Connect with us

देश - दुनिया

5 ऐसी जॉब्स जिनमें आराम से सोने पर मिलती है लाखों रुपये सैलरी

Published

on

बेड एंड मैट्रेस टेस्टर

यह नौकरी करने वाले शख्स को रोज दिन 6 से 7 घंटे बिस्तर पर ही गुजारने होंगे। क्राफ्टेड बेड्स की तरफ से मैट्रेस टेस्टर की नियुक्ति की जा रही है, जिसका काम बेड पर सोना और उसके बारे में रिव्यू करना है।

स्लीप रिसर्च सब्जेक्ट

दुनियाभर में कई ऐसे हॉस्पिटल, क्लीनिक, यूनिवर्सिटी और रिसर्च सेंटर्स हैं जो क्लीनिकल ट्रायल में शामिल होने की जॉब देती हैं। पार्टिसिपेंट्स को बेड पर सोने की सैलरी दी जाती है। Career Addict की एक रिपोर्ट के मुताबिक इस काम के लिए कंपनियां $100 से $3000 यानी कि 7500 से लेकर ढाई लाख रुपये तक देती हैं।

स्लीप एग्जीक्यूटिव

इंटीरियर स्पेशलिस्ट कंपनियां नियमित रूप से स्लीप एक्जीक्यूटिव की हायरिंग करती हैं ताकि यह पता लगाया जा सके कि किसी व्यक्ति की नींद के लिए उनके पर्दे और शटर कितने प्रभावी हैं। इस काम के लिए कैंडिडेट को 10500 रुपये प्रति दिन की सैलरी मिल सकती है।

एनवायरमेंट स्टडी टेस्टर

इस जॉब पोस्ट की शुरुआत एक अध्ययन के लिए हुई थी जिसका मकसद ये पता लगा था कि अलग-अलग एनवायरमेंट नींद को कैसे प्रभावित करती है। इसके लिए प्रति माह एवरेज सैलरी डेढ़ लाख तक ऑफर की जाती है।

स्लीप टेस्टर

इसे आप दुनिया की सबसे आरामदायक नौकरी भी कह सकते हैं। Career Addict की एक रिपोर्ट के मुताबिक चीनी फर्म नाओ बैजिन  ने आवेदकों को पेशेवर स्लीपर बनने के लिए सालाना 15 लाख रुपये ऑफर किए।

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

देश - दुनिया

शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान को क्रूज ड्रग्स केस फंसना दुख की बात -एक्टर अनंत महादेवन बोले

Published

on

By

 क्रूज ड्रग्स केस में मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद शाहरूख खान के बेटे आर्यन खान की जमानत याचिका दो बार खारिज हो चुकी है। जिसके बाद उनके वकीलों ने बॉम्बे हाईकोर्ट का रुख किया है। इस पर अब 26 अक्टूबर को सुनवाई होनी है। इस बीच आर्यन खान के मामले पर एक्टर अनंत महादेवन ने हाल ही में। इस दौरान उन्होंने शाहरुख खान के शुरुआती दिनों, उनके साथ काम करने और आर्यन के केस को लेकर कई बातें शेयर की हैं।

शुरुआती दिनों में शाहरुख खान के मददगार कौन-कौन लोग रहे?
शुरू में सईद मिर्जा, अजीज मिर्जा, कुंदन शाह, विवेक बासवानी आदि सभी थे। इन सबके साथ ‘सर्कस’, ‘इंतजार’, ‘फिर भी दिल है हिंदुस्तानी’, ‘चलते चलते’ आदि सीरियल और फिल्म किए थे।

