Connect with us

देश-दुनिया

एसपी-बीएसपी गठबंधन और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर

Published

on

  • नईदिल्ली 18 मई 2019
  • लोकसभा चुनाव 2019 का जंग आखिरी दौर में पहुंच गया है. एक बार फिर से सभी की निगाहें उत्तर प्रदेश पर टिकी हैं. यहां रविवार को 13 सीटों पर वोटिंग होनी है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की वाराणसी से जीत लगभग पक्की दिख रही है, लेकिन बाक़ी सीटों पर यहां एसपी-बीएसपी गठबंधन और बीजेपी के बीच कांटे की टक्कर हो सकती है. इसके अलावा यहां से कांग्रेस ने भी अगड़ी जाति के उम्मीदवारों को मैदान में उतार कर मुकाबले को और भी दिलचस्प बना दिया है.
  • चुनाव का आखिरी दौर बीजेपी के लिए सत्ता में बने रहने के लिए बेहद अहम है. 19 मई को जिन 13 सीटों पर वोटिंग होगी उन सभी पर बीजेपी को साल 2014 में जीत मिली थी. पूर्वी उत्तर प्रदेश में 12 मई को 14 सीटों पर वोटिंग हुई थी. पिछली बार यानी 2014 में बीजेपी को इन 14 में से 12 सीटों पर जीत मिली थी, लेकिन इस बार एसपी-बीएसपी-आरएलडी गठबंधन से बीजेपी को जोरदार टक्टर मिल रही है.
  • आखिरी दौर में यहां वाराणसी के अलावा हर किसी की निगाहें गोरखपुर, चंदौली और गाजीपुर की सीटों पर टिकी रहेंगी. गोरखपुर योगी आदित्यनाथ का गढ़ रहा है, लेकिन इस बार यहां से बीजेपी ने अभिनेता रवि किशन को मैदान में उतारा है. चंदौली से बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष महेंद्र नाथ पांडे मौजूदा सांसद हैं. जबकि गाज़ीपुर की सीट पर फिलहाल केंद्रीय मंत्री मनोज सिन्हा का कब्जा है.
  • इसके अलावा आखिरी दौर में महराजगंज, कुशीनगर, देवरिया, सलेमपुर, मिर्जापुर, बासेगांव और रॉबर्ट्सगंज में भी वोट डाले जाएंगे. बासेगांव और रॉबट्सगंज ये दो सीटें आरक्षित हैं. मिर्जापुर से केंद्रीय मंत्री और अपना दल की उम्मीदवार अनुप्रिया पटेल मैदान में हैं.
  • मौजूदा राजनीतिक समीकरण और पिछले नतीजों की समीक्षा की जाए तो इस बार बीजेपी के लिए रास्ते आसान नहीं हैं. पिछले चुनाव में इन इलाकों में मोदी की लहर चली थी. इस बार बीजेपी की नज़र जातिगत समीकरण और यहां केंद्र और राज्य सरकार द्वारा किए गए विकास कामों पर भी है.
  • इन क्षेत्रों में एसपी-बीएसपी गठबंधन की नजर भी जतिगत समीकरण पर है. बीजेपी को उम्मीद है कि अपर कास्ट के वोट तो उन्हें मिलेंगे ही साथ ही उनकी निगाहें गैर-यादव ओबीसी और गैर जाटव दलित वोटों पर भी है. ये वो इलाका है जहां अति पिछड़ा वर्ग और कई गैर जाटव दलित वोट काफी अहम है. ये दोनों किसी की भी जीत में अहम रोल निभा सकते हैं.
  • साल 2014 के लोकसभा चुनाव और 2017 के विधानसभा चुनाव में ज़्यादातर ओबीसी और दलित ने बीजेपी को वोट दिया था. मसलन निशाद और राजभर बीजेपी के साथ थे. लेकिन सवाल उठता है कि क्या इस बार ये लोग बीजेपी को वोट देंगे या फिर गठबंधन को.
  • साल 2014 के लोकसभा चुनाव और 2017 के विधानसभा चुनाव में ज़्यादातर ओबीसी और दलित ने बीजेपी को वोट दिया था. मसलन निशाद और राजभर बीजेपी के साथ थे. लेकिन सवाल उठता है कि क्या इस बार ये लोग बीजेपी को वोट देंगे या फिर गठबंधन को.
  • बनारस में पीएम मोदी की जीत पक्की लग रही है. बस ये हो सकता है कि इस बार उनके वोट शेयर में थोड़ी कमी आ जाए. साल 2014 में मोदी को 56.37 फीसदी वोट मिले थे. जबकि दूसरे नंबर पर रहने वाले अरविंद केजरीवाल के खाते में सिर्फ 20.30 फीसदी वोट आए थे. कांग्रेस के अजय राय को सिर्फ 7.34 फीसदी लोगों ने वोट दिया था.

