Connect with us

राजनीति

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के इस्तीफे की पेशकश क्यों की गई ख़ारिज

Published

on

 

  • लोकसभा चुनाव में देश भर में करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस्तीफे की पेशकश की है, लेकिन पार्टी की कार्यसमिति ने उनकी पेशकश को खारिज कर दिया है। बैठक खत्म होने के बाद कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने अन्य नेताओं के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि राहुल की पेशकश को सर्वसम्मति से नामंजूर कर दिया गया। कार्यसमिति ने राहुल गांधी को यह कहते हुए पार्टी के संरचनात्मक ढांचे में आमूल-चूल परिवर्तन के लिए अधिकृत किया है कि पार्टी को प्रतिकूल परिस्थितियों में आपके नेतृत्व की जरूरत है। सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस 2019 के जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करती है और वह एक जिम्मेदार और सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी। लोकसभा चुनाव में देश भर में करारी हार की जिम्मेदारी लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इस्तीफे की पेशकश की है,लेकिन पार्टी की कार्यसमिति ने उनकी पेशकश को खारिज कर दिया है। बैठक खत्म होने के बाद कांग्रेस के मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने अन्य नेताओं के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि राहुल की पेशकश को सर्वसम्मति से नामंजूर कर दिया गया।
  • कार्यसमिति ने राहुल गांधी को यह कहते हुए पार्टी के संरचनात्मक ढांचे में आमूल-चूल परिवर्तन के लिए अधिकृत किया है कि पार्टी को प्रतिकूल परिस्थितियों में आपके नेतृत्व की जरूरत है। सुरजेवाला ने कहा कि कांग्रेस 2019 के जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करती है और वह एक जिम्मेदार और सकारात्मक विपक्ष की भूमिका निभाएगी। प्रतिकूल व चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में राहुल गांधी के नेतृत्व की जरूरत’राहुल के इस्तीफे की पेशकश को नामंजूर करते हुए प्रस्ताव में कहा गया है, ‘कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस कार्यसमिति के सम्मुख अध्यक्ष पद से अपने इस्तीफे की पेशकश की, मगर कार्यसमिति के सदस्यों ने सर्वसम्मति व एक स्वर से इसे खारिज करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष को आह्वान किया कि प्रतिकूल व चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में पार्टी को राहुल गांधी के नेतृत्व व मार्गदर्शन की आवश्यकता है। कांग्रेस कार्यसमिति ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को देश के युवाओं, किसानों, महिलाओं, अनुसूचित जाति/जनजाति/पिछड़ों, गरीबों, शोषितों व वंचितों की समस्याओं के लिए आगे बढ़कर जूझने का आग्रह किया।’
  • ‘नफरत और विभाजनकारी ताकतों से लोहा लेने के लिए सदैव प्रतिबद्ध’ प्रस्ताव में कहा गया है, ‘कांग्रेस कार्यसमिति उन चुनौतियों, विफलताओं और कमियों को स्वीकार करती है, जिनकी वजह से ऐसा जनादेश आया। कांग्रेस कार्यसमिति पार्टी के हर स्तर पर संपूर्ण आत्मचिंतन के साथ साथ कांग्रेस अध्यक्ष को अधिकृत करती है कि वो पार्टी के संगठनात्मक ढांचे में आमूलचूल परिवर्तन एवं विस्तृत पुर्नसंरचना करें। इसके लिए योजना जल्द से जल्द लागू की जाए। कांग्रेस पार्टी ने चुनाव हारा है, लेकिन हमारा अदम्य साहस, हमारी संघर्ष की भावना और हमारे सिद्धांतों के प्रति हमारी प्रतिबद्धता पहले से ज्यादा मजबूत है। कांग्रेस पार्टी नफरत और विभाजन की ताकतों से लोहा लेने के लिए सदैव कटिबद्ध है।’
