Connect with us

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2020

Published

on

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2020 (NREGA Job Card List 2020) ऑनलाइन देखें और नरेगा जॉब कार्ड चेक करें – महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) द्वारा भारत के गरीब परिवारों को रोजगार दिया जाता है।COVID-19 के कारण इस लॉक-डाउन अवधि के दौरान, नरेगा के तहत आने वाले श्रमिक जीवित रहने के लिए राहत कोष के रूप में मांग रहे हैं। शहरों में कोई काम नहीं होने के कारण कई श्रमिक अपने घरों को वापस जा रहे हैं। नागरिक समाज के कई समूहों ने इन श्रमिकों के लिए प्रधान मंत्री, भारत के वित्त मंत्री से धन की मांग की है।

नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट 2020

नरेगा जॉब कार्ड अकाउंट चेक करें

राशि सीधे 100 दिनों के काम को पूरा करने के बाद गरीब लोगों के बैंक खाते में दी जाती है। यदि आपको नरेगा का पेमेंट देखना है तो मनरेगा जॉब कार्ड अकाउंट चेक करने के लिए आप अपने बैंक में जा सकते हैं और अपनी पासबुक को अपडेट कर सकते हैं।

मनरेगा जॉब कार्ड कैसे देखें?

यदि सरकार के द्वारा भुगतान कर दिया जाता है तो आपको अपनी पासबुक में जानकारी मिल जाएगी। यदि राशि स्थानांतरित हो गई है तो आपको पासबुक में भुगतान की जानकारी मिलेगी। आवेदक अपने संबंधित बैंक में जाकर भुगतान के सभी विवरण प्राप्त कर सकते हैं।

आओ जानें कि मनरेगा जॉब कार्ड देखें

नरेगा जॉब कार्ड न्यू स्टेट वाइज के बारे में सभी जानकारी की जाँच करें। हमने हर राज्य के लिए सीधे लिंक प्रदान किए हैं ताकि आप आसानी से सूची की जांच कर सकें।

क्रमांक नरेगा जॉब कार्ड राज्य वार सूची जॉब कार्ड
1 हिमाचल प्रदेश यहां देखें
2 हरियाणा यहां देखें
3 सिक्किम यहां देखें
4 लक्षद्वीप यहां देखें
5 राजस्थान यहां देखें
6 मेघालय यहां देखें
7 मिज़ोरम यहां देखें
8 महाराष्ट्र यहां देखें
9 मध्य प्रदेश यहां देखें
10 मणिपुर यहां देखें
11 बिहार यहां देखें
12 पुदुच्चेरी यहां देखें
13 पश्चिम बंगाल यहां देखें
14 पंजाब यहां देखें
15 नागालैंड यहां देखें
16 दादरा और नगर हवेली यहां देखें
17 दमन और दीव यहां देखें
18 त्रिपुरा यहां देखें
19 तमिलनाडु यहां देखें
20 झारखंड यहां देखें
21 जम्मू और कश्मीर यहां देखें
22 छत्तीसगढ़ यहां देखें
23 चंडीगढ़ यहां देखें
24 गोवा यहां देखें
25 गुजरात यहां देखें
26 केरल यहां देखें
27 कर्नाटक यहां देखें
28 ओडिशा यहां देखें
29 उत्तराखंड यहां देखें
30 उत्तर प्रदेश यहां देखें
31 असम यहां देखें
32 अरुणाचल प्रदेश यहां देखें
33 अंडमान और निकोबार यहां देखें
नरेगा में ऑनलाइन आवेदन कैसे करें?
  • चरण 1: उम्मीदवार MNERGA की आधिकारिक वेब साइट www.nrega.nic.in पर जाएं
  • चरण 2: मुख पृष्ठ पर, Transparency & Accountability भाग पर क्लिक करें।
  • चरण 3: अब नरेगा जॉब कार्ड चुनें और अपना राज्य चुनें।
  • चरण 4: पूछे गए सभी विवरण दर्ज करें और सबमिट बटन पर क्लिक करें।
  • चरण 5: नरेगा 2020 कार्ड सूची स्क्रीन पर दिखाई देगी।
  • चरण 6: अब आप अपनी नौकरी के बारे में पूरा विवरण देख सकते हैं।
  • चरण 7: नरेगा जॉब कार्ड की हार्ड कॉपी प्राप्त करें और इसे भविष्य के लिए सुरक्षित रखें।
MGNREGA जॉब कार्ड पंजीकरण और सत्यापन:

