Connect with us

छत्तीसगढ़

श्रीलंका के करीब 100 कलाकार नवा रायपुर के पुरखौती मुक्तांगन पहुंचे , विदेशी मेहमानों ने अजब – गजब ठुमके लगाए

Published

on

छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव हो रहा है। यहां नाइजीरिया, फिलिस्तीन, श्रीलंका से कलाकार आए हैं। ये सभी अपने देशों की आदिवासी संस्कृति को नृत्य के जरिए पेश करेंगे। कार्यक्रम से पहले फिलिस्तीन और श्रीलंका के करीब 100 कलाकार नवा रायपुर के पुरखौती मुक्तांगन घूमने पहुंचे। यहां उन्होंने छत्तीसगढ़ी सॉन्ग पर गजब का डांस किया। स्थानीय कोरियोग्राफर के बताए स्टेप्स पर ऐसे नाचे कि देखने वाले भी हैरान थे। छत्तीसगढ़िया स्टाइल में गजब के ठुमके इन विदेशी मेहमानों ने लगाए।

फिलिस्तीन और श्रीलंका से आए कलाकारों ने बताया कि हमें भाषा भले ही समझ न आई जो मगर म्यूजिक तो भाषाओं से परे हैं, यहां स्थानीय कलाकरों के साथ मस्ती करने में बड़ा मजा आया। पुरखौती मुक्तागंन में जब ये विदेशी कलाकार पहुंचे उस वक्त यहां यहां छत्तीसगढ़ी फिल्मों के एक्टर प्रकाश अवस्थी का एल्बम शूट हो रहा था। शूट के ब्रेक के दौरान सभी विदेशी कलाकार छत्तीसगढ़ी डांसर के ग्रुप के साथ नाचने लगे। एक्टर प्रकाश अवस्थी ने इनका स्वागत किया।

एक्टर प्रकाश अवस्थी ने बताया कि हम- मोर छत्तीसगढ़ महतारी तोला बारंबार प्रणाम है, तोर कोरा में जन्मों में हा, इही मोर अरमान है…। इस गाने की शूटिंग कर रहे थे। विदेशों से आए कलाकारों को हमारे शूटिंग का अंदाज और म्यूजिक भा गया। वो राज्य के जिन अधिकारियों के साथ घूमने आए थे उनके जरिए निर्माता दिग्विजय वर्मा तक बात पहुंचाई कि वे भी छत्तीसगढ़ी गीत पर डांस करना चाहते हैं। मेहमानों का ये निवेदन हमने तुरंत स्वीकार कर लिया।

लगभग 30 से 40 विदेशी कलाकारों ने लगभग आधे घंटे तक छत्तीसगढ़ी गीत पर हमारे साथ डांस किया। उन्हें काफी मजा आ रहा था। इसके बाद मुक्तांगन में बने प्रदेश के आदिवासी संस्कृति के मकान, पूजा-पाठ, रहन-सहन के तरीकों के बारे में विदेशी कलाकारों को बताया गया।

आज आदिवासी महोत्सव में इन कार्यक्रम होंगे पेश

  1. दोपहर 12.30 से 2 बजे तक नाइजीरिया, फिलीस्तीन, छत्तीसगढ़ के गौर सिंग नर्तक दल, होजागिरी-त्रिपुरा के दल प्रस्तुति देंगे।
  2. दोपहर 2 बजे प्रदर्शनी का उद्घाटन
  3. दोपहर 2.30 से शाम 6.30 बजे तक विवाह संस्कार विधा पर नृत्य प्रतियोगिता। 12 टीम प्रस्तुति देगी।
  4. शाम 6.30 से रात 7.30 बजे तक पारंपरिक त्योहार एवं अनुष्ठान, फसल कटाई-कृषि एवं अन्य पारंपरिक विधाओं पर नृत्य प्रतियोगिता।
  5. रात 8 से 9.30 बजे मुख्य अतिथि राज्यपाल और मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में कार्यक्रम होगा। फिर विदेशी नर्तक दलों की प्रस्तुति होगी।

Advertisement
Click to comment

You must be logged in to post a comment Login

Leave a Reply

छत्तीसगढ़

CM भूपेश बघेल का बड़ा फैसला, स्कूलों में बच्चों को गाना होगा ‘रघुपति राघव राजा राम..’