  • सभी कार्यकर्ताओं का आभारप्रस्ताव में आगे कहा गया है, ‘कांग्रेस कार्यसमिति कांग्रेस अध्यक्ष, पार्टी के पदाधिकारियों व नेताओं, पार्टी कार्यकर्ताओं और कांग्रेस प्रत्याशियों के प्रति आभार व्यक्त करती है, जिन्होंने चुनावी अभियान की चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में कड़ा संघर्ष करते हुए दिन-रात जमीनी मेहनत की। कांग्रेस कार्यसमिति हमारे सभी सहयोग दलों व उनके नेतृत्व को धन्यवाद देती है, जिन्होंने इस सैद्धांतिक लड़ाई में कांग्रेस पार्टी का साथ दिया।’ मनमोहन ने राहुल को समझाया, लगी रहती है हार-जीत कार्यसमिति की बैठक में राहुल गांधी ने कहा कि चुनावी हार मेरे लिए जिम्मेदारी और जवाबदेही की बात है, इसलिए मैं इस्तीफा दूंगा। राहुल गांधी को प्रियंका गांधी, सोनिया गांधी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह ने मनाने की कोशिश की वह इस्तीफे की पेशकश न करें, इसके जवाब में राहुल ने कहा कि मैं इस हार के लिए जिम्मेदार हूं।
  • सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी को समझाते हुए मनमोहन सिंह ने कहा कि आप इस्तीफे की बात न करें। उन्होंने कहा कि हार-जीत तो लगी रहती है, लेकिन पार्टी के नेतृत्व के लिए आपके अलावा कोई दूसरा विकल्प नहीं है। यही नहीं राहुल गांधी को समझाते हुए मनमोहन सिंह ने कहा कि इंदिरा गांधी और संजय गांधी भी हार गए थे, लेकिन एक बार फिर से पार्टी ने वापसी की। राहुल के ऑफिस की टीम पर सवाल सूत्रों के मुताबिक कार्यसमिति की मीटिंग में राहुल गांधी की टीम को लेकर भी सवाल उठाए गए। सीनियर नेताओं ने कहा कि यदि आप नए लोगों को रखना चाहते हैं तो रखें, लेकिन अपनी टीम में सियासी लोगों को रखिए। कहा गया कि राहुल गांधी के दफ्तर के लोग फैसले लेते हैं, लेकिन उन्हें राजनीतिक समझ नहीं है। तमाम दिग्गज नेता थे मौजूद, कमलनाथ रहे गायब कार्यसमिति की मीटिंग में सोनिया गांधी, पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, महासचिव गुलाम नबी आजाद, कैप्टन अमरिंदर सिंह, एम सिद्धारमैया, अशोक गहलोत, शीला दीक्षित समेत तमाम नेता मौजूद थे।
  • हालांकि इस मीटिंग में मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ मौजूद नहीं रहे। उनके अलावा राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत, पंजाब के सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह मौजूद रहे। पुदुचेरी के सीएम नारायणसामी भी मौजूद थे।नतीजों वाले दिन भी राहुल ने ली थी जिम्मेदारी बता दें कि नतीजों वाले दिन भी राहुल गांधी ने देश भर में पार्टी के खराब प्रदर्शन को लेकर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा था कि इसकी शत-प्रतिशत जिम्मेदारी मेरी है। इस बीच, मुंबई कांग्रेस के नेता संजय निरुपम राहुल के बचाव में सामने आए हैं। उन्होंने कहा है कि राहुल को इस्तीफा नहीं देना चाहिए। नेताओं की राय, मोदी पर ज्यादा हमले से हुआ नुकसान पार्टी में भले ही अभी खुलकर कोई कुछ नहीं बोल रहा है, लेकिन अंदरखाने यह राय चल रही है कि मोदी के खिलाफ ज्यादा हमले करने का नुकसान हुआ। खासतौर पर ‘चौकीदार चोर है’ जैसे नकारात्मक प्रचार ने पार्टी को चोट पहुंचाई।