गांव के लोगों को जॉब कार्ड प्रदान करने से पहले, ग्राम पंचायत उम्मीदवार की सभी जानकारी की पुष्टि करता है। यह जानकारी नीचे सूचीबद्ध है-

  • ग्राम पंचायत जाँच करती है कि आवेदक उनके ग्रामीण क्षेत्र के हैं या नहीं।
  • पंचायत परिवार के सदस्य को सुनिश्चित करती है।
  • आवेदन पत्र में परिवार का प्रमाणीकरण करती है।

नरेगा जॉब कार्ड:

  1. नरेगा नौकरी सूची में भारत के सभी राज्य और केंद्र शासित प्रदेश शामिल हैं।
  2. MGNREGA जॉब कार्ड उन छोटे लोगों को 100 दिन का रोजगार देता है जिनके पास आय का कोई स्रोत नहीं है।
  3. आप पोर्टल पर सरकार द्वारा घोषित नरेगा की नई राज्यवार सूची डाउनलोड कर सकते हैं।
  4. आप जिस राज्य के हैं, उस लिंक पर क्लिक करके सूची में अपना नाम जांचें।
  5. हर साल ग्रामीण विकास मंत्रालय नरेगा की नई सूची के साथ आता है जिसमें ताजा नाम शामिल होते हैं।
  6. केवल राज्य के गरीब लोग ही इस योजना का लाभ ले सकते हैं।
MGNREGA ACT के बारे में

मनरेगा को महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम या नरेगा भी कहा जाता है। भारत के इस श्रम कानून के तहत, गरीब लोगों को काम करने का अधिकार है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य उन लोगों के लिए मनरेगा भर्ती 2020 प्रदान करना है, जिनके पास पैसा कमाने का कोई स्रोत नहीं है। सरकार हर वित्तीय वर्ष में 100 दिन का काम देती है।

नरेगा योजना क्या है?

भारत सरकार ने वर्ष 2005 में अधिनियम की शुरुआत की है। नरेगा योजनाएँ वित्तीय वर्ष में सौ दिनों के लिए गरीब लोगों को श्रम कार्य प्रदान करती हैं। प्राधिकरण उन गरीब लोगों को मौका देता है जो अपनी आजीविका के लिए पैसा कमाना चाहते हैं। नरेगा जॉब कार्ड उस व्यक्ति के काम करने के हर विवरण का रिकॉर्ड रखता है।

नरेगा हेल्पलाइन लाइन

टोल फ्री नंबर: 1800 180 6127 (सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक उपलब्ध)

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

ज्योतिष

दिनांक 28.10.2020 का पंचांग एवं राशिफल

Published

on

By

शुभ संवत 2077 शक 1942 सूर्य दक्षिणायन का…द्वितीय (शुद्ध) आश्विन मास शुक्ल पक्ष द्वादशी तिथि … दोपहर को 12 बजकर 55 मिनट तक … दिन … बुधवार … पूर्वा भाद्रपद नक्षत्र …  दिन को 09 बजकर 11 मिनट तक … आज चंद्रमा … मीन राशि में … आज का राहुकाल दिन 11 बजकर 47 मिनट से 01 बजकर 12 मिनट तक होगा …

उन्नति के लिए करें पन्ना रत्न धारण

बुद्ध बुद्धि का स्वरूप ग्रह है, मनुष्य में बुद्धि ही भौतिक या आध्यात्मिक जगत के ज्ञात और अज्ञात आदि रहस्यों के तथ्यों के ज्ञान को प्रकट करने का साधन है। बुध ग्रह के लिए पन्ना यश एवं कीर्ति का प्रतीक माना जाता था। इसे धारण करने से दिमाग की कार्य क्षमता तीव्र हो जाती है। विधार्थियों के लिए उनके शैक्षिक जीवनकाल में बुध ग्रह की भूमिका बहुत महत्वपूर्ण होती है उच्च और अच्छी शिक्षा बुध ग्रह की शुभ होने पर ही निर्भर है। यदि आप एक व्यापारी है और अपने व्यापार में निरन्तर उन्नति चाहते है, तो आप अवश्य पन्ना धारण कर सकते है। चार्टर एकाउंटेंट और हिसाब किताब के सभी कामो को करने वाले जातको को भी पन्ना अवश्य धारण करना चाहिए, क्योकि एक सफल गणितज्ञ की योग्यता उसके बुद्धि बल यानि बुध ग्रह के बल पर निर्भर करती है।