कहते हैं कि मददगारों में चंकी पांडे भी थे, जो उन्हें अपने घर पर ठहराए थे? क्या इसका उल्लेख आपकी बुक में है? विस्तार से बताइएगा?
नहीं, नहीं। वे विवेक बासवानी थे, जो अपने घर में ठहराए थे। शाहरुख, विवेक के घर पर रहते थे। उन्होंने ‘राजू बन गया जेंटलमैन’ में शाहरुख को पहली बार एक हीरो का रोल दिया था। दोनों की अच्छी दोस्ती थी। इससे हेमा मालिनी जी ने शाहरुख खान को फिल्म ‘दिल आशना है’ के लिए बुलाया था, तब विवेक साहब उनको वहां भी ले गए थे। यह पहली फिल्म थी, जिसे शाहरुख खान ने साइन किया, लेकिन ‘राजू बन गया’ जेंटल मैन उससे पहले रिलीज हुई थी। चंकी जी का कोई योगदान नहीं था। अगर होगा भी, तब मुझे पता नहीं है। शायद दोनों साथ में किसी फिल्म में काम नहीं किया है। चंकी जी उस वक्त एक्टर थे, तब उस हिसाब से नहीं लगता कि कोई करीबी या दोस्ती रही होगी।

आपका साथ और सहयोग किस तरह से रहा?
हमने साथ में ‘सर्कस’ में काम किया था। उसके बाद ‘यस बॉस’ में हमने काम किया था। लेकिन, मेजर ‘बाजीगर’ और ‘बादशाह’ में किया। ‘बाजीगर’ में उनके फादर का रोल निभाया था। इसके बाद उन्होंने जब पहली बार अपनी साफ्टवेयर कंपनी एंटरटेनमेंट का टेलीविजन सेक्शन लांच किया था। मुझे उस वक्त उन्होंने बुलाया था, तब उनके लिए ‘घर की बात है’ सीरियल के 26 एपिसोड बनाए थे।

शाहरुख के साथ आपका पुराना साथ रहा है, आज उनके करियर और बेटे के ड्रग्स केस में फंसने आदि बातों पर क्या कहेंगे?
दुख की बात है, क्योंकि अगर यह सच है, तब भी दुख है। अगर यह सच नहीं है, तब भी दुख की बात है। दुख तो है, क्योंकि कहीं न कहीं किसी ने गलती की है। उनके बेटे की तरफ से यह हुआ है या फिर जो लोग इन्वेस्टिगेट कर रहे हैं… कुछ न कुछ तो होगा, वरना उनको इस तरह की केस में दिलचस्पी नहीं होगी। यह एक तरह से अच्छी बात नहीं है, डिस्टर्बिंग बात है। उनसे काफी टाइम से बात नहीं हुई है।

एक तरफ रूस स्पेस में जाकर शूटिंग करके आता है, दूसरी तरफ भारतीय सिनेमा में कभी मीटू तो कभी ड्रग्स जैसी चीजों में उलझा-फंसा नजर आता है, भारतीय सिनेमा विश्व स्तर पर अपनी पहचान बनाएगा?

देखिए, हॉलीवुड की पुरानी फिल्में और पुराने लोगों को देखो, तब ऐसा नहीं है कि वे इसमें उलझे नहीं थे। अभी देखो, आर्ट और सिगरेट, ड्रग्स का एक तरीके से संबंध रहा है, क्योंकि इस चीज में विश्वास नहीं रखता कि कोई आर्ट को प्योर आर्ट फॉर्म की तरह ट्रीट करे। इसे सोशल आईना की तरह ट्रीट करे। कहीं न कहीं क्रिएटर और आर्टिस्ट को दारू पीकर प्रॉब्लम हुआ है। कई लोग गुजर भी गए हैं। यह तो ऑल ओवर वर्ल्ड में है। यह न सिर्फ सिनेमा में हुआ है, एडवरटाइजिंग में हुआ है और भी फील्ड में हुआ है। लेकिन, आर्ट और सिनेमा को लेकर एक तरह से प्योरिटी चाहते हैं कि जिस तरह से पिक्चर दिखाते हैं, जिसमें मैसेज देते हैं या मोरल देते हैं या फिर सोसाइटी का आईना दिखाते हैं। आईने के दूसरी तरफ बहुत सारे लोग वही सब कुछ करते हैं, जिसकी फिल्मों में निंदा करते हैं। इसको मैं कंट्राडिक्शन मानता हूं। यह अजीब तरीके की जो हेपोक्रेसी है, यह वर्ल्ड के आर्ट, सिनेमा, ड्रामा, थिएटर में होता है। क्योंकि उसी चीज का सेवन करते हुए आदी हो जाते हैं, जिसको आप चिल्ला-चिल्लाकर अपनी फिल्मों में बताते हैं कि यह खराब और बुरा है।

कुछ लोगों का मानना है कि इन चीजों को लीगल ही कर देना चाहिए?

