Connect with us

ज्योतिष - वास्तु

भगवान शिव के इन 5 मंदिरों में दर्शन के साथ, सावन महीने की करें शुरुआत

Published

on

”शि’ का अर्थ है ‘मंगल’ और ‘व’ कहते हैं दाता को, इसलिए जो मंगलदाता है, वही शिव है। शिव ब्रह्म रूप में शांत हैं, तो रुद्र रूप में रौद्र हैं। शिव हमारी प्रार्थनाएं सहजता से स्वीकार करते हैं पर शिव का मूल उद्देश्य हमें अपनी तरह सहज, सरस और सरल बनाना है। श्रावण में शिव अभिषेक कामनाओं की पूर्ति हेतु संपन्न किया जाता है, लेकिन वह शुष्क मन-प्राण को भी सरस कर देता है। मन को चंद्रमा नियंत्रित करता है, जो सोमवार के दिन का स्वामी है। इसलिए शिवलिंग अभिषेक सोमवार को अवश्य किया जाता है, क्योंकि मन को उत्फुल्लित करने का यह एक कारगर उपाय है। तो 17 जुलाई से सावन महीने की हो रही है शुरुआत। भारत में बने इन मंदिरों का दर्शन इस पावन महीने में होगा खास, जानेंगे इसके बारे में….

तुंगनाथ मंदिर, उत्तराखंड

समुद्र तल से 3680मीटर की ऊंचाई पर स्थित तुंगनाथ मंदिर दुनिया का सबसे ऊंचा मंदिर है। जो बद्रीनाथ और केदारनाथ मंदिर के बीच में स्थित है। इस मंदिर तक पहुंचने का रास्ता बहुत ही अद्भुत है। हिमालय पर्वत की बर्फ से ढकी ऊंची चोटियां इसकी खूबसूरती में लगाती हैं चार चांद। तीर्थयात्रियों के साथ ही सैलानियों को भी ये जगह बहुत लुभाती है। मंदिर के प्रवेश द्वार पर भगवान शिव के प्रिय ‘नंदी’ की मूर्ति विराजमान है। द्वार के दाईं ओर भगवान गणेश की मूर्ति है। मंदिर की वास्तुकला उत्तर भारतीय शैली में बनी हुई है और आसपास कई छोटे मंदिर हैं।

जूनागढ़, भावनाथ तालेटी

जूनागढ़ सिर्फ गिर नेशनल पार्क के लिए ही नहीं जाना जाता, बल्कि ये साधुओं का भी घर है जो सावन महीने और महाशिवरात्रि के मौके पर दर्शन के लिए भारी तादाद में आते हैं। इनके अलावा दुनिया के अलग-अलग कोनों से भी लोग मंदिर में जल चढ़ाने और पूजा-अर्चना करने आते हैं। शिवरात्रि में तो जूनागढ़ आकर यहां के कल्चर और साधुत्व से भी रुबरू होने का मौका मिलता है।

पशुपतिनाथ मंदिर, मंदसौर

मध्यप्रदेश के मंदसौर में बना ये मंदिर भारत का इकलौता पशुपतिनाथ का मंदिर है। जो नेपाल के पशुपतिनाथ से काफी मिलता-जुलता हुआ है और इसलिए ही इसका नाम पशुपतिनाथ पड़ा। चिकने चमकदार पत्थर से बनी हुई पशुपतिनाथ की प्रतिमा सवा सात फीट ऊंची है। शिवना नदी के तट पर बसे इस मंदिर की मान्यता दूर-दूर तक फैली हुई है। कहते हैं सच्चे मन से मांगी गई मुराद जरूरी पूरी होती है।

मुरुदेश्वर मंदिर, कर्नाटक 

भगवान शिव का एक नाम मुरुदेश्वर भी है। कंडुका पहाड़ी पर बना ये मंदिर तीनों तरफ से अरब सागर से घिरा हुआ है। मंजिल में 20 मंजिला गोपुरा बना हुआ है। 249 फुट लंबा दुनिया का सबसे बड़ा गोपुरा है। समुद्र तट के पास स्थित भगवान शिव का यह मंदिर बहुत ही खूबसूरत है और मंदिर परिसर में बने भगवान शिव की विशाल मूर्ति तकरीबन 123 फीट है।

