Connect with us

देश-दुनिया

कोरोना के मामलों में वृद्धि के बाद भी भारत में मृत्यु दर क्यों हैं कम ?

Avatar

Published

on

भारत में कोविड-19  मामलों में हाल ही में बीते कुछ दिनों के भीतर ज्यादा मामले बढ़े हैं. 10 से 15 मई के बीच के छह दिनों में औसतन 3,829 मामले बढ़े. 16 से 21 मई के बीच पिछले छह दिनों में यह संख्या बढ़कर 5,407 हो गई है. हालांकि यह इजाफा आश्चर्यजनक नहीं है. लॉकडाउन 2.0 के बाद छूट में ढील दी गई. दूसरा लॉकडाउन 3 मई को खत्म हुआ और इसमें भी कुछ छूट दी गई है. 17 मई को लॉकडाउन 3.0 समाप्त होने पर और रियायतें दी गई हैं. इसके अलावा टेस्टिंग में वृद्धि हुई है और भारत अपने पीक पर जा रहा है जिसके जून तक खत्म होने की उम्मीद है.

इन सभी वजहों को ध्यान में रखते हुए कोरोना के मामलों में भारत में हो रही वृद्धि  की दर खतरनाक होने के करीब नहीं है. जैसा कि कुछ विशेषज्ञों द्वारा भविष्यवाणी की गई थी नए संक्रमणों की संख्या में वृद्धि अभी भी लीनियर है और कहीं भी एक्स्पोनेन्शल नहीं है.

लेकिन जो बात हैरान करती है वह यह है कि मामलों में वृद्धि दर्ज किये जाने के बाद भारत में कोविड -19 की मौतों की संख्या कम है. ट्रैकिंग साइट वर्ल्डमीटर के अनुसार भारत में किसी भी दिन 200 मौतें नहीं हुई हैं 4 मई को अधिकतम मौते 175 का आंकड़ा छू पाई थीं.

यहां तक ​कि पिछले चार दिनों में 5,000 से अधिक मामले दर्ज किए गए और एक भी दिन में मौतों की संख्या 150 से अधिक नहीं थी. मौतों की औसत संख्या में 10 से 15 मई के बीच 109 से 16 मई से 21 मई के बीच मामूली वृद्धि देखी गई.

भारत में प्रति मौत के मामलों की औसत संख्या की तुलना दुनिया के कुछ अन्य गंभीर रूप से प्रभावित देशों से करते हैं जब वहां मामलों में सबसे खराब वृद्धि देखी. इनमें से कुछ देश (पश्चिमी यूरोप और अमेरिका) अपने पीक पर हैं तो वहीं कुछ अन्य जैसे ब्राजील, पेरू और रूस को अभी तक अपने सबसे बुरे दौर में हैं. 16-21 मई के दौरान भारत की मृत्यु के मामले 39.18 है.

भारत और लगभग सभी अन्य देशों के बीच जो विषमता है वह आश्चर्यजनक है. अमेरिका में 6 अप्रैल से 11 के बीच लगातार छह दिनों में 30,000 से अधिक मामल सामने आए. इस अवधि में इसकी औसत संख्या 2,045 थी. अमेरिका में सबसे खराब वृद्धि की अवधि के दौरान लगभग 16 मामले – मृत्यु अनुपात थे. ब्रिटेन और इटली के लिए इसी अनुपात 6.29 और 7.18 है.

जर्मनी-भारत में क्या समानता?

कोविड -19 के मामलों में मृत्यु के रोकथाम के लिए एक मॉडल के रूप में बताए जाने वाले जर्मनी और भारत का अनुपात (37.27%) बराबर है. यह भी दिलचस्प है कि जबकि जर्मनी में 30 मार्च से 4 अप्रैल के बीच मामलों में सबसे ज्यादा मामले आ रहे थे तब मौतों की औसत संख्या केवल 13 से 18 अप्रैल के बीच सबसे अधिक थी. अधिकांश अन्य देशों के विपरीत जहां मामलों और मौतों में वृद्धि के लिए सबसे खराब दर्ज किये गये.

