक्षा विभाग ने टॉयलेट की विशेष सफाई के निर्देश दिए हैं. स्कूलों में हर एक घंटे में टॉयलेट को साफ किया जाएगा. छात्र-छात्राओं की सुरक्षा के लिए हर एक घंटे में स्कूल के सभी टॉयलेट की साफ-सफाई की जाएगी. छात्र-छात्राओं की क्लासेस लगने से पहले और क्लासेस के बाद कक्षाओं को सैनेटाइज किया जाएगा.

Continue Reading

देश - दुनिया

सोने की कीमत 2000 रुपये से ज्‍यादा घटी, चांदी हुई 5739 रुपये सस्‍ती

Published

on

दुनियाभर में गोल्‍ड को सबसे सुरक्षित निवेश विकल्‍प के तौर पर माना जाता है. लिहाजा, कोरोना संकट के बीच भी निवेशकों ने सोने में जमकर खरीदारी की. इससे कीमती पीली धातु के दामों को समर्थन मिला और इसने अगस्‍त 2020 में अपना ऑल-टाइम हाई छुआ. हालांकि, जैसे-जैसे कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई को धार मिलती गई, वैसे-वैसे सोने के दाम में उठापटक तेज हो गई. इसके बाद कोरोना की दूसरी लहर के दौरान सोने के दाम में एकबार फिर अस्‍थायी तेजी देखने को मिली. फिर वैक्‍सीनेशन में आई तेजी के चलते इसमें गिरावट का रुख देखने को मिला. नतीजतन, गोल्‍ड की कीमतें 1 जून 2021 के मुकाबले इस समय 2000 रुपये प्रति 10 ग्राम और चांदी 5,739 रुपये प्रति किग्रा सस्‍ती चल रही है.

गोल्‍ड की कीमत दिल्‍ली सर्राफा बाजार में 1 जून 2021 को 48,892 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुई थी. वहीं, चांदी 71,850 रुपये प्रति किग्रा पर पहुंचकर बंद हुई थी. इसके मुकाबले 23 जुलाई 2021 यानी बीते शुक्रवार को दिल्‍ली सर्राफा बाजार में सोने की कीमत 46,698 रुपये प्रति 10 ग्राम और चांदी के दाम 66,111 रुपये प्रति किग्रा पर बंद हुए. इस आधार पर देखें तो सोने के दाम बीते 2 महीने से भी कम वक्‍त में 2,194 रुपये प्रति 10 ग्राम लुढ़क गए हैं. वहीं, चांदी के दाम में 5,739 रुपये की गिरावट दर्ज की गई है. अब जानते हैं कि मौजूदा दाम पर निवेश करें तो इस साल के अंत तक आपको कितना मुनाफामिल सकता है.

लंबी अवधि में कितना मिल सकता है मुनाफा

बुलियन मार्केट के एक्‍सपर्ट्स का कहना है कि महंगाई के कारण अगले कुछ सप्‍ताह सोने के दाम में उठापटक जारी रहेगी. हालांकि, इसमें बहुत बड़ा उठाल तो नहीं आएगा. फिर भी अगस्‍त 2021 में इस कीमती धातु की कीमतों में तेजी का रुख देखने को मिल सकता है और ये 48,500 रुपये पर पहुंच सकती है. वहीं, लंबी अवधि के लिए निवेश की बात करें तो विशेषज्ञ पहले ही कह चुके हैं कि इस साल के आखिर तक सोने के दाम अपने पिछले सभी रिकॉर्ड को तोड़ते हुए 60,000 रुपये प्रति 10 ग्राम का स्‍तर छू सकते हैं. ऐसे में छोटी, मध्‍यम और लंबी तीनों अवधि में मौजूदा कीमतों पर सोने में किया गया निवेश बड़ा फायदा दिला सकता है.

गोल्‍ड हर साल दे रहा है शानदार रिटर्न

सोने ने साल 2020 के दौरान निवेशकों को 28 फीसदी रिटर्न दिया है. वहीं, 2019 में भी गोल्‍ड का रिटर्न करीब 25 फीसदी रहा था. अगर आप लॉन्ग टर्म के लिए निवेश कर रहे हैं तो सोना अभी भी निवेश के लिए बेहद सुरक्षित और अच्छा विकल्प है. आने वाले दिनों में सोने की कीमत में तेजी आ सकती है. ऐसे में अभी निवेश कर आप अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं. वहीं, चांदी में निवेश भी फायदे का सौदा साबित हो सकता है.