Disclaimer:

हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS

अन्य खबरे

19 सितंबर से बांग्लादेश और भारत की अंडर-23 क्रिकेट टीमों के बीच वनडे मैच खेला जाएगा

Published

on

By

राजधानी रायपुर के शहीद वीर नारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में 19 सितंबर से बांग्लादेश और भारत की अंडर-23 क्रिकेट टीमों के बीच वनडे मैच खेला जाएगा। सीरीज में कुल पांच वनडे मैच खेले जाएंगे। सभी मैच रायपुर में ही 19, 21, 23, 25 और 27 सितंबर को खेले जाएंगे। भारतीय टीम की कप्तानी प्रियम गर्ग करेंगे। अखिल भारतीय जूनियर चयन समिति के चेयरमैन आशीष कपूर ने मंगलवार को सीरीज के लिए भारतीय टीम की घोषणा की। टीम में छत्तीसगढ़ के किसी भी खिलाड़ी को जगह नहीं मिल सकी है।
प्रियम गर्ग (कप्तान), यशस्वी जायसवाल, माधव कौशिक, बीआर शरत (विकेटकीपर), समर्थ व्यास, आर्यन जुयाल (विकेटकीपर), ऋतिक रॉय चौधरी, कुमार सूरज, अतीत सेठ, शुभांग हेगड़े, रितिक शौकीन, धरुशंत सोनी, अर्शदीप सिंह, कार्तिक त्यागी, हरप्रीत बरार,

SHARE THIS
Continue Reading

देश-दुनिया

योगी सरकार में मंत्रिमंडल का विस्तार इन्हें मिल सकता है प्रमोशन

Published

on

By

  • उत्तरप्रदेश 21 अगस्त 2019
  • योगी सरकार का पहला मंत्रिमंडल विस्तार आज यानी बुधवार को 11 बजे लखनऊ के राजभवन में होगा. मिली जानकारी के अनुसार इस मंत्रिमंडल विस्तार में 17 नए चेहरे शामिल होंगे, जबकि करीब पांच स्वतंत्र प्रभार वाले मंत्रियों का प्रमोशन होगा. इसके अलावा दो राज्य मंत्रियों को स्वतंत्र प्रभार मिल सकता है. यानी योगी कैबिनेट में कुल 23 से 24 मंत्री आज शपथ ले सकते हैं. नए मंत्रियों की लिस्ट राजभवन भेजी जा चुकी है. इतना ही नहीं करीब 10 मंत्रियों के विभाग भी बदले जाएंगे, जिनमें डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य का नाम भी शामिल है.

इन्हें मिलेगा मौका

  • आज लेने वाले संभावित मंत्रियों की लिस्ट में श्रीराम चौहान, नीलिमा कटियार, आनंद शुक्ला, अशोक कटियार, सतीश चंद्र द्विवेदी, चन्द्रिका उपाध्याय, जीएस धर्मेश, महेश चंद्र गुप्ता, विजय कश्यप, विनय शाक्य, रामनरेश अग्निहोत्री, चौधरी उदयभान, दलबहादुर कोरी, कपिल देव अग्रवाल, राम शंकर पटेल और रवीन्द्र जायसवाल और अपना दल के आशीष पटेल का नाम शामिल है.

