Connect with us

ज्योतिष

PLANT VASTU TIPS : घर के मुख्य द्वार पर तुलसी के पौधे रखने से होते है ये गज़ब के फायदे, वजह जान आप भी हो जायेंगे हैरान…

Published

on

Plant Vastu Tips : सजावट के लिए Tulsi Plant गार्डनिंग करते हैं। लेकिन क्या luckey plant आप जानते हैं ​कि वास्तु में main gate plant भी इनका विशेष स्थान है। जी हां Plant For House घर में लगाए गए ये पौधे घर में सकारात्मक ऊर्जा भी बढ़ाते हैं। साथ ही घर में शांति भी प्रदान करते हैं। तो चलिए आज हम कुछ ऐसे पौधों के बारे में जानने जा रहे हैं, जिन्हें अगर आप घर में लगाते हैं तो आपके घर में पॉजिटिव एनर्जी बनी रहती है।

नींबू का पौधा 
फेंगशुई के अनुसार घर के बाहर नींबू का पेड़ या फिर नारंगी पेड़ लगाना बेहद शुभ मानते हैं। आपको बता दें ये गुड लक चार्म की तरह काम करता है। इतना ही नहीं इसे लगाना आपके सौभाग्य में भी वृद्धि करता है। पर इसे लगाते समय दिशा का ध्यान रखना बेहद जरूरी है। आप जब भी इस पौधे को लगाएं तो ध्यान रखें इसे घर के मेन गेट के ठीक सामने लगाने दाईं तरफ ओर लगाने से शुभ फल मिलता है।

फर्न प्लांट

फर्न प्लांट की गिनती भी लकी पौधों में की जाती है। फर्न प्लांट ये देखने में जितना सुंदर होता है, इसे उतना ही, लकी भी मानते हैं। आपको बता दें अगर आप भी इसे लगाते हैं तो इससे घर में पॉजिटिव एनर्जी बनी रहती है।

जैस्मिन प्लांट
अगर आप घर में लक्ष्मीजी का वास चाहते हैं तो आपको घर के बाहर जैस्मिन यानि चमेली का पौधा जरूरी लगाना चाहिए। आपको बता दें इसे लगाने के लिए घर के मुख्य द्वार की दिशा का चयन करना चाहिए। इसी भीनी खुशबू जहां घर को महंकाती है तो वहीं इसके लगाने से घर में लक्ष्मी का आगमन भी होता है।

पाम ट्री
तीसरे नंबर पर आता है पाम ट्री। जिसे कई लोग घर की खूबसूरती के लिए लगाते हैं। आपको बता दें ये पाम ट्री को एयर प्यूरिफायर को तो काम करता ही है साथ ही इसकी देखभाल करना भी बेहद आसान होता है। इसे घर के मुख्य द्वार पर लगाने के बाद सिर्फ इसमें पानी देना चाहिए। वास्तु के अनुसार ऐसा माना जाता घर के मुख्य द्वार पर इसे लगाने से सकारात्मक एनर्जी बनी रहती है। इससे घर में सुख-समृद्धि और शांति का वास होता है.

तुलसी का पौधा
आपको बता दें हिन्दू धर्म में तुलसी का पौधा अपना एक अलग स्थान रखता है। घर में तुलसी लगाने से सकारात्मक ऊर्जा का वास होता है। ऐसा पौधा है तो दिन और रात दोनों समय ऑक्सीजन छोड़ता है। इसे घर के मुख्य द्वार पर लगाने से वातावरण शुद्ध होता है। इसे घर के लिए लकी माना जाता है। साथ ही तुलसी का पौधा घर में लगाने से धन आगमन बढ़ता है। इस पौध की सबसे अच्छी बात ये है कि इसे घर के अंदर या बाहर कहीं भी लगाया जा सकता है। हालांकि अगर इसे मुख्य द्वार पर लगाया जाए तो सुख-समृद्धि का वास होता है।

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

ज्योतिष

CHANAKYA NITI: चाणक्य के अनुसार इन 3 तरह के काम को करने के बाद तुरंत करना चहिये स्नान, नही तो हो सकती है बड़ी परेशानी…

Published

on

 