लिंगराज मंदिर, भुवनेश्वर

भुवनेश्र्वर के सबसे बड़े मंदिरों से में एक है। जो कलिंग की वास्तुकला और मध्यकालीन ऐतिहासिक परंपरा का बेजोड़ नमूना है। मंदिर के अंदर भगवान विष्णु की भी प्रतिमा है। शिव से जुड़े हर एक त्यौहार में आप यहां श्रद्धालुओं की भारी भीड़ देख सकते हैं। लिंगराज मंदिर से होकर एक नदी गुजरती है जो कई तरह की शारीरिक बीमारियों को दूर करता है। सावन महीने में सुबह से ही भक्तगण महानदी से पानी भरकर पैदल चलकर मंदिर तक आते हैं।

 

Disclaimer:हमारे वेबसाइट www.etoinews.com पोर्टल की सामग्री केवल सूचना के उद्देश्यों के लिए है और किसी भी जानकारी की सटीकता, पर्याप्तता या पूर्णता की गारंटी नहीं देता है साथ ही किसी भी त्रुटि या चूक के लिए या किसी भी टिप्पणी, प्रतिक्रिया और विज्ञापनों के लिए जिम्मेदार नहीं है। आपको केवल एक सुविधा के रूप में ये न्यूज या लिंक प्रदान कर रहा है और किसी भी समाचार अथवा लिंक को हमारा वेबसाइट समर्थन नहीं करता है।

SHARE THIS

ज्योतिष - वास्तु

दिनांक 24/08/2019 का पंचांग एवं राशिफल

Published

on

  • रायपुर (etoi news) 23.08.2019
  • दिनांक 24.08.2019 का पंचाग
  • शुभ संवत 2076 शक 1941 ..
  • सूर्य दक्षिणायन का …भाद्रपद मास कृष्ण पक्ष…. नवमी तिथि… रात्रि को 02 बजकर 51 मिनट तक … शनिवार… रोहिणी नक्षत्र.. रात्रि को 12 बजकर 28 मिनट तक … आज चन्द्रमा …वृषभ राशि में… आज का राहुकाल दिन को 08 बजकर 56 मिनट से 10 बजकर 31 मिनट तक होगा …

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल-

मेष राशि –

     आज आप दोस्तो के बीच मौज-मस्ती में रहेंगे..

     कन्या संतान की ओर से शुभ समाचार की प्राप्ति का योग….

     चंद्रमा से संबंधित दोषों की निवृत्ति के लिए निम्न उपाय करें तो लाभ होगा-

     उॅ नमः शिवाय का जाप करें…

     दूध, चावल का दान करें…

     रूद्राभिषेक करें…

 

वृषभ राशि –

     वृषभ राशि वालें जातकों के आज व्यवसायिक यात्रा में नये अवसर की प्राप्ति तथा लाभ की स्थिति बनेगी…

     नया जोश तथा उत्साह से काम में लाभ तथा प्रसन्नता से सुख एवं उन्नति….

     कंधें में चोट की संभावना…

     मंगल के बुरे प्रभाव से उत्पन्न कष्ट की शांति के लिए –

  1. ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें…
  2. हनुमानजी की उपासना करें..
  3. मसूर की दाल, गुड दान करें..

 

मिथुन राशि –

     मिथुन राशि वाले जातकों के

     आज पिता के स्वास्थ्य संबंधी कष्ट होने से तनाव संभव…

     बहुत ज्यादा भागदौड़ करना पड़ सकता है….

     किंतु अतिरिक्त धनव्यय कष्ट का कारण हो सकती है…

     गुरू के दोषों को दूर करने के लिए –

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. पीली वस्तुओं का दान करें…
  3. गुरूजनों का आर्शीवाद लें..

 

कर्क राशि –

     कर्क राशि वाले सभी जातकों के

     आज घरेलू अपव्यय के कारण विवाद तथा तनाव हो सकता है…

     धनहानि तथा पारिवारिक चीजों के मरम्मत पर व्यय से तनाव….