इन्हें योगी सरकार में मंत्रिमंडल का विस्तार इन्हें मिल सकता है प्रमोशन

  • इसके अलावा करीब चार स्वतंत्र प्रभार मंत्रियों को कैबिनेट मंत्री बनाया जाएगा. इनमें प्रमुख नाम ग्राम्य विकास मंत्री डॉ महेंद्र सिंह, पंचायती राज मंत्री चौदरी भूपेंद्र सिंह, गन्ना विकास मंत्री सुरेश राणा, होमगार्ड व पिछड़ा कल्याण मंत्री अनिर राजभर और परती व भूमि विकास मंत्री उपेंद्र तिवारी का नाम शामिल है. इसके अलावा सूचना राज्यमंत्री नीलकंठ तिवारी और नगर विकास राज्यमंत्री गिरीश यादव को स्वतंत्र प्रभार मिल सकता है. इन सभी को उनके बेहतर प्रदर्शन की वजह से प्रमोशन मिलेगा.

10 मंत्रियों के बदले जा सकते हैं विभाग

  • यही नहीं करीब 10 मंत्रियों के विभाग को बदले जाने की सूचना है. इनमें स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह समेत कई मंत्रियों के विभाग बदले जा सकते हैं. इसके अलावा ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा केशव प्रसाद मौर्य , सुरेश राणा सतीश महाना समेत अन्य मंत्रियों के विभाग में भी फेरबदल संभव है.

विस्तार से पहले इनका हुआ इस्तीफा

  • हालांकि योगी सरकार के मंत्रिमंडल विस्तार से पहले कई मंत्रियों ने इस्तीफा भी दे दिया. वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने उम्र का हवाला देते हुए इस्तीफा दिया तो वहीं बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल को ख़राब प्रदर्शन की वजह से इस्तीफा देना पड़ा. इन दोनों के अलावा खनन मंत्री अर्चना पांडेय और सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह को भी इस्तीफा देना पड़ा है. इससे पहले परिवहन राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) स्वतंत्र देव सिंह प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं. सभी का इस्तीफा मुख्यमंत्री ने स्वीकार कर लिया है.

SHARE THIS
Continue Reading

देश-दुनिया

कश्मीर मुद्दे पर ट्रंप ने फिर मध्यस्थता की पेशकश की कहा वह खदु पीएम मोदी से बात करेंगे

Published

on

By

  • वाशिंगटन 21 अगस्त 2019
  • अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत और पाकिस्तान के बीच लंबे समय से टकराव का मुद्दा रहे कश्मीर की ‘विस्फोटक’ स्थिति पर एक बार फिर मध्यस्थता की पेशकश की है. डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के समक्ष सप्ताहांत में यह मुद्दा उठायेंगे. अमेरिका ने पीएम नरेंद्र मोदी से कश्मीर में तनाव कम करने के लिये कदम उठाने का अनुरोध किया था. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा, “कश्मीर बेहद जटिल जगह है. यहां हिंदू हैं और मुसलमान भी और मैं नहीं कहूंगा कि उनके बीच काफी मेलजोल है.” उन्होंने कहा, “मध्यस्थता के लिये जो भी बेहतर हो सकेगा, मैं वो करूंगा.”
  • इससे पहले अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान से फोन पर बातचीत की था और उन्हें कश्मीर पर भारत के खिलाफ बयानबाजी में एहतियात बरतने को कहा . ट्रम्प ने साथ ही स्थिति को मुश्किल बताया और दोनों पक्षों से संयम बरतने को कहा था. ट्रंप ने, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से सोमवार को फोन पर करीब 30 मिनट बात करने के बाद खान से बात की थी. मोदी ने बातचीत के दौरान पाकिस्तानी नेताओं द्वारा भारत विरोधी हिंसा के लिए उग्र बयानबाजी और उकसावे का मुद्दा उठाया था. व्हाइट हाउस के अनुसार, ट्रम्प ने खान से जम्मू-कश्मीर मामले पर भारत के खिलाफ बयानबाजी में संयम बरतने और तनाव कम करने को लेकर चर्चा की.
  • कश्मीर मुद्दे को लेकर भारत के खिलाफ अपनी मुहिम जारी रखते हुए खान ने रविवार को भारत सरकार को ‘फासीवादी’ और ‘श्रेष्ठतावादी’ करार दिया था तथा कहा था कि यह पाकिस्तान और भारत में अल्पसंख्यकों के लिए खतरा है. उन्होंने यह भी कहा था कि दुनिया को भारत के परमाणु आयुध की सुरक्षा पर भी गौर करना चाहिए क्योंकि यह न केवल क्षेत्र, बल्कि विश्व पर असर डालेगा. व्हाइट हाउस ने कहा कि खान के साथ बातचीत के दौरान, ट्रम्प ने दोनों पक्षों से तनाव बढ़ने से बचने और संयम बरतने की आवश्यकता पर जोर दिया. इसने कहा कि दोनों नेताओं ने अमेरिका-पाकिस्तान आर्थिक एवं व्यापार सहयोग बढ़ाने की दिशा में काम करने पर भी सहमति जतायी थी.
  • डोनाल्ड ट्रंप ने बीते दिनों पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के साथ व्हाइट हाउस में बैठक के दौरान कश्मीर मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच ‘मध्यस्थ’ बनने की पेशकश की थी. हालांकि भारत ने सीधे तौर पर ट्रंप की इस पेशकश को खारिज कर दिया था.