Continue Reading

देश - दुनिया

घूमने आए टूरिस्ट की गाड़ी पर गिरी चट्टानें, हादसे में 8 की मौत; 4 घायल

Published

on

हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले में रविवार शाम लैंडस्लाइट की चपेट में आने से 8 लोगों की मौत हो गई, जबकि चार गंभीर रूप से घायल हैं. ये हादसा बटसेरी के गुंसा के पास चट्टानें गिरने से हुआ, जिसने छितकुल से सांगला की ओर आ रही पर्यटकों की एक गाड़ी को अपनी चपेट में ले लिया. बताया जा रहा है कि टैंपो ट्रैवलर में सवार सभी यात्री देश के अलग-अलग हिस्सों से हिमाचल घूमने आए थे.

चट्टानों की चपेट में आकर बटसेरी पुल टूटा

घटना की सूचना मिलते ही पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए हैं और रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है. वहीं सभी घायलों को अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है. किन्नौर पुलिस के अधिकारियों ने बताया कि इस घटना में चट्टानों की चपेट में आने से बटसेरी पुल भी टूट गया है. वहीं आस पास बने कुछ मकान भी क्षति हुए हैं. इसके अलावा कुछ स्थानीय लोगों ने उनके सेब के बाग में भी नुकसान होने का जिक्र किया है.

गाड़ी में सवार थे 11 लोग, 8 की हुई मौत

पुलिस के अनुसार, एक टैंपो ट्रैवलर नंबर (HR 55 AC 9003) छितकुल से सांगला की ओर रहा था. इसी दौरान लैंडस्लाइट हो गई और बड़ी-बड़ी चट्टानें गाड़ी पर आ गिरीं. इस हादसे में ट्रैवलर के चालक समेत 11 लोग सवार थे. जिसमें से 8 की मौत हो गई. जबकि 3 लोग जख्मी हो गए. इसके अलावा सड़क पर चल रहा एक शख्स भी हादसे में घायल हुआ है. उसे भी गंभीर चोटें आई हैं. पुलिस होमगार्ड और आइटीबीपी के जवान मिलकर रेस्क्यू ऑपरेशन चला रहे हैं और सांगला पुलिस की क्यूआरटी की टीम शवों को निकालने में जुटी है.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़11 hours ago

राजधानी में फिर से‘ नशा पार्टी’, पुलिस ने दबिश देकर किया खुलासा

लॉकडाउन खुलते ही राजधानी में फिर से नशे की पार्टी हो रही है। शहर के दो कैफे में दबिश देकर...

छत्तीसगढ़1 day ago

छत्तीसगढ़ : नग्न हालत में मिली युवती की मृत लाश

बलरामपुर। जिले के वाड्रफनगर में हत्या की एक ऐसी वारदात हुई है जिससे पूरा इलाका दहल उठा है । आरोपी ने...

छत्तीसगढ़2 days ago

2 एसआई, 1 एएसआई सहित 13 पुलिसकर्मियों का तबादला

एक बार फिर थोक में पुलिसकर्मियों का तबादला किया गया है। 2 उपनिरीक्षक, 1 सहायक उपनिरीक्षक और 13 पुलिसकर्मियों का...

छत्तीसगढ़2 days ago

पुलिस ने कबाड़ियों के ठिकानों पर मारा छापा, 30 लाख से अधिक का कबाड़ जब्त

जिला पुलिस ने 20 काबाड़ियों के ठिकाने पर छापा मारा है। पुलिस ने दबिश देकर 30 लाख से अधिक का...

छत्तीसगढ़2 days ago

ट्रक ने 4 युवकों को कुचला, चारों की मौके पर ही मौत

कांकेर भानुप्रतापपुर मार्ग के देवरी गांव में अज्ञात ट्रक ने चार युवकों को कुचल दिया. हादसे में गंभीर रूप से...

#Exclusive खबरे

Calendar

July 2021
S M T W T F S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031

निधन !!!

Advertisement

Trending