रूस के सबसे बुरे फेज (7-12 मई) के दौरान प्रति मौत के 115 मामले द  आश्चर्यजनक नहीं है क्योंकि देश में होने वाली मौतों की गंभीर जानकारी सामने नहीं आई.

इसने अब तक 3,600 मौत के मामले सामने आए हैं. जिन 14 राष्ट्रों में कम से कम 70,000 मामले दर्ज किए हैं, उनमें 3.01% भारत की मृत्यु दर, रूस, तुर्की और पेरू के बाद चौथी सबसे कम है. हालांकि, मॉस्को और इस्तांबुल से मौतों की जानकारी ना देने विश्वसनीय रिपोर्टें हैं. इसके उलट ब्राजील में मृत्यु दर 6.44%, अमेरिका (5.94%), स्पेन (9.97%), इटली (14.24%), यूके (14.36%) और फ्रांस (15.52%) है.

हमारी मृत्यु दर कम होने के कई कारण हैं…

भारत में प्रति टेस्ट 755 पर मृत्यु रूस के बाद दूसरे स्थान पर है. ब्राजील में हर 37 टेस्टिंग पर 1 मौत हो रही है. यह आंकड़ा फ्रांस में – 49, यूके – 86, इटली – 100, यूएसए- 140, कनाडा – 224 और जर्मनी – 432 है.

हमारी मृत्यु दर कम होने के कई कारण हैं जिसमें युवा और ग्रामीण आबादी का उच्च प्रतिशत, क्षय रोग के लिए बीसीजी वैक्सीन, गर्म तापमान होना शामिल है. लेकिन इनमें से एक निश्चित कारण है – प्रारंभिक और कड़ा लॉकडाउन.

कोविड -19 एक अत्यधिक संक्रामक बीमारी है, इसलिए भारत में मामलों की संख्या में वृद्धि देखना आश्चर्यजनक नहीं है. इससे घबराहट पैदा नहीं होनी चाहिए. केवल एक चीज जो अंत में मायने रखती है वह है इस बीमारी से मरने वाले लोगों की संख्या.

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

देश-दुनिया

मुंबई में अब तक 1500 पुलिसकर्मी कोरोना पटजिटिव, इनमें से 227 पुलिस ऑफिसर

Avatar

Published

on

कोरोना वायरस पुलिसकर्मियों को लगातार अपनी चपेट में ले रहा है. खासकर मुंबई में तो ये संख्या हर दिन लगातार बढ़ रही है. यहां अब तक 1508 पुलिसवाले कोरोना पॉजिटिव निकले हैं. महाराष्ट्र में अब तक कुल 2509 पुलसिकर्मी कोरोना के शिकार हो चुके हैं.

17 की मौत

अब तक 1508 पुलिसकर्मी कोरोना पटजिटिव पाए गए हैं. इनमें से 227 पुलिस ऑफिसर हैं. इसके अलावा SRPF के 74 लोग भी कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं. जिसमें 5 ऑफिसर है. अब तक 17 पुलिसकर्मियों की मौत हो चुकी है. सोमवार को भी एक पुलिसकर्मी की मौत हुई थी. बता दें कि अब तक 533 पुलिसकर्मी कोरोना को मात देकर ठीक हुए हैं.

पुलिस पर कोरोना का असर

बता दें कि मुंबईमें 55 साल से ज्यादा उम्र के पुलिसकर्मी ड्यूटी पर नहीं जाते हैं. मुंबई पुलिस के कमिश्नर परमबीर सिंह ने ये फैसला पिछले महीने किया था. पुलिस में बढ़ते कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए पुलिस प्रशासन सतर्क हो गया है. पुलिस प्रशासन की तरफ से ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए हैंड ग्लव्स, मास्क, फेस शील्ड, सेनेटाइजर दिया जा रहा है. पुलिस ने अपने कर्मचारियों के लिए एक मेडिकल हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है. इस हेल्पलाइन नंबर पर पुलिस कर्मचारी अपनी सेहत से जुड़ी सहायता ले सकते हैं.