पन्ना कब धारण करे –

बुध को प्रसन्न करने एवं बुध के दोष को दूर करने के लिए जातक को पन्ना रत्न धारण करना चाहिए। इसके आलावा निम्नलिखित परिस्थतियों में पन्ना रत्न धारण करना आवस्यक होता है

1 जिस व्यक्ति का लंग्र मिथुन अथवा कन्या हो, उसे पन्ना रत्न धारण करना चाहिए।

२ यदि भाग्येश बुध हो, तो पन्ना रत्न धारण करने से जातक को सुख – समृदि मिलती है।

3 जन्मकुंडली के चतुर्थ पंचम अथवा दशम भाव में बुध हो, तो जातक को पन्ना रत्न धारण करना चाहिए।

4 बुध की जन्मकुंडली में मंगल, शनि, राहु अथवा केतु के साथ युति हो, तो जातक पन्ना रत्न धारण करने े इन ग्रहो के दोषो से छुटकारा पा सकता है।

5 बुध की विंशोत्तरी महादशा अथवा अंतर्दशा चल रही हो तो बुध रत्न पन्ना धारण करना चाहिए।

6 व्यापार, पदोन्नति, लेखन आदि व्यवसायो में पन्ना रत्न धारण करने से लाभ मिलता है।

विधि –

पन्ना रत्न धारण करने के लिए अश्लेषा, ज्येष्ठा एवं रेवती नक्षत्रो में से किसी एक नक्षत्र में कम से कम चार रति का पन्ना चांदी अथवा पंच धातु की अंगूठी में जड़वाकर बुधवार को सूर्य उदय से पूर्व ब्रह्ममूर्त में कनिष्का अंगुली में धारण करना चाहिये। अँगूठी को विधि विधान से पूजा करके ही धारण करना चाहिए। इस रत्न की अवधि तीन वर्ष तीन माह होती है। इसके बाद इस रत्न को बदल लेना चाहिए। पन्ना रत्न धारण करते समय बुध मन्त्र ॐ बुधाय नमः का कम से कम 108 बार जाप करे। यदि इस प्रक्रिया में किसी ब्राह्मण का सहयोग लिया जाये तो अति उत्तम है।

रत्न जड़ित अंगूठी साथ यदि बुध यंत्र को भी पूजा स्थल पर रखा जाए तो समृद्धि और वैभव आता है। यंत्र में पन्ना भी जड़वा सकते है। यह यंत्र चांदी के पत्र पर उत्कीर्ण किया जाता है। पन्ना रत्न उदर रोग, बवासीर, नेत्र रोग, ब्लड प्रेशर, अजीर्ण, दमा, हृदय रोग में राहत दिलाता है। इस प्रकार पन्ना रत्न विद्यार्थीवर्ग से लेकर व्यापारी वर्ग एवं नौकरी पेशा सभी लोगों को कर्मक्षेत्र में लाभ पाने के लिए धारण करना चाहिए।

आज के राशियों का हाल तथा ग्रहों की चाल

मेष

धन-संपत्ति, भागीदारी में कष्ट तथा विवाद….

माता के स्वास्थ्य संबंधी चिंता…

आकस्मिक हानि….

राहु के उपाय-

ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें…

प्रतिदिन सवेरे पानी में थोडा सा नमक मिलाकर घर में पोंछा करें, राहु दोषों से शांति मिलेगी…

वृषभ

कार्यकुशल तथा साहसी…

व्यवसायिक यात्रा…

आय में बाधा…

पार्टनर से तालमेल में कमी…

बृहस्पति के उपाय के लिए –

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. रोगियों, जानवरों तथा वृक्षों की सेवा करें..
  3. साईजी के दर्षन करें…

मिथुन 

आय के नये स्त्रोत बनेंगे….