     शुक्र से संबंधित कष्टों से बचाव के लिए –

     ऊॅ शुं शुक्राय नमः का जाप करें…

     महामाया के दर्शन करें…

     चावल, दूध, दही का दान करें…

 

सिंह राशि –

     सिंह राशि वाले सभी जातकों के

     आज परिवार में कोई मांगलिक उत्सव में आप पूरा दिन व्यस्त रहेंगे…

     इस उत्सव में परिवार, दोस्तो तथा सभी का अच्छा सहयोग रहेगा….

     समय पर कोई काम पूरा ना होने से आप तनाव में आ सकते हैं

     अतः तनाव से बचने के लिए शनि के निम्न उपाय करने चाहिए –

     ‘‘ऊॅ शं शनैश्चराय नमः’’ की एक माला जाप कर दिन की शुरूआत करें.

     भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,

     उड़द या तिल दान करें..

 

कन्या राशि –

     कन्या राशि वाले सभी जातकों के

     आज आप अपने कार्य में नये लोगों को शामिल कर सकते हैं,

     विषय विशेषज्ञ के साथ विचार-विमर्श के योग….

     स्वास्थ्य का ध्यान रखें तथा स्वास्थ्य लाभ एवं बुध से संबंधित लाभ तथा उत्साह को बनायें रखने के लिए निम्न उपाय आजमायें-

     ऊॅ गं गणेशाय नमः का एक माला जाप करें….

     पौधे का दान करें…..

     इलायची खायें एवं खिलायें…

 

तुला राशि –

     तुला राशि वाले सभी जातकों के

     आज आप अपने अड़ियल रवैये से सभी से विवाद कर सकते हैं…

     जिसमें पड़ोसी से लेकर सहयोगी तक तथा भाई से लेकर कार्यालय में सहकर्मी तक सभी से विवाद तनाव का कारण होगा….

     किसी प्रकार के व्यसन की आदत के कारण अपमान तथा हानि संभव….

     अतः राहु कृत दोषों की निवृत्ति के लिए –

     ऊॅ रां राहवे नमः का एक माला जाप कर दिन की शुरूआत करें..

     मूली का दान करें..

     सूक्ष्म जीवों को आहार दें..

 

वृश्चिक राशि –

     वृश्चिक राशि वालें सभी जातकों के

     आज आपका ध्यान आध्यात्मिक कामों में लगेगा, किसी धार्मिक स्थल के पुनर्निमाण या मरम्मत पर समय तथा धन व्यय कर सकते हैं….

     इंफेक्शन से कष्ट संभव…….

     शांति के लिए केतु के निम्न उपाय करें –

     ऊॅ कें केतवें नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें…

     हल्दी, नारियल का दान करें…

     गणपति का पूजन करें…

 

धनु राशि –

     धनु राशि वाले सभी जातकों के

     आज किसी पसंदीदा विद्धान व्यक्ति से मुलाकात होने से मन प्रसन्न होगा….

     धार्मिक प्रवृत्ति में वृद्धि तथा जनप्रिय होंगे…

     दिन उत्साह तथा मेल-मिलाप में जायेगा….

     सूर्य के शुभ प्रभाव में वृद्धि के लिए –

     प्रातः स्नान के उपरांत सूर्य को जल में लाल पुष्प तथा शक्कर मिलाकर…. ऊॅ धृणि सूर्याय नमः का पाठ करें…..

     गुड़.. गेहू…का दान करें..

     आदित्य ह्दय स्त्रोत का पाठ करें…

 

मकर राशि –

     मकर राशि वाले सभी जातकों के

     आज जीवनसाथी या पार्टनर से विवाद की संभावना…

     हर मुद्दे पर वैचारिक मतभेद विवाद का कारण…

     विवाद के कारण मानसिक विरक्ति संभव….

     चंद्रमा के लिए निम्न उपाय आजमायें –

     ऊॅ सों सोमाय नमः का एक माला जाप करें……

     खीर बनाकर कम से कम एक कन्या को खिलायें….

     स्वेत वस्त्र धारण करें……

 

कुंभ राशि –

     कुंभ राशि वाले जातकों के

     आज घर पर ही रहकर सारा काम निपाटायेंगे…

     आज आप नवीन कार्य आरंभ में रूचि नहीं दिखाने से परिवार के साथ छुट्टी का आनन्द      लेंगे….