Published

on

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल  ने स्कूलों को लेकर बड़ा निर्णय लिया है. अब छत्तीसगढ़ के स्कूलों में प्रार्थना के दौरान राष्ट्रगान के साथ ही ‘रघुपति राघव राजा राम’ और ‘वैष्णव जन’ का नियमित गायन होगा. राज्य के बच्चों में राष्ट्रीय एकता व समरसता की भावना को मजबूत करने के लिए छत्तीसगढ़ शासन ने ये निर्णय लिया है. सीएम भूपेश बघेल ने कहा है कि राज्य के बच्चों को गांधीजी के विचारों से संस्कारित करने के लिए उनके दो प्रिय भजनों ‘रघुपति राघव राजा राम’ और ‘वैष्णव जन तो तेने कहिए जी..’ का नियमित गायन छत्तीसगढ़ के स्कूलों में किया जाएगा.

सीएम भूपेश बघेल ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न इंदिरा प्रियदर्शिनी गांधी और पूर्व उप प्रधानमंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल के व्यक्तित्व में महात्मा गांधी के मूल्यों की मौजूदगी सबसे बड़ी समानता रही. इन दोनों ही विभूतियों के जीवन को गांधी जी के ही विचारों ने गढ़ा था. रविवार को इंदिरा गांधी और वल्लभ भाई पटेल को को श्रद्धांजलि देते हुए सीएम बघेल ने कहा कि उनके प्रेरणा-पुरुष महात्मा गांधी के विचारों के माध्यम से से राज्य के बच्चों में सामाजिक एकता और समरसता की भावना को मजबूत किया जाएगा. पूरी दुनिया में बदलते हुए सामाजिक-राजनैतिक परिवेश में गांधी जी के प्रिय भजनों की प्रासंगिकता और बढ़ गई है.

मूल भावना को आत्मसात करने की जरूरत

सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि आज आवश्यकता इस बात है कि इन भजनों की मूल भावना को आत्मसात करते हुए उन्हें जीवन में अपनाया जाए. राष्ट्रीय एकता और सामाजिक सौहार्द्र भारत का मूल स्वभाव है. राजनीति को सेवा का माध्यम बनाने के लिए हम सब का कर्तव्य है कि अभाव ग्रस्त, पीड़ितों, दीन-दुखियों की पीड़ा को महसूस कर उनकी हर संभव सहायता करें. इसके तहत ही अब स्कूलों में उनके प्रिय भजनों का गयान अनिवार्य किया जा रहा है. राज्य के सभी स्कूलों में इसका पालन करना होगा.

Continue Reading

छत्तीसगढ़

छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनी के जीवंत माडल का, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने निरीक्षण किया

Published

on

By

¥æçÎßæâè ×ãUôˆâß ·ð¤ â×æÂÙ ÂÚU ×éØ×¢˜æè ÖêÂðàæ ՃæðÜ Ùð ¿æÚU ÂéSÌ·¤ô¢ ·¤æ çß×ô¿Ù ç·¤ØæÐ

छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के साइंस कालेज मैदान में चल रहे राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव-2021 में छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनी के जीवंत माडल का मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने निरीक्षण किया। पावर कंपनी ने हाफ बिजली बिल योजना से उपभोक्ताओं को अब तक मिली छूट की जानकारी देने वाला जीवंत माडल प्रदर्शनी में रखा है, जिसमें उपभोक्ता अपना बीपी नंबर या मोबाइल नंबर दर्ज करके तत्काल उसे मिले छूट की राशि की जानकारी मिल रही है।मुख्यमंत्री बघेल ने एक उपभोक्ता का बीपी नंबर दर्ज करवाकर स्वयं हेडफोन से इसकी जानकारी सुनी।
राष्ट्रीय आदिवासी महोत्सव में राज्य शासन से सभी विभागों की विकास योजनाओं की प्रदर्शनी भी लगाई गई है।ऊर्जा विभाग के अधीन छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर कंपनी का स्टाल लगाया गया है।मुख्यमंत्री बघेल ने स्टाल में रखे सभी माडल का निरीक्षण किया और विकास गतिविधियों की जीवंत प्रदर्शनी की सराहना की।
इस मौके पर नगरीय प्रशासन मंत्री शिव डहरिया और आबकारी मंत्री कवासी लखमा,संस्कृति एवं खाद्य मंत्री अमरजीत भगत, विधायक एवं छत्तीसगढ़ गृह निर्माण मंडल के अध्यक्ष कुलदीप जुनेजा, छत्तीसगढ़ महिला आयोग की अध्यक्ष किरणमयी नायक ने भी हाफ बिजली बिल योजना में मिली छूट की जानकारी जीवंत माडल के जरिये ली।
छत्तीसगढ़ स्टेट पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी के प्रबंध निदेशक हर्ष गौतम ने सभी अतिथियों का स्वागत किया। उन्होंने बताया कि हाफ बिजली बिल योजना में अब तक 40 लाख उपभोक्ताओं को 2066 करोड़ रुपए की छूट प्रदान की जा चुकी है। यहां जीवंत माडल से लोग इसकी जानकारी ले रहे हैं।डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी ने स्टाल में बिजली उत्पादन से लेकर उसके पारेषण लाइन और आम उपभोक्ताओं तक उसके वितरण व्यवस्था का भी माडल प्रस्तुत किया गया है। साथ ही ग्रामीण विद्युतीकरण और गोबर से बिजली बनाने की प्रक्रिया को चलित माडल के जरिये दर्शाया गया है।
मुख्यमंत्री ने मोर बिजली एप से मिलने वाली सुविधाओं की जानकारी वाले माडल का भी निरीक्षण किया। उन्होंने गोबर से बिजली बनाने के माडल की भी सराहना की।इसके पूर्व छत्तीसगढ़ राज्य विद्युत नियामक आयोग के अध्यक्ष हेमंत वर्मा ने भी हाफ बिजली बिल की जानकारी मिलने वाले माडल का अवलोकन किया। इस मौके पर रायपुर शहर के मुख्य अभियंता आरए पाठक, अधीक्षण अभियंता मनोज वर्मा समेत अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।
Continue Reading

छत्तीसगढ़

रायपुर :बंजारी नगर को अस्थायी बस्ती से स्थायी करने को सर्वे, आयुक्त से प्रस्ताव बनाने की मांग

Published

on

By

छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर की 50 साल पुरानी बंजारी नगर बस्ती का शनिवार को डीडीनगर पार्षद मधु चंद्रवंशी और ईश्वरी चरण वार्ड के पार्षद राजियंत ध्रुव के द्वारा सर्वे कराया गया। दोनों वार्ड की सीमा में स्थित बंजारी नगर को प्रधानमंत्री आवास योजना में अस्थायी बस्ती घोषित कर विस्थापन की श्रेणी में डाल दिया गया। जबकि यह बस्ती डीडी नगर कालोनी की सीमा से लगी हैं और पूर्ण विकसित बस्ती है जिसमे पक्की सड़क,समदायिक भवन, सुलभ शौचालय सहित सभी आवश्यक सुविधा उपलब्ध है।

शनिवार को पार्षदों ने नगर निगम टीम से सर्वे करवा कर प्रधानमंत्री आवास योजना में बस्ती को अस्थायी वर्ग से स्थायी वर्ग में परिवर्तित करने जिला उपाध्यक्ष भाजपा आशु चंद्रवंशी के नेतृत्व में सब इंजीनियर अंकिता अग्रवाल को आयुक्त के नाम ज्ञापन सौंपकर बंजारी नगर बस्ती को प्रधानमंत्री आवास योजना में स्थायी बस्ती की श्रेणी में रखने के लिए प्रस्ताव बनाने की मांग की।

इस अवसर पर भाजयुमो जिला कार्यकरणी सदस्य आशीष त्रिपाठी, भुवनेश्वर यादव, अमृता कामबड़े, प्रीति भगरकर, अनिता नकतोड़े, सविता बुराडे, अंजली कसार, राजेश मिसारे, कंचन सहारे सहित बस्ती के नागरिक मौजूद थे।

Continue Reading
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement
Advertisement

#Chhattisgarh खबरे !!!!