स्थान या नौकरी में बदलाव…

पार्टनर से हानि….

वातरोग से कष्ट….

केतु के उपाय –

  1. हल्दी, चंदन, नारियल दान करें,
  2. गणपति की उपासना करें, धूप, दीप तथा नैवेद्य चढ़ायें,
  3. ऊॅ कें केतवें नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,

कर्क

मनवांछित सफलता…

भाई या सहयोगी से विवाद…

आकस्मिक यात्रा…

गले में कष्ट….

शनि शांति के लिए –

  1. ‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’’ का जाप कर दिन की शुरूआत करें…
  2. भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें..
  3. उड़द या तिल या सरसों का तेल दान करें…

सिंह

शत्रु से विजय…

दिये गये कर्ज की वापसी…

आलस्य हानिकारक…

अधिकारियों से विवाद….

बचाव के लिए –

  1. ऊ धृणि सूर्याय नमः का जाप कर, अध्र्य देकर दिन की शुरूआत करें,
  2. लाल पुष्प, केशर, इलायची, गुड, गेहू का दान करें,
  3. आदित्य ह्दय स्त्रोत का पाठ करें,

कन्या

नये अवसर की प्राप्ति…

आलस्य के कारण योजना में विलंब…

पारिवारिक रिष्तों में दूरी…

चंद्रमा के उपाय-

  1. ऊॅ सौं सोमाय नमः का जाप करें,
  2. मिश्री, चावल, कपूर, का दान करें,
  3. शंकरजी का जल से अभिषेक करें

तुला

मिथ्या बोल के कारण अपमान…

पत्नी से विवाद…

व्यवयाय में अचानक धनहानि….

शुक्र से राहत के लिए-

  1. ऊॅ शुं शुक्राय नमः का जाप करें…
  2. माॅ महामाया के दर्शन कर दिन की शुरूआत करें…
  3. सार्वजनिक सेवा करें,

वृश्चिक

नये मोबाईल की प्राप्ति…

धन खर्च के कारण कर्ज…

सहकर्मियों से हानि…

चंद्रमा की शांति के लिए –

  1. ऊॅ श्रां श्रीं श्रीं एः चंद्रमसे नमः का जाप करें,
  2. दूध, चावल, शंख का दान करें

धनु

अचानक धन प्राप्ति…

मित्रों से धन की हानि…

मंगल की शांति के लिए –

  1. ऊॅ अं अंगारकाय नमः का जाप करें,
  2. हनुमानजी की उपासना करें,
  3. मसूर की दाल, गुड या तांबा दान करें

मकर

धार्मिक कार्य में धन खर्च…

मित्र तथा भाई-बहनों से अनबन….

शनि से उत्पन्न कष्ट के लिए –

  1. ‘‘ऊॅ शं शनिश्चराय नमः’’ का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
  2. भगवान आशुतोष का रूद्धाभिषेक करें,
  3. उड़द या तिल या सरसों का तेल दान करें,

कुंभ

सत्ता पक्ष से लाभ…

आलस्य के कारण दैनिक रूटिन में अनियमित….

कंधे, कान में दर्द…

राहु कृत दोषों की शांति के लिए –

  1. ऊॅ रां राहवे नमः का जाप कर दिन की शुरूआत करें,
  2. धतूरे की माला शिवजी में चढ़ायें,

मीन

धन का संकट…

पारिवारिक तथा मानसिक अशांति….

पिता को कष्ट….

बृहस्पतिकृत अनिष्ट की शांति के लिए –

  1. ऊॅ गुरूवे नमः का जाप करें…
  2. मीठे पीले खाद्य पदार्थ का सेवन करें तथा दान करें…
  3. केशर या चंदन का तिलक करें…

Continue Reading

ये हैं भारत के 10 स्थान, जहां महिलाएं बिना डर के अकेली घूम सकती हैं

Published

on

By

भारत में विभिन्न पर्यटन स्थलों पर आप अपने परिवार या दोस्तों के साथ घूमने वाले लोगों या समूहों को देखा होगा, लेकिन कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो अकेले घूमना पसंद करते हैं. इनमें पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं की भी बड़ी संख्या है. भारत में सोलो वुमन ट्रैवलर्स  की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है. ऐसे महिलाओं के लिए सुरक्षा सबसे बड़ा मुद्दा होता है. आज हम आपको भारत के 10 ऐसी जगहों के बारे में बताएंगे, जो अकेले घूमना पसंद करने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित मानी जाती हैं. इन जगहों पर महिलाएं बिना किसी डर-भय के घूम सकती हैं.