ड्रग्स तो पूरी दुनिया में फैली हुई है। इस ड्रग्स काटल को आप बंद ही नहीं कर सकते। मैसिस्को से लेकर अफगानिस्तान, क्यूबा, पाकिस्तान आदि देशों में जिस तरह से ये लोग ड्रग्स को पूरी दुनिया में फैला रहे हैं। अभी मैस्सिको और क्यूबा में जिस तरह वहां ड्रग्स लॉडर्स हैं, उन्हें अरेस्ट करने के लिए पुलिस वाले भी डरते हैं, क्योंकि वे सबको मार डालते हैं और बॉडी भी नहीं देते हैं। मुझे नहीं लगता कि इसे कंट्रोल किया जा सकता है। हां, छोटी-छोटी जगहों पर लोग अरेस्ट हो जाते हैं, वहां इसको बंद कर देते हैं। इसको एक जगह से बंद कर देंगे, तब दूसरी जगह से लीक हो जाएगा। यंग जनरेशन को यह बेचा जा रहा है। इसके बारे में गलत बातें फैलाई जा रही है।

क्या ग्लैमरस इंडस्ट्री होने के नाते ?
नहीं-नहीं, यह तो मैं नहीं कह सकता। लेकिन बहुत सारे ड्रग्स एडिट्स हैं और उनके चेन को पकड़ा जाता है, इन्वेस्टिगेट किया जाता है। लेकिन, यह फिल्म इंडस्ट्री है, इसलिए मीडिया उसको ज्यादा कवरेज दे रही है। अगर कवरेज नहीं होता और चुपचाप एक कोने में न्यूज रहता है, तब वह भी ठीक रहता। लेकिन, तब वही होता है, जो दूसरों के साथ रोजाना हो रहा है। रोजाना कितने लोग अरेस्ट हो रहे हैं। लेकिन मीडिया यहां की बातों को उछालता है, क्योंकि उसको दूसरी तरह का हेडलाइन मिलता है।

 

Continue Reading

देश - दुनिया

सुधा चंद्रन ने पीएम मोदी से की थी अपील, एयरपोर्ट पर हुई परेशानी के लिए CISF ने मांगी माफी

Published

on

जानी-मानी अभिनेत्री सुधा चंद्रन का हाल ही में एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से गुहार लगाई थी. सुधा चंद्रन ने कहा था कि वह जब भी एयरपोर्ट पर जाती हैं सिक्योरिटी जांच के दौरान उनके आर्टिफिशियल लिंब को निकालने के लिए कहा जाता है. सीआईएसएफ की वजह से उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है. अब इस पर सीआईएसएफ ने एक ट्वीट कर माफी मांगी है.

सीआईएसएफ ने ट्विटर पर लिखा, ‘सुधा चंद्रन को हमारी वजह से जो असुविधा हुई उसके लिए हम माफी मांगते हैं. प्रोटोकॉल के मुताबिक, सिक्योरिटी चेक के दौरान प्रोस्थेटिक्स को निकालना होता है, वह भी केवल विशेष परिस्थितियों में.‘

अपने एक अन्य ट्वीट में सीआईएसएफ ने लिखा कि ‘हम परीक्षण करेंगे कि सीआईएसएफ की महिला कर्मी ने सुधा चंद्रन से प्रोस्थेटिक्स को निकालने के लिए आखिर क्यों कहा. हम सुधा चंद्रन को यह भरोसा देना चाहते हैं कि हमारे सभी कर्मियों को प्रोटोकॉल पर दोबारा संवेदनशील बनाया जाएगा जिससे यात्रा करने वालों को कोई दिक्कत ना हो.‘