Chanakya Niti: अर्थशास्त्र, राजनीति और कूटनीति के ज्ञाता कौटिल्य को दुनिया आचार्य चाणक्य के नाम से जानती है। चाणक्य ने ऐसी कई महत्वपूर्ण बातें बताई हैं जिन्हें यदि जीवन में उतार ले तो वो कभी धोखा नहीं खा सकता है और उसे आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता है। आचार्य चाणक्य ने जीवन में ही अर्थशास्त्र को जोड़ दिया है तथा जीवन में राजनीति और कूटनीति को भी जोड़ा है, जिसके पालन से आप जिंदगी की रेस में बहुत आगे जा सकते हैं।

आचार्य चाणक्य ने हमारे रोजमर्रा के कामों को लेकर भी काफी कुछ कहा है। आचार्य चाणक्य ने हमें बताया है कि किन बातों का पालन करके हम रोजाना सफलता की ओर एक कदम बढ़ा सकते हैं। आचार्य चाणक्य ने हमें नहाने से संबंधित कुछ बातें बताई हैं, आचार्य चाणक्य ने बताया कि वो कौन से काम हैं जिनके करने के बाद हमें तुरंत नहाना चाहिए।

आमतौर में तो हम रोज सुबह नहाते है, लेकिन आचार्य के अनुसार जब इन परिस्थियों में हो तो जरूर नहाएं। ऐसा न करने से हमारी सेहत में इसका असर पड़ सकता है, क्योंकि हमारे खान-पान के साथ-साथ दिनचर्या से ही हमारी सेहत में असर पड़ता है। जानिए इन स्थितियों के बारें में।

श्लोक

तैलाभ्यङ्गे चिताधूमे मैथुने क्षौरकर्मणि।

तावद् भवति चाण्डालो यावत् स्नानं न चाचरेत्।

इस श्लोक का मतलब है कि जब आप अपने शरीर में तेल की मालिश करें, या फिर किसी की अंतिम यात्रा से लौटकर आए हों, या फिर आपने किसी स्त्री या पुरुष के साथ प्रसंग किया हो या फिर आपने अपने बाल कटवाएं हों, इन स्थितियों में आपको तुरंत स्नान करना चाहिए, अगर आप ऐसा करते हैं तो आपका स्वास्थ्य अच्छा रहेगा।

दाह संस्कार से वापस आने के बाद 

अगर आप किसी की मृत्यु के बाद उसकी शवयात्रा से लौट रहे हैं तो बिना स्नान किए घर के अंदर प्रवेश नहीं करना चाहिए। क्योंकि श्मशान जाने पर कई तरह के कीटाणु आपके शरीर के साथ आते हैं वो घर तक न आएं इसलिए स्नान करके ही घर के अंदर आएं।

शरीर की तेल से मालिश

शरीर में तेल मालिश करने से हम स्वस्थ रहते हैं और हमारी हड्डियां भी मजबूत रहती हैं, इसलिए हफ्ते में कम से कम एक बार तेल से अपने शरीर की मालिश करनी चाहिए। इससे आपका शरीर भी चमकदार बनता है, लेकिन तेल लगाने के बाद नहा लेना चाहिए तभी असल फायदा होगा। ऐसा करने से शरीर की गंदगी भी निकल जाएगी और शरीर चमकदार बनेगा।

बाल कटवाने के बाद 

आचार्य चाणक्य के मुताबिक बाल कटवाने के बाद भी तुरंत स्नान करना चाहिए, क्योंकि जब हम अपने बाल कटवाते है तो वह हमारे शरीर में छोटे-छोटे बाल चिपक जाते है जो नहाने से ही हटेंगे और आप बीमार नहीं होंगे।

Continue Reading

ज्योतिष

VASTU TIPS: घर में इस दिशा में भूलकर भी न रखे चाबियां,नही तो उलझनों में पड़ सकती है आपकी जिंदगी, वास्तु के अनुसार जाने इसे शुभ दिशा में रखने के के उपाये…

Published

on

Vastu Tips for keys: आमतौर पर चाबियों का इस्तेमाल सभी के घरों में किया जाता है। फिर चाहे वो अलमारी की हो, घर की हो या फिर गाड़ियों की। यहां तक की घर में इन चाबियों को रखने के लिए एक अलग जगह भी होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि चाबियों को गलत तरीके से रखने से आप खुद ही कई तरह की समस्याओं को आमंत्रित करते हैं?