कुफरी
यह हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले में स्थित एक छोटा-सा हिल स्टेशन है. यहां कई खूबसूरत झीलें, बर्फ से ढंके पहाड़ और कई मनोरम दृश्य हैं, जिनका आनंद लिया जा सकता है. कुफरी सुरक्षा की दृष्टि से भी काफी बढ़िया स्थान है. कुफरी अपने यहां आने वाले पर्यटकों का स्वागत भी बेहद शानदार तरीके से करता है.

मुन्नार
यह भारत के सबसे सुरक्षित माने जाने वाले पर्यटन स्थलों में से एक है. मुन्नार चाय बागान, प्राकृतिक खूबसूरती और हरियाली के लिए काफी मशहूर है. यहां के स्थानीय लोगों को उनकी गर्मजोशी के लिए जाना जाता है, जो आने वाले पर्यटकों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं. इसे देखते हुए यह भी सोलो वुमन ट्रैवलर्स के लिए एक बेहतरीन जगह है.

पुद्दुचेरी
दक्षिण भारत के सबसे फेमस टूरिस्ट डेस्टिनेशन्स में से एक पुद्दुचेरी कई सालों तक फ्रांस का उपनिवेश रहा है. यहां कई फ्रेंच कॉलोनियां भी हैं जो उपनिवेशीय काल की याद दिलाते हैं. दरअसल, पूरे शहर को पूरी प्लानिंग के साथ फ्रेंच स्टाइल में बनाया गया है. पुडुचेरी के बीच बेहद शांत हैं और यहां आप घंटों अकेली बैठकर लहरों का मजा ले सकती हैं.

जयपुर
पिंक सिटी के नाम से मशहूर भारत का बेहद खास शहर जयपुर सुरक्षा के लिहाज से अकेले ट्रैवल करने वाली महिलाओं के लिए सेफ डेस्टिनेशन है. जयपुर में हवा महल, जल महल, सिटी पैलेस, आमेर का किला, जंतर-मंतर, नाहरगढ़ का किला, जयगढ़ का किला, बिरला मंदिर, गल्ताजी, गोविंद देव जी मंदिर, गढ़ गणेश मंदिर, सांघीजी जैन मंदिर आदि को घूमा जा सकता है और उनका आनंद उठाया जा सकता है.

लेह-लद्दाख
लद्दाख की जांस्कर घाटी भारत की खूबसूरत जगहों में से एक है. यह घाटी गुफा मठों के कारण पूरे विश्व में प्रसिद्ध है. यहां साल के 9 महीने तेज बर्फ गिरती है और इस कारण यहां की सुंदरता और बढ़ जाती है. जांस्कर घाटी में पर्यटक रिवर राफ्टिंग और ट्रेकिंग का आनंद लेते हैं. घाटी बर्फीली सुन्दर चट्टानों, ऊंची-ऊंची चोटियों और निर्मल जल की सुन्दरता के लिए जानी जाती है. इस सुन्दर क्षेत्र में अकेले घूमने का मजा ही अलग होता है. झीलों के बीच बसी इस जगह पर महिलाएं सुरक्षित रूप से यात्रा कर सकती हैं.

माजुली द्वीप
असम में स्थित माजुली द्वीप भारत का एक प्रमुख पर्यटन स्थान है और यहां महिलाएं बिना किसी डर के अकेली घूम सकती हैं. असम के जोरहट शहर से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित माजुली द्वीप दुनिया का सबसे बड़ा नदी द्वीप है. ब्रह्मपुत्र नदी की पवित्रता तथा प्रदूषण से मुक्त यह ताजे पानी का द्वीप यूनेस्को की विश्व धरोहर के रूप में जाना जाता है.