     घर में इलेक्टानिक्स गजट का अपडेट ना होने से नाराज होने से पारिवारिक तनाव संभव…   

मंगल जनित तनाव से निवारण के लिए –

     ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें…

     हनुमानजी की उपासना करें..

     मसूर की दाल, गुड दान करें..

 

मीन राशि –

     मीनराशि वालों सभी जातकों के

     आज आप के किसी कार्य या प्रोजेक्ट से शासन की सहमति प्राप्ति….

     सफलता तथा नयी उपलब्धि से मन प्रसन्न….

     बौद्धिक स्थिति तथा सामाजिक उन्नति से मानसिक शांति…

     लाभ प्राप्ति के लिए –

     ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…

     पीली वस्तुओं का दान करें…

     पुरोहित को केला, नारियल का दान करें….

 

 

SHARE THIS
Continue Reading

ज्योतिष - वास्तु

कौड़ियो के प्रयोग से करें सभी मनोकामना पूरी 

Published

on

हमारे पुरे जीवन में अलग अलग समय में अलग अलग परेशानी आती है.. कभी धन तो कभी सफलता कभी स्वास्थ्य तो कभी रिलेशन में उतार चढ़ाव दिखाई देता है। अगर आपके जीवन में किसी भी तरह से कोई समस्या आ रही है तो आप कौड़ियो का प्रयोग करें.बोलचाल की भाषा में भी कौड़ी से संबंधित मुहावरे आदि का प्रयोग होता है, जैसे- दो कौड़ी का आदमी या कौड़ियों के मोल आदि। कौड़ी के विषय में यह मान्यता है कि लक्ष्मी और कौड़ी दोनों सगी बहने है। कौड़ी धारणकर्ता की माँ के रूप में रक्षा करती है। बुरी नजर व संकटो से बचाने की इसमे अदभुत क्षमता होती है। कौड़ी हमारे जीवन के प्रत्येक कार्य-कलाप से जुड़ी हुई है। मनुष्य इसकी पूजा करता है तो इससे श्रृंगार भी करता है। इससे जुआ खेलता है तो इससे औषधि भी बनाता है। इस बात के प्रमाण हैं कि आदिकाल में भी कौड़ी बेहद मूल्यवान एवं महत्वपूर्ण थी और लोग इसे सहेज कर रखते थे। विश्व भर में जहाँ-जहाँ भी ऐतिहासिक खुदाइयाँ हुई हैं, वहाँ कौड़ी अवश्य मिली हैं।

लाल कपड़े में 5 पीली बड़ी कौड़ी नवमी की रात्रि में अपनी पारम्परिक पूजा-मुहूर्त में लक्ष्मी जी के चरणों में रख दें। एक माला मंत्र, ॐ ऐं श्रीं ह्रीं क्लींश की जप करें। प्रातः यह पोटली बनाकर अपनी तिजोरी में रख लें। धन लाभ का यह एक अच्छा उपक्रम सिद्ध होगा।सांयकाल में मां लक्ष्मी की प्रतिमा के सामने इन कौड़ियों को रखकर पूरी विधि-विधान से पूजा करें। साथ ही कौड़ियों को भी धूप-बत्ती दिखाएं। पूजा की समाप्ति के पश्चात् जितनी भी कौड़ियां आपने वहां रखी हों उन्हें बराबर मात्रा में बांट लें।अब दो साफ लाल कपड़े में अलग-अलग इन्हें बांधकर दो पोटली बनाएं। एक को अपनी तिजोरी या जिस भी जगह आप धन आदि रखते हैं, वहां रखें और दूसरे को अपने पर्स में रख लें। यह वो उपाय है जो मनुष्य की किस्मत खोलता है।

वास्तु शास्त्र के अनुसार भवन निर्माण करते समय छत पर पहले कौड़ी डाली जाती है। फिर दरवाजे की चौखट में भी सबसे पहले कौड़ियाँ ही बाँधी जाती है। वाहन में कौड़ी रखने से ऐसा माना जाता है कि वाहन के स्वामी को वाहन के माध्यम से धन व समृद्धि प्राप्त होगी तथा वाहन दुर्घटना से भी बचा रहता है।