महाराष्ट्र में 70 हजार पार

बता दें कि महाराष्‍ट्र में कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा केस हैं. पिछले 24 घंटे में महाराष्‍ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 2361 नए केस सामने आए हैं. इस दौरान 76 लोगों की मौत हुई है. इसके बाद राज्‍य में कोविड 19 के कुल मामले बढ़कर 70 हजार के पार हो गए हैं. यहांअब तक कोरोना वायरस के कुल 70,013 केस सामने आ चुके हैं. साथ ही 2362 लोगों की मौत इस जानलेवा वायरस से हुई है. राज्‍य में कुल सक्रिय मामलों की संख्‍या 37,534 है.

Continue Reading

क्राइम

3 युवक एक युवती को बहला-फुसलाकर अलवर ले गए,फिर उसके साथ किया गैंगरेप

Avatar

Published

on

जिले के नांगल राजावतान थाना इलाके में एक युवती से गैंगरेप का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. यहां 3 युवक एक युवती को बहला-फुसलाकर अलवर ले गए और फिर उसके साथ वहां गैंगरेप किया. इस मामले में नांगल राजावतान थाने में 3 आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप का केस दर्ज कराया गया है. पुलिस मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जुटी हुई है, लेकिन अभी तक उनका कोई सुराग नहीं लग पाया है.

युवती 27 मई को घर से लापता हो गई थी

पुलिस के अनुसार नांगल राजावतान थाना इलाके में रहने वाली एक युवती 27 मई को घर से लापता हो गई थी. इसके बाद 28 मई को वह युवती अलवर पुलिस को मिली. इस पर अलवर पुलिस ने नांगल राजावतान थाना पुलिस और परिजनों को सूचना दी. सूचना पर परिजन अलवर पहुंचे और युवती को लेकर घर वापस आ गए. घर आने के बाद युवती ने आपबीती सुनाई तो गैंगरेप की वारदात सामने आई.

पीड़िता का मेडिकल करवाया

नांगल राजावतान थानाधिकारी कमलेश चौधरी के अनुसार पीड़िता ने अपनी मां को बताया कि उसके पड़ोसी के तीन रिश्तेदार अलवर से आए हुए थे. वे उसे बहला-फुसलाकर अलवर ले गए. अलवर में आरोपियों ने उसके साथ बारी-बारी से रेप किया. पीड़िता से पूरा घटनाक्रम सुनने के बाद पीड़िता की मां ने नांगल राजावतान थाने में अलवर के रहने वाले सोनू भोपा, मोनू भोपा और समंदर भोपा के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज कराया है. उसके बाद पुलिस ने सोमवार को पीड़िता का मेडिकल करवाया और आरोपियों की तलाश के लिए टीमों को रवाना किया. फिलहाल आरोपियों का अभी कोई पता नहीं चल पाया है.

Continue Reading

देश-दुनिया

GST काउंसिल की बैठक में कारोबारियों के लिए, बड़ी राहत का ऐलान हो सकता है.

Avatar

Published

on

3 महीने के बाद होने वाली जीएसटी काउंसिल की बैठक में कारोबारियों को राहत देने लिए बड़ा ऐलान हो सकता है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जनवरी 2020 तक फाइल नहीं किए गए रिटर्न की लेट फीस पर जीएसटी काउंसिल की अगली बैठक में चर्चा होगी. सेंट्रल बोर्ड ऑफ इनडायरेक्ट टैक्सेज एंड कस्टम (CBEC) की तरफ से यह जानकारी दी गई है. आपको बता दें कि कोविड-19 महामारी आउटब्रेक के बाद जीएसटी काउंसिल की यह पहली बैठक होगी. जीएसटी काउंसिल की बैठक में केंद्रीय वित्त मंत्री अध्यक्षता करेंगी. साथ ही अन्य राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के ​प्रतिनिधि भी शामिल होंगे. 25 मार्च को देशभर में लॉकडाउन लगने के बाद से ही टैक्स कलेक्शन में भारी कमी आई है.

कारोबारियों को मिल सकती है बड़ी राहत- जीएसटी की व्यवस्था जुलाई 2017 में लागू हुई थी. कई व्यापारियों ने तब से जीएसटीआर 3बी रिटर्न फाइल नहीं किया है. ऐसे में उन्हें लेट फीस चुकानी पड़ेगी. ये लोग कफी समय से लेट फीस से माफी की मांग कर रहे हैं. सीबीआईसी ने सोमवार शाम इस मसले पर ट्वीट किया है.