Disclaimer:

हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS

राजनीति

एक्ट्रेस से सांसद बनीं नुसरत शादी में ब‍िजी नहीं पहुंचीं संसद

Published

on

सोशल मीड‍िया पर नुसरत जहां से फैंस काफी नाराज नजर आ रहे हैं. इस नाराजगी की वजह है एक्ट्रेस का शादी की वजह से संसद में सांसद पद की शपथ ग्रहण करने नहीं पहुंचना.एक्ट्रेस से सांसद बनीं नुसरत जहां ने कोलकाता के ब‍िजनेसमैन न‍िख‍िल जैन संग 19 जून को टर्की के बोडरम स‍िटी में शादी रचा ली.  यूजर्स ने नुसरत की शादी तस्वीरों पर कमेंट करते हुए ल‍िखा कि आपके पास शादी और र‍िसेप्शन का समय है लेकिन संसद में बतौर सांसद शपथ लेने का समय नहीं मिला. 

  •  नुसरत ने शादी की चुन‍िंदा तस्वीरें सोशल मीड‍िया पर शेयर की हैं. लेकिन नुसरत की शादी  की तस्वीरें सामने आने के बाद उन्हें बधाई मिलने के साथ ट्रोल भी किया जा रहा है.
  • एक यूजर ने ल‍िखा, जब आपको संसद सत्र के बारे में पता था, फिर तो शादी की तारीख को आगे बढ़ाया जा सकता था. ये हैं कोलकाता की सांसद. जो शादी में व्यस्त हैं. आप कैसे ज‍िम्मेदारी न‍िभा सकती हैं.
  •  एक इंटरव्यू में बताया था क‍ि मैं फिल्मी करियर को ब्रेक देने नहीं जा रही हूं. मैं अब शायद एक बार में एक प्रोजेक्ट पर फोकस करूंगी और साल में एक ही फिल्म पर काम करूंगी. मुझे अपने क्षेत्र के लोगों का काम भी करना है, ऐसे में अब मैं क्वालिटी फिल्मों पर ही फोकस करूंगी.

Disclaimer:

हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS
Continue Reading

छत्तीसगढ़

प्रदेश की आर्थिक स्थिति को लेकर रमन सिंह जी का बयान गैरजिम्मेदाराना

Published

on

By

रमन सिंह जी कर रहे आर्थिक स्थिति को लेकर गैर जिम्मेदाराना बयानबाजी,स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशो को कांग्रेस सरकार ने लागू किया, इसे स्वीकार नहीं करना किसान विरोधी, धान विरोधी, और छत्तीसगढ़ विरोधी मानसिकता