वहीं केंद्रीय नागरिक विमानन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा कि ‘सुधा जी, मुझे जानकर दुख हुआ और मैं आपसे माफी मांगता हूं. यह दुखद है. किसी को भी इससे नहीं गुजरना है. मैं निजी तौर पर इस मुद्दे को देखूंगा और सुधार की पूरी कोशिश करूंगा.‘

वीडियो जारी करते हुए सुधा चंद्रन ने कहा था, ‘गुड इवनिंग, मैं जो कहने जा रही हूं, यह बेहद ही व्यक्तिगत नोट है. मैं अपनी यह बात अपने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी से कहना चाहती हूं. मेरी यह अपील राज्य और केंद्र सरकार दोनों से है. मैं सुधा चंद्रन हूं, प्रोफेशनल डांसर और एक्ट्रेस हूं. मैंने आर्टिफिशियल लिंब के सहारे डांस किया और इतिहास रचा और मेरे देश को मुझ पर बहुत गर्व है लेकिन हर बार जब मैं हवाई यात्राओं पर जाती हूं तो हर बार एयरपोर्ट पर मुझे रोक दिया जाता है.‘

Continue Reading

देश - दुनिया

इंडोनेशिया के पूर्व राष्ट्रपति सुकर्णो की बेटी सुकमावती इस्लाम छोड़ हिंदू धर्म अपनाएंगी

Published

on

इंडोनेशिया के पूर्व राष्ट्रपति सुकर्णो की बेटी सुकमावती सुकर्णोपुत्री ने इस्लाम छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने का फैसला लिया है. 26 अक्टूबर को वह पूजा में शामिल होंगी और इसके साथ ही हिंदू धर्म अपना लेंगी. सीएनएन इंडोनेशिया की रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है. मंगलवार को सुकर्णो हेरिटेज एरिया में यह कार्यक्रम होगा. सुकमावती पूर्व राष्ट्रपति सुकर्णो की तीसरी बेटी हैं और पूर्व राष्ट्रपति मेगावती सुकर्णोपुत्री की छोटी बहन हैं. 70 वर्षीय सुकमावती सुकर्णोपुत्री इंडोनेशिया में ही रह रही हैं. 2018 में कट्टरपंथी इस्लामिक समूहों ने उनके खिलाफ ईशनिंदा की शिकायत दर्ज कराई थी.

दरअसल सुकमावती ने एक कविता साझा की थी, जिसे लेकर कट्टरपंथियों का आरोप था कि उन्होंने इस्लाम का अपमान किया है. इस घटना के बाद सुकमावती ने अपनी कविता के लिए माफी की मांग भी की थी. हालांकि इसके बाद भी विवाद समाप्त होता नहीं दिखा था और अकसर उनकी आलोचना की जाती रही है. इंडोनेशिया में इस्लाम के अनुयायियों की संख्या सबसे अधिक है. यही नहीं इंडोनेशिया दुनिया की सबसे अधिक मुस्लिम आबादी वाला देश भी है. बता दें कि सुकमावती के पिता सुकर्णो के दौर में भारत और इंडोनेशिया के संबंध काफी अच्छे थे.

सुकमावती ने हिंदू धर्मशास्त्र को अच्छी तरह से पढ़ा है

सुकमावती के वकील विटारियोनो रेजसोप्रोजो ने बताया कि इसका कारण उनकी दादी का धर्म है, उन्होंने यह भी कहा कि सुकमावती ने इसे लेकर काफी स्टडी की है और हिंदू धर्मशास्त्र को अच्छी तरह से पढ़ा है. बाली की यात्राओं के दौरान सुकमावती अक्सर हिंदू धार्मिक समारोहों में शामिल होती थीं और हिंदू धार्मिक हस्तियों के साथ बातचीत करती थीं. 26 अक्टूबर को बाली अगुंग सिंगराजा में ‘शुद्धि वदानी’ नाम का कार्यक्रम होगा जहां वे हिंदू धर्म अपनाएंगी. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उनके परिजन भी मान गए हैं, बताते हैं कि वह बीते कई वर्षों से हिंदू धर्म में शामिल होना चाहती थी.