  • सड़क पर पड़ी हुई कौड़ी मिलना बहुत शुभ माना जाता है। ऐसी कौड़ी को संभाल कर घर में रखने से बरकत में वृद्धि होती है।
  • वाहन को बुरी नजर से बचाने के लिए कौड़ी को वाहन में सफेद या काले धागे में बाँध कर सुविधा अनुसार कही भी लटका दें।
  • वास्तु दोष के निवारण के लिए इसे दरवाजे पर लटकाया जाता है।
  • घर में आर्थिक सम्पन्नता के लिए इसे अपने धन स्थान पर रखे अथवा घर की उत्तर दिशा में लटका सकते है।
  • यह ध्यान रखे कि कौड़ी हमेशा तीन या पांच या फिर नौ की संख्या में ही प्रयोग में लानी चाहिए।
  • कौड़ी श्री हनुमान जी के सिन्दूर से साफ व स्वच्छ करने के बाद प्रयोग में लाना चाहिए।

विवाह के अवसर पर भी कौड़ी को महत्वपूर्ण माना जाता है। वर-वधु के कंकण में कौड़ी बांधी जाती है। मंडप के नीचे जिस पट्टे पर वर-वधु बैठते हैं, उस पर भी कौड़ी बांधी जाती है। मंडप के नीचे कलश में अन्य वस्तुओं के अतिरिक्त कौड़ी भी डाली जाती है। देश के हर प्रान्त में कौड़ी का प्रयोग अलग-अलग तरीके से होता है।आपका पैसा लौटने के लिए आनाकानी कर रहा है। उसके लिए धन प्राप्ति के अचूक उपाय इस तरह करें। इसके लिए किसी पूजा के सामान की दुकान से दो राजा कौड़ी लेकर आ जाएँ और इन्हें उस आदमी के घर के सम्मुख पटक दें। ये उपाय उसका मन बदल देगा और वह जल्द ही आपका पैसा आपको लौटा देगा। ध्यान रहे कि ये उपाय करते समय किसी को पता नही चलना चाहिए।इस प्रकार प्राचीन काल से अब तक कौड़ियो को सभी प्रकार से शुभ और लाभ पाने के लिए किया जाता है. आप भी सभी प्रकार से सुख समृधि पाने के लिए कौड़ियो का प्रयोग विधि सम्मत करें तो जरुर लाभ प्राप्त कर सकते हैं.

SHARE THIS
Continue Reading

ज्योतिष - वास्तु

बेंगलुरु में कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव के लिए करीब 20 लाख की ज्वेलरी तैयार कराई गई

Published

on

ज्वेलरी में कर्णफूल और कंठहार इस्कॉन बेंगलुरु में भव्य पैमाने पर इस उत्सव की तैयारी की जा रही है। कृष्ण जन्माष्टमी उत्सव के लिए करीब 20 लाख की ज्वेलरी तैयार कराई गई है, इसमें सोने-चांदी के आभूषणों को अमेरिकन डायमंड के साथ तैयार किया गया है। इनमें मत्स्य डिजाइन के कर्णफूल, बटरफ्लाय डिजाइन का बड़ा कंठहार शामिल है। सारी ज्वेलरी तमिलनाडु के कुंभकोणम से मंगवाई गई है, जो मेटल कारीगरी के लिए प्रसिद्ध है।

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी 23 और 24 अगस्त को मनाई जाएगी। पंचांग भेद के कारण इस बार दो दिन जन्माष्टमी का योग बन रहा है। 23 को अष्टमी तिथि है, लेकिन रोहिणी नक्षत्र नहीं है। 24 को सुबह उदय तिथि अष्टमी रहेगी, साथ ही रोहिणी नक्षत्र भी। अंतरराष्ट्रीय श्रीकृष्ण भावनामृत संघ (इस्कॉन) में 23 (तड़के 4 बजे) से श्रीकृष्ण जन्मोत्वस शुरू होगा जो 24 अगस्त की रात 1 बजे तक लगातार चलेगा। मूल उत्सव 24 को ही मनाया जाएगा। इस तरह करीब 36 से 38 घंटे तक श्रीकृष्ण जन्मोत्सव की धूम रहेगी।

