Connect with us

देश - दुनिया

11 हाईकोर्ट के 15 न्यायाधीशों का तबादला, बिलासपुर हाईकोर्ट के न्यायाधीश मनींद्र मोहन श्रीवास्तव का राजस्थान ट्रांसफर

Published

on

11 उच्च न्यायालयों के 15 न्यायाधीशों का मंगलवार को स्थानांतरण किया गया। विधि मंत्रालय ने स्थानांतरण और पदस्थापनाओं की सूची ट्विटर पर साझा की है। उच्चतम न्यायालय के कॉलेजियम ने करीब एक पखवाड़ा पहले तबादलों के लिए सिफारिश की थी। कुछ साल पूर्व भी बड़े स्तर पर उच्च न्यायालयों के 23 न्यायाधीशों का तबादला किया गया था।

न्याय विभाग द्वारा ट्वीट की गई सूची के अनुसार छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति मनींद्र मोहन श्रीवास्तव का राजस्थान उच्च न्यायालय में तबादला कर दिया गया है। पटना उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति अहसानुद्दीन अमानुल्लाह को आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय में स्थानांतरित किया गया है, जबकि बंबई उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति उज्ज्वल भुइयां को तेलंगाना उच्च न्यायालय में भेजा गया है।

गुजरात उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति परेश आर उपाध्याय को मद्रास उच्च न्यायालय में स्थानांतरित किया गया है, जबकि तेलंगाना उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति एम एस एस रामचंद्र राव को पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय में भेजा गया है।

पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति जसवंत सिंह का स्थानांतरण उड़ीसा उच्च न्यायालय किया गया है, वहीं राजस्थान उच्च न्यायालय की न्यायाधीश न्यायमूर्ति सबीना का तबादला हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय किया गया है। उड़ीसा उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति संजय कुमार मिश्रा को उत्तराखंड उच्च न्यायालय में स्थानांतरित कर दिया गया है।

कलकत्ता उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति अरिंदम सिन्हा को उड़ीसा उच्च न्यायालय भेजा गया है। केरल उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति ए एम बदर का पटना उच्च न्यायालय में तबादला कर दिया गया है। इलाहाबाद उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा, न्यायमूर्ति विवेक अग्रवाल, न्यायमूर्ति चंद्र धारी सिंह और न्यायमूर्ति रवि नाथ तिलहरी (सभी इलाहाबाद उच्च न्यायालय) को क्रमशः दिल्ली उच्च न्यायालय।

मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय, दिल्ली उच्च न्यायालय और आंध्र प्रदेश उच्च न्यायालय में स्थानांतरित कर दिया गया है। हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के न्यायाधीश न्यायमूर्ति अनूप चितकारा को पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय भेजा गया है। स्थानांतरण की अधिसूचना जारी कर दी गयी है।

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

देश - दुनिया

एक शख्स ने निगल लिया पूरा का पूरा Mobile Phone,डॉक्टरों ने सर्जरी कर मुश्किल से बचाई जान

Published

on

पेट दर्द की शिकायत लेकर पहुंचे एक शख्स का जब एक्स-रे किया गया, तो डॉक्टर भी हैरान रह गए. उसके पेट में मोबाइल फोन था. शख्स ने बताया कि करीब छह महीने से उसे पेट में दर्ज हो रहा था, लेकिन वो अनदेखा करता रहा. जब दर्द काफी ज्यादा बढ़ गया तो वो डॉक्टर के पास गया. अभी तक ये साफ नहीं हो सका है कि आखिर शख्स ने पूरा का पूरा मोबाइल निगला कैसे?

Patient ने कही ये बात

‘मिरर’ की रिपोर्ट के अनुसार, 33 वर्षीय शख्स के पेट में मोबाइल  करीब 6 महीने से पड़ा हुआ था. मिस्र के असवान यूनिवर्सिटी अस्पताल में उसका ऑपरेशन किया गया. डॉक्टरों ने उसके पेट से एक पूरा मोबाइल फोन निकालकर बाहर किया. मरीज ने डॉक्टरों को बताया कि उसने कुछ महीने पहले मोबाइल निगल लिया था और उसे लग रहा था कि वो अपने आप बाहर निकल जाएगा.

खाने-पीने में हो रही थी दिक्कत

मोबाइल निगलने के कुछ समय बाद से ही उसे पेट में दर्द होने लगा. उसने सोचा कि यदि वो किसी को मोबाइल निगलने की बात बताएगा तो लोग मजाक उड़ाएंगे. इसलिए वो पेट दर्द को नजर अंदाज करता रहा. जब दर्द काफी ज्यादा बढ़ गया तो उसे अस्पताल में भर्ती होना पड़ा. शख्स ने बताया कि उसे खाने-पीने में भी परेशानी होने लगी थी.