सीबीआईसी ने ट्वीट में कहा है कि पिछले कुछ समय से यह देखा जा रहा है कि जीएसटीआर 3बी रिटर्न नहीं दाखिल करने पर लगने वाली लेट फीस माफ कर देने की मांग की जा रही है.

उसने कहा है कि जीएसटी से जुड़े सभी फैसले जीएसटी काउंसिल की मंजूरी के बाद केंद्र और राज्यों की सरकारें लेती हैं. ऐसे में इस मसले पर सिर्फ केंद्र सरकार फैसला नहीं ले सकती है. उसने कहा है कि कारोबार से जुड़े लोगों को सूचित किया जाता है कि जीएसटी काउंसिल की अगली बैठक में इस मसले पर चर्चा होगी.

लग सकता है आपदा सेस मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आपदा सेस लगाने को लेकर सूत्रों ने बताया कि कोविड-19 की वजह से पैदा हुए मौजूदा स्थिति में ऐसा कोई भी फैसला लेना घातक साबित हो सकता है. उन्होंने बताया कि ऐसा कोई भी प्रस्ताव सेल्स आंकड़ों के लिए ‘कांउटर प्रोडक्टिव’ होगा. पहले से ही मांग और खपत कम होने की वजह से इसमें भारी गिरावट आ चुकी है. किसी भी तरह के सेस लगाने से वस्तुओं की कीमतें बढ़ जाएंगी और इससे सेल्स पर असर पड़ेगा.

मार्च में हुई थी जीएसटी काउंसिल की अंतिम बैठक-सूत्रों ने जानकारी दी है कि जीएसटी काउंसिल की बैठक 14 जून को वीडियों कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये होगी. इसके पहले जीएसटी काउंसिल की 39वीं बैठक मार्च में भी कोरोना वायरस को लेकर अर्थव्यवस्था पर पड़ने वाले प्रभाव को लेकर चर्चा हुई थी. उस दौरान भारत में कोरोना वायरस के मामले बेहद कम थे और लॉकडाउन का भी फैसला नहीं लिया गया था.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़4 mins ago

छत्तीसगढ़ कॉलेज एग्जाम-छात्रों के लिए सरकार का बड़ा फैसला, फायनल ईयर के छात्रों को देना होगा एग्जाम और फर्स्ट एंड सेकेंड ईयर के छात्र ऐसे होंगे पास, उच्च शिक्षा विभाग ने जारी किया आदेश

विश्वविद्यायों के फायनल ईयर के छात्रों को परीक्षा देनी होगी। बाकी फर्स्ट एवं सेकेंड ईयर के छात्रों को परीक्षा में...

Etoi Exclusive15 hours ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 02/06/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

छत्तीसगढ़15 hours ago

ऐतिहासिक महत्व के सप्रे स्कूल मैदान को खत्म करने की कार्रवाई पर तुरंत रोक लगायी जाय : भाजपा

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व विधायक श्रीचंद सुंदरानी ने नगर निगम द्वारा राजधानी के बुढ़ातालाब के सौंदर्यीकरण...

छत्तीसगढ़15 hours ago

लगातार मौतों के बाद क्वारेंटाइन सेंटर्स में अब इन्फेक्शन से नित-नई बीमारियाँ जन्म ले रहीं : भाजपा

भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता व विधायक शिवरतन शर्मा ने प्रदेश सरकार पर क्वारेंटाइन सेंटर्स की अव्यवस्थाओं के मद्देनज़र...

छत्तीसगढ़15 hours ago

छत्तीसगढ़ : नई तहसीलें बनाने की प्रक्रिया शुरू : दावा आपत्ति 15 जून तक आमंत्रित

रायपुर, 01 जून 2020 मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की घोषणा के फलस्वरूप जांजगीर-चांपा जिले में क्षेत्र के किसानों और आमजनों...

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive2 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 01/06/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive3 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 31/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive4 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 30/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive5 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 29/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Etoi Exclusive7 days ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 27/05/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

Calendar

June 2020
M T W T F S S
1234567
891011121314
15161718192021
22232425262728
2930  

निधन !!!

Advertisement

Trending