मुस्लिम कारीगर भगवान के लिए वस्त्र बनाता है -भगवान के लिए करीब 3 लाख रुपए की लागत से पूरे उत्सव के दौरान पहनी जाने वाली ड्रेस तैयार की गई हैं। इन्हें कांचीपुरम सिल्क में बनवाया गया है। राधा-कृष्ण के लिए पिछले 20 सालों से बेंगलुरु का एक मुस्लिम कारीगर भगवान के लिए कपड़े बना रहा है। रियाज पाशा नाम के इस कारीगर का मुख्य काम भगवान के लिए अलग-अलग तरह की ड्रेसेज बनाना, इन पर एम्ब्रायडरी करना है। भगवान की ड्रेसेज और ज्वेलरी इस्कॉन बेंगलुरु की ही भक्तिलता देवी दासी और चमेरी देवी दासी डिजाइन करती हैं।

क्रेडिट और डिस्क्लेमर :”यह समाचार http://https://www.bhaskar.com से साभार लिया , इस खबर की पुष्टि का दावा etoinews.com नही करता “

SHARE THIS
Continue Reading

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़4 hours ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें सुबह की सुर्खियाँ 24/08/2019

सुबह की सुर्खियाँ Morning News Headlines 24/08/2019 Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer सुधि पाठकों की ,,,,आपको...

छत्तीसगढ़4 hours ago

शिक्षा विभाग में प्राइमरी ,मिडिल और व्याख्याताओं का स्थानांतरण

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर (etoi news)23/08/2019 छत्तीसगढ़ शिक्षा विभाग ने अधिकारियों का तबादला किया...

छत्तीसगढ़4 hours ago

राज्य संचालनालय में पदस्थ अधिकारीयों /कर्मचारियों का स्थानांतरण

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर(etoi news)23/08/2019 राज्य शासन ने संचालनालय, स्थानीय निधि सम्परीक्षा एवं अधीनस्थ...

छत्तीसगढ़5 hours ago

चिकित्सा अधिकारियों का तबादला देखें लिस्ट

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर(etoi news)23/08/2019 राज्य शासन ने चिकित्सा विभाग के अधिकारियों का तबादला...

छत्तीसगढ़5 hours ago

उच्च शिक्षा विभाग ने 149 अधिकारियों का किया तबादला

Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer रायपुर (etoi news)23/08/2019 छत्तीसगढ़ उच्च शिक्षा विभाग ने अधिकारियों का तबादला...

Advertisement

#Exclusive खबरे

Etoi Exclusive8 hours ago

निर्मला सीतारमण ने कीं आर्थिक सुधारों से जुड़ी घोषणाएँ

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कीं आर्थिक सुधारों से जुड़ी  घोषणाएँ वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक सुधारों का एलान...

Etoi Exclusive14 hours ago

5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनामी के मजेदार सपने का सच क्या है ?

5 ट्रिलियन डॉलर की इकॉनामी के सपने का सच ? Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer भारत...

Etoi Exclusive2 days ago

फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुअल मैंक्रोन काशी पहुँचे

उत्तर प्रदेश Mar, 12 2018 फ्रांस के राष्ट्रपति पहुंचे काशी, पीएम मोदी ने किया भव्य स्वागत नौका विहार करके रचेंगे...

Etoi Exclusive2 days ago

भारत को ISIS से लड़ना ही पड़ेगा-डोनाल्ड ट्रम्प 

ट्रम्प का एक और बयान जिससे बवाल मचना तय है  Click Here To Read Astrological Articles & Contact Astrologer  अफगानिस्तान...

Etoi Exclusive3 days ago

कमरछठ एक छत्तीसगढ़िया त्यौहार

कमरछठ एक छत्तीसगढ़िया त्यौहार आज छत्तीसगढ़ का स्थानीय त्यौहार कमरछठ बड़े ही धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस त्यौहार...

Advertisement
August 2019
M T W T F S S
« Jul    
 1234
567891011
12131415161718
19202122232425
262728293031  
Advertisement

निधन !!!

Advertisement

Trending