  • रायपुर/24 जून 2019 प्रदेश की आर्थिक स्थिति को लेकर दिए गए पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह जी के बयान पर पलटवार करते हुए प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि रमन सिंह जी ने जीतने गैर जिम्मेदारी से मुख्यमंत्री के साथ-साथ वित्त मंत्री रहते हुए प्रदेश का वित्तीय प्रबंधन किया अब उतनी ही गैर जिम्मेदारी से वे आर्थिक मामलों पद को लेकर बयानबाजी कर रहे हैं। रमन सिंह जी की सरकार ने सरकारी खजाने से घटिया क्वालिटी के मोबाइल खरीदे और बांटे लेकिन उनका भुगतान नहीं किया। अनेक स्थानों से मोबाइल गर्म होने मोबाइल फटने मोबाइल डिस्चार्ज होने और रिचार्ज की समस्याओं की शिकायतें आती रही। सरकार जाने के पूर्व आखिरी क्षणों में चुनावी फायदे के लिए रमन सिंह जी ने शिक्षाकर्मियों के आंशिक संविलियन की घोषणा तो की लेकिन इसके लिए वित्तीय प्रावधान नहीं किए जो अब कांग्रेस की भूपेश बघेल जी की सरकार को करना पड़ रहा है। मुख्यमंत्री जी के एक और विभाग जनसंपर्क विभाग में रमन सिंह जी के कार्यकाल में हुआ घोटाला तो सर्वविदित है। 450 करोड़ रुपए के विज्ञापन जारी कर दिए गए, लेकिन इन विज्ञापनों का कहां से भुगतान किया जाएगा इसके लिये रमन सिंह सरकार ने कोई प्रावधान नहीं किया। इतनी गैर जिम्मेदारी से बेहद महत्वपूर्ण वित्त विभाग और जनसंपर्क विभाग चलाने वाले रमन सिंह जी अब उतनी ही गैर जिम्मेदारी से प्रदेश की आर्थिक स्थिति को लेकर बयानबाजी कर रहे हैं।
  • प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि जब रमन सिंह जी ने सत्ता संभाली थी तब प्रदेश के ऊपर कोई कर्ज नहीं था लेकिन रमन सिंह जी ने समृद्ध छत्तीसगढ़ को कर्ज के बोझ में लाद दिया। अब जब भूपेश बघेल जी की सरकार रमन सिंह जी के द्वारा ना किए गए वित्तीय प्रावधानों के लिये धनराशि की व्यवस्था करने में लगी है और साथ ही साथ किसानों का 10,000 करोड़ का कर्ज माफ किया है तब रमन सिंह जी प्रदेश की आर्थिक स्थिति पर गैर जिम्मेदाराना बयानबाजी कर रहे हैं।
  • प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री शैलेश नितिन त्रिवेदी ने कहा है कि भाजपा ने अपने घोषणा पत्र में स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशों के अनुरूप फसलों का समर्थन मूल्य तय करने की बात कही थी। भाजपा की केंद्र सरकार के कृषि लागत एवं समर्थन मूल्य आयोग ने धान की लागत प्रति क्विंटल 1600 रुपए निकाली जो जानकारी वेबसाइट पर भी उपलब्ध है। इस पर 50 प्रतिशत मूल्य जोड़ने पर और डीजल रासायनिक खाद जैसे कृषि आदानों के मूल्य में वृद्धि को जोड़ने पर 2500रू. प्रति क्विंटल धान का खरीदी मूल्य होना चाहिये जो भूपेश बघेल जी की सरकार किसानों को दे रही है। किसानों को प्रति क्विंटल 750 रू. समर्थन मूल्य से अधिक देकर स्वामीनाथन कमेटी की सिफारिशो को सही अर्थो में लागू करने का छत्तीसगढ़ सरकार के किसान हितकारी को स्वीकार करने के बजाय रमन सिंह जी राज्य की आर्थिक स्थिति पर तंज कसकर अपनी संकुचित मानसिकता को उजागर कर रहे हैं। भाजपा और रमन सिंह जी का यह बयान किसान विरोधी धान विरोधी और छत्तीसगढ़ विरोधी मानसिकता का जीता जागता सबूत है
Disclaimer:
हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS
Continue Reading

छत्तीसगढ़

जमीन वापस मिलने से  निश्चित होकर खेती में जुटा मासो

Published

on

By

रायपुर 23 जून 2019

धुरागांव के श्री मासो टाटा संयंत्र के लिए जमीन अधिग्रहण के बाद भी अपनी जमीन में वर्षों से खेती कर रहा था, लेकिन उन्हें हमेशा जमीन जाने का डर बना रहता था। इस बार मासो पूरे तन-मन से खेती किसानी में जुट गए हैं। उन्होंने बताया कि वर्षों से वह खेती कर रहा है, लेकिन इस बार वह निश्चित होकर खेती करेगा, क्योंकि उन्हें जमीन के कागजात वापस मिल गए हैं।     उल्लेखनीय है कि टाटा स्टील प्लांट के लिए लोहण्डीगुडा तहसील के जिन 1707 किसानों की 1704 हेक्टेयर जमीन अधिग्रहित की गई थी, उनमें धुरागांव के श्री मासो की 10 एकड़ जमीन भी शामिल थी। श्री मासो ने बताया कि जमीन जाने का दुख हर किसान को होता है। मेरे लिए तो मेरी जमीन मां समान है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने हमारी जमीन वापस कर दी। अब ऐसा लगता है, जैसे मुझे मेरी मां मिल गई है। अब वह पूरे मन खेती करेगा।

SHARE THIS
Continue Reading

ब्रेकिंग खबरे !!!!

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive2 weeks ago

सुर्ख़ियाँ

etoinews.com के बीते दो घंटे की सुखियाॅ क्या रहीं विशेष खबरे और क्या था उनको खबरो के पीछे और क्या...

Etoi Exclusive2 weeks ago

मोदी का स्पेस विजन चंद्रयान 2

सम्पादकीय ,,,,, भारत बनेगा अंतरिक्ष का सुपरपावर  ? क्या बनाएगा अपना स्पेस स्टेशन ?   Click Here To Read Astrological...