ऋषिकेश
उत्तराखंड में हिमालय की तलहटी में बसे ऋषिकेश को योग कैपिटल के रूप में जाना जाता है. योग, रिवर राफ्टिंग और ट्रैवलिंग का मजा लेने के लिए दुनिया भर के पर्यटक ऋषिकेश आते हैं. ऋषिकेश महिलाओं के लिए सुरक्षित भारत के प्रमुख पर्यटन स्थलों में एक है और यहां जाकर आप आध्यात्मिक अनुभव का आनंद ले सकती हैंं.

दार्जिलिंग
दार्जिलिंग भारत का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है. प्राकृतिक सुंदरता के साथ-साथ घूमने के लिहाज से बेहद सुरक्षित यह स्थान महिलाओं की पसंदीदा जगहों में से एक है यहां कंचनजंगा पहाड़ की खूबसूरती, घने जंगल, मिरिक लेक, टॉय ट्रेन का मस्ती भरा सफर, लॉयड बोटैनिकल गार्डन आदि का आनंद लिया जा सकता है. इसके अलावा, यहां घूमने के लिए और भी बहुत कुछ है, जिसे देखने के लिए कम से कम एक बार आपको दार्जिलिंग जरूर जाना चाहिए.

Continue Reading

Lifestyle

दिवाली पर रीठा से करें घर की सफाई, मिनटों में चमकेगा घर

Published

on

By

बालों को सुंदर बनाने के लिए अधिकतर महिलाएं रीठा का इस्‍तेमाल करती हैं. दरअसल यह एक नैचुरल शैम्‍पू है जिसका इस्‍तेमाल बालों के लिए किया जाता है. यह बालों के लिए काफी फायदेमंद है. इसके इस्‍तेमाल से बाल लंबे, काले और घने होते हैं. लेकिन क्‍या आप जानते हैं कि रीठा एक ऐसी चीज है जिसका इसतेमाल आप अपने घर को साफ करने और चमकाने में भी कर सकते हैं. यह सस्‍ता होने के साथ-साथ बहुत असरदार भी है. ज्‍यादा पैसा खर्च किए बिना आप रीठे की मदद से अपने घर को इस बार दिवाली पर आसानी से साफ कर सकते हैं. आइए आपको बताते हैं कुछ ऐसे तरीकों के बारे में जिनकी मदद से आप रीठे का इस्‍तेमाल कर अपने घर को साफ कर सकते हैं.

खिड़कियां दिखेंगी साफ
अपनी खिड़कियों को साफ करने के लिए आप रीठे का इस्‍तेमाल कर सकते हैं. इन्‍हें साफ करने के लिए आपको बस एक स्प्रे बोतल में लगभग 250 मिलीलीटर पानी भरना होगा. फिर स्प्रे करें और फिर सूखे कपड़े से साफ कर लें.

-10 से 12 रीठा को लगभग 5 कप पानी में रखें.
-इसे उबाल लें और एक घंटे के लिए पानी को धीमी आंच पर उबालें.
-फिर इसे रात भर भीगने दें. अगली सुबह इसे छाने और एक एयरटाइट ग्लास जार में स्टोर करें.

पावरफुल क्लीनर
रीठे के पानी से घर के फर्श को, बाथरूम को और सिंक को आराम से साफ करें.

बनाने का तरीका
-आधा कप रीठा का लिक्विड
-1 कप नल का पानी
-2 चम्मच सफेद सिरका
-4-6 बूंदें टी ट्री ऑयल
सभी सामग्रियों को अच्छी तरह मिलाएं और स्प्रे बोतल में डालें. टी ट्री ऑयल में मजबूत एंटी-बैक्‍टीरियल गुण होते हैं, जो किचन काउंटरटॉप्स, बाथरूम टाइल्स, सिंक की सफाई के लिए घोल को सही बनाते हैं. सिरका बहुत अच्‍छा प्रिजर्वेटिव है, इसलिए इतने सारे चीजों को साफ करने वाला क्लीनर लंबे समय तक टिका रहता है.