छत्तीसगढ़1 hour ago

CM भूपेश बघेल का बड़ा फैसला, स्कूलों में बच्चों को गाना होगा ‘रघुपति राघव राजा राम..’

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल  ने स्कूलों को लेकर बड़ा निर्णय लिया है. अब छत्तीसगढ़ के स्कूलों में प्रार्थना के...

छत्तीसगढ़19 hours ago

छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनी के जीवंत माडल का, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने निरीक्षण किया

छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के साइंस कालेज मैदान में चल रहे राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव-2021 में छत्तीसगढ़ स्टेट पावर कंपनी...

छत्तीसगढ़20 hours ago

रायपुर :बंजारी नगर को अस्थायी बस्ती से स्थायी करने को सर्वे, आयुक्त से प्रस्ताव बनाने की मांग

छत्‍तीसगढ़ की राजधानी रायपुर की 50 साल पुरानी बंजारी नगर बस्ती का शनिवार को डीडीनगर पार्षद मधु चंद्रवंशी और ईश्वरी...

छत्तीसगढ़20 hours ago

छत्तीसगढ़ : राज्योत्सव के मौके पर छत्तीसगढ़ के 21 लाख किसानों की दोगुनी होगी दिवाली की खुशी

राज्योत्सव के मौके पर एक नवंबर को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल राज्य के किसानों को राजीव गांधी किसान न्याय योजना की...

छत्तीसगढ़22 hours ago

बिलासपुर : करियर की तलाश करने वाले युवाओं के लिए राहत भरी खबर, बिलासपुर में लगेगा रोजगार मेला

करियर की तलाश करने वाले युवाओं के लिए अच्छी खबर हो सकती है। सोमवार एक नवंबर को निपनिया स्थित लाइवलीहुड...

#Exclusive खबरे

Calendar

November 2021
S M T W T F S
  1 2 3 4 5 6
7 8 9 10 11 12 13
14 15 16 17 18 19 20
21 22 23 24 25 26 27
28 29 30  

निधन !!!

Advertisement

Trending

  • देश - दुनिया6 days ago

    चीन में लगा लॉकडाउन, 11 राज्यों में बढ़ा कोरोना का कहर

  • देश - दुनिया6 days ago

    सोने के दाम में आई जोरदार गिरावट, फटाफट चेक करें

  • देश - दुनिया4 days ago

    50 रुपए में करवा लीजिए टंकी फुल, यहां माचिस से भी सस्ता है एक लीटर पेट्रोल

  • देश - दुनिया6 days ago

    नवंबर 2021 में 17 दिन बंद रहेंगे बैंक,देखें छुट्टियों की पूरी लिस्‍ट

  • देश - दुनिया7 days ago

    करोड़पति की बीवी 13 साल छोटे रिक्शावाले पर फिदा, घर से 47 लाख रुपये लेकर हुई फरार

  • देश - दुनिया6 days ago

    पीएम किसान के बदल गए नियम, तुरंत करें यह काम वरना नहीं आएगा खाते में पैसा

  • देश - दुनिया3 days ago

    असिस्टेंट प्रोफेसर के पद पर निकली 1200 से अधिक पदों पर भर्ती

  • देश - दुनिया4 days ago

    हत्यारे ने वकील के हर सवाल का जवाब म्याऊं-म्याऊं में दिया, गुस्साए जज ने कोर्ट से निकाला

  • देश - दुनिया5 days ago

    शाहरुख खान ने आर्यन खान को जेल से निकालने के लिए ली इस शख्स से मदद

  • देश - दुनिया5 days ago

    पति को ढूंढ रही थी 5 राज्यों की पुलिस, पत्नी ने जीता पंचायत का चुनाव