SHARE THIS
Continue Reading

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़6 mins ago

श्री कृष्ण जन्माष्टमी… 30 फीट की सबसे ऊंची मटकी, इस बार ‘सीएम होंगे शामिल’ 

            श्री कृष्ण जन्माष्टमी… 30 फीट की सबसे ऊंची मटकी, इस बार ‘सीएम होंगे शामिल’ ...

Etoi Exclusive14 mins ago

कमरछठ एक छत्तीसगढ़िया त्यौहार

कमरछठ एक छत्तीसगढ़िया त्यौहार आज छत्तीसगढ़ का स्थानीय त्यौहार कमरछठ बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस त्यौहार...

छत्तीसगढ़28 mins ago

आंगनबाडी कार्यकर्ताओ की सेवा समाप्त

                  आंगनबाडी कार्यकर्ताओ की सेवा समाप्त Click Here To Read Astrological Articles...

छत्तीसगढ़49 mins ago

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका के 18 पदों के लिए 30 तक आवेदन

         आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं सहायिका के 18 पदों के लिए 30 तक आवेदन Click Here To Read...

छत्तीसगढ़1 hour ago

मंत्रालय के जीएडी सहित कई विभागों के अफसरों का तबादला, देखिये सूची…

                  मंत्रालय के जीएडी सहित कई विभागों के अफसरों का तबादला, देखिये...

Advertisement

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive22 hours ago

मोहन भागवत के आरक्षण मुद्दे पर किये ट्वीट से मचा बवाल ! जाने आरक्षण आखिर चीज क्या है ?

मोहन भगवत ने ट्विटर पर जारी बयान में कहा कि समाज में सदभावना पूर्वक परस्पर बातचीत के आधार पर सब...

Etoi Exclusive2 days ago

राजीव की काँग्रेस आखिर हांफ क्यों रही है ?

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer गाँधी,नेहरू,शास्त्री, इंदिरा ,राजीव,नरसिंहा राव जैसे दिग्गजों की बिरसा पार्टी  हांफ क्यों...

Etoi Exclusive2 days ago

क्या प्रदेश के मुखिया के सोच के अनुरूप नरवा,गरवा,घुरुआ,बारी पर अमल हो रहा है ?

नरवा,गरवा,घुरुआ,बारी, पर सरकारी अमला ठीक चल रहा है ? या फिर  छत्तीसगढ़ की  इस ब्रांड और ग्रैंड योजना के अमल...

Etoi Exclusive1 week ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें सुबह की सुर्खियाँ 12/08/2019

  Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer     दिनांक 12/08/2019 का पंचांग एवं राशिफल श्रावण सोम...

Etoi Exclusive2 weeks ago

नेशनल कॉन्फ्रेंस ने अनुच्छेद 370 को खत्म करने के मोदी सरकार के फैसले को सुप्रीम कोर्ट में दी चुनौती

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 हटाए जाने के केंद्र सरकार के फैसले...

Advertisement
August 2019
M T W T F S S
« Jul    
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293031  
Advertisement

निधन !!!

Advertisement

Trending