पहली बार देखा ऐसा मामला

मरीज जब डॉक्टरों के पास गया तो उन्होंने पेट दर्द, आंतों और पेट में संक्रमण के लिए इलाज शुरू किया. लेकिन जब उन्हें पता चला कि उसके पेट में मोबाइल फोन है तो वे भी दंग रह गए. असवान यूनिवर्सिटी हॉस्पिटल्स के निदेशक मंडल के अध्यक्ष मोहम्मद अल-दहशौरी ने कहा कि उन्होंने पहली बार ऐसा मामला देखा है, जिसमें एक मरीज ने एक पूरा मोबाइल निगल लिया हो.

 

Continue Reading

देश - दुनिया

मरने के 70 साल बाद भी लोगों को दे रही जीवन; जानें क्या है मामला

Published

on

करीब 70 साल पहले की वजह से एक युवा महिला की मौत हो गई थी. उसके इलाज के दौरान डॉक्टरों ने एक कोशिका चुपके से निकाल ली. इसके बाद उस कोशिका का अध्ययन करके विभिन्न बीमारियों की दवा तैयार की गई. जिससे दुनिया में लाखों लोगों की जान बच सकी.

मरने के 70 साल बाद मिला सम्मान

WHO के चीफ Dr Tedros Adhanom Ghebreyesus ने जेनेवा में मरणोपरांत Henrietta Lacks को सम्मानित किया. दरअसल Henrietta Lacks की मौत 70 साल पहले अक्टूबर 1951 में हो गई थी. लेकिन उसके शरीर से बिना अनुमति के निकाली गई एक कोशिका आज भी लाखों लोगों की जीवन बचाने का अहम कारण बनी हुई है. Henrietta की ओर से यह पुरस्कार उनके 87 साल के बेटे Lawrence Lacks ने लिया.

उन्हें सम्मानित करते हुए Dr Tedros ने कहा, ‘ मैं Henrietta Lacks को सम्मानित करते हुए बेहद गर्व महसूस कर रहा हूं. WHO इस बात को स्वीकार करता है कि इससे पहले के वर्षों में Henrietta के साथ वैज्ञानिक रूप से अन्याय किया गया. उनके अश्वेत रंग और महिला होने की वजह से उन्हें पर्याप्त सम्मान नहीं दिया गया. जबकि मानवता को बचाने और मेडिकल साइंस को बढ़ावा देने में उनका बेहद अहम योगदान रहा.’

सर्वाइकल कैंसर से हो गई थी मौत

DNA की रिपोर्ट के मुताबिक Henrietta Lacks अपने पति और 5 बच्चों के साथ खुश थी. एक दिन उसे वजाइना में भारी ब्लीडिंग की शिकायत हुई. वह पति के साथ जॉन होपकिंस यूनिवर्सिटी पहुंची और वहां एडमिट हो गई. जांच में पता चला कि उसे सर्वाइकल कैंसर था. डॉक्टरों ने उसका इलाज करने की कोशिश की लेकिन उसने 4 अक्टूबर 1951 को दम तोड़ दिया. जब उसकी मौत हुई, उस समय उसकी उम्र केवल 31 साल थी.

बिना पूछे डॉक्टरों ने निकाल ली थी कोशिका

जब Henrietta का इलाज चल रहा था, उस दौरान डॉक्टरों ने उसके ट्यूमर के कुछ सैंपल लिए थे. इस दौरान ट्यूमर से ‘HeLa’ कोशिका को निकाला गया. ऐसा करने के लिए मरीज या उनके पति से कोई अनुमति नहीं ली गई थी. इसके बाद उस कोशिका का लैब में विकास किया गया. फिर बिना परिवार की परमीशन के उस कोशिका का लैब में बड़े पैमाने पर उत्पादन करके बेचा गया. दुनियाभर में कोशिकाओं पर हो रही स्टडी के लिए 50 करोड़ मीट्रिक टन ‘HeLa’ कोशिका की बिक्री की गई.

कोशिका से लाखों लोगों की बची जान

यह ‘HeLa’ कोशिका लोगों की जान बचाने में रामबाण सिद्ध हुई. इस कोशिका का अध्ययन करके दुनियाभर के वैज्ञानिक HPV वैक्सीन, पोलियो वैक्सीन, HIV/AIDS की दवा, haemophilia, leukaemia और पार्किंसंस रोगों की दवा बनाने में कामयाब रहे. इसके साथ ही कैंसर, जीन मैपिंग, IVF जैसी इलाज की पद्धतियों का भी विकास तेज हुआ. जिनका इस्तेमाल करके दुनिया में अब तक लाखों लोगों की जान बचाई जा सकी है.

Continue Reading

देश - दुनिया

शराब पीने पर युवक का चालान कटने से खफा हुईं कांग्रेस विधायक, बैठीं धरने पर

Published

on

राजस्थान में शराब पीकर गाड़ी चलाने पर पुलिस ने एक युवक का चालान काट दिया. ये बात कांग्रेस की एक महिला विधायक को नागवार गुजरी और वो पुलिस स्टेशन में ही धरने पर बैठ गईं. विधायक मीना कंवर ने कहा कि कोई बात नहीं, बच्चे हैं थोड़ा बहुत पी लिया तो क्या गुनाह किया?