ज्‍वैलरी की करें सफाई
अगर आप अपने ज्‍वैलरी को साफ करने के लिए नॉन-टॉक्सिक चीज का इस्‍तेमाल करना चाहती हैं तो रीठा आपके लिए सबसे अच्‍छा उपाय हो सकता है. इस साबुन के पानी में ज्‍वैलरी भिगोएं और कुछ मिनटों के बाद गंदगी को हटाने के लिए एक पुराने नरम टूथब्रश का इस्तेमाल करें. इसके बाद इसे साफ पानी से धोएं और एक मुलायम कपड़े से पॉलिश करें.

कारपेट की करें सफाई
कालीन या कारपेट को साफ करना किसी के लिए भी मुसीबत का काम लगता है लेकिन अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है क्‍योंकि रीठे का पानी आपकी इस परेशानी को मिनटों में दूर कर सकता है. जी हां अगर आपके कालीन दागदार हैं और आपको दाग हटाने में मुश्किल हो रही है, तो बस दाग पर रीठे के पानी से स्प्रे करें और इसे ब्रश करें.

बनाने का तरीका
-1 कप बेकिंग सोडा
-1 कप बोरेक्स
-4 चम्‍मच रीठा
-4 चम्‍मच कैस्टाइल साबुन

नैचुरल हैंडवॉश
रीठा का इस्तेमाल हाथ धोने के लिए भी किया जाता है. आपको बस इतना करना है कि जैसे आपने खिड़कियों को साफ करने के लिए पानी तैयार किया है इसके लिए भी वैसे ही पानी तैयार करें. इसमें नींबू का रस मिलाएं ताकि यह अधिक समय तक टिका रहे और इसके इस्तेमाल से अच्छी खुशबू आए. आप चाहे तो दूसरे तरीके से भी इसका इस्‍तेमाल कर सकते हैं.

बनाने का तरीका
-आधा कप लिक्विड कैस्टाइल साबुन
-आधा कप बेसिक रीठा का लिक्विड
-2 बूंदें लैवेंडर या टी ट्री ऑयल
सभी सामग्रियों को एक पंप बोतल में डालें और अच्छी तरह हिलाएं. अगर आपके पास तरल कैस्टाइल साबुन नहीं है, तो आप बैन-मैरी पर कुछ पिघला सकती हैं. यह लिक्विड साधारण साबुन की तुलना में अच्छा होता है और यह आपकी त्वचा को ड्राई नहीं करता है

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़4 hours ago

प्रधानमंत्री आवास योजना लाभार्थी जिलावार सूची यहां देखें

केंद्र सरकार ने सभी परिवारों को पक्का घर उपलब्ध कराने के उद्देश्य से प्रधानमंत्री आवास योजना की शुरुआत किये है।...

छत्तीसगढ़1 week ago

रायपुर नगर निगम के उपायुक्त कोरोना पॉजिटिव…कोविड सेंटर के नोडल अधिकारी पाए गए संक्रमित

रायपुर। प्रदेश में कोरोना का कहर जारी है. इसी बीच रायपुर नगर निगम के उपायुक्त व कोविड सेंटर के नोडल...

छत्तीसगढ़1 week ago

रायपुर में रेलवे स्टेशन के पास मर्डर, आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। राजधानी के गंज थाना क्षेत्र में हुई हत्या की वारदात को पुलिस ने सुलझा लिया है। पहले मृतक की...

Breaking1 week ago

देश दुनिया की पढ़ें ख़ास ख़बरें,,,, सुबह की सुर्खियाँ 19/10/2020

सुधि पाठकों की,आपको जो हेड लाइन पसंद आये,उसे एक बार क्लिक करें और पसंद ना आये, उसे छोड़  आगे बढ़ जाएँ ,देश...

छत्तीसगढ़1 week ago

पाटन पहुंच कर भाजपा नेताओं ने बदलापुर सरकार के विरुद्ध संघर्ष का नारा बुलंद किया , बटरा दाल जूस पिलाकर विजय बघेल का आमरण अनशन तुड़वाया

भाजपा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रमन सिंह , सांसद राम विचार नेताम , विधायक बृज मोहन अग्रवाल , नारायण चंदेल, पूर्व...

#Exclusive खबरे

Calendar

October 2020
S M T W T F S
 123
45678910
11121314151617
18192021222324
25262728293031

निधन !!!

Advertisement

Trending