 

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़42 mins ago

25 अक्टूबर को प्रदेश के लगभग 7 हजार से अधिक प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे , लाखों बच्चो की पढ़ाई प्रभावित

छत्तीसगढ़ के सभी प्राइवेट स्कूल 25 अक्टूबर को बंद रहेंगे:- छत्तीसगढ़ के सभी प्राइवेट स्कूल 25 अक्टूबर को बंद रहेंगे।...

छत्तीसगढ़2 hours ago

अब मोबाइल पर दिखेगा स्टोर में ,कितना स्टॉक है ! स्टॉक कम होगा वहां वैक्सीन भेज दी जाएगी

अब मोबाइल पर दिखेगा स्टोर में कितना स्टॉक है स्टॉक कम होगा वहां वैक्सीन भेज दी जाएगी राजधानी रायपुर समेत...

छत्तीसगढ़20 hours ago

बंदर के डर से भाग रही थी 5 साल की बच्ची, कुएं में जा गिरी बच्ची की मौत

बंदर के डर से भाग रही थी 5 साल की बच्ची, कुएं में जा गिरी बच्ची की मौत गली में...

छत्तीसगढ़20 hours ago

प्राइवेट कंपनियों में बेरोजगार को नौकरी का झांसा देकर 30 लाख रुपये की ठगी

 प्राइवेट कंपनियों में नौकरी लगाने का झांसा देकर बेरोजगार युवक-युवतियों से ठगी प्राइवेट कंपनियों में नौकरी लगाने का झांसा देकर...

छत्तीसगढ़20 hours ago

अब  होगी कमजोर छात्रों की पहचान ,पहली से 12वीं तक सभी कक्षाओं की छमाही परीक्षाएं दिसंबर में ऑफ लाइन

कोरोना संक्रमण की वजह से पिछले साल स्कूल बंद रहे। इस दौरान 10वीं-12वीं बोर्ड को छोड़कर बाकी कक्षाओं की वार्षिक...

#Exclusive खबरे

Calendar

October 2021
S M T W T F S
  1 2
3 4 5 6 7 8 9
10 11 12 13 14 15 16
17 18 19 20 21 22 23
24 25 26 27 28 29 30
31  

निधन !!!

Advertisement

Trending

  • देश - दुनिया5 days ago

    बचपन का प्यार’ भूल दोस्त के साथ पत्नी ने बनाये शारीरिक संबंध

  • देश - दुनिया5 days ago

    जानी मानी एक्ट्रेस का निधन, फर्श पर गिरी और चली गई जान

  • 4 days ago

    बैंक ऑफ इंडिया में बंपर भर्तियां, स्नातक, 10वीं और 8वीं पास के लिए सुनहरा अवसर..

  • छत्तीसगढ़7 days ago

    हेल्थ डिपार्टमेंट में बंपर भर्तियां, 22 अक्टूबर आवेदन की अंतिम तारीख

  • देश - दुनिया5 days ago

    100 रुपये के करीब पहुंचा टमाटर का भाव, जानिए क्या है प्याज की कीमत?

  • देश - दुनिया4 days ago

    1 रुपए का ये सिक्का आपको बना सकता है 10 करोड़पति, ऐसे होती है नीलामी

  • देश - दुनिया5 days ago

    बैंक ऑफ इंडिया में ग्रेजुएट, 10वीं और आठवीं पास के लिए नौकरियां, देखें सैलरी और योग्यता

  • जॉब7 days ago

    यूजीसी सीएसआर में जेई, स्टेनो और सहायक के पदों पर भर्तियां, आवेदन की अंतिम तिथि 30 अक्टूबर

  • देश - दुनिया5 days ago

    पटना के युवक ने बिग बी को कराया गलती का एहसास तो बोले-मैं सुधार करूंगा

  • देश - दुनिया5 days ago

    इस सप्ताह 5 दिन बंद रहेंगे बैंक, ब्रांच जाने से पहले चेक करें छुट्टियों की पूरी लिस्ट