सोशल मीडिया पर वायरल हुआ कांग्रेस MLA का वीडियो

बता दें कि कांग्रेस विधायक मीना कंवर का एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है. इस वीडियो में शेरगढ़ विधान सभा सीट से कांग्रेस विधायक मीना कंवर अपने पति उम्मेद सिंह चंपावत के साथ धरने पर बैठी हैं. दरअसल धरने के पीछे की वजह पुलिस का चालान काटना बताया जा रहा है.

पुलिस ने काटा विधायक के रिश्तेदार का चालान

जानकारी के मुताबिक, जिस युवक का पुलिस ने चालान काटा है वो कांग्रेस विधायक मीना कंवर का रिश्तेदार है. रिश्तेदार का चालान काटे जाने से खफा होकर विधायक मीना कंवर ने थाने में ही धरना शुरू कर दिया और पुलिस वालों के साथ बहस भी की.

कांग्रेस विधायक ने पुलिस वालों से क्या कहा?

कांग्रेस विधायक मीना कंवर ने पुलिस वालों से कहा कि आप इंसानियत से बोलो. हमने आपसे रात को रिक्वेस्ट की है. बच्चे सबके पीते हैं, कोई बात नहीं बच्चे हैं थोड़ा बहुत ले लिया. रिक्वेस्ट करते हुए मैंने फोन में रिकॉर्ड किया.

गौरतलब है कि मामले को बढ़ता देखकर डीसीपी को हस्तक्षेप करना पड़ा. जिसके बाद ये मामला शांत हुआ और विधायक अपने पति और रिश्तेदार के साथ थाने से घर गईं.

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़9 mins ago

बाजार से लौट रही महिला अधिवक्ता को युवकों ने जान से मारने की धमकी दी

बाजार से लौट रही महिला अधिवक्ता को युवकों ने जान से मारने की धमकी दी। साथ ही उनके साथ गाली-गलौज...

छत्तीसगढ़20 hours ago

भूपेश बघेल सरकार की मंत्री अनिला भेड़िया बोलीं- ‘थोड़ी-थोड़ी पिया करो’

छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अपने जन घोषणा पत्र में राज्य में पूर्ण शराबबंदी का वादा किया था....

छत्तीसगढ़21 hours ago

अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में पिछले 36 घंटे मेंं 7 बच्चों की मौत, मचा हड़कंप

अंबिकापुर मेडिकल कॉलेज में  पिछले 36 घंटे में 7 बच्चों की मौत का सनसनीखेज मामला सामने आया है. रायपुर और...

छत्तीसगढ़2 days ago

रायपुर रेलवे स्टेशन मे धमाके से मच गई अफरा-तफरी, फूड स्टाल कर्मचारी ने बताया आंखो-देखा हाल

छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर दो पर खड़ी स्पेशल ट्रेन में शनिवार सुबह ठीक छह बजकर...

छत्तीसगढ़2 days ago

ट्रेन से महिला यात्री के गहने पार करने वाली आरोपित महिला को आरपीएफ ने किया गिरफ्तार

ट्रेन से महिला यात्री के गहने पार करने वाली आरोपित महिला को आरपीएफ की टास्क टीम क्रमांक दो ने गिरफ्तार...

#Exclusive खबरे

Calendar

October 2021
S M T W T F S
  1 2
3 4 5 6 7 8 9
10 11 12 13 14 15 16
17 18 19 20 21 22 23
24 25 26 27 28 29 30
31  

निधन !!!

Advertisement

Trending

  • देश - दुनिया7 days ago

    दीपावली से पहले कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, 11 फीसदी महंगाई भत्ता बढ़ा

  • देश - दुनिया7 days ago

    दशहरा कब क्यों और कैसे मनाया जाता है ?

  • देश - दुनिया6 days ago

    किडनी डैमेज कर देंगी आपकी ये 7 बुरी आदतें, जल्द सुधार लें

  • देश - दुनिया7 days ago

    अष्टमी तिथि और हवन पूजा का शुभ मुहूर्त क्या होगा ?

  • देश - दुनिया7 days ago

    साठ वर्ष बाद सर्वार्थसिद्धियोग और गुरूपुष्य योगों के साथ पड़ रहा है दुर्लभ संयोग

  • देश - दुनिया6 days ago

    माइंस इंस्पेक्टर पद पर भर्ती के लिए करें आवेदन, 48000 है सैलरी

  • देश - दुनिया5 days ago

    10 हजार लगाकर शुरू करें ये खेती, हर महीने होगी ₹2 लाख की कमाई

  • देश - दुनिया5 days ago

    SBI बेच रहा सस्ते घर, फटाफट चेक करें किस दिन होगी नीलामी

  • देश - दुनिया7 days ago

    कब है गोवर्धन पूजा, जानें पूजा का शुभ मुहूर्त और विधि

  • छत्तीसगढ़7 days ago

    छत्तीसगढ़ कांग्रेस को बड़ा झटका, कांग्रेस पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने दिया सामूहिक इस्तीफा