Etoi Exclusive2 weeks ago

मोदी हैं तो मुमकिन है:पाम्पियो :अमेरिकी विदेश मंत्री

सम्पादकीय ,,,,, मोदी हैं तो मुमकिन है                          ...

Etoi Exclusive4 weeks ago

देखें मोदी की नई सरकार में कौन कौन से चेहरे शामिल हैं ?

मोदी का नया मंत्रिमंडल,नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री पद की दूसरी बार शपथ ले ली है। उनके साथ ही कैबिनेट मंत्रियों...

Etoi Exclusive4 weeks ago

रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण ने गांजा और भांग को भारत में वैध करने की मांग उठाई

रामदेव के सहयोगी बालकृष्ण ने गांजा और भांग को भारत में वैध करने की मांग उठाई “नारकोटिक ड्रग्स और साइकोट्रोपिक...

Calendar

June 2019
M T W T F S S
« May    
 12
3456789
10111213141516
17181920212223
24252627282930
Advertisement

निधन !!!

निधन2 weeks ago

बॉलीवुड के मशहूर एक्टर गिरीश कर्नाड का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer बॉलीवुड के मशहूर एक्टर गिरीश कर्नाड का सोमवार को 81 साल...

Uncategoried3 months ago

गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर आज होगा राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षा मंत्री मनोहर पर्रीकर का सोमवार को अंतिम संस्कार होगा। पैंक्रियाटिक कैंसर से पिछले एक...

निधन4 months ago

पैसों की तंगी झेल रहे बॉलीवुड के खलनायक की मौत, घर में मिली लाश

शक्ति कपूर बोले- काम न मिलने से डिप्रेशन में थे महेश आनंद, सेट पर भी पीते थे शराब Click Here...

निधन5 months ago

निधन – फत्तेचंद अग्रवाल सक्ती

सक्ति (कन्हैया गोयल) 31/01/2019 शक्ति शहर की प्रतिष्ठित फर्म काशीराम फत्तेचंद के संचालक सजन अग्रवाल, पवन अग्रवाल एवं नवलकिशोर अग्रवाल...

दिल्ली5 months ago

पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज फर्नांडिस का 89 साल की उम्र में निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer नई दिल्ली 29 जनवरी 2019 भारत के पूर्व रक्षा मंत्री जॉर्ज...

निधन5 months ago

श्रीमती कमला सिंह का निधन

जांजगीर-चाम्पा (हरीश राठौर) 28/01/2029 भैंसदा के प्रतिष्ठित ठाकुर परिवार के स्व. पलटन सिंह की धर्मपत्नी श्रीमती कमला सिंह का 28 जनवरी...

निधन5 months ago

जलसंसाधन विभाग के मुख्य अभियंता विजय श्रीवास्तव पंचतत्व में विलीन

27 जनवरी को आयोजित जेष्ठ पुत्रमयंक का वैवाहिक कार्यक्रम स्थगित बिलासपुर (अमित मिश्रा) 27/01/2019 हसदेव कछार जल संसाधन विभाग बिलासपुर...

निधन5 months ago

रायपुर : श्रीमती माणक बाई ललवाणी (जैन) का निधन

रायपुर,14/01/2019 रायपुर निवासी श्रीमती माणक बाई ललवाणी  (जैन) 95 वर्ष, घर्मपत्नी स्व.पन्नालाल ललवाणी का स्वर्गवास आज हो गया हैं जिनकी...

निधन5 months ago

रायपुर : श्रीमती बिदामी बाई बुरड़ का निधन

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर,14/01/2019 आनन्द नगर विनायक इनक्लेव, रायपुर निवासी श्रीमती बिदामी बाई पत्नी...

निधन5 months ago

छोटेलाल कौशिक का निधन

जांजगीर-चाम्पा (हरीश राठौर) 09/01/2019 ग्राम डोंगाकोहरौद के मालगुजार छोटेलाल कौशिक का गत् 4 जनवरी को हो गया। अचानक वे 3...

Trending

Breaking News