जी हां, वास्तु शास्त्र के अनुसार, यदि आप इन्हें गलत जगह पर रखते हैं तो ये घर की खुशियां भी छीन लेती हैं। दरअसल, जिस तरह वास्तु में घर और घर के हर सामान के लिए सही दिशा और जगह बताई गई है ठीक उसी तरह चाबी रखने की भी सही जगह बताई गई है। वास्तु कहता है कि अगर घर में चाबियां सही जगह रखी हों तो यह शुभ फल देती हैं। ऐसे में आइए जानते हैं वास्तु के हिसाब से घर में चाबियां रखने के क्या नियम है।अक्सर लोग पूजा स्थल में या उसके आस-पास चाबियां रख देते हैं। लेकिन वास्तु कहता है कि यह ठीक नहीं है। क्योंकि चाबियां घर से बाहर ले जाने और लाने की वजह से उसमें गंदे हाथ लगते रहते हैं। ऐसे में अगर आप पूजा स्थान में गंदी चाबियों को रखेंगे तो इससे आपको नकारात्मक प्रभाव देखने को मिल सकते हैं।

किचन में चाबियां रखने से बचें
वास्तु के अनुसार, रसोईघर में चाबियों को रखना शुभ नहीं माना जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि किचन को भी एक शुद्ध स्थान माना जाता है। इसलिए किचन में चाबियों को रखने से आपको बचना चाहिए।

ड्राइंग रूम न रखें
वास्तु कहता की इन्हें कभी भी ड्राइंग रूम में नहीं रखना चाहिए क्योंकि ड्राइंग रूम में चाबियां रखने से बाहर से आने वाले लोग भी उन्हें देखते हैं जिससे नजर लग जाती है।

लॉबी में रखें चाबियां
चाबियां धातु की बनी होती है। ऐसे में अगर आप घर में चाबी रखने के लिए कोई जगह की तलाश में हैं तो चाबी को लॉबी में पश्चिम की दिशा की ओर रख सकते हैं।

इन गलतियों को करने से बचें

चाबियों को रखने के लिए ऐसे की-रिंग का इस्तेमाल न करें जिसमें भगवान की तस्वीर आदि लगा हो।
घर में चाबियों को रखने के लिए की-हैंगर का इस्तेमाल करें।
की-हैंगर का चयन करते समय इस बात का ध्यान रखें कि वह प्लास्टिक का ना हो।वास्तु के अनुसार लकड़ी का की-हैंगर काफी शुभ माना जाता है।
यदि की-हैंगर में आईना लगा हो तो उसका इस्तेमाल न करें।

Continue Reading

ज्योतिष

जानिए कब से शुरु हो रहा है श्रावण मास, इन महीने में कौन से कार्य नही करने चाहिए…

Published

on

By

Shravan Maas: हिन्दू धर्म में श्रवण मास का बहुत ही महत्व है। हिंदी कैलेंडर के अनुसार सावन पांचवां महीना होता है। ज्योतिष शास्त्र की मानें तो जो भक्त सावन के पावन महीने में भगवान भोलेनाथ की विधि विधान से पूजा करते हैं, उनकी सारी मनोकामना पूर्ण होती हैं। सावन महीने के सोमवार को पूरे विधि-विधान से पूजा-अर्चना करके अगर व्रत रखा जाए तो भगवान शिव प्रसन्न होते हैं।  इस बार श्रावण का पवित्र महीना 14 जुलाई से आरंभ हो रहा है, जो 12 अगस्त तक चलेगा। इस बार सावन में कुल 4 सोमवार पड़ रहे हैं। सावन के सोमवार कुंवारी लड़कियां के लिए काफी खास माने जाते हैं। कहते है कि सावन में भगवान शिव की उपासना करने से लड़कियों को मनचाहा वर मिलता है। आइए जानते हैं सावन के महीने में क्यों की जाती है भगवान शंकर की पूजा और इस महीने में किन चीजों से परहेज करना चाहिए।

सावन सोमवार कब से आरंभ 
श्रावण मास का पहला सोमवार 18 जुलाई को पड़ रहा है। इसके बाद दूसरा सोमवार 25 जुलाई, तीसरा सोमवार 1 अगस्त, चौथा सोमवार 8 अगस्त को पड़ रहा है। आखिरी सावन 12 अगस्त को हैं और इस दिन शुक्रवार पड़ रहा है।

भगवान शिव को अर्पित करें ये वस्तु 
श्रावण मास में भगवान शिव की प्रेम भाव से अगर पूजा जाए तो वो आपकी मनोकामना जरूर पूरी करते हैं। सावन के महीने में भगवान शिव को धतूरा, बेल पत्र, भांग के पत्ते या भांग, दूध, काले तिल, गुड़ आदि चढ़ाना शुभ माना जाता है।

श्रावण मास में ऐसे करें भगवान शिव की आराधना 
श्रावण मास में भगवान शिव की पूरे विधि-विधान से पूजा करनी चाहिए। आइए जानते हैं पूजा विधि-
भगवान शिव को स्वच्छता अति प्रिय है, इसलिए साफ सफाई का खास ध्यान रखें।
सुबह सबसे पहले जल्दी उठकर स्नान कर लें और स्वच्छ वस्त्र धारण करें।
घर में बने पूजा स्थान को साफ करें।
भगवान शिव की प्रतिमा स्थापित करने के बाद  भगवान शिव का जल से अभिषेक करें।
अगर आप घर में पूजा कर रहे हैं या मंदिर जा रहे हैं तो शिवलिंग पर गंगाजल और दूध चढ़ाएं।
इसके बाद शिवलिंग पर फूल चढ़ाएं, बेलपत्र चढ़ाएं और चंदन लगाकर उनकी आरती करें।

श्रावण मास में भूल से भी ना करें ये कार्य 
शरीर पर तेल नहीं लगाना चाहिए
कांसे के बर्तन में नहीं खाना चाहिए।
पूजा के समय में शिवलिंग पर हल्दी न चढ़ाएं।
सावन के महीने में दूध का सेवन अच्छा नहीं होता है।
सावन के महीने में दिन के समय नहीं सोना चाहिए।
सावन के महीने में बैंगन नहीं खाना चाहिए। बैंगन को अशुद्ध माना गया है।
भगवान शिव को केतकी का फूल भूल कर भी न चढ़ाएं।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़19 hours ago

PM Kisan Yojana के तहत किसानो के फसे पैसे आ सकते है वापस इन तरीको से…

  PM Kisan Yojana: देश में जितनी भी लाभकारी और कल्याणकारी योजनाएं चल रही हैं, उनमें से कुछ को राज्य तो...

छत्तीसगढ़3 days ago

Health Tips: बदलते मौसम के साथ रखे, अपनी सेहत का इस प्रकार ध्यान….

जून के अंत तक प्राय: देश के ज्यादातर हिस्सों में मानसून आ जाता है। हालांकि मानसून के शुरुआती दिनों में...

छत्तीसगढ़1 week ago

CG NEWS: छत्तीसगढ़-ओडिशा सीमा पर जवानो और नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में 3 जवान शहीद…

  छत्तीसगढ़-ओडिशा की सीमा पर मंगलवार को सुरक्षाबलों की नक्सलियों से मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में CRPF के 3 जवान शहीद...

छत्तीसगढ़1 week ago

चपरासी के पदों पर बंपर भर्ती,उम्मीदवार 2 जुलाई तक करे आवेदन…

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग ने चपरासी पद के रिक्त पद को भने के लिए अनुभवी उम्मीदवारों के लिए आवेदन जारी...

छत्तीसगढ़2 weeks ago

बढ़ा कोरोना की खतरा, सीकर में 38 हजार 482 पॉजिटिव केस मिले, एवं 69 हजार 131 केस नगेटिव..

  सीकर में एक बार फिर कोरोना का खतरा बढ़ता जा रहा है।सीकर में शनिवार को कोरोना से एक मरीज...

#Exclusive खबरे

Calendar

June 2022
M T W T F S S
 12345
6789101112
13141516171819
20212223242526
27282930  

निधन !!!

